POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: सारांश

Blogger: Vikas Saxena
विकास सक्सेनाबॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन के छोटे परदे पर रुख करने के बाद सारेबड़े सितारों ने छोटे परदे को ही दर्शकों से जुड़ने का जरिया बना लिया।छोटे परदे पर अभिनेता सलमान खान से लेकर शाहरुख खान, आमिर खान, अनुपम खेर, माधुरी दीक्षित, जूही चावला, सोनाली बेंद्रे समेत... Read more
clicks 216 View   Vote 0 Like   1:30pm 20 Sep 2013 #
Blogger: Vikas Saxena
एक सैलाब आया कैसाहर-तरफ का मंजर ऐसाबिछी अपनो की लाशेंकोई यहां ढूंढे, कोई वहां ढूंढेअपनों का पता लगाएं कैसेदर्दनाक था पूरा हादसाचारो-तरफ अपनों की चीख पुकारहर चेहरे पर बस यही सवालएक सैलाब आया कैसाक्या प्रकृति का प्रकोप ऐसाया अपनों का ही ये कामअरण्य काटे, तरू काटे, गिर क... Read more
clicks 244 View   Vote 0 Like   7:56am 21 Jun 2013 #
Blogger: Vikas Saxena
इन दिनों चक दे इंडिया के कबीर खान (शाहरूख खान) का वो डॉयलॉग याद आ रहा है जो फिल्म में उन्होंने भारतीय हॉकी टीम को प्रेरित करने के लिए सुनाया था। उन्होंने समय की परिभाषा इतने अच्छे ढंग से समझाया कि वो चार लाइनें रील लाइफ से निकलकर रियल लाइफ में भी प्रेरणा श्रोत बन गई। लेकि... Read more
clicks 240 View   Vote 0 Like   12:11pm 19 Jun 2013 #
Blogger: Vikas Saxena
 इन दिनों सभी टीवी चैनलों और न्यूजपेपरो में एक ही खबर छाई हुई है कि अब बीजेपी-जेडीयू का गठबंधन टूट की कगार पर है, ऐसे में जेडीयू, टीएमसी और बीजेडी का एक अलग मोर्चा फेडरल फ्रंट बन सकता है क्या? दरअसल ये सोच भले ही कई सवालों को जन्म देता हों, लेकिन ये कहना शायद मुश्किल ह... Read more
clicks 232 View   Vote 0 Like   12:24pm 14 Jun 2013 #
Blogger: Vikas Saxena
     बदलते समय के साथ-साथ हिंदी पत्रकारिता ने आज 187 वर्ष पूरे कर लिए हैं।  भारतीय पत्रकारिता के इतिहास में 30 मई का दिन हिंदी पत्रकारिता के रूप में मनाया जाता है। 30 मई 1826 को पं. युगुल किशोर शुक्ल ने देश के पहले हिन्दी समाचार पत्र “उदंत मार्तण्ड”का प्रकाशन व संपादन क... Read more
clicks 233 View   Vote 0 Like   8:28am 30 May 2013 #
Blogger: Vikas Saxena
   अरूणिमा क्या तुम वही खिलाड़ी हो जिसे हम सबने भूला दिया था। तुम्हारे साथ हुए हादसे के चंद दिनों बाद ही जब तुम ख़बर से दूर क्या हुईं, हम शायद तुम्हारे प्रतिभा को भूल गए थे। हम भूल गए कि तुम एक खिलाड़ी हो और खिलाड़ी की प्रतिभा कभी मरती नहीं है, वो हमेशा जीवित रहती है। तु... Read more
clicks 154 View   Vote 0 Like   8:40am 23 May 2013 #
Blogger: Vikas Saxena
ये कैसी विडम्बना है कि अब छोटे-मोटे मैचों की भी फिक्सिंग होने लगी है। क्या कुछ खिलाड़ियों को पैसे की इतनी ज्यादा जरूरत आ पड़ी है कि वे अब फिक्सिंग तक उतर आए हैं, या फिर वे शार्टकट से पैसा कमाने की ज़द्दोज़हद में जुट गए हैं, क्या उन्हें अपनी काबलियत पर शक़ होने लगा है? दरअस... Read more
clicks 156 View   Vote 0 Like   12:27pm 21 May 2013 #
Blogger: Vikas Saxena
       ये दुनिया बहुत ही खूबसूरत है। एक से बढ़कर एक दिलकश नज़ारों से सजी इस धरती को प्रकृति ने अलग ही ढंग से सजाया है। इस धरती को प्रकृति ने ऐसे कई तोहफों से नवाज़ा है,,, जिसकी कल्पना करना भी इंसान के लिए सपने सरीखा है। नेचर ने दुनिया को इतना रंगीन बनाया है,,, जिसके सामने... Read more
clicks 215 View   Vote 0 Like   11:51am 9 May 2013 #
Blogger: Vikas Saxena
          हर चेहरा यहां चांद है, हर जर्रा सितारा।            ये वादी-ए-कश्मीर है, जन्नत का नजारा।।भारतीय उपमहाद्वीप का एक हिस्साजम्मू-कश्मीर,,, जो प्राकृतिकसुंदरता केलिए दुनिया भर में मशहूर है।यही वजह है कि इसे धरती के स्वर्ग के नामसे भी पुकारा जाता... Read more
clicks 222 View   Vote 0 Like   6:54am 11 May 2012 #
Blogger: Vikas Saxena
भ्रष्टाचार के खिलाफ एकजुट होकर फिर से आवाज उठानी होगी, क्यों कि देश की अर्थव्यवस्था ताक पर है। बावजूद इसके सरकार ने भ्रष्ट तंत्र के खिलाफ अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया है। हर बार सरकार अर्थव्यवस्था की दुहाई देकर बच निकलती है, लेकिन क्या देश की अर्थव्यवस्था इतनी मजबूत ... Read more
clicks 157 View   Vote 0 Like   10:20am 6 May 2012 #
Blogger: Vikas Saxena
अमेरिकी में कर्ज संकट के चलते उपजी मंदी की स्थिति ने दुनिया भर के शेयर बाजार को पूरी तरह तोड़ दिया है। 05 अगस्त 2011 की सुबह से घरेलू शेयर बाजार भारी गिरावट का दौर देखा गया।  वैश्विक स्तर पर खराब वित्तीय हालत एक बार फिर 2008 के मंदी संकट की ओर ले जा रही है। अमेरिकी अर्थव्यवस्थ... Read more
clicks 158 View   Vote 0 Like   11:44am 5 Aug 2011 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post