POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: हिंदी में मस्ती

Blogger: nirbhay jain
मैंने पूछाहे केदारनाथ !भक्तों काक्यों नहींदिया साथ ?खुद का धाम बचा करसबकोकर दिया अनाथ |वे बोलेमैं सिर्फ मूर्तीया मंदिर में नहींपृथ्वी के कण कण मेंबसता हूँहर पेड़ हर पत्तीहर जीव हर जंतुतुम्हारेहर किन्तु हर परन्तु मेंहर साँस में हर हवा मेंहर दर्द में हर दुआ मेंमें बसा... Read more
clicks 118 View   Vote 0 Like   8:59am 22 Jun 2013 #साभार
Blogger: nirbhay jain
फेसबुक सा फेस है तेरा, गूगल सी हैं आँखेंएंटर करके सर्च करूँ तो बस मुझको ही ताकेंरेडिफ जैसे लाल गाल तेरे हॉटमेल से होंठबलखा के चलती है जब तू लगे जिगर पे चोटसुराही दार गर्दन तेरी लगती ज्यों जी-मेलअपने दिल के इंटरनेट पर पढ़ मेरा ई-मेलमैंने अपने प्यार का फारम कर दिया है अपल... Read more
clicks 114 View   Vote 0 Like   6:09am 20 May 2013 #गूगल महाराज
Blogger: nirbhay jain
कुत्तो को घुमाना याद रहा और, गाय की रोटी भूल गयेपार्लर का रास्ता याद रहा और, लम्बी चोटी भूल गयेफ्रीज़ कूलर याद रहा और , पानी का मटका भूल गयेरिमोट तो हमको याद रहा और, बिजली का खटका भूल गयेबिसलेरी पानी याद रहा और , प्याऊ का पानी भूल गयेटीवी सीरिअल याद रहे और, घर की कहानी भूल ग... Read more
clicks 137 View   Vote 0 Like   9:16am 2 Oct 2012 #
Blogger: nirbhay jain
अभी अभी मेरे दिल में ये सवाल आया हैये कैसी जिंदगी जिसमें मौत का साया हैक्या लेकर आये थे हम इस दुनिया मेंजो कुछ है पास हमारे यही पर कमाया है         अभी अभी मेरे दिल में--------रोज़ी रोटी के चक्कर में दुनियादारी भूल गयेदौलत के लालच में जाने कितनो को सताया हैक्या अपना क्या तेरा ... Read more
clicks 230 View   Vote 0 Like   9:05am 21 Sep 2012 #मेरी रचनाएँ
Blogger: nirbhay jain
मीत मिला ना मन का मन का मिला ना मीत छेड़ो राग प्यार का गाओ ख़ुशी के गीत किसी मोड़ पर मिल जायेगा गर होगी सच्ची प्रीत हार से मत घबरा प्यारेहार के आगे ही है जीत मिलना है तो मिल जायेगा यही है दुनिया की रीत मिल जायेगा मिल जायेगासबको मन का मीत http://feeds.feedburner.com/masthindi... Read more
clicks 173 View   Vote 0 Like   8:29am 15 Sep 2012 #मेरी रचनाएँ
Blogger: nirbhay jain
सड़क..कसाई की दुकानपिंजरे में मुर्गेचाकू से डरते!ग्राहक की आमद,मुर्ग़ों की शामत..जान सबको प्यारी है,कोने में छुपने की जंग बाक़ायदा ज़ारी है!आवाज़ आई"एक किलो"दुबक जाओ कोने मेंबच लो!मोटा वाला छुप रहा है,कसाई का हाथढूँढ रहा हैये...पकड़ायावो फड़फ़ड़ाया,चिल्लाया,पंखों को पक... Read more
clicks 152 View   Vote 0 Like   2:57pm 15 May 2012 #विपुल
Blogger: nirbhay jain
Watch Live TV Sahara Samay Online On Your Computer http://feeds.feedburner.com/masthindi... Read more
clicks 132 View   Vote 0 Like   2:37pm 20 Mar 2012 #
Blogger: nirbhay jain
सिद्धक्षेत्र सोनागिर जी में दिनांक २४ फरवरी से १००८ श्री शांतिनाथ भगवान के पंच्कल्यांक एवं गजरथ महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है ....जिसमे आप सभी सपरिवार, इष्ट मित्रो के साथ सादर आमंत्रित है ....http://feeds.feedburner.com/masthindi... Read more
clicks 250 View   Vote 0 Like   3:42pm 23 Feb 2012 #
Blogger: nirbhay jain
कल रात मेरा सोना हराम हो गयापानी में वो भीगी , मुझको  जुकाम हो गया।मेरे प्यार का कैसे  इजहार हो गया मच्छर ने उसे काटा और मै बीमार हो गया।पढ़ते- पढ़ते वो इस जिंदगी से हताश हो गई पढ़ाई हमने की और पास वो हो गई।हाय ये किस्मत, ये कैसा खेल हो गया,मस्ती उसने मारी और फैल मैं हो गया।... Read more
clicks 281 View   Vote 0 Like   12:56pm 19 Jan 2012 #
Blogger: nirbhay jain
कई दशाब्दियों से रेलगाडी यात्रा मेरे लिये जीवन का एक अभिन्न अंग बन चुका है. इन यात्राओं के दौरान कई खट्टेमीठे अनुभव हुए हैं, जिनमें मीठे अनुभव बहुत अधिक हैं. इसके साथ साथ कई विचित्र बाते देखने मिलती हैं जिनको देखकर अफसोस होता है कि लोग किस तरह से विरोधाभासों को पहचान नह... Read more
clicks 105 View   Vote 0 Like   5:40am 23 Jul 2011 #
Blogger: nirbhay jain
Please join it really nice for u and new year gift from me to u ok ThanxEarn upto Rs. 9,000 pm checking Emails. Join now!http://feeds.feedburner.com/masthindi... Read more
clicks 106 View   Vote 0 Like   1:17pm 6 Jan 2011 #
Blogger: nirbhay jain
Create a playlist at MixPod.comhttp://feeds.feedburner.com/masthindi... Read more
clicks 108 View   Vote 0 Like   7:55am 13 Oct 2010 #
Blogger: nirbhay jain
अपने ज़ख्म ज़माने  को दिखता रहा हू मैं सीने में एक दर्द को छिपाता रहा हू मैं ज़ालिम ने दिल के बदले दर्द क्यों दिया छिप छिप के आँसू बहाता रहा हू मैं  आयेगी वो कभी लौटकर यही आस लिए  अपने  दिल  को हरपल समझाता रहा हू मैं  मालूम था मुझे  कि  संगदिल है वो तो  फिर भी जाने क्यू उसे ही चा... Read more
clicks 106 View   Vote 0 Like   2:27pm 17 Sep 2010 #मेरी रचनाएँ
Blogger: nirbhay jain
सबसे सरल जानी पहचानी राष्ट्र भाषा वो हिंदी है लोकप्रिय हो रही विश्व में भारत की गरिमा हिंदी है हाहाकार क्यों हिंदी को लेकर धर्मो का मंथन हिंदी है  पैदा हुई संस्कृत की कोख सेभाषा की बड़ी बहन हिंदी हैदुनिया मै डंका बजा दियाअंग्रेजी का दावा झुठला दियाअस्तित्व को चुनौ... Read more
clicks 106 View   Vote 0 Like   8:03am 16 Sep 2010 #मेरी रचनाएँ
Blogger: nirbhay jain
पहलेदेखकरछुपातीथीवोअबकेछुप - छुपकरदेखतीहैवोहवोहदौरथाबचपनकायहदौरहैजवानीकामनऊसकासुमनतनऊसकासुकोमलचहेरामाहताबकभीअपनेहाथसेअपनीऊंगलियोंकोछूतीहैतोकभीआईनेमेंदेखखुदको;खुदसेहीशर्मातीहैअबतोशामकारंगबिरंगीआसमानभीउसेलुभानेलगाहैरातकोआसमानकेतारेगिनतीहै... Read more
clicks 186 View   Vote 0 Like   4:22pm 7 May 2010 #शशि जयपुर
Blogger: nirbhay jain
आजवहीबसस्टॉपथा, जिसकेइसपारहमऔरउसपारवोखड़ीथीहमभीनज़रेंझुकाएखड़ेथेऔरवोभीकुछशरमाईलगरहीथीमेरीसोचएकउलझानमेंपड़ीथी,बोलहीदूंगादिलकीहरबातआजयेहिम्मतकाफीदेरसेदिलकेसाथझगड़रहीथीइतनेमेंदेखाएकआंटीजी ,हमारेसामनेआखड़ीथीपूछनेलगीबेटापहचानामुझे, मेरीमुंडीनकेइश... Read more
clicks 111 View   Vote 0 Like   4:31pm 29 Apr 2010 #रिमी शर्मा
Blogger: nirbhay jain
मेरे 4 दोस्त है उनK नाम Bरेन्द्र, G तेन्द्र, Kलाश और राJन्द्र है। एक दिन हम Uरोप गए। वहां G तेन्द्र का घर था उसK पिताG और भाEसाहब Aटा गए थे वहां हमने अ4 से रोT खाE फिर बाज़ार गए। बाजार से Dनर K लिA मैंने Kला, Bरेन्द्र ने Iस्क्रीम, Kलाश ने पPता और Gतेन्द्र ने Oरेंज खरीदे। घर आते समय रास्ते में... Read more
clicks 115 View   Vote 0 Like   2:45pm 6 Apr 2010 #
Blogger: nirbhay jain
एकनाज़ुकसीलड़कीनर्मसाएकदिलथाशर्मउसकासिंगारथाकर्ममैंहीजीवनथाधर्ममैंमिलतासकूनथाएकनाज़ुकसीलड़कीआँखोंमैंसपनेथेआशाओंकेगुल्दास्तेथेसबकोखुशरखनेकेअरमानथेआस्मांकोचुहनेकेइज़हारथेएकनाज़ुकसीलड़कीसचकारास्ताहीअपनाथाहरइंसानरबकाहीतोरूपथामुश्किलोंसेडरनानहीथ... Read more
clicks 113 View   Vote 0 Like   11:16am 22 Mar 2010 #पिंकी वालिया
Blogger: nirbhay jain
********************************पाकिस्तानी क्रिकेट को करारा झटकासात खिलाडिय़ों को बाहर पटकादेकर इनको बड़ी बुरी सजापीसीबी ने शर्मनाक प्रदर्शन गटका********************************सचिन को मिले भारत रत्नहर कोई कर रहा है प्रयत्नसंसद में भी अब उठी है मांगनेताओं को मिला काम का प्रश्न********************************आईपीएल की गिर... Read more
clicks 105 View   Vote 0 Like   4:53am 20 Mar 2010 #सुमित "सुजान"
Blogger: nirbhay jain
प्रिय साथियों .......... आज का दिन हम सभी के लिए बहुत महत्वपूर्ण है, आज ही के दिन हमारा नव संवत्सर प्रारम्भ होता है, प्रभु श्री राम का राज्याभिषेक, सम्राट विक्रमादित्य द्वारा शकों का दमन, आज के दिन स्वामी दयानंद स्वामीजी ने आर्य समाज की स्थापना की थी !! नवरात्री स्थापना, महर... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   5:35am 16 Mar 2010 #
Blogger: nirbhay jain
मैंऔरमिसेजखन्नाअक्सरचायपीतेहैरोजानाशामकोउसवक़्तभूलजातेहैहरकिसीकामकोमौसमबदलावक़्तगुजरापरनहींबदलाहमाराचलनयुहीचुसकियालेतेरहेहमएकदिनसहसामेराबेटापासआयाचायकेवक़्तहीउसनेहमेंडरायावहबोलाडेडीकलचायकेवक़्तमेरीशादीहैआजानामैघबरायाऔरपूछाबतारहाहैयाब... Read more
clicks 143 View   Vote 0 Like   7:22am 3 Feb 2010 #मेरी रचनाएँ
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post