POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: Cg Radio

Blogger: ललित शर्मा
आज बातें रूठने मनाने कीस्‍वर व स्‍क्रि‍प्‍ट - पद्मामणिकोई रूठे अगर अपना कभी तो उसे फौरन मना लेना चाहि‍ये क्‍योंकि जि‍द की जंग में अक्‍सर दूरि‍यां जीत जाती हैं.                                         cgradio123@yahoo.in पर प्रसारण के लि‍ये भेजि‍ये अपनी रचनाएं ... Read more
clicks 403 View   Vote 0 Like   3:49am 8 Jan 2013 #
Blogger: ललित शर्मा
सीजी रेडियो में प्रस्तुत है ब्लॉगर ललित शर्मा की कहानीलांस नायक वेदरामइसे आवाज दी है स्वयं ललित शर्मा जी ने                                  ... Read more
clicks 377 View   Vote 0 Like   12:00am 6 Jan 2013 #
Blogger: ललित शर्मा
सीजी रेडियो पर सुनिए नववर्ष के आगमन की कविताएंपॉडकास्ट में सम्मिलित कविअटल विहारी बाजपेयी   - एक बरस बीत गयाहरिवंश राय बच्चन     -  नव वर्षसोहन लाल द्विवेदी       - स्वागत! जीवन के नवल वर्षसर्वेश्वर दयाल सक्सेना   -नए साल की शुभकामनाएंकुंवर शिवप्रताप सिंह     - तेरा  है अभिन... Read more
clicks 274 View   Vote 0 Like   6:31pm 31 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
बाय बाय 2012नया साल आता है और कि‍तनी जल्‍दी उसके जाने का समय भी आ जाता है....                                                                     जब कि‍सी के आने पर खुशी होती हे तो जाने पर दुख भी होता है तभी तो कहा जाता है.........अभी अभी तो आए थे...........नये साल के आने की खुशी और उत्‍साह में हम भूल ही जाते हैंकि जाने ... Read more
clicks 256 View   Vote 0 Like   12:00am 31 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
गीतांजलि गीत का संदेश दामि‍नी के नाम,  दुनि‍या की हर बेटी के नाम........  दामि‍नी तुम्‍हें शत शत नमन, वंदन,  तुम्‍हारे साहस का अभि‍नंदनलिंक- गीतांजलि गीतwww.cgradio.net पर आपकी रचनाओं के प्रसारण के लि‍ये  हमें आप मेल कर सकते हैं इस पते पर cgradio123@yahoo.in... Read more
clicks 290 View   Vote 0 Like   3:58am 30 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
पूरे देश में पि‍छले 13 दि‍नों से हर जबान पर एक ही बात थी 'बहुत बुरा हुआ'......पूरा देश हि‍ला हुआ था, और आज जब दामि‍नी हमारा साथ छोड़कर चली गई तो हम सब स्‍तब्‍ध हैं.....हतप्रभ हैं.....हैरान हैं......ऐसा लग रहा है जैसे दि‍ल और दि‍माग ने काम करना ही बंद कर दि‍या है.....पर हमें सोचना होगा, इ... Read more
clicks 294 View   Vote 0 Like   7:22am 29 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
ब्‍लॉगर्स की कवि‍ताओं का पॉडकास्‍ट सीजी रेडि‍यो पर                                                                                   संध्‍या शर्मा की कवि‍ताएं ललि‍त शर्मा के स्‍वर में   कवि‍ता1 जीवन एक कि‍ताब,कवि‍ता 2 नि‍त जोत से जलती हूं,कवि‍ता 3 आखि‍री वक्‍त,कवि‍ता 4 रफता रफता             link : sandhya sharma               ... Read more
clicks 256 View   Vote 0 Like   3:36am 28 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
सीजी रेडि‍यो के माध्‍यम से नौशाद साहब की याद....                                         नौशाद अली (1919-2006) हिन्दी फिल्मों के एक प्रसिद्ध संगीतकार थे । पहली फिल्म में संगीत देने के 64 साल बाद तक अपने साज का जादू बिखेरते रहने के बावजूद नौशाद ने केवल 67 फिल्मों में ही संगीत दिया, लेकिन उनका कौशल ... Read more
clicks 273 View   Vote 0 Like   7:07am 25 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
दीप्‍ति के साथ सुनि‍ये एक संगीतमय कहानीरचना - रमा शेखर                                    घर के दो बच्‍चे एक से तो नहीं हो सकते ना....कोई मेधावी तो कोई कमजोर, एक नटखट तो दूसरा गंभीर....बहुत सी बातें जिम्‍मेदार हो सकती हैं एक ही घर के दो बच्‍चों के व्‍यवहार को अलग अलग बनाने में....लेकि‍न क्... Read more
clicks 300 View   Vote 0 Like   11:00pm 21 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
सफर में ले जाने वाले व्‍यंजनों पर आधारि‍त आज की कड़ी में अति‍थि हैं सुधा मारदा और एंकर हैं कंचन                                                                                                   ... Read more
clicks 261 View   Vote 0 Like   11:00pm 19 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
कभी कभी भूलना भी याद करना होता है.....एक समय ऐसा आता है जब हम बहुत कुछ भूलने लगते हैं। ये विस्मरण, बढ़ती उम्र और तनाव की देन है। मनोवैज्ञानिकों का कहना है कि हम उन्हीं चीजों को भूलते हैं जिन्हें हमारा मन स्वीकार नहीं करना चाहता। असल में रोजमर्रा की जिंदगी में हम मन के विपरी... Read more
clicks 292 View   Vote 0 Like   5:18am 17 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
http://gatyatmakjyotish.com/category/%E0%A4%A6%E0%A4%BF%E0%A4%B8%E0%A4%82%E0%A4%AC%E0%A4%B0-2012/page/4/21 दि‍संबर बेहद नजदीक है....पि‍छले कुछ वर्षों से ये तारीख दुनि‍या के अंत के लि‍ये घोषि‍त की गई है....माया कैलेंडर का अंत या नास्‍त्रेदम की भवि‍ष्‍यवाणी, कि‍सी ग्रह के पृथ्‍वी से टकराने की बात या सुनमी, अणु बम का मानव द्वारा प्रयोग...कार... Read more
clicks 307 View   Vote 0 Like   3:18am 15 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
 एक संगीतमय कहानी दीप्‍ति के साथ......महफि‍ल रचना - वि‍जय ठक्‍करसोहा और वि‍श्‍वराज दो पुराने साथी जब बरसों बाद मि‍ले,तो यादों का सि‍लसि‍ला थमने का नाम ही नहीं ले रहा था... और जब थमा तो........सुनि‍ये संगीत से सजी ये कहानी दीप्‍तिके अंदाज में.....                                    दीप्‍ति सक्‍... Read more
clicks 281 View   Vote 0 Like   11:00pm 12 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
विशाल भारद्वाज का संगीतमय फि‍ल्मी सफर...सुनील चि‍पड़े के साथ......                                         प्रस्तुति- सुनील चिपड़े                                    "विशाल भारद्वाज" का जन्म उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले मे हुआ था। उनका बचपन मेरठ में गुजरा। उनके पिता राम भारद्वाज एक कवि थे औ... Read more
clicks 331 View   Vote 0 Like   5:22am 9 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
पन्ना धाय से कम न था रानी बाघेली का बलिदान                               http://www.gyandarpan.com/2011/02/blog-post_24.html                  कहानी -  रतन सिंह शेखावत                                                                      स्‍वर - संज्ञा टंडन                                             भारतीय इतिहास में खासकर राजस्थान के इतिहास में बलिदानों की गौरव गाथ... Read more
clicks 362 View   Vote 0 Like   6:28am 7 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
शुभकामना संदेशों से लबरेज सीजी रेडि‍यो                             Shubhda PandeyLalit Sharma                रुमाल वर्तमान में हमारी जरुरत का सामान बन गया है। ऑफ़िस या काम पर जाने से पहले आदमी हो या औरत रुमाल साथ रखना नहीं भूलते। बच्चा भी जब स्कूल जाता है तो उसकी वर्दी पर माँ पिन से रुमाल लगाना नहीं भू... Read more
clicks 271 View   Vote 0 Like   11:00pm 3 Dec 2012 #
Blogger: ललित शर्मा
ग्लोबल होती जा रही है दुनिया में हर एक चीज़। पत्रों की जगह टेलीफोन ने ले ली थी, टेलीफोन के बाद मोबाइल फोन आए कुछ और सुविधा युक्त। जिनमें एसएमएस के ज़रिये फोन पर व्यक्ति की उपलब्धता न होने पर भी संदेश पहुंचना शरू हो गए यानि पुराने समय के साथ तार या टेलिग्राम का ज़माना भी ख... Read more
clicks 235 View   Vote 0 Like   2:47am 3 Dec 2012 #
clicks 289 View   Vote 0 Like   12:00am 1 Jan 1970 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post