Hamarivani.com

मैं और मेरी दुनिया

बहुत गहरी है आँखे एकदम तीक्ष्ण, बेधती सी जैसे सारे राज एकबारगी ही जान लेंगी मन का कोना-कोना छान लेंगी बचना चाहती हूँ अक्सर कस कर लपेट लेती हूँ खुद को आँखें मूँद लेती हूँ कानों को ढांप लेती हूँ होंठों... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  August 22, 2017, 11:26 pm
जिंदगी सबसे बड़ी चीज़ है....बाकि सब इसके बाद... तो कोई यूँ ही नहीं आत्महत्या कर लेता... ये बस आख़री दांव होता है ....सारे दुःखों से निजात पाने का....उस इंसान को पलायनवादी, स्वार्थी मानकर भर्त्सना की जा... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  August 18, 2017, 1:50 pm
जिंदगी मेरी यारा न हो उदास ऐसे भी रंग भरेंगे तुझ में भी पल भर का इन्तजार है बस देख न बूंदें बरस चुकी हैं धरा भी तृप्त हो चुकी है खुशबु घुल रही हवाओं में इंद्रधनुषी रंगत छा चुकी है --स्वयंबरा [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  July 25, 2017, 9:43 pm
बड़ा बोरिंग होता है प्लेन से यात्रा करना...एकदमे असामाजिक टाइप... न चाय गरम, गरम चाय की मधुर आवाज़... न मूंगफली बेचनेवालों की पुकार...चढ़ने-उतरने की धक्कम-धक्का भी नहीं...और तो और दुनिया भर की... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 26, 2017, 4:01 pm
क्रिकेट इतना नहीं पसंद कि बेचैन रहूँ देखने के लिए...पर इसके बारे में जानना रुचिकर लगा कि कोलोनाईजेशन के दौर में यह जेंटलमैन गेम आखिर इंग्लैण्ड से भारत कैसे आया...कैसे इसका विकास हुआ.. इंग्लैंड, जहां... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 26, 2017, 3:58 pm

बढ़ चले हैं रुकेंगे नहीं कभी साथ दो, न दो --स्वयंबरा [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 26, 2017, 3:37 pm
दिल्ली के लगभग हर मोहल्ले घर में कबूतरों का बसेरा है ....आज बालकनी में खड़ी थी.. कबूतरों के झुण्ड पास वाले कई छतों पर बैठे थे.. कुछ इधर-इधर मंडरा रहे थे ...कुछ दाने चुग रहे थे...कुछ आपस में खेल रहे... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 26, 2017, 3:20 pm
वो दिन गर्मियों के थे। लू चलने लगी थी। मीठे-मीठे आम मिलने लगे थे । स्कूल की छुटियाँ हो गईं थीं। अब मेरे पास पूरा एक महीना था, धूम मचाने के लिए। खेलने के लिए। शैतानी करने के लिए। ऐसे तो हर शाम... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 16, 2017, 11:32 am
कुछ दिनों पहले हमारे घर देवी माता आयीं थी.... उनके साथ, सहायिका माता भी थीं...जिसका परिचय वो गर्व से करा रही थीं कि बेटा हम दाई लेकर घूमते है..इसलिए भरोसा करो...साईं बाबा ने मुझे तुम्हारे लिए भेजा... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 12, 2017, 8:02 pm
बहुत रौब झाड़ता है मुझपर दिमाग की सुनने ही नहीं देता मन को चिनवा देती हूँ दीवारों में उसकी बक-बक घुट जाए वहीँ पे ----स्वयंबरा [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 12, 2017, 7:57 pm
घर के एक हिस्से को नए सिरे से बनवाने का काम चल रहा..कबाड़ हटाए जा रहे थे कि ये मिल गये..जाँता के दो पाट....अच्छा लगा ...हालांकि पुराने जमाने में लगभग हर गृहस्थ के पास ये होते थे... पर भोजपुर क्षेत्र... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 12, 2017, 7:55 pm
ये तो क्षण मात्र की ही कैद थी... तुम कहाँ बंधनो में आनेवाले.. तो अब जाओ.... मुझे भी तुम नहीं चाहिए .... मुंह टेढ़े चाँद😑 (एक झूठ❤☺) --स्वयंबरा [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 11, 2017, 9:56 pm
कहाँ सोचा था कि हमारे बीच का 'अबोला,' इतने शब्द, इतनी ध्वनिया छोड़ जायेगा कि बदहवास-सी दौडती फिरुंगी उन्हें आँचल में समेट लेने को ---स्वयंबरा [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 11, 2017, 12:20 pm
उन्होंने कहा कि मृत्यु का शोक एक साल तक मनाया जाता है...कोई मांगलिक कार्य नहीं... पर हमारा दुःख तो जीवन भर का ठहरा.. फिर ? तय किया कि इसे उत्सव की तरह मनाएंगे....दुःख का उत्सव ...शोक का उत्सव... तो... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 10, 2017, 3:34 pm
यहाँ-वहाँ बिखरे हर्फों को जोड़ दूं... तो एक मुकम्मल वाक्य बन ही जाएगा फिर तो तुम पकडे जाओगे ... पर नहीं करती कोशिश कि जो कह न सको उसे समझ ही क्यों लूं.... जो बता न सको उसे मान ही क्यूँ लूं जाओ,... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 8, 2017, 3:18 pm
माँ कहती थीं कि कम रेखाओं वाले हाथ सौभाग्य लाते हैं..... कुछ दिन हुए, नहीं रहीं वो .. और आजकल मेरी हथेलियों पर ढेर सारी लकीरें उग आयीं हैं.. -स्वयंबरा [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 5, 2017, 3:28 pm
परिंदों का उड़ना महज अपने आकाश को पाना नहीं होता वो फड़फड़ाते है पंख लगाते हैं गोल-गोल चक्कर कि कभी-कभी बिलावजह की आवारगी भी जरुरी होती है यारा ----स्वयंबरा [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 5, 2017, 3:18 pm
नींद नहीं आती अक्सर अनंत आवाजों ने मन की परतों के भीतर डेरा जमा लिया है ये अपनी ही सुनाए जातीं हैं और सारी रात आँखों में कट जाती है खीझ उठती हूँ ..झल्लाती हूँ.. फटकार भी लगाती हूँ सब व्यर्थ पर कल... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 5, 2017, 2:53 pm
अकेले रहना किसे पसंद पर जब मज़बूरी ही हो कि कोई साथ न हो तो 'एकांत' खुद की तलाश है - कह देना और अपने एकाकीपन को उनकी 'सहानुभूति' में बदल जाने से रोक लेना जरुरी होता है कि अकेलेपन का भी तो 'मान' होता... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 4, 2017, 8:33 pm
सूरज... प्रखर ...तेजस्वी... इसके बिना जीवन नहीं.. पर कितना अकेला... अक्सर जी चाहता है कि माथा सहला दूँ.... पूछ ही लूँ - कैसे हो भाई? ठीक ठाक न? खाना वाना हुआ? सोए भी थे या रात भर भटकते रहे? 😊😊 [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 4, 2017, 8:23 pm
विवाहितों के कन्धों पर ही जिम्मेदारी का बोझ होता है ...कर्तव्य-निर्वहन भी वही करते हैं...बंधे होते हैं...पहले दूसरों की सोचते फिर अपने बारे में ....(उफ़ ये महान लोग) जबकि अविवाहित तो आज़ाद,... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 4, 2017, 8:15 pm
देखो न आज तुम्हारी सिलाई मशीन निकाल लिया सोच रही बेटू के लिए कुछ खिलौने बना दूं गुड़िया, हाथी, घोड़े से बचपन सजा दूं ×××× सुनो तो चिड़ियों का दाना-पानी रोज रख आती हूँ आजकल मैं भी पेड़ पौधों से बतियाती... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  June 4, 2017, 8:08 pm
बिना बेड़ियों के कैद थी...भागना चाह रही थी लेकिन पहाड़ बधे थे पैरों में... हांफ रही थी  ... रास्ता न था...रोशन भी कुछ न था...धुंधलका पसरा था.... आँखे फाड़ रही थी..पर सब व्यर्थ वो कुछ जंगल सा... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  February 19, 2016, 6:26 pm
बिना बेड़ियों के कैद थी...भागना चाह रही थी लेकिन पहाड़ बधे थे पैरों में... हांफ रही थी  ... रास्ता न था...रोशन भी कुछ न था...धुंधलका पसरा था.... आँखे फाड़ रही थी..पर सब व्यर्थ वो कुछ जंगल सा... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  February 19, 2016, 6:26 pm
कई रंग बटोरे कुचियों को भी पकड़ा आड़ी तिरछी रेखाएँ खींच ली और कैनवास तो जैसे तैयार ही बैठा था सज जाने को निखर जाने को पर ज्यूंही भरनी चाही लाल, पीली, हरी, गुलाबी, नीली, मुस्काने सब उड़ गयीं गायब हो... [[ This is a content summary only. Visit my website for full links, other content, and more! ]]...
मैं और मेरी दुनिया...
Tag :
  November 25, 2015, 6:39 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3693) कुल पोस्ट (169585)