POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: गढ़वाली कुमाऊँनी शब्द

Blogger: Pratibimba Barthwal
आज स्वास्थ्य से सम्बन्धित वाक्य आपके लिए [ गढवाली - कुमाऊँनी -हिन्दी - English में पढ़िए ]१. वु अस्पताल म भर्ती च।१. उ अस्पताल मा भर्ती छ।१. वो अस्पताल मे भर्ती है1. He is admitted to the hospital.२. खून[लोई] बौगणू[बगणू] च।२. खून भ्यैर उन रयोछ।२. खून बाहर आ रहा है2. ! Blood is coming out३. मि ठीक नि छौं। ३. मैं ठीक नी छ... Read more
clicks 236 View   Vote 0 Like   7:02am 18 Jan 2013 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
अध्याय १६आज कॉलेज / स्कूल मे होने वाली कुछ बातचीत यहाँ पेश की जा रही है। इस रूप मे पढेगढ़वाली-कुमाऊँनी-हिन्दी-अँग्रेजी१.म्यार कॉलेज सुबेर 8 बजी शुरू हून्द म्योर कॉलेज रत्ते आठ बाजी बटी लागों।मेरा कालेज सुबह 8 बजे शुरू होता हैMy college starts at 8.00 am२.म्यार कालिज / स्कूल नैनीताल कोटद... Read more
clicks 189 View   Vote 0 Like   6:04pm 5 Dec 2012 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
मुहावरे व लोकक्तियाँ - गढ़वाली व कुमाऊँनी मे बहुत सी है यहाँ दूसरे भाग मे भी १० -१० मुहावरे व लोकक्तियों को बताया जा रहा है  - हिन्दी अर्थ या भावार्थ के साथ और जहां संभव हो पाया वहाँ अँग्रेजी मे भी दिया जाएगा। [ इससे पहले के भाग १ को इस लिंक मे देखिये http://uttarakhandiwords.blogspot.com/2012/10/blog-post_29.... Read more
clicks 260 View   Vote 0 Like   11:01am 18 Nov 2012 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
मुहावरे व लोकक्तियाँ - गढ़वाली व कुमाऊँनी मे बहुत सी है यहाँ हर भाग मे १० -१० मुहावरे व लोकक्तियों को बताया जाएगा  - हिन्दी अर्थ व भावार्थ के साथ और जहां संभव हो पाया वहाँ अँग्रेजी मे भी दिया जाएगा। गढ़वाली १. जख बिलि नी तख मूसा नचणु। जहां बिल्ली नही वहाँ चूहे नाच रहे।where ... Read more
clicks 266 View   Vote 0 Like   2:49pm 29 Oct 2012 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
आज के अध्याय मे ध्वनि का बोध कराते हुये कुछ शब्द आपके लिए। इस रूप मे पढे गढ़वाली कुमाऊँनी हिन्दी १.खमणाट: भांड़ो ते आराम से धारा किले खमणाट करना छ्याओ।खणबड़्याट: भाणान कै आरामले (सजैके) रख्या किला खणबड़याट करनौ छा।बर्तनो के टकराने की आवाज़: बर्तनो को आराम से रखो क्यों ... Read more
clicks 202 View   Vote 0 Like   7:25pm 9 Oct 2012 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
on the way, रास्ते में, बाट मा, बाट मे - रास्ते मे बातचीत किस तरह से होती है उसका उदाहरण इन वाक्यों मे लिखा है सीखने का प्रयास करे। [ अगर आप जानते है और कहीं गलती हो तो जरूर बताए ठीक करने का प्रयत्न करेंगे]इस क्रम मे पढे englishहिन्दीगढ़वालीकुमौनीExcuse me, could you tell me the way to the station, please?माफ कीजिएगा, क... Read more
clicks 180 View   Vote 0 Like   3:26pm 6 Jul 2012 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
आज आपके साथ कुछ शब्द और वाक्य प्रस्तुत कर रहे है जो दैनिक जीवन और आमतौर पर प्रयोग करते है। [इस रूप मे पढे ]englishहिन्दी गढ़वालीकुमाऊँनीspeak: speak somethingबोलो: कुछ तो बोलोब्वाला /बोला: कुच्छ त ब्वाला।बुलाव / बुआल: क्यै त बुलावListen: Pls listen to me.सुनो : कृपया मुझे सुनिये।सूणा: मेर बी सूण ल्यावा।स... Read more
clicks 200 View   Vote 0 Like   7:24am 29 Jun 2012 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
हिन्दी मे जिस तरह शब्द -युग्म होते है उसी तरह कुमाऊँनी गढ़वाली मे भी अक्सर प्रयोग होते है। चलिये कुछ एक येसे शब्दो से आपका परिचय करा दूँ। हाँ इस क्रम मे पढे कुमाऊँनी गढ़वाली हिन्दी अँग्रेजी गंज-मंज : ते काम में नी करून त्वेल किले को की वू सब गंज-मंज कर दिनी। गंज-मंज: वै म... Read more
clicks 188 View   Vote 0 Like   2:49am 12 Jun 2012 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
कुछ शब्द वाक्य प्रयोग सहित। कृपया इसे इस तरह पढे englishहिन्दीगढ़वालीकुमाऊँनीRing - myring is lost.अंगूठी - मेरी अंगूठी खो गई है ।गुंठि - मेरि गुंठि हर्चे ग्या ।मुनैड़ी - मियेरीमुनैड़ी हिरै गये। Fear - now aday there is a great fear of theft.अंदेशा -आजकल चोरी का अंदेशा भौत होता है । -खटकू -अज्काल चोरी को खटकू भोत ... Read more
clicks 238 View   Vote 0 Like   6:00pm 30 May 2012 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
कुछ सामन्य वाक्य वार्तालाप में ......[English – हिन्दी – गढ़वाली – कुमाऊँनी]Please come in कृपया भीतर आइये । आवा, भितर आवा। आवा, भितेर आवा । Everything is fine at home.घर मे सब कुशल - मंगल हैं। ड्यारा मा [डेरा मू] सब राजि -खुसि छन। घर मै सब कुशल बात ठीक छ । What will you have?आप क्या लेंगे ?आप क्या ल्येला ?आफु कि ल्याला ?I... Read more
clicks 272 View   Vote 0 Like   7:41pm 23 Nov 2011 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
[कुछ शब्द और वाक्य प्रयोग ]गढ़वाली - कुमाऊँनी - हिन्दी - English इस रूप मे पढे १.अकब्याट - आज सुबर बटी अकब्याट हूणों च ।अल्बलाट - आज रत्ते बटी  मैके अल्बलाट हुना रा  ।अकबकाहट - आज सुबह से अकबकाहट हो रही है ।confuse  - Since morning I am confuse.२.अनवार - तीफ़र [त्वैपर] म्यार ममा की सी अंवार आणि च ।अनवार  /ए... Read more
clicks 199 View   Vote 0 Like   12:45pm 15 Nov 2011 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
आज पक्षियों व जानवरों के नाम व संबंधित शब्द आपके सामने है।  कृपया  शब्दो को इस रूप मे पढे english - हिन्दी - गढ़वाली - कुमाऊँनीBirds – चिड़िया - चखुला – चाड़Pigeon - कबूतर - घुघती - घुघुतKite - चील - चिलांग - रिशीEagle - गरुड – गरुड - चीलVulture – गिद्द – गिद - गिधPartridge – तीतर – तितर - तितिरHen - मुर्गी - कुखड़ [मु... Read more
clicks 293 View   Vote 0 Like   12:48pm 4 Sep 2011 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
पहाड़ खेत और जंगल उत्तराखंड के जन जीवन के प्रमुख आधार स्तम्भ है। आज के इस अध्याय मे उनही शब्दो से आपको परिचय करवाया जाएगा जहां वाकई प्रयोग की जरूरत महसूस होगी उन्हे भी बतलाया जाएगा। इसे तीन हिस्सो मे बाँटा गया है। पहाड़/जंगल से संबन्धित, खेतो से संबन्धित व   दोनों मे प... Read more
clicks 218 View   Vote 0 Like   3:48am 4 Jul 2011 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
 शब्दो और वाक्य प्रयोगो को इस रूप मे पढे  English - हिन्दी - गढ़वाली - कुमाऊँनीनमस्कार!! चलिये आज मौसम और महीनो के इस अध्याय मे सबसे पहले महीनो के नाम से आपको परिचय कराया जाये। अँग्रेजी मे जनवरी पहला महिना होता है है लेकिन हिन्दी मे और उत्तराखंड मे भी चैत्र मे साल शुरू होता है। ... Read more
clicks 236 View   Vote 0 Like   5:06am 7 Jun 2011 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
रिश्ते नातो का उत्तराखंड के जन जीवन मे एक अहम स्थान है । आज की इस 'पोस्ट' में उत्तराखंड मे रिश्तों के नामो से आप लोगो को अवगत कराएँगे ।    रिश्ते - नाते[एक नज़र  हिन्दी- english - गढ़वाली- कुमाऊँनी  ]हिन्दी English गढ़वाली कुमाऊँनीनाना जी grand father(maternal) नना मावकोटाक बुब नानी जी gran... Read more
clicks 186 View   Vote 0 Like   6:18pm 19 May 2011 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
आज का विषय : दिन [Day - दिन - बार  - वार ][इस रूप मे पढे]अँग्रेजी - हिन्दी - गढ़वाली - कुमाऊँनी Sunday, Monday,Tuesday, Wednesday, Thursday, Friday and Saturdayरविवार , सोमवार, मंगलवार, बुधवार, बृहस्पतिवार, शुक्रवार, एवं शनिवार इतबार, सोमबार, मंगलबार, बुधबार, भिप्यार, शुक्रबार अर छंचर इतवार, सोमवार, मंगलवार, बुधवार, बि... Read more
clicks 210 View   Vote 0 Like   2:54pm 17 May 2011 #
Blogger: Pratibimba Barthwal
॥ ॐ श्री गणेशाय: नम: ॥इस ब्लाग और लेख की शुरुआत मे पहला लेख ['मध्य हिमालय मे शिक्षा व शोध' से डा. गुणानन्द जुयाल द्वारा लिखित लेख के अंश जिसमें कुमाऊंनी/गढवाली शब्दो की कुछ विशेषताये....] जो मैं सांझा कर रहा हूँ इसे आप जरूर पढे और २-४ बार पढे। इसके साथ ही उस पृष्ठ के चित्र भी ... Read more
clicks 253 View   Vote 0 Like   1:35pm 16 May 2011 #
clicks 248 View   Vote 0 Like   12:00am 1 Jan 1970 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post