POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: My Shayari

Blogger: milap singh
भूल  कर  सब मसले पलभरआओ आज अमीर बन जाते हैं।अगर वजह नहीं है कोई भी तो चलो  बेवजह  ही  मुस्कुराते हैं।     ...... मिलाप सिंह भरमौरी... Read more
clicks 28 View   Vote 0 Like   4:23pm 10 Aug 2019 #हिन्दी शायरी
Blogger: milap singh
कश्मीरी पंडित*************गाड़ी की खिड़की से बाहर चमन बड़ी देर से एकटक होकर देखे जा रहा था मानो जैसे वह प्राकृतिक दृश्यों में खो गया हí... Read more
clicks 36 View   Vote 0 Like   2:46am 10 Aug 2019 #
Blogger: milap singh
जब जीवन अपना तंग होता हैतब जाकर मोह भंग होता है।वरना खुशियों के मौसम का तोअपना ही अलग रंग होता है।मिलाप सिंह भरमौरी... Read more
clicks 11 View   Vote 0 Like   7:25am 27 Jul 2019 #
Blogger: milap singh
जगह- जगह आक्रोश हैफिर भी तू खामोश हैतू सत्ता-सुलभ दिखाऊ हैहाँ-हाँ मीडिया तू बिकाऊ है....... Read more
clicks 24 View   Vote 0 Like   12:56am 7 Jul 2019 #
Blogger: milap singh
यह मजदूर नहीं आते सड़कों परजब तक रोजी - रोटी चलती रहेपर जब छीनने लगे सरकार नौकरीतो खुद ही बताओ यह क्या करें???... Read more
clicks 36 View   Vote 0 Like   10:03am 28 Jun 2019 #
Blogger: milap singh
तेरे वगैर जिंदगी सूनी सी लग रही थी।बोझिल से पल थे सारे मुश्किल हर घड़ी थी।आने से घर में तेरेफिर से रौनक सी आ गई है।सांसे फ... Read more
clicks 23 View   Vote 0 Like   12:46am 21 Jun 2019 #
Blogger: milap singh
जिनसे मोहब्बत होती हैशिकवे भी उनसे होते हैं।वरना गैरों से दुनिया मेंभला कौन शिकायत करता है।तुमको भी पता है इस दिल की हकीकत।यह दिल तुमसे अब भीकितनी मोहब्बत करता है।....... मिलाप सिंह भरमौरी ... Read more
clicks 54 View   Vote 0 Like   5:47am 15 Apr 2019 #मिलाप की शायरी
Blogger: milap singh
रंग - बिरंगे इस धरती परफूल प्यारे सजते हैं।काले- काले बादल जबपानी बन के बरसते हैं।आँखे मन करते हैं आँसूपर फिर भी ठंडक मिलती है।सच तेरी यादों के  पल मुझकोवो अब भी प्यारे लगते हैं।....... मिलाप सिंह भरमौरी... Read more
clicks 120 View   Vote 0 Like   11:01am 30 Mar 2019 #
Blogger: milap singh
पल भर ही सही लेकिन वाह! क्या समा बन आया था।दिल के हर कोने में जैसे खुशियों का रंग छाया था।जी करता है कि जिंदगी भर न छूटने दूँ उसको।अपने हाथों से मेरे गालों पर कल तुमने जो रंग लगाया था।..... मिलाप सिंह भरमौरी... Read more
clicks 44 View   Vote 0 Like   4:28am 22 Mar 2019 #holi shyari
Blogger: milap singh
मेहनत तो कर्म है तेराफिर किसलिए परेशान हो।नीरस - सा लगेगा जहानमंजिल अगर आसान हो।कुछ तो सिखा के जाएंगीयह रुकावटें भी राह की।प्रयास एक ओर जारी रहेजब तक जिस्म में जान हो।.......मिलाप सिंह भरमौरी।... Read more
clicks 112 View   Vote 0 Like   1:32pm 16 Mar 2019 #
Blogger: milap singh
बस कमी सी तेरी खलती है।पर शामें अब भी ढलती हैं।तुम होते तो शायद ओर अच्छा होताखैर!  दुनिया तो अब भी चलती है।....... मिलाप सिंह भर... Read more
clicks 67 View   Vote 0 Like   8:49am 23 Oct 2018 #
Blogger: milap singh
अपने जीवन के इस  विस्तृत मैदान में।अवगुणों के आलंवन से खड़े हो चुके शैतान में।आज सतगुणों के अस्त्र से प्रहार करते हैं।र&... Read more
clicks 73 View   Vote 0 Like   5:07am 19 Oct 2018 #
Blogger: milap singh
चलने से टिकती हैऔर रुकने से गिर जाती है।यह जिंदगी बिना स्टैंड की साईकिल है।बिना स्टैंड की साइकिल🚲🚲🚲🚲🚲🚲🚲चलती है तो ट&... Read more
clicks 61 View   Vote 0 Like   3:27am 15 Oct 2018 #
Blogger: milap singh
मैं जब भी तन्हा होता हूँ।तेरे सुंदर सपने बोता हूँ।कभी उड़ता हूँ उन्मुक्त सा होकरकभी देख हकीकत रोता हूँ।कभी लगती है हर राह आसानकभी ठोकर पे ठोकर खाता हूँ।..... मिलाप सिंह भरमौरी... Read more
clicks 65 View   Vote 0 Like   4:47pm 8 Oct 2018 #
Blogger: milap singh
मेरे मन को हल्का करती हैजब कुदरत रंग बदलती है।तुम भी तो कुदरत का हिस्सा होतू भी इक सुंदर दिल रखती है।तेरा गुस्सा तपता सू... Read more
clicks 98 View   Vote 0 Like   12:17am 5 Oct 2018 #
Blogger: milap singh
कुछ दूर चलते हैंफिर कदम रुक जाते हैंमेरी मजबूरियों में सबख्वाब बिक जाते हैं।वो सामने आते हैं तोमिलते हैं बड़ी हमदर्दी स... Read more
clicks 73 View   Vote 0 Like   3:49am 26 Aug 2018 #
Blogger: milap singh
हम बी. पी. एल. जिसे कहते हैंवो आर्थिक आधार पर आरक्षण है।पर अफसोस की बात यह है किइसमें भी बहुत भ्रष्टाचार के लक्षण हैं।         ....... मिलाप सिंह भरमौरी... Read more
clicks 94 View   Vote 0 Like   3:47am 26 Aug 2018 #
Blogger: milap singh
लम्हा लम्हा है मुश्किलकिस किस से लड़ता है ये दिलइक ओर मोहब्बत के धोखेइक ओर अधर में मुस्तकबिल ।कभी तेरे संग के ख्बाब सजाऊæ... Read more
clicks 78 View   Vote 0 Like   9:53am 12 Aug 2018 #
Blogger: milap singh
बच के निकलता हूँतेरी गली सेकि फिर तुमसे सामना न हो जाए।बड़ी मुश्किल सेसमेटे हैं दिल के टुकड़ेकि फिर वही मामला न हो जाए।बहुत डरता हूँ तेरीझुकी सी पलकों सेअसर बहुत हैतेरी शोख़ नजरों में।जानलेवा है बहुतयह बेरुखी तेरीदर्द सीने में वो फिरवेवजह न हो जाए।....... मिलाप सिंह भर... Read more
clicks 72 View   Vote 0 Like   6:17am 10 Aug 2018 #
Blogger: milap singh
नदी किनारे शाम कोजब दिन ढ़लता है।सूरज धीरे- धीरेपानी के बीच उतरता है।ताजा हो जाती हैं फिरभीगी सी यादें।एक तूफान सा जैसेआँखों के बीच उमड़ता है।........ मिलाप सिंह भरमौरी... Read more
clicks 73 View   Vote 0 Like   7:59am 9 Aug 2018 #हिन्दी शायरी
Blogger: milap singh
दूरियां बना देती हैंमीलों की दरमियाँबड़ी बतमीज होती हैंयह गलतफहमियां... Read more
clicks 72 View   Vote 0 Like   7:38am 24 Jul 2018 #
Blogger: milap singh
बैठी हुई आँखें हैंऔर सूखे हुए गाल।कुछ ठीक नहीं लगता तुम्हारा ये हाल।जहर बन जाएगाजो दिल में छुपा रखा है।तू बाहर बहने दे आंसूगम अपना निकल।....... मिलाप सिंह भरमौरी... Read more
clicks 86 View   Vote 0 Like   2:45pm 2 Jul 2018 #
clicks 125 View   Vote 0 Like   3:55am 4 Apr 2018 #
Blogger: milap singh
अच्छा नहीं है ये काम न करो।बेटी किसी की यारो बदनाम न करो।दफ़न करो बातें मिट्टी डालकर ।ये बेआबरू की बातें तुम आम न करो।....... मिलाप सिंह भरमौरी... Read more
clicks 108 View   Vote 0 Like   2:04am 4 Apr 2018 #milap singh bharmouri
Blogger: milap singh
यहां तु ही नहीं अकेला है कहना ओर भी कई मोड चुके हैं।अपने किए हुए वादे महफ़िल में हजार तोड चुके हैं।सुना है तरक्की बहुत प... Read more
clicks 133 View   Vote 0 Like   10:39am 1 Apr 2018 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post