Hamarivani.com

My Shayari

...
My Shayari...
Tag :
  April 4, 2018, 9:25 am
अच्छा नहीं है ये काम न करो।बेटी किसी की यारो बदनाम न करो।दफ़न करो बातें मिट्टी डालकर ।ये बेआबरू की बातें तुम आम न करो।....... मिलाप सिंह भरमौरी...
My Shayari...
Tag :milap singh bharmouri
  April 4, 2018, 7:34 am
यहां तु ही नहीं अकेला है कहना ओर भी कई मोड चुके हैं।अपने किए हुए वादे महफ़िल में हजार तोड चुके हैं।सुना है तरक्की बहुत प...
My Shayari...
Tag :
  April 1, 2018, 4:09 pm
दिल धीरे - धीरे घवरा जाता है।जब वक़्त जुदाई का आ जाता है।पल साथ बिताए याद आते हैंऔर आंखों में पानी आ जाता हैै ।क्यों खुशियां हर पल देता नहीं हैक्यों कहर खुदा ये ढा जाता है।दिन की है बस चहल- पहल सबशाम होते ही अंधेरा छा जाता है।....... मिलाप सिंह भरमौरी...
My Shayari...
Tag :
  March 11, 2018, 8:49 am
बीत गया वक़्त जो साथ गुजारा था।जब हर दिन हर लम्हा प्यारा था।हमेशा न थी विरान यह जिंदगी अपनीएक वक़्त था जब अपना जहां सारा ...
My Shayari...
Tag :sad shayari
  March 9, 2018, 1:35 pm
नफरतें  न   बढाया   करो।अच्छा है  मुस्कुराया  करो।जीने  को  लिए है यह पलहर पल जी को आया करो।गम  रोके  जो आके  कभीतुम भी गम को चिढाया करो।जहर लगती हैं खामोशियांकहर  इतना  न  ढाया  करो।कद्र  बढ   जाएगी  देखनातुम  भी  बातें  बनाया  करो।या...
My Shayari...
Tag :
  February 12, 2018, 10:21 pm
बात हुई जब खुद की तोकह दिया झटसे छौडो खैर।सच को हवा बताने वाले झूठ के गिनते देखे पैर।ओरों से नहीं हो पाएगाआ खुद  से करके द...
My Shayari...
Tag :
  January 17, 2018, 9:14 pm
चारों ओर दिवारे हैं ।कुछ लम्हें मीठे खारे हैं।उलझ गया है किस उलझन मेंपतझड के बाद बहारें हैं।जीत हुई है उनकी अक्कसरजो कई...
My Shayari...
Tag :मिलाप सिंह भरमौरी
  January 16, 2018, 9:17 pm
क्यों बहशी बन रहा  हदें शराफतों की लांघ कर।अँधेरे में खो गया  है तू खुद में  कुछ सुधार कर ।झूठी  तमाम  बातें हैं जो  चौरा...
My Shayari...
Tag :
  January 5, 2018, 4:49 pm
दो हजार अठारह-------------------------चमक उठे किसमत का सितारा।हर दिन हो सबका प्यारा प्यारा।खुशियां  पल  पल  आती  जाएंगम जीवन के  हो नौ दो ग्&...
My Shayari...
Tag :new year shayari
  December 31, 2017, 8:40 pm
निरंतर उत्कर्ष हो हर्ष काऔर शुभ असर मिले हर संघर्ष का।हर दिन लाए आपके लिए इक नई खुशी।हो खुशियों से भरा आपके लिए कलेंडर न...
My Shayari...
Tag :shayari of milap singh bharmouri
  December 31, 2017, 8:06 am
दरिया जब बनता है किनारे भी बन जाते हैं।दुखों  के आने  पर सहारे भी  मिल जाते हैं।परिवर्तन तो तय है हर पल निरंतर चलता रहताफ...
My Shayari...
Tag :मिलाप की शायरी
  December 28, 2017, 9:17 am
दुनिया में बहुत नजारे देखे।चांदनी रात में तारे देखे।जो दिल को चीरते जाते थेऐसे भी बहुत इशारे देखे।नदियां शहद मिलाती र&...
My Shayari...
Tag :
  December 21, 2017, 9:14 pm
मौहाबत तो जताते हो निभाकर भी दिखाना।हँसने न पाए कभी उस पर यह जमाना।इक शाख हिलाने से सब पत्ते हिल जाते हैंपर ढूंड न पाओगे ...
My Shayari...
Tag :romantic shayari
  December 20, 2017, 6:57 pm
कुछ भी कह दो यूंही वो भी राग हो जाते हैं।हुनर अगर पास हो तो पत्थर भी साज हो जाते हैं।हर तरफ कीचड है संभाल के रखना कदम अपनेवर...
My Shayari...
Tag :
  December 19, 2017, 10:18 pm
खड्डा खोदो तो कुआँ बनाने के लिए।न कि किसी को उसमें गिराने के लिए।वरना खुद ही गिर जाओगे उसमें तुम।और कोई नहीं आएेगा उठानí...
My Shayari...
Tag :
  October 19, 2017, 8:07 am
हम कितने खुदगर्ज होते जा रहे हैं।अपने सिबाय सब झूठे नजर आ रहे हैं।निरंतर गिरता जा रहा है जिसमें चरित्र।यह कैसी रेतीली स...
My Shayari...
Tag :
  October 18, 2017, 11:06 am
घायल पडा है मन उलझनों की सेज पर।आती है हँसी बहुत तमाशा जग का देखकर।यह मिटती क्यों नहीं, यह आखिर कैसी भूख है।टुकडे हराम के &#...
My Shayari...
Tag :
  October 16, 2017, 9:56 am
बादल हट गए हैं सबमौसम साफ लगता है।जमीं पर गिरा पानीफिर भी खिलाफ लगता है।फिर उडेगा हवा मेंजुडेगा मिलेगा कणों से।अभी ग्र...
My Shayari...
Tag :
  October 15, 2017, 3:22 pm
अपने ही नजरिए सेहर बात सोचने लगते हैं।थोडी सी क्या हरकत हुईजोर से भौंकने लगते हैं।दूसरे की भी सुननी चाहिएउसकी भी मजबूर...
My Shayari...
Tag :
  September 16, 2017, 6:48 am
मुस्कुरा लेते हैं दर्द मेंगम से धौखा कर लेते हैं।छोड कर झगडा कोशिसों सेकिस्मत से समझौता कर लेते हैं।...... मिलाप सिंह भरमौर&...
My Shayari...
Tag :
  September 14, 2017, 8:53 pm
जिनको नहीं कुछ करना आता।उनको है बस जलना आता।जो लोग अपने काम में व्यस्त हैं।वही तो इस दुनिया में मस्त हैं ।     ...... मिलाप सि&#...
My Shayari...
Tag :
  September 13, 2017, 9:02 pm
किस तरफ हैें निशाने हमने देखे है।मत झूठ बोल हमनें भी आईने देखे हैं।जो कहतेेे हैं बहुत शरीफ खुद को यहां,उनके भी बहुत हमने ...
My Shayari...
Tag :
  September 10, 2017, 9:30 am
बेशक घूंघट में रहती है हमेशा,फिर भी पतित चरित्र पर शक करते हैं ।ई वी एम दे रही है जो आज सबके सामने,उसे अग्नि परिक्षा ही तो कह...
My Shayari...
Tag :milap singh bharmouri
  June 3, 2017, 7:42 am
जब भी तिरंगा नजर आता है,मन उमंग से भर जाता है।।हाथ उठ जाता है सलामी के लिए,और सीना गर्व से तन जाता है।।.......... मिलाप सिंह भरमौरीð...
My Shayari...
Tag :milap singh shayari
  January 30, 2017, 6:54 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3774) कुल पोस्ट (177089)