Hamarivani.com

ख्याल-ए- उमि

बस इन सासों का क़र्ज़ उतार लूं ,खुद को अपनी नज़रों में संवार लूं  --- चला जाऊँगा !यही अरमान बाकी है अब दिल में मेरे ,इक बार तेरी नज़र उतार लूँ --- चला जाऊँगा !दिन भर तेरी यादों के सफे पलटता रहा,तेरी याद में ये शब गुज़ार लूँ   --- चला जाऊँगा !मैं जानता हूँ, तू अब न आएगा "उमि ",...
ख्याल-ए- उमि...
Tag :
  October 29, 2013, 12:31 am
मैं भिखारीहूँभीख मांगता हूँ -मोहब्बत की, अपनेपन की, सुकून की ,और इस दुनिया को चलाने वाला वो ईश्वरबड़ा दयावान हैऐसा नही कि भीख भी न देदेता हैपर - वह नहीं जो मैं माँगूबल्कि वह जो ये चाहें !जैसे - दर्द, दर्द, दर्दमेरी हथेलियाँ दर्द से भर गई हैंइसलिए भीख में मिले इस दर्द को मै र...
ख्याल-ए- उमि...
Tag :
  August 20, 2012, 11:15 pm
न पूछ किस कदर ये आँख तरसी है जाने किन-किन तमन्नाओं की आज बरसी है. दिल की जलन को मिलती नहीं राहतअब तो रातें भी दोपहर सी है.गालों पर गिरे आंसू तो यूँ लगे तपती ज़मी पे आग बरसी है.बड़ा पहचाना सा लगता है ये वीराना इसकी फिज़ां मेरे शहर सी है . ...
ख्याल-ए- उमि...
Tag :
  August 13, 2012, 10:45 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3685) कुल पोस्ट (167951)