POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: अंतर्कथन/Heartsaid

Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
महाप्राण निराला जी की जीवनसंगिनी  मनोहरा देवी का उन पर प्रभाव एवं स्पेनिश फ्लू महामारी में उनका निधनकितने वर्णों में, कितने चरणों में तू उठ खड़ी हुई,कितने बंदों में, कितने छंदों में तेरी लड़ी गई,कितने ग्रंथों में, कितने पंथों  में देखा, पढ़ी गई-             ते... Read more
clicks 33 View   Vote 0 Like   6:17pm 25 May 2020 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
निराला जी की जीवनसंगिनी मनोहरा देवी का स्पेनिश फ्लू महामारी में  निधन एवं  उनके जीवन पर प्रभाव कितने वर्णों में, कितने चरणों में तू उठ खड़ी हुई,कितने बंदों में, कितने छंदों में तेरी लड़ी गई,कितने ग्रंथों में, कितने पंथों  में देखा, पढ़ी गई-            &n... Read more
clicks 6 View   Vote 0 Like   6:17pm 25 May 2020 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
वर्ष 1918 में भारतवर्ष में स्पेनिश फ्लू का                                 प्रकोप       द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान वर्ष 1918 में दुनिया के विभिन्न देशों में एक विशेष प्रकार के फ्लू ने भयानक महामारी के रूप में फैलना आरंभ कर दिया था। इस फ्लू को स्पेनि... Read more
clicks 25 View   Vote 0 Like   4:43pm 19 May 2020 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
      Movement of people under the                     shadow of Corona         I don't know about specialists, but per se my observation, I was sure that lockdown will only slow rate of proliferation and as proliferation increases albeit slowly, people living in congested and not very clean atmosphere and conditions would be greater at risk and become a fresh source of proliferation. People can't be made to stay at a place where they have gone basically  to earn their livelihood, beyond a limit when the source of livelihood itself has become dry.         That is happe... Read more
clicks 11 View   Vote 0 Like   4:40pm 13 May 2020 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
Tabligi Jamat Markaz and KOVID 19         After Tabligi Jamat Markaz Case, suddenly I see that many people have discovered communal angle in  COVID-19 Epidemic. Some are equating Tabligi Jamat, responsible for sudden spike in Covid 19 Cases in the country as 180 cases of newly reported 386 cases on Ist of April 2020 belong to Markaz ,  with common muslim community. There are many who are defending Markaz. For this purpose they are posting a copy of letter of Markaz written on 24th of March to the authorities. Some are quoting Manjnu Ka Tila Gurudwara matter where 200 people, who had taken shelter ,  were evacuated. Some have poste... Read more
clicks 19 View   Vote 0 Like   4:15pm 1 Apr 2020 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
             People who have left Delhi in hordes after 21 days of lockdown are not afraid of any invading army or enemy in form of religious bigots during riots as happened after partition, rather it is losing their source of income, looming uncertainty and fear of epidemic that is driving the people towards their homes. When they have lost livelihood there is logically no reason for them to stay there as that was the reason for their migration. They are rejecting the life of living like a beggar dependent on Govt. alms. Had the Govt. fixed some amount as allowance just as NAREGA labour charges, situation might have been different.    &... Read more
clicks 13 View   Vote 0 Like   3:13pm 31 Mar 2020 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
             ~गजल~ये कौन कारवाँ छोड़ कर गया हैदिल हमारा तोड़ कर गया है।।यहाँ लौट कर आएगा वो फिरजो हमसे मुँह मोड़ कर गया है।।छोड़ कर चला भी गया तो क्याकुछ तो नाता जोड़ कर गया है।।रिश्ते निभाते गाँठें जो पड़ गईंउनसे वो हमें बेजोड़ कर गया है।।गालों पे ढलका अश्कों का स... Read more
clicks 151 View   Vote 0 Like   10:07am 17 Sep 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
           कोलकाता के उपनगर बैरकपुर के समीपस्थ इच्छापुर - नवाबगंज में सप्ताह में दो दिन साप्ताहिक सब्जी बाजार लगता है। मैं वहाँ अपनी  तैनाती के दौरान प्रत्येक रविवार सब्जी लेने जाया करता था। सब्जी लेने मैं साइकिल से जाया करता था और सब्जी बा... Read more
clicks 140 View   Vote 0 Like   12:21am 30 Aug 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
माझी वह भी था माझी तुम भी हो वह दशरथ था तुम दाना हो उसने पहाड पार किया थापत्नी को बचा लेने की आस में तुम  कंधों पर जीवंसंगिनीऔर साथ में बेटी को लेपैदल निकल पडे चौंसठ किलोमीटर रास्ता तय करनेअमंगदेई को  सती के समानकंधों परशिववत लिए हुएतुममें नहीं थाकोई रोषकोई प्रतिका... Read more
clicks 166 View   Vote 0 Like   10:55am 29 Aug 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
70वें स्वतंत्रता दिवस पर सभी को हार्दिक बधाई!आओ तज धर्म-जाति का बंधनएक पंक्ति में खड़े हो जाएंआज फिर वीरों को याद करेंऔर तिरंगा प्यारा लहराएं।।राजनीति छोड़ देश का विकासहो ध्येय राजनीतिज्ञों को समझाएंजोड़- तोड़ से नहीं, काम करोगेतभी मिलेंगे वोट आओ इन्हें बताएँ।।सांप... Read more
clicks 161 View   Vote 0 Like   12:33pm 16 Aug 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
कमलाकान्त त्रिपाठी जी :Krishna Chandra Pandey ji, तथ्यों के अपने निष्कर्ष होते हैं। सबूत नहीं है पर समकालीन सुधी लोगों का अनुमान था कि नेहरू के लिए जम्मू-कश्मीर का पाकिस्तान में जाना एक दुःस्वप्न सरीखा था। दो कारण - शेख अब्दुल्ला से मित्रता और अपनी कश्मीरियत और कश्मीर के प्रति सहज, ... Read more
clicks 145 View   Vote 0 Like   2:31pm 24 Jul 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
 एक सहकर्मी के आग्रह पर उनके बेटे के लिए लिखी गई कविता                ‍‍- चिंपूजी की शादी (बाल-गीत) -एक पेड़ पर रहते थे एक बंदरिया और बंदरजीकुछ दिन बीते पैदा हो गए उनके छोटे चिंपूजी॥मम्मी- पापा का लाड़ पा चिंपूजी हो गए बड़े शैतानदिन भर धमाचौकड़ी करते, छोडें न कोई पेड़-म... Read more
clicks 140 View   Vote 0 Like   4:11pm 23 Jun 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
आसमां पे बादलों का पहरा बैठा हुआ हैपर बेखबर शहर अभी सोया हुआ है।।कलेजे में ठंडक लिए आ गए हैं मेहमांजिनके आगोश में जहाँ सिमटा हुआ है।।तपन और उमस से हर शख्स परेशां थासहला रही है मौजे नसीम ये किसकी दुआ है।।चले न जाएं दिल को सुकूँ देने वाले यायावररोकना आसमां पे कारवाँ जो ... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   10:00am 6 Jun 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
श्री अनूप शुक्ल:          इधर भारत में कुछ महिलाओं द्वारा यौन सम्बन्धों में आजादी की बात चल रही है उधर पाकिस्तान में पत्नी द्वारा शारीरिक संबंध के लिए मना करने पर पिटाई की आजादी मांगी जा रही है।पाकिस्तान में प्रस्तावित विधेयक में यह कहा गया है कि यदि पत्नी पति की ब... Read more
clicks 138 View   Vote 0 Like   4:33pm 30 May 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
~ स्वच्छता का चले अभियान ~स्वच्छता का चले अभियान।देश बने स्वस्थ- समृद्ध -महान।।स्वच्छता का प्रयास करे हर इंसान।स्वच्छता में ही बसते हैं भगवान।।चारों तरफ रखें स्वच्छ वातावरण।उत्पादन हेतु बनेगा समुचित पर्यावरण ।।स्वच्छता के लिए करते रहना यत्न ।उच्च उत्पादकता के लि... Read more
clicks 138 View   Vote 0 Like   1:48am 28 May 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
हवा के खिलाफ चलकर पास आ जाने वाले हमेशा साथ निभाते हैं।हवा के साथ बह भी आते हैं जर्द पत्ते ,जो हवा के साथ वापस चले जाते हैं।।अच्छे दिनों में न भूलो कभी दुश्वारियों में साथ रहने वालों को।अच्छे दिनों की आस में साथ आने वाले गमकशी में साथ छोड जाते हैं।।जब दिन किसी के अच्छे ह... Read more
clicks 146 View   Vote 0 Like   12:32pm 26 May 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
           एक सप्ताह पूर्व शनिवार 14 मई के दिन मैं चेन्नै में था। अपने मित्र श्री कार्तिकेयन के द्वारा की गई व्यवस्था के अनुसार मैं चेट्टिनाड म्यूजियम देखने के बाद महाबलिपुरम गया और वहाँ घूमने के बाद वापस चेन्नै लौटते समय उस दिन के लिए मेरे सारथि जयमोहनजी मुझे इस्... Read more
clicks 135 View   Vote 0 Like   4:09pm 21 May 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
                                         ~महाबलिपुरम में माला बेचने वाली वह बच्ची~          14 मई के दिन मैं अपने सुपुत्र प्रत्यूष के साथ महाबलिपुरम के तट पर घूमने और तटवर्ती पल्लवकालीन मंदिर देखने के बाद वापस लौट रहा था। गाड़ी के ड्राइवर श्री जयमोहन... Read more
clicks 111 View   Vote 0 Like   3:07pm 15 May 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
         उत्तरी मुंबई से भाजपा के संसद सदस्य श्री गोपाल चिनय्या शेट्टी ने लोकसभा में एक प्राइवेट मेम्बर बिल पेश किया है जिसमें संविधान के तीसरे अनुच्छेद में संशोधन की माँग करते हुए निर्वाचित होने वाले जन प्रतिनिधियों के लिए शपथग्रहण के समय भारत माता की जय बोलना ... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   2:45pm 30 Apr 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
               मेरे फ्लैट के सामने इस बहुमंजिली इमारत में एक उद्योगपति निवास करते हैं। पर जब आप नीचे सड़क के किनारे फुटपाथ पर देखेंगे तो नीचे तमाम लोग ऐसे मिलेंगे जिनका निवास स्थान फुटपाथ ही है। वहीं शाम को ईंटें लगाकर चूल्हा जला लिया जाता है जिन पर खाना पकता है... Read more
clicks 121 View   Vote 0 Like   6:25am 30 Apr 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
                          डाँस बार        दो दिन पहले समाचार पत्र में सुप्रीम कोर्ट की एक टिप्पणी महाराष्ट्र सरकार के साथ चल रहे डांस बार के मामले में पढी कि भीख माँगने की अपेक्षा डांस कर पैसा कमाना ज्यादा ठीक है। महाराष्ट्र सरकार ने अपने जवाब में कहा है क... Read more
clicks 119 View   Vote 0 Like   4:15pm 29 Apr 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
          सन 2012 में गुजरात के अपने मुख्यमंत्रित्वकाल के दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने बिहार में सद्भावना यात्रा आरंभ कर पूरी की थी । इस यात्रा के माध्यम से उन्होंने अल्पसंख्यकों विशेषकर मुस्लिम समुदाय तक संपर्क और पहुँच बनाने की कोशिश की थी। इसमें कितनी सफलता मिली ... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   3:48pm 25 Apr 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
I had, as an 18 years old, written this sonnet wherein I used a different meter system than usual. However when shown to my English lecturer , he advised me to write and improve my prose instead of trying to write poems.     ~ Sonnet of a winter morn! ~Look over the Margosa, the newly born sun in heavenHow much he looks happy and gay!The singing peasant with his hale and hearty oxenIs going on his usual way.Pair of sparrows on the mango tree  in the chilly weatherIs sweetly twittering as ever.How smoothly with its constant spontaneous flowIs flowing Saryu ,the pious river.Like a dancing maid Eucliptus marvellously swings.Awake dear ,participate in the mirth of natura... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   2:37am 25 Apr 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
                     आँखें तुम्हारी          ( 12 वर्ष पहले लिखी गई कविता )झील सी गहरी आँखें तुम्हारी इस दिल में घर कर गईं।चपल आँखें तुम्हारी सरे महफिल क्या-क्या कह गईं।हिरणी सा जादू समाया है तुम्हारे कजरारे नैनों में।अपनी आँखों से तुम इस काफिर को निष्प्राण ... Read more
clicks 140 View   Vote 0 Like   4:36pm 20 Apr 2016 #
Blogger: संजय त्रिपाठी कृष्णगीत
~ गजल (साल्टलेक,सेक्टर-5, कोलकाता पर)~शहर के इस हिस्से में कहीं धूप तो कहीं छाँव हैभीतर मैकडोनाल्ड तो पटरी पे चाय की दुकान हैभटकने की जरूरत नहीं जेब में हैं कितने पैसेउसके अनुकूल ही हर समस्या का समाधान हैसड़क के इस पार खड़ी है बहुमंजिली इमारतउस पार सुकूँ देता 'नलबन'का सरो... Read more
clicks 189 View   Vote 0 Like   7:43am 9 Apr 2016 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4005) कुल पोस्ट (191860)