Hamarivani.com

युवा-मन

अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन, कोलोम्बो-श्री लंका में  चर्चित ब्लॉगर-लेखिका आकांक्षा यादव को वर्ष 2015 के लिए सार्क देशों में दिए जाने वाले शीर्ष सम्मान “परिकल्पना सार्क शिखर सम्मान“ से सम्मानित किया गया। 25 मई 2015 को  आयोजित इस पंचम अंतर्राष्ट्रीय ब्लॉगर सम्मेलन मे...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :के.के.यादव
  June 27, 2015, 9:30 pm
चर्चित ब्लाॅगर व साहित्यकार एवं सम्प्रति इलाहाबाद परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ श्री कृष्ण कुमार यादव को हिंदी साहित्य और ब्लाॅग पर संस्मरणात्मक सृजन के लिए 15-18 जनवरी 2015 के दौरान भूटान की राजधानी थिम्पू में आयोजित चतुर्थ अन्तर्राष्ट्रीय ब्लाॅगर सम्मेलन में ब्ला...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :के.के.यादव
  January 26, 2015, 12:01 am
कानमें ईयरफोनलगाये मोबाइलसेगाना सुननेमेंमस्तवीरू मजदूरमंडीमें अपनीबारीकीप्रतीक्षा कररहाथा सुबह कादस पारहोरहाथा मैभीएकमजदूरकी तलाशमेंवहाँ उपस्थितथा मुझेदेखतेहीवह कानसे  इयरफोन निकालतेहुए मेरीओरलपका साथकेआठदस मजदूरभ...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  September 17, 2014, 12:45 pm
अभी कल शाम को ही अस्पताल से निराश लौटी शारदा काकी के पास मैं काफी देर तक बैठा था उनके चेहरे के भावों को पढ़ने का प्रयास कर रहा था पुनः आज सुबह से ही कई बार वो हमको बुला चुकी थी बार बार हमसे सुई लगवाने को कह रही थी काकी के पास बैठा उनके क्रमशःठन्ड...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  September 10, 2014, 5:21 pm
महुए केपत्तलका सबसेबड़ा गठ्ठर सरपरलिएगमछाऔरगंजीपहने लछमनवाआगेआगे जारहाथा उसकेपीछेउसकाबापूसुक्खूसरपर छोटागठ्ठरलिएहाथमेंलाठीटेक फटीधोतीऔरनंगे बदन चलरहाथा उसकीधोतीकाएकटुकड़ा पकड़े उसकीतीसरीपीढीका नेतृत्वकरताहुआ मंटूहाफपैंट&nbs...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  August 29, 2014, 3:55 pm
निरास्वप्नआजादीथीनिरास्वप्नआजादीथी     साकारकियाउसकोजिसने उत्सर्गप्राणकोकियासहर्ष          आओयादकरेउनको कुछतोज्ञातशहीदहुए है       अज्ञातोंकीफ़ौजविशाल नमनसभीकोशतशतमेरा        कामकरगएवोकमाल सार्थकतबबलिदानहैउ...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  August 14, 2014, 1:45 pm
प्रचंड पुरवैयासे नावभयंकर हिचकोले लेरहाथा नावमेंक्षमतासेज्यादा बैठेयात्रियोंकाकलेजा रहरहकरमुँहकोआरहाथा सभीशान्त मनहीमनईश्वरसे इसआकस्मिकआपदासे मुक्तिहेतुप्रार्थनाकररहेथे एकदूसरेको असफलदिलासादेनेका प्रयासकररहेथे तभीनाविक...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  August 1, 2014, 11:00 am
सर सर आपने मुझे ही क्यों पकड़ा इतने लोग तेजी से चले जा रहे है उनपर आप ध्यान नहीं दे रहे है चुप रहो ट्रैफिक हवलदार मै हूँ कि तुम यह कौन डिसाइड करेगा किसे पकड़ना है किसे छोड़ना है मै कि  तुम ये सब साले इतनी तेजी से भागे जा रहे है मानो नंबर दो से  पर...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  July 24, 2014, 11:11 am
अउरबचवा काहालबा तोहरेमहतारीके घरअउरगॉवके प्रेमकोदेख दीनानाथनेउसेइसबार अच्छेसेपहचानलियाथा परवहथाकि अपनेठीकहोचुके पिताकोदेख घबरारहाथा ठीकहैबाबूजी सबठीकेजारहेहै धीरजरखे हमआपकेछुट्टीका कागजबनवाकर बसदोमिनटमें आरहेहै कहते...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  July 17, 2014, 1:34 pm
कलकीअनचाहीबातोंऔर घटनाओंनेमुझेरातमें बेचैनकरनेकाप्रयासकिया परमैंनेहमेशाकीतरह एकबारफिरअपनेआपको सरझटककरसमझालिया ईश्वरकोसाक्ष्यमान दूसरेकेअपराधकोभीआत्मसातकरलिया चलपड़ाहै बौद्धिकआतंकवादका यहसिलसिला किनीतिहमेशा छद्मशक्तिकागुलाम...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  July 17, 2014, 1:31 pm
विगतदिनों पापाकीबरसीथी कईदिनोंसेमैंने घाटोंकीओर रुखनहींकीथी आजपापासेजुड़ी तमामयादेंमुझे विह्वलकररहीथी पापाकेसाथबितायी स्मृतियाँपलपल मुझेअतीतमेंले जारहीथी किसतरह पापाकेकंधेपरबैठहम नित्ययहाँआतेथे गंगामेंतैरतेऔर झालमूड़ीपा...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  June 25, 2014, 4:55 pm
जून की तपती दोपहरी आकाश से अनल की वारिश हो रही हो रही बिजली का बिल जमा कर सर पर गमछा और टोपी के साथ काला चश्मा लगाये मै घर वापस आ रहा था तिस पर भी भीषण उमस और जलन के कारण एक पेड़ की छाँव तलाश रहा था  तभी नवनिर्मित सड़क पर बने डिवाइडरो पर मेरी न...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  June 13, 2014, 4:36 pm
विरामदेवे अपनीउद्दातउत्तेजनाओंको मनकोबनाएँधैर्यपूरित शान्त करनेदोइसयुगपुरुषको धीरतासेअपनाकाम आओउन्हेंदे एकऐसाकार्मिकमोहक विद्वेषरहिततुष्टीकरणविहीन वातावरण सफलहोजिससे वहकरसके हमारीआकांछाओऔर अपनेउद्देश्योंकावरण रखीजासके ...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  May 19, 2014, 3:50 pm
पत्रकार लोकतंत्र के चतुर्थ स्तम्भ के पहरुए हैं और उनकी सुरक्षा बेहद जरुरी है। यह एक अजीब संयोग है कि जो पत्रकार लोगों की आवाज़ उठाते हैं, अपने ही मामले में शांत रह जाते हैं।  उक्त उद्गार हिंदुस्तानी एकेडमी, इलाहाबाद में 14 मई, 2014 को  'प्रयाग प्रेस क्लब’ एवं 'उत्तर प्रदेश...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :पहल
  May 18, 2014, 12:52 pm
देखबचवा तोहारनाम  ईं कम्पूटरस्कूलमे लिखादेहली अबखूबमनलगाके तूपढ़ली कुछपइसादेइदेहलेहाई बाकीपगारपरदेवेकाहैकहीँ कहतेकहतेकुसुम अपनेबच्चेकेसाथ घरवापसजारहीथी मैलेआँचलसे अपनेआँखकेकोरोसे बहरहेआसुओंको पोछेजारहीथी जित्तनकी असम...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  April 29, 2014, 4:55 pm
देखा बिना यहाँ क चढ़ावा दिये कुछौ ना करे देब जेकर ई अस्थिकलश हौ ओके तरे न देब कहते दो बनारसी पण्डो ने मणिकर्णिका घाट की सीढ़ियों पर उस किशोर का रास्ता रोक लिया विसर्जन से पहले लगभग उसे छीन लिया था मै यह सब देख सकते में आ गया एक करीबी की अंतिम यात्रा में मै भी वहाँ गया था चिता...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  February 21, 2014, 4:23 pm
सदा की तरह बसंत का आगमन पुलकित पूरी प्रकृति का तन मन अलसाई प्रात के साथ दोपहर की उनींदी अगडाईहाथों को सर के ऊपर लेजाकर  लेती जम्हाई बोझिल आँखे नशीली अलसाई हाँ सखी यही तो है बसंत की तरुणाई सुदूर खेतों में ईठलातीपीली सारसों की बालियाँ सरवर पर बलखाती रवि रश्मियाँ बेह...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  February 7, 2014, 5:04 pm
पिंटूकाभवाअबकीततूसबजाड़ामेंमकरसंक्रांतिपरघरजरूरआवेकारहातोहारसबकरकमराअउरसटाघरवर सबहमठीककरादियारहामोबाइलपरचाचीअपनेपोतेसेबतियारहीथीउनकीआँखेआनेवालेउत्सवकेबारेमेंसोचकरचमकरहीथीहाँयहउनकेलिएउत्सवहीतोथाउनकाबेटापप्पूसपरिवारइस  जाड़ेकीछुट्टीमेंप...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  January 13, 2014, 5:58 pm
चिट्ठियाँ लिखना और पढ़ना किसे नहीं भाता। शब्दों के विस्तार के साथ बहुत सी अनकही भावनाएं मानो इन चिट्ठियों में सिमटती जाती हैं। यही कारण है कि पत्र लेखन विधा को प्रोत्साहित करने के लिए हर वर्ष यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर 15 वर्ष तक के बच्चो...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :जानकारी
  January 5, 2014, 4:31 pm
गोधूलि  आज की शान्त दीखती विषम वेदना बनी अतीत अहि ले नूतन संकल्पो को हिय में नूतन वर्ष आगमनित प्रतीत है नभचर युवा और उनके शिशु खुली हवा में लेंगे साँस नूतन बल अब होगा संचारित जिनके चलते थे स्वाँस प्रस्वास ओंस बिंदु कल के प्रभात के कोमल पत्तों पर ढुलकेगे समनित सीप बिं...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  December 31, 2013, 12:30 pm
सहसा ताड़ ताड़ की आवाज ने भोर के सन्नाटे को चीर दिया था मैं मॉर्निंग वाक हेतु बी एच यू  गेट पर लगभग पहुच चुका था हाँ हाँ करते जैसे ही करीब पहुँचा तब तक हाथ के साथ दस पाँच लात भी उस रिक्शेवाले को पड़ चुके थे उनमे से एक युवक अपनी कमीज की बांह चढ़ाते हुए मेरी ओर  देखते बोला पाप...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  December 26, 2013, 12:39 pm
अपनी रचनाओं में नारी सशक्तीकरण  की  अलख जगाने वाली  युवा कवयित्री, साहित्यकार एवं अग्रणीमहिला  ब्लागर आकांक्षा यादवको दिल्ली में 12-13 दिसम्बर, 2013 को आयोजित 29वें राष्ट्रीय दलित साहित्यकार सम्मेलन में सामाजिक समरसता सम्बन्धी लेखन, विशिष्ट कृतित्व एवं समृद्ध साहि...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :नारी-जगत
  December 22, 2013, 7:32 pm
एक और सम्मान …… भारतीय दलित साहित्य अकादमी ने इलाहाबाद परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ एवं युवा साहित्यकार श्री कृष्ण कुमार यादव को दिल्ली में 12-13 दिसम्बर, 2013 को आयोजित 29वें राष्ट्रीय दलित साहित्यकार सम्मेलन में सामाजिक समरसता सम्बन्धी लेखन, विशिष्ट कृतित्व एवं समृ...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :जानकारी
  December 22, 2013, 7:25 pm
मैंने देखा उसे एक बारात में ज्योति कलश ढोते हुए साथ ही बाये हाथ में अपने नवजात बच्चे को भी सम्भाले हुए उसके पीछे शायद उसकी दस वर्षीया बेटी ज्योतिकलश सर पर लिए कदम  से कदम मिला कर बारात में चल रही थीबड़े ही हसरत से पूरे बारात को निहार रही थी शायद अपने भी प्रियतम के बारा...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  December 10, 2013, 3:20 pm
कउने दिशा में लेके चला रे बटोहिआ गाते गाते आठवर्षिया बच्ची का गला रह रह कर फॅस रहा थाउसका दसवर्षीय भाई साथ में बैठा ढोलक बजा रहा था  यह दृश्य रामनगर की  कोट विदाई रामलीला के दौरान सजे बाज़ार के एककोने का था लोगो का हुज़ूम सतत आ जा रहा था उनकी संवेद...
युवा-मन...
Amit Kumar
Tag :
  November 25, 2013, 3:08 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3666) कुल पोस्ट (165979)