Deprecated: mysql_connect(): The mysql extension is deprecated and will be removed in the future: use mysqli or PDO instead in /home/hamariva/public_html/config/conn.php on line 13
खामोश ख्याल : View Blog Posts
Hamarivani.com

खामोश ख्याल

ये बेचैनी हमेजीने नही देगीऔर बेचैनी चली गईतो शायद हम ही ना जी पायेतेरे इश्क मे सुकून कभी मिला ही नहीबे-आरामी मे रहने की ये आदतहमने किसी शौक से नही डालीथोडी आदत बदलता भी हूंतो फिर तेरा ख्याल आ जाता हैबेचैन करने के लियेतुम्हारी वो इक नज़र ही काफी थीये बाकी के इन्तज़ाम तो ...
खामोश ख्याल...
Tag :
  November 21, 2017, 3:05 pm
उस नज़र की तलाशउस नज़र पे जाकर खत्म होगीकि जंहा से ये नज़र उठानाहमें मंजूर ना होगाना मिली वो नज़रतो नज़र दर नज़रये सिलसिले तमामउमर भर यूं ही चला करेगे।...
खामोश ख्याल...
Tag :
  November 21, 2017, 2:55 pm
अब तो याद ही नही हैकि कैसे जीते थे हमकुछ आदते ये ही भुला देती हैकि उनके बिना लगता कैसा था।...
खामोश ख्याल...
Tag :
  November 21, 2017, 2:53 pm
बेवजह ही सहीअपनी वो नज़र दे देकि जीने के लियेकुछ बहानेझूठे ही सहीपर जरूरी होते है।...
खामोश ख्याल...
Tag :
  November 21, 2017, 2:51 pm
पहले से पता होता तोकुछ इंतज़ाम कर भी लेतेअब तीर निकाल भी देंतो क्या ?ये गम क्या कम हैकि तेरे निशाने पेकभी हम भी थे...
खामोश ख्याल...
Tag :
  November 21, 2017, 2:39 pm
तेरी आँखो मे ऐसे डूबे हैकि अब तक उबरे ही नहीकुछ बीमारियां उमर भर की होती हैफिक्र तो उस दिन की हैजिस दिन ये जां जायेगीये बीमारियां क्या मरने के बादसाथ नही जाती?...
खामोश ख्याल...
Tag :
  November 21, 2017, 2:35 pm
वो तेरी खुमारी का ही था असर जोताउम्र रहावरना मयखानो से तो कई बार गुज़रा हूं मैपहली बार इतने भीतर तक उतरी हैवरना तस्वीरे तो कई और भी देखी हमनेवो तेरे चेहरे का ही नूर था जो हमे रोशन कर गयावरना चांद रातें तो कई बार देखी हमनेइतने भीतर तक उतरने की साजिश थी तुम्हारीवरना सिर्फ...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 16, 2017, 5:13 pm
वो जो मेरे हिस्से का आसमां तुमने चुरा लिया थाउसे कुछ वक्त के लिये वापस चाहता हूं मैबहुत दिनो से चांद देखने की मेरी ख्वाहिश अधूरी हैकुछ हसरते बाकी रह जाये जीने मेंतो मज़ा और ही हैये क्या कि दीदार-ए-यार के मरीज़ बन गयेकभी वादा करके जो वो ना आये तोउसका  इंतज़ार तो कुछऔर ह...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 16, 2017, 4:54 pm
बहुत रश्क होता हैहमे उनके झुमके सेकमबख्त घंटे मेंहज़ार दफेउनके गालो को छू जाता हैतुम्हारी आँखो मे बार बारडूबकर मरना चाहते हैबस यही खता  बार बारकरने को जी चाहता है...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 16, 2017, 4:38 pm
जानते है लाइलाज है पर क्या करेतुम्हारे सिर पर ये इल्ज़ाम भी तो अच्छा नही लगताइसीलिये दवा के बहाने ही सहीदर्द को हम घूंट घूंट पिये जा रहे हैमुलाकात से पहले ही मालुम थाये इल्ज़ाम लगने वाला हैइसीलिये यारो ये  गुनाह हमखुद-ब-खुद कर बैठे...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 16, 2017, 4:33 pm
क़ीमत का सही अंदाज़ा लगाना हो तोकभी बेमौसम होकर देखनासर्दी मे आम बहुत महँगेबिका करते हैबहार जब हर दम रहे तोबेदम हो जाती हैये मौसमों का सिलसिलाकिसी ने यूँ ही नही बनाया है...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 16, 2017, 4:31 pm
वो तो बस बेइरादा निकले थे घर सेना जाने क्यों कई क़त्लों का इल्ज़ाम उनके सिर आ गयाना जाने कितनों को बेमौत मार डालाआज वो बेमौके छत पे जो आ गयेकुछ इस क़दर मैंने चाहा है उनकोमानो कोई पुराना क़र्ज़ चुकाने की कोशिश की हैहिसाब बराबर करने का इरादा नही है मेराये क़र्ज़ तो बार बा...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 16, 2017, 4:18 pm
मै ना होता मैउनका आइना ही हो जातासँवरने के बहाने सहीउन्हें मेरी याद तो आतीकुछ शामें उधार हैइस शहर कीवो चुकाने आया हूँमै तेरे शहर मेइसी बहाने आया हूँ...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 16, 2017, 4:15 pm
वो तेरा ख्याल ही है जो खूबसूरती ले आता हैवरना बाज़ारो मे लाली तो कब से बिका करती हैये कमबख़्त अल्फाज़ अक्सर बिगाड़ देते हैखूबसूरती जज़्बात कीकलम को दिल से यूं मुकाबिल ना करकलम से एहसासो को यूं बयां ना करये शौक तो आँखो के हिस्से आने दे...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 16, 2017, 4:14 pm
वो तेरे चेहरे का ही नूर थाजो हमें रोशन कर गयावरना चाँद रातें तो कई बार देखी हमनेइतने भीतर तक उतरने की साज़िश थी तुम्हारीवरना सिर्फ मुलाक़ात के बहानेकोई इस क़दर नही मिलता...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 16, 2017, 4:12 pm
वो तेरे चेहरे का ही नूर थाजो हमें रोशन कर गयावरना चाँद रातें तो कई बार देखी हमनेइतने भीतर तक उतरने की साज़िश थी तुम्हारीवरना सिर्फ मुलाक़ात के बहानेकोई इस क़दर नही मिलता...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 16, 2017, 4:12 pm
उस धागे मे अब भी बाकी हैतुम्हारे लबो की थोडी सी नमीमेरी शर्ट में बटन टांकते वक्त जिसेझटके से खींच दिया था तुमनेजब भी याद आती है उसपे नज़रचली जाती हैनिशानिया छोड़ने की आदत तोहमेशा से रही है तुम्हारी...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 16, 2017, 4:10 pm
उस धागे मे अब भी बाकी हैतुम्हारे लबो की थोडी सी नमीमेरी शर्ट में बटन टांकते वक्त जिसेझटके से खींच दिया था तुमनेजब भी याद आती है उसपे नज़रचली जाती हैनिशानिया छोड़ने की आदत तोहमेशा से रही है तुम्हारी...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 16, 2017, 4:10 pm
जिस अखबार पर जलेबी रख केखिलाई थी तुमनेवो टुकड़ा अब भी तुम्हारीउंगलियो की चाशनी से भीगा पड़ा हैना रद्दी मे बेच सकते है उसेना उमर भर वो हमसे संभाला जायेगा...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 16, 2017, 4:07 pm
...
खामोश ख्याल...
Tag :
  July 2, 2015, 10:18 am
...
खामोश ख्याल...
Tag :
  July 2, 2015, 10:17 am
जिया ने जिस गम को जियाजिस दुख ने बुझा दियाउसकी जिंन्दगी का दियासच तो ये है कि उस गम कोअकेली जिया ही नहीकई और लोगोने भी जियाजरूरत से ज्यादा औरउम्मीद से चार गुनापाने की ख्वाहिश मेंजो भी जियाउसने कुछ ऐसा हीकड़वा घूँट पियामेले के बीचजो भी खुद को अकेला समझकर जियाउनने बाद म...
खामोश ख्याल...
Tag :
  June 7, 2013, 7:45 pm
मेरी बिल्डिंगके फ्लैट्सकी खाली पड़ीखिड़कियों को देखकरबार बार ये ख्यालआता है कि एक दो हरे पेड़-पौधेका गमला रखने मेंइनके बाप का क्याजाता हैमैं तो करता हूअपनी खिड़की मेंरखे पौधौ से अक्सरयही बातेंकि कर के बहाना कम जगह काबड़े शहर वालो नेतोड़ ही लिये हैहरियाली से अपने ...
खामोश ख्याल...
Tag :
  November 1, 2012, 3:36 pm
आजादी के 65 साल बाददूर हुआ कन्फ्यूज़नकि  भारत सरकार का गृहमंत्रालयमहात्मा गांधी को राष्ट्र पिता नही मानतातो फिर पहला सवाल किवित्त मंत्रालय हर सालहरे लाल नोटो पर उनकी फोटो क्यों है छापतागर नहीं है महात्मा गांधी इस देश के राष्ट्रपितातो फिर कौन है इस देशका राष्ट्रपि...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 26, 2012, 3:55 pm
लो आ गयाएक और घोटालाइस बार तो किसी न्यूज़ चैनलके संपादक ने ही अपना मुंहकाला कर डालासंपादक जी ने खेल खेलाबोले कोयले केघोटाले की खबरेहम अपने चैनल पर नहीं चलायेगेअगर आप हमारेबैंक खाते मे100 करोड़ डलवायेगेमन्त्री जी को मौकाअच्छा लगासोचाअभी तो रहा है ये दहाड.क्या करेगा ज...
खामोश ख्याल...
Tag :
  October 25, 2012, 4:04 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3710) कुल पोस्ट (171456)