POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: meri baat_____जब-जब सोंचा

Blogger: shambhu kumar jha
'तुम्हारे जाने से कहाँ कुछ बदला है अबतकतब मोहब्बत ने नींद लूटी अब गम में जागता हूँ... Read more
clicks 126 View   Vote 0 Like   2:01am 10 Nov 2017 #
Blogger: shambhu kumar jha
नहीं कहना चाहता मैं अलविदा दिल से।तुम्हे नहीं कर सकता कभी भी जुदा दिल से।बहुत कुछ खोया है तुम्हारे साथ चलकर, मगर उससे भी ... Read more
clicks 115 View   Vote 0 Like   8:13am 31 Dec 2016 #
Blogger: shambhu kumar jha
_तुम याद करो न करोकभी मेरी तलाश करो न करोमोहब्बत को बेचैन नहीं होने दूँगाझूठी कहानियोँ मेंनादां दिल कोनहीं खोने दूँगाह... Read more
clicks 196 View   Vote 0 Like   5:29am 27 Dec 2016 #
Blogger: shambhu kumar jha
सुबह से ही छत की मुँडेर पे कागा बोल रहा है काँव।आ रहा शायद परदेशी मुझसे मिलने मेरे गाँव।फिर बागों में चलके मुझको झुला खू... Read more
clicks 100 View   Vote 0 Like   2:36am 25 Dec 2016 #
Blogger: shambhu kumar jha
अजी सुनते हो,कब से चिल्लाए जा रही हूँ।ठहरिए, बेलन लेके आ रही हूँ।मैं बोला ये क्या करती हो,हरदम गुस्से में रहती हो।ना इतनी &#... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   3:01am 23 Dec 2016 #
Blogger: shambhu kumar jha
_सुनोसुन्दर कायासुडौल शरीरचौड़ी छातीफड़कते बाजु वालेहो सकता हैव्ययामशाला का प्रभाव होमगरतुम्हारे रगों में दौड़ता खून... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   9:53am 18 Dec 2016 #
Blogger: shambhu kumar jha
_सुनोजुल्म के अँधेरों सेभागकरबेबसी की रोशनी के तरफभागना छोड़ दोअगर मरे हुये होतो दफन हो जाओगर जिन्दा हो तोचिन्गारी भड़क&... Read more
clicks 107 View   Vote 0 Like   9:52am 18 Dec 2016 #
Blogger: shambhu kumar jha
direct download... Read more
clicks 151 View   Vote 0 Like   2:03am 2 May 2014 #
Blogger: shambhu kumar jha
आज फिर वो अजनबी लगा आज फिर मैं गुमनाम सा लगाचिठ्ठियों के पन्ने उखड़े उखड़े से यादों की सुबह गमों की शाम सा लगालगा कि सांसे थम सी गईलगा कि आँखे नम सी हुई बेहद करीब होकर भी कोई अनजान सा लगाऔर मोहब्बत साला बेईमान सा लगा... Read more
clicks 202 View   Vote 0 Like   1:46am 10 Feb 2014 #
Blogger: shambhu kumar jha
अरे ओ मोहब्बतसुनो तोलूट ले हर पल मेंअदाएं / वफाएं / नाज ओ नखरे / तुनकपनमस्तियाँ / तल्खियाँ / आशिकाना लड़कपनवगरनाये जिन्दगी तुम्हे मरने नहीं देगीऔरमौत तुम्हे जीने नहीं देगी... Read more
clicks 166 View   Vote 0 Like   8:42am 9 Feb 2014 #
Blogger: shambhu kumar jha
Download sare jaha se achchha_ Jai He MiX mp3... Read more
clicks 199 View   Vote 0 Like   5:28am 25 Jan 2014 #
Blogger: shambhu kumar jha
न जाने किस रंग की आजमाईस नाकाम रही साहबहमारी कोशिशें तो तमाम रही साहबये बात और कि मोहब्बत डूब चुकी थी आँखों मेंमगर आँसू की हर बूँद को सलाम रही साहब... Read more
clicks 160 View   Vote 0 Like   8:55am 16 Jan 2014 #
Blogger: shambhu kumar jha
गुजरते वक्त मेंबहुत आँधियाँ चली थीमगरदिल पत्थर थाटूटकर भीबिखरने से बच गया. . .ये और बात किटूट गया थाशीशे की तरह. . ... Read more
clicks 218 View   Vote 0 Like   1:32am 12 Jan 2014 #
Blogger: shambhu kumar jha
बस एक पलऔरउस एक पल काएक एहसाससुखद या दुखदसमझना मुश्किलजिसे महसुसने मेंजिंदगी का हर पलगुजरता जा रहानिरंतरलगातारसिलसिलेवारबस एक पलजो बन गयाजीवन के हर पल कासाथीसाझेदारया फिर दावेदारबस एक पल... Read more
clicks 224 View   Vote 0 Like   5:43am 5 Jan 2014 #
Blogger: shambhu kumar jha
॰गुजरते वक्त मेंउम्र की थकावटसाफ साफ झलकती हुईचेहर पर झुर्रियाँइठलाती सीऔर आईना मुस्काती सीवाय द वेआईना क्यूँ मुस्काराती हैये पता नहींपरमैं तो मुस्कुराता हुँअब भीआईने में तुम्हें देखकरकमर झुकी हूईहाथ में लाठीमोटे मोटे शीशे वाला चश्मादूध सी सफेद बालऔरलटके लटके ... Read more
clicks 191 View   Vote 0 Like   3:24am 29 Dec 2013 #
Blogger: shambhu kumar jha
बेशकअब किसी के दिल मेंनहीं रहता हूँखुद पे ही जुल्म करकेखुद को ही सहता हूँअपने जख्मों को लेकहीं दूर चले जामैं अब भी तीखा सचखूब कहता हूँ... Read more
clicks 164 View   Vote 0 Like   1:52am 28 Dec 2013 #
Blogger: shambhu kumar jha
नहीं कहना चाहता मैं अलविदा दिल से।तुम्हे नहीं कर सकता कभी भी जुदा दिल से।बहुत कुछ खोया है तुम्हारे साथ चलकर, मगर उससे भी कहीं अधिक पाया उसका क्या।कुछ रिश्ते युँही बिखर गए खुशबु की तरह, मगर कितने ही गहरे सम्बन्ध बने उसका क्या।हे नववर्ष मुझे आपके स्वागत से ऐतराज नहीं।मग... Read more
clicks 184 View   Vote 0 Like   1:26am 23 Dec 2013 #
Blogger: shambhu kumar jha
बिन पिये ही रोज लौट आता हूँ मैखाने सेमैपरस्त नया हूँ शराब भी नई चाहिये... Read more
clicks 275 View   Vote 0 Like   7:17am 22 Dec 2013 #
Blogger: shambhu kumar jha
_ना आना कि तेरा इन्तजार आखिरीये जाम आखिरी ये शाम आखिरीआखिरी है लड़ाईआखिरी है मोहब्बतसारी शिकायते गिले तमाम आखिरीअब चैन की आरजू बस आखिरी आखिरी हैअब कहाँ लबों पे राम आखिरी हैबस तेरा नाम आखिरी हैचंद जिद्दी जज्बातो से दो चार हो जाऊँफिरदौर ए वफा मुफलिसों को पैगाम ... Read more
clicks 188 View   Vote 0 Like   1:30am 19 Dec 2013 #
Blogger: shambhu kumar jha
_हाँ तुम नहीं रहेहमारी जिन्दगी मेंयह विचित्र फैसला भीतुम्हारा ही थामरे आहत होने का आलमबेइन्तहा थानिवाला जहर दिखता थाऔर दुआ बेअसरनींद ना जाने तुम्हारे साथ ही कब के चली गईहाँ मगरसपने अपने साथ थेउन सपनों को भी पता थाकि अब वहझुठी नींदों के सहारेअस्तित्व विहिन सच का साम... Read more
clicks 182 View   Vote 0 Like   1:25am 19 Dec 2013 #
Blogger: shambhu kumar jha
तु जब भी रूठ जाती है, गजल बनके सताती है।ना कोई गम ठहरता है, ना खुशियाँ लौट आती है।भटककर खुद ही आते हैं मेरे पग मय की बस्ती मेंतेरी यादों का पहरा भी ना मुझको रोक पाती है।सुना है तुमने अब अपना ठिकाना है बदल रक्खा,यकीं कैसे करेगा दिल जो khat वापस ना आती है।तेरा वो मुझपे मर मिटने ... Read more
clicks 214 View   Vote 0 Like   3:44am 24 Sep 2013 #
Blogger: shambhu kumar jha
_देखो कैसे अकड़ के चल रहा हैसीना फुलायेसुनोमुँछें तो हैं नही, फिर भी हाथ फेरते जा रहे होलगातार घुरे जा रहे होदाँये बाँये उपर नीचेचुँधिया रहे हो अपने चमक सेलोगों की आखेंमगर जरा रूको तो चिरागरहने दो मोहब्बत को तनहाहाँ, बेशक दौर के लिपट जायेगीसमा जायेगी रात तुम्हारे ही भी... Read more
clicks 179 View   Vote 0 Like   3:36am 25 Aug 2013 #
Blogger: shambhu kumar jha
_ कोई खाली है क्या ! सरहद के उटपटाँग खबरों से सुनो 15 अगस्त आ रहा है स्वतंत्रता दिवस रिंगटोन में देशभक्ति गाने होने चाहिये सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्ताँ हमारा किसी के भुखे मरने का गम छोड़ दो चलो मिठाईयों का इंतजाम करते हैं कई और मरेगें आने वाले ठंड में ठिठुरते अकड़ते चलो प... Read more
clicks 150 View   Vote 0 Like   9:06am 7 Aug 2013 #
Blogger: shambhu kumar jha
कबड्डी, क्रिकेट, डंडा और गिल्ली है जिंदगी / कभी शेर तो कभी भींगी बिल्ली है जिंदगी / भागम भाग, भागम भाग, दौड़म दौड़, दौड़म दौड़ / चेन्नई, मुम्बई, कोलकाता औरदिल्ली है जिंदगी... Read more
clicks 142 View   Vote 0 Like   5:02am 12 Jun 2013 #
Blogger: shambhu kumar jha
वो अजनबी था लेकिन हँसी शाम लिख गया चुपचाप मेरे दिल पे अपना नाम लिख गया थी बात उसकी महकी बहकती हुई अदा मुहब्बत हूँ मुहब्बत हूँ सरे आम लिख गया... Read more
clicks 211 View   Vote 0 Like   4:23pm 7 Jun 2013 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post