Deprecated: mysql_connect(): The mysql extension is deprecated and will be removed in the future: use mysqli or PDO instead in /home/hamariva/public_html/config/conn.php on line 13
मन की आवाज ♫♫♫ : View Blog Posts
Hamarivani.com

मन की आवाज ♫♫♫

तेरी रहगुजर से गुजारा,तो ये ख्याल आया। कभी छोड़कर गयी  थी,मै यहाँ पर अपना साया।कभी कतरा कतरा आँसू,कभी टुकड़ा टुकड़ा आहें।कभी मेरे दिल के अंदर इक घना साया।मेरा अपना घर रहा हो,के शहर का कोई रास्तातेरी याद को हमेशा हर वक्त साथ पाया तेरे घर की खिड़कियों ने तेरे घर की सीढ़...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  April 30, 2013, 8:06 pm
आती जाती महोब्त है,चलो यूँ ही सही।जब तलक है,खूबसूरत है,चलो यूँ ही सही।किसको मिला है दुनियाँ में सब कुछ ,जो कुछ है अपना चलो यूँ ही सही।वो किसी और का है, मैने माना ,कुछ कदम तो साथ हैचलो यूँ ही सही।...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  April 15, 2013, 2:19 pm
ज़िंदगी क्या है ?लोग कहते है कि ये एक नगमा है, जिसे सजाते जाना है ये एक ख्वाब है, जिसे बस देखते जाना है ये एक गजल है, जिसे गाते जाना है ये एक गीत है, जिसे गुनगुनाते जाना है ये एक इम्तिहान है, जिसे देते जाना है मैं कहती हूँ ज़िंदगी तो ज़िंदगी है ज़िंदगी मैं जीना सीख लो तो ख...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  April 11, 2013, 5:26 pm
कोशिश की कभी तुम्हें भुलाने कीख्वाबो में भी ना आने कीमगर मेरी हर कोशिश नाकामियाब रहीहमने जितनी दूरियाँ बनाईतुम उतने ही करीब आते गयेआपके और हमारे बीच हमकभी रिश्ते लाये तो कभी मजबूरीयांऔर कभी ये दूनियाँपर हमें कहाँ मालूम थाकि दूरियाँ तो वो धागा हैजिसने प्यार को मजबू...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  April 11, 2013, 5:08 pm
आपसी सहमती से ........... ये क्या सही है ये भारतीय राजनेता भारत को क्या बनाना चाहते है ! क्या ये नहीं जानते की जिस भूमि पर ये रहते है उसकी एक सभ्यता , एक संस्कृति है  उस के साथ ये ऎसा  कैसे  कर सकते है ! जब मेने ये पेपर में पढ़ा मुझे बड़ी हैरानी हुई और साथ ही बहुत हसीं भी आई आज 16 की उम...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  March 14, 2013, 1:20 pm
                                          भगवान ने सभी मनुष्यों को एक जैसा बनाया है ये तो हम ही है जिसने सब को अलग अलग बाँट दिया है ......मनुष्य किसी भी देश का हो हँसता भी एक जैसे है और रोता भी ....... भगवान ने प्रत्येक मनुष्य को समान बनाया है यह तो इस से ही सिद्ध हो जाता है ...... इस के लिये किसी अन्य मा...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :दुष्ट व्यक्ति हर जगह मिलते है
  March 11, 2013, 2:59 pm
मेरी अधूरी कहानी लो दास्ता बन गई तूने छुआ आज ऎसे मै क्या से क्या बन गई सहमे हुए सपने मेरे , हॊले हॊले अंगडाईयां ले रहे है ठहरे हुए लहमे मेरे , नई नई गहराइयाँ ले रहे है जिंदगी ने पहनी है मुस्कान करने लगी इतना करम क्यू न जाने करवट लेने लगे है अरमान फिर भी है आंख नम क्यू न जा...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  March 7, 2013, 3:46 pm
...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  March 6, 2013, 2:42 pm

...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  March 6, 2013, 2:42 pm
माँ मुझको भी पंख दे दे मै भी उड़ना चाहती हूँ पंख लगा नील गगन में चाँद को छुना चाहती हूँ ☼बेटी मेरी, ना कर हठ ऊंचाईयो को छुने की जन्म से पहले ही ,बांध दी सीमातेरे आगे बढ़ने की तू वो चिड़िया हे जो पिंजड़े में ही रह जाएगी पिता, भाई,पति की सीमा में ही बंध जाएगी ☼सीमा में उडकर ह...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  February 28, 2013, 3:50 pm
जादू भरे अलफ़ाज की ज़रूरत नहीं गमो की यहाँ कोई दरकार नहीं ज़रूरत है उस सिलसिले की जहाँ तेरे नगमो पे सवाल नहीं ...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  February 26, 2013, 4:14 pm
ये संसद भवन नहीं युद्ध का मैदान हैजिसमे कई दलों का हाहाकार हैं घुस मार , चप्पल मार ,यही तो इनके हथियार हैं कई दलों के युद्धो सा ये , विश्वयुद्ध सामान है संभलो जनता अब तो तुम भी लुटेरा संसद, लुटेरे दल ये करते सबका विनाश है...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  February 22, 2013, 4:33 pm
कभी खिलखिलाती...  तो कभीसहमी सी... मिलती है ये ज़िंदगी..!वक्त चला  जाता है.....मगर कभी थक कर.. रुक जाती है ये ज़िंदगी...!कभी खुशी मे ...कभी दुख  में... जीती है ये ज़िंदगी..!दिल में उठते जज़्बातों मे , उन हसीन एहसासों मे ...झूम उठती है ... ये ज़िंदगी !जब उकेरी किसी काग़ज़ पर..अपने चेहरे की सा...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  February 21, 2013, 5:15 pm
            ज़िन्दगी की हर किताब को बड़ी शिदत से संवारा था हर पेज को नाजो से पला था एक दिन एक लुटेरा आया ज़िन्दगी की उस किताब का लुट लिया अब हर पन्ना बेमाना लगता है माना कि  यह किताब मेरी है पर हर पन्ने पर उस लुटेरे की कहानी है ...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  February 18, 2013, 6:10 pm
Dear          आज मुझे तेरी बहुत याद आ रहि है ,जब भी मन कुछ उदास होता है ............ चलो छोड़ो वही पुरानी बाते   आज फिर हिटलर  ने मुह फुला रखा है ............. और में फिर से उसी बारे में सोच रही हु  क्या एक लड़की होना सुबसे बुरा है , दुनिया में जो कुछ भी हो रहा है उस सुब की जिम्मेदार क्या सिर्फ में ही ...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  February 10, 2013, 12:41 pm
तन्हाई में ये वक्त भी गुजर जाएगा हँसते हँसते ये जख्म भी भर जाएगा रोया नहीं है ये दिल किसी के रुलाने पर भी हँसते है हम हर जख्म पाने पर भी ...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  February 10, 2013, 12:05 pm
कितनी जल्दी ये मुलाकात गुजर जाती है प्यास बुजती नहीं बरसात गुजर जाती है अपनी यादो से कह दो की , यहाँ न आया करे नींद आती नहीं और रात गुजर जाती है उम्र की रहो मे रास्ते बदल जाते है वक्त के साथ इंसान भी बदल जाते है सोचते है की तुम्हे याद न करे लेकिन आंखे बंद करते ही इरादे बदल...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  February 8, 2013, 4:59 pm
           आज समाज मे भ्रष्‍टाचार  इतना अधिक फैल गया है, कि किसी पर भरोसा किया जाए और किस पर नहीं इसका विचार करना हि अपने आप मे एक बहुत बड़ी समस्या है । जिस पर भरोसा करते है वही अगले पल भ्रष्‍टाचारके दलदल मे पड़ा मिलता है । सत्य कि पहचान करना बहुत कठिन हो गया है । आज सब तरफ भ्र...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  December 18, 2012, 3:19 pm
देखो उस पेड़ को लग रहा साकारअभी बोलेगा, लेगा आकारक्या तुम भी हो राहगीरक्या तुम को चाहिए छावरह न सकोगे तुम भी मुझ बिन फिर क्यो करते हो ये अत्याचारकाट डाला जालिमो नेजानकर अनजानदेता नहीं फलतो क्या नहीं उसे जीने का अधिकारतुम भी तो न काट  डालोगे,ले कर छावपथिक फिर बोल उठाकर...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  December 18, 2012, 2:47 pm
ऐ मेरी ज़िंदगी तुझे ढूँढूं कहाँना तो मिल के गये ना ही छोड़ा निशाँऐ मेरी ज़िंदगी तुझे ढूँढूं कहाँना वो लय आज रही ना वो महमिल रहापास मंज़िल पे आके लुटा कारवाँ हो लुटा कारवांऐ मेरी ज़िंदगी तुझे ढूँढूं कहाँये सितारे नहीं ग़म के आँसू हैं येरो रहा है मेरे हाल पर आसमां हाल पर ...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  December 16, 2012, 1:59 pm
ज़िंदगी के ये पल कुछ याद आते है कुछ हसीन कुछ बेमाने से लगते हैचाहती हु कुछ भूल जाऊ लेकिन ,फिर फिर याद आते है ये पल ।छोड़ दु उन यादों को जो ,तनहाई मे तड़पाती है याद करू उनको जो ,तनहाई मे भी हँसाती है।लेकिन ये याद बड़ी अजीब हैअजनबी बनकर आती हैऔर तनहाई मे कभी हँसाती और  कभी रु...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  December 16, 2012, 1:49 pm
अँधियारा मेरे अंतर का प्रभु दूर करो । तन हो उजाला मन हो उजाला ,प्रभु जीवन उजाला करो ॥खोटी मतिओ खोटी गतिओ,प्रभु नीति खोटी हरे हरे ।तन में मन में और जीवन में ,प्रभु चेतना नवरस भरो भरो । ...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  November 6, 2012, 6:25 pm
अनन्तरूपः  जिनके अनन्त रूप हैं वह |अच्युतः    जिनका कभी क्षय नहीं होता, कभी अधोगति नहीं होती वह |अरिसूदनः  प्रयत्न के बिना ही शत्रु का नाश करने वाले |कृष्णः 'कृष्' सत्तावाचक है | 'ण' आनन्दवाचक है | इन दोनों के एकत्व का सूचक परब्रह्म भी कृष्ण      कहलाता है |केशवः क   माने...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  November 6, 2012, 6:15 pm
...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  November 5, 2012, 2:36 pm
ढूंढती  है ये निगाहेअनजानी रहो कोबेजान खण्डरो  मेंढूंढती  है ये अपना वजूदजो कभी खो गया थाजो आज मिलना मुश्किल हैफिर भी जुटे है उसे ढूंढने  मेंउसे पाने की चाह मेंशायद ज़िंदगी का वजूद कही मिल जाएजिससे ज़िंदगी का रुख ही बदल जाए  ...
मन की आवाज ♫♫♫...
Tag :
  November 5, 2012, 2:27 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3709) कुल पोस्ट (171408)