Deprecated: mysql_connect(): The mysql extension is deprecated and will be removed in the future: use mysqli or PDO instead in /home/hamariva/public_html/config/conn.php on line 13
adhyatm : View Blog Posts
Hamarivani.com

adhyatm

हज़रत निजाम्मुद्दीन औलिया जी एक शिष्य था ,  उस शिष्य का असली नाम तो मुझे याद नहीं आ रहा है . {आप पढने वालों में से किसी को याद आ जाये तो कृपया मेरे टाइम लाइन या प्रोफाइल पेज पर मेसेज बॉक्स में लिख दें ,मैं यहाँ जोड़ दूंगा }औलिया साहिब का एक शिष्य बेहद धनवान था . पैसा तथा जमीन ...
adhyatm...
Tag :
  April 8, 2013, 1:12 am
बहुत भयंकर  तूफान में घिरा हुआ एक जहाज समुद्र में जा रहा था । दूर दूर तक कोई किनारा नज़र न आ रहा था । सभी की निगाहें आकाश की तरफ उठी हुई थीं । शायद प्रभु से कोई आस लगा राखी थी । जहाज़ का कप्तान देख रहा था , कहीं कोई टापू , कोई पेड़ या कोई कोई उड़ता हुआ पंछी ही नज़र आ जाए ताकि जी...
adhyatm...
Tag :
  March 27, 2013, 11:26 pm
एक समय की बात है कि एक पूर्ण संत महापुरुष जी के आश्रम में उन्ही के साथ रह रहे एक शिष्य ने अपना शरीर त्याग दिया .अभी शिष्य की साधना पूर्ण न हुई थी, उसे बाकी साधना पूरी करनी थी .पूर्ण संतो के शिष्यों को  अगला जन्म भी मनुष्य का ही मिलता है , पर उस शिष्य को अगला जन्म तोता का मिला ...
adhyatm...
Tag :
  March 24, 2013, 8:16 pm
आस्ट्रिया के टौर्न पर्वत से नोद्रम नामक एक झरना बहता है । हर तीसरे पहर ३. ३ ० बजे  उस पर एक इंद्र धनुष उदित होता है । यह समय इतना निश्चित है कि लोग इस से अपनी घडी मिलाते हैं । इटली के आर्मिया क्षेत्र में एक जल स्रोत है । उसमे सर्दियों के मौसम में गर्म पानी निकलता है , भा...
adhyatm...
Tag :
  March 18, 2013, 8:11 am

...
adhyatm...
Tag :
  March 17, 2013, 6:56 pm
jeevat marna bhavjal tarnaਇੱਕ ਸਮਾਂ ਦੀ ਗੱਲ ਹੈ ਕਿ ਇੱਕ ਸਾਰਾ ਸੰਤ ਮਹਾਪੁਰੁਸ਼ ਜੀ   ਦੇ ਆਸ਼ਰਮ ਵਿੱਚ ਉਨ੍ਹਾਂ  ਦੇ ਨਾਲ ਰਹਿ ਰਹੇ ਇੱਕ ਚੇਲਾ ਨੇ ਆਪਣਾ ਸਰੀਰ ਤਿਆਗ ਦਿੱਤਾ  . ਹੁਣੇ ਚੇਲਾ ਦੀ ਸਾਧਨਾ ਸਾਰਾ ਨਹੀਂ ਹੋਈ ਸੀ ,  ਉਸਨੂੰ ਬਾਕੀ ਸਾਧਨਾ ਪੂਰੀ ਕਰਣੀ ਸੀ  . ਸਾਰਾ ਸੰਤੋ  ਦੇ ਸ਼ਿਸ਼ਯੋਂ ਨੂੰ  ਅਗਲਾ ਜਨਮ ਵੀ ਮਨੁੱਖ ਦਾ ਹੀ ਮਿਲਦਾ ਹੈ  ...
adhyatm...
Tag :
  March 17, 2013, 6:44 pm
एक बार की बात है कि एक गाँव में एक छोटा सा बालक अपने पिता के संग बहुत खुशहाल हालात में अपने घर आराम से रहता था . एक दिन बालक ने अपने पिता से शहर जाने के लिए कहा . पिता ने समझाया कि शहर अच्छा नहीं होता है . हम अपने गाँव में बहुत सुखी हैं , पर बालक अपनी जिद ठान कर बैठ गया . वह रोने लग ...
adhyatm...
Tag :
  March 17, 2013, 6:09 pm
भारत का एक शाश्वत प्रश्न है जिसका उत्तर पुरातन काल से ढूंडा जा रहा है, और ढूंडा जाता रहेगा .प्रश्न है कि  मैं कौन हूँ ,मैं कहाँ से आया हूँ और कहाँ मुझे जाना है ? जिन्हें इस प्रश् का उत्तर मिल गया वे जन्म और मृत्यु के 84 के चक्र से आजाद हो गए .एक घटना का ज़िक्र कर रहा हूँ .घटना ...
adhyatm...
Tag :
  March 17, 2013, 4:36 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3710) कुल पोस्ट (171497)