POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: खुशियों का पिटारा

Blogger: आनन्द पाण्डेय
तेल की कुछ बूंद बाक़ी हैं यूं ही रौशन हैं ये।इन चराग़ों को न छूना उंगलियां जल जाएंगी॥... Read more
clicks 65 View   Vote 0 Like   6:43pm 8 Sep 2017 #
Blogger: आनन्द पाण्डेय
जरूर दर्द का जहर चखा है उसने....लहजे में तल्खी टपकती है अब भी||... Read more
clicks 79 View   Vote 0 Like   6:45pm 6 Apr 2016 #
Blogger: आनन्द पाण्डेय
शुमार है इंसान की जहनियत में मुस्तकिल सा ,बदलते हालत के साथ रवैया बदल लेता है। ... Read more
clicks 100 View   Vote 0 Like   5:25pm 9 Feb 2015 #
Blogger: आनन्द पाण्डेय
GREAT LINES SAID BY- MR.RAHAT INDORI,तूफानों से आंख मिलाओ सैलाबों पर वार करो मल्लाहों का चक्कर छोड़ो तैर के दरिया पार करो तुमको तुम्हारा फ़र्ज़ मुबारक हमको मुबारक अपना सुलूक हम फूलों की शाख तराशें तुम चाकू पर धार करो फूलों की दुकानें खोलो खुशबू का व्यौपार करो इश्क खता है तो ये खता इक बार न... Read more
clicks 160 View   Vote 0 Like   7:00pm 5 Jan 2013 #
Blogger: आनन्द पाण्डेय
बारिश होती है जब तो इन गारे पत्थर की दीवारों पर ,भीगे भीगे नक़्शे बनने लगते हैं .हिचकी -हिचकी बारिश तब ....पहचानी -सी एक लिखाई  लिखती है  बारिश कुछ कह जाती है।ऐसा ही अश्कों से भीगा इक ख़त शायद , तुमने पहले देखा हो?                                            -गुलजार साहब ... Read more
clicks 180 View   Vote 0 Like   10:03am 29 Nov 2012 #
Blogger: आनन्द पाण्डेय
 हम  नहीं जानतें जो हम  करने की सोच रहे हैं,उसमे हमारा  लोग कितना साथ देंगे जब 31 दिसंबर 2012 को सम्पूर्ण विश्व के लोग अपने अपने नशे में चूर होंगे (नशे कई तरह के हो सकते हैं इस पहलू को आप मुझसे अच्छी तरह जानते हैं ) या आप यूँ समझ ले की सब अपने अपने तरीके से नए वर्ष की प्रभात बेला ... Read more
clicks 160 View   Vote 0 Like   8:15pm 28 Nov 2012 #
Blogger: आनन्द पाण्डेय
आठ ही बिलियन उम्र जमीं की होगी शायद ,ऐसा ही अंदाजा है कुछ साइंस का ,चार अछरिया छह बिलियन सालों की उम्र तो बीत चुकी है ,...कितनी देर लगा दी तुमने आने में ,और अब मिलकर किस दुनिया की दुनियादारी सोच रही हो,किस मज़हब और जात और पात की फ़िक्र लगी है ,आओ चलें अब तीन ही बिलियन साल बचें हैं,... Read more
clicks 200 View   Vote 0 Like   5:57pm 25 Nov 2012 #
Blogger: आनन्द पाण्डेय
सबब  तलाश करो अपने हार  जाने का,किसी की जीत पे रोने से कुछ  नहीं होगा !!                                          - आनन्द  पाण्डेय ... Read more
clicks 211 View   Vote 0 Like   5:56pm 23 Nov 2012 #
clicks 197 View   Vote 0 Like   12:00am 1 Jan 1970 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]


Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
Share:
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3938) कुल पोस्ट (194974)