POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: एक महान अराजनैतिक

Blogger: chandresh kumar
व्यवस्था से असंतुष्ट होते नागरिको को संतुष्ट करने,पूर्ण मानव व पूर्ण राष्ट्र के निर्माण के प्रथम प्रारूपव धर्मनिरपेक्ष लोकतन्त्र काधर्मनिरपेक्ष धर्मशास्त्र “विश्वशास्त्र” का व्यापारकिसी विचार पर आधारित होकर आदान-प्रदान का नेतृत्वकर्ता व्यापारी और आदान-प्रदा... Read more
clicks 212 View   Vote 0 Like   2:05pm 24 Feb 2013 #जनरल डब्बा
Blogger: chandresh kumar
राष्ट्र निर्माण के व्यापार के साथ राष्ट्र सेवाwww.vishwshastra.com”अक्सर मीडिया जनविरोधी भूमिका अदा कर रहा है इसकी तीन नजीरें देता हूँ। पहली, यह अक्सर लोगों का ध्यान वास्तविक समस्याओं से हटा देती है, जो कि आर्थिक है। लोग बेरोजगारी, मँहगाई और स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से जूझ रहे ... Read more
clicks 186 View   Vote 0 Like   9:41am 8 Feb 2013 #जनरल डब्बा
Blogger: chandresh kumar
प्रारम्भ के पहले दिव्य-दृष्टिwww.vishwshastra.comमेरे इस जीवन की एक अलग यात्रा में ”दिव्य“ शब्द का जो दर्शन हुआ वह इस प्रकार है। ”दिव्य“ शब्द का प्रयोग वेदों के समय से ही हो रहा है और वह दूसरे शब्दों के साथ मिलकर ”दिव्य दृष्टि“, ”दिव्य रूप“, ”दिव्य दिन“, ”दिव्य वर्ष“, ”दिव्य युग“ इत... Read more
clicks 167 View   Vote 0 Like   8:43am 8 Feb 2013 #जनरल डब्बा
Blogger: chandresh kumar
स्वर्णयुग का आरम्भ का विभिन्न भविष्यवाणीयाँ आधारwww.vishwshastra.comविश्व में अनेक भविष्यवक्ताओं ने समय-समय पर हजारों भविष्यवाणीयाँ की हैं जिसमें से अधिकतम प्रभावी संतो, ज्योतिषियों, स्वप्नदर्शियों, पैगम्बरों व मनोवैज्ञानियों की भविष्यवाणीयाँ गलत सिद्ध हुयी हैं। इसके पीछे... Read more
clicks 161 View   Vote 0 Like   8:05am 8 Feb 2013 #जनरल डब्बा
Blogger: chandresh kumar
स्वर्णयुग का आरम्भ का शास्त्रीय आधारwww.vishwshastra.comकाल, समय या युग परिवर्तन कब होगा? कैसे होगा और किस मानव शरीर के द्वारा होगा? और भविष्य के प्रति जिज्ञासा मानव स्वभाव का सबसे रूचिकर विषय है। इस आधार पर अनेक व्यापार भी चल रहें हैं। उपरोक्त प्रश्नों के हल को पाने के लिए हमें मा... Read more
clicks 214 View   Vote 0 Like   6:40am 8 Feb 2013 #जनरल डब्बा
Blogger: chandresh kumar
एक खबर जिससे दुनिया है बेखर21 दिसम्बर, 2012 को दुनिया में क्या नई घटना घटित हुई?www.vishwshastra.comपिछले 3 वर्षो से शुक्रवार, 21 दिसम्बर, 2012 का दिन बहुत अधिक चर्चित, भयावह और विभिन्न सकारात्मक और नकारात्मक भविष्यवाणियों के कारण विश्व के अधिकतम व्यक्तियों का ध्यान केन्द्रित करने वाला दि... Read more
clicks 158 View   Vote 0 Like   4:56am 8 Feb 2013 #जनरल डब्बा
Blogger: chandresh kumar
काल और युग परिवर्तक कल्कि महाअवतारwww.vishwshastra.comग्रन्थों में अवतारों की कई कोटि बतायी गई है जैसे अंशाशावतार, अंशावतार, आवेशावतार, कलावतार, नित्यावतार, युगावतार इत्यादि। जो भी सार्वभौम सत्य-सिद्धान्त को व्यक्त करता है वे सभी अवतार कहलाते हैं। व्यक्ति से लेकर समाज के सर्वो... Read more
clicks 190 View   Vote 0 Like   10:40am 7 Feb 2013 #जनरल डब्बा
Blogger: chandresh kumar
विश्वात्मा/विश्वमन का विखण्डन व संलयनwww.vishwshastra.comभारत के सर्वप्राचीन दर्शनों (बल्कि विश्व के) में से एक और वर्तमान तक अभेद्य सांख्य दर्शन भारत का अत्यंत प्राचीन और प्रमुख दार्शनिक संप्रदाय है इसके प्रवतर्क महर्षि कपिल थे, जिन्होने सम्भवतः सातवी शताब्दी ई पू0 मे इस दर्शन... Read more
clicks 166 View   Vote 0 Like   9:42am 7 Feb 2013 #जनरल डब्बा
Blogger: chandresh kumar
पूर्ण ईश्वर चक्रwww.vishwshastra.com... Read more
clicks 172 View   Vote 0 Like   8:19am 7 Feb 2013 #जनरल डब्बा
Blogger: chandresh kumar
काल और युग www.vishwshastra.comकाल अर्थात समय को समय से बांधा नहीं जा सकता। कोई भी व्यक्ति समष्टि के लिए किसी निश्चित दिन का दावा नहीं कर सकता कि इस दिन से किसी युग का परिवर्तन, किसी युग का अन्तिम दिन या किसी युग के प्रारम्भ का दिन है। क्योंकि हम दिन, दिनांक या कैलेण्डर का निर्धारण ब्... Read more
clicks 163 View   Vote 0 Like   8:09am 7 Feb 2013 #जनरल डब्बा
clicks 181 View   Vote 0 Like   12:00am 1 Jan 1970 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post