POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: आह्वान

Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
आप में से कई लोग ऐसे होंगे, जिन्हें ज्योतिष-विद्या पर पूर्ण विश्वास है और वो इसका लाभ भी उठाना चाहते हैं; पर एक ही चीज जो हर बार उन्हें मायूस कर देती है, वो है सही जन्म-समय का ‌ज्ञात ना होना। पुराने समय में तो सही जन्म-समय लिखने पर कोई ध्यान ही नहीं देता था और सही समय लिखना त... Read more
clicks 99 View   Vote 0 Like   9:23am 25 Feb 2016 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
-----------------------------------------------ज्योतिष से सम्बन्धित नए-पुराने सभी लेखों के लिए कृपया नीचे दिए गए लिंक पर जाएँ...http://www.dhoomketu.org/               *****... Read more
clicks 143 View   Vote 0 Like   8:24am 11 Feb 2016 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
२० मार्च, शुक्रवार को अमावस्या के दिन साल २०१५ का पहला पूर्ण सूर्य-ग्रहण लग रहा है। हालांकि यह सूर्य-ग्रहण भारत के किसी भी हिस्से में दिखाई नहीं देगा, फ़िर भी एक और अन्धविश्वास, जो ज्योतिषीय मिथक के रूप में समाज में प्रचलित है, वो है सूर्य-ग्रहण से होने वाले कदाचित् नुकसा... Read more
clicks 223 View   Vote 0 Like   6:48pm 19 Mar 2015 #Eclipse (Solar & Lunar)
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
आपमें से शायद बहुत कम लोग ही ये जानते होंगे कि महर्षि वेद व्यास के पिता महर्षि पाराशर थे, जो ज्योतिष विद्या के असीम ज्ञाता एवं प्रकाण्ड विद्वान थे। वेद व्यास की माता सत्यवती हैं, इस सत्य से तो आप महाभारत देख कर ही परिचित हो चुके होंगे। वैसे महर्षि वेद व्यास के जन्म की कथ... Read more
clicks 120 View   Vote 0 Like   3:00am 27 Feb 2015 #Astrology
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
आपने अक्सर लोगों को मंत्रों का जप करते हुए या माला फ़ेरते हुए देखा होगा और शायद आपने भी कभी ये सब किया हो या रोज करते हों; तो आप इस तथ्य से भी परिचित होंगे कि माला में १०८ मोती होते हैं और अगर हमारे पास माला ना भी हो, तो हमें १०८ बार ही मंत्र का जप करने के लिए कहा जाता है, ना कम न... Read more
clicks 132 View   Vote 0 Like   2:14pm 6 Feb 2015 #Astrologer
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
 ज्योतिष शायद सबसे पुराना विषय है और एक अर्थ में सबसे ज्यादा तिरस्कृत विषय भी है। सबसे पुराना इसलिए कि मनुष्य जाति के इतिहास की जितनी खोजबीन हो सकी है उसमें ज्योतिष, ऐसा कोई भी समय नहीं था, जब मौजूद न रहा हो।ज्योतिष की सर्वाधिक गहरी मान्यताएं भारत में पैदा हुईं। सच तो ... Read more
clicks 132 View   Vote 0 Like   5:28am 2 May 2014 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
इस लेख की पिछली कड़ीमें मैंने जिन दस अवतारों के विषय में लिखना प्रारम्भ किया था, उसे उसी क्रम में इस लेख में आगे ले जा रही हूँ। आशा करती हूँ, पिछले लेख की तरह इस लेख में भी आपकी रूचि बरकरार रखने में सफ़ल रहूँगी।दो अवतारों का पिछले लेख में वर्णन हो चुका है। अब आगे..........(३)   ... Read more
clicks 237 View   Vote 0 Like   11:41am 12 Feb 2014 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
बचपन से ही आप दशावतार के बारे में अपने बड़े-बूढ़ों से सुनते आए होंगे; पर पता नहीं आप इनके जन्म की कथाओं से पूर्णरूप से परिचित हैं या नहीं। आज हम आपको इन दशावतारों के जन्म तथा उन परिस्थितियों जिनके परिणामस्वरूप इन्हें इस धरती पर अवतरित होना पड़ा, से सम्बन्धित कथाओं से आपको ... Read more
clicks 256 View   Vote 0 Like   5:08am 21 Nov 2013 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
आज के इस आपाधापी के युग में व्यक्ति जिस समस्या से सबसे ज्यादा दो-चार होता है, वह है ---  रोजी-रोटी की चिन्ता। व्यक्ति की आर्थिक-स्थिति चाहे जैसी भी हो, ये समस्या उसका पीछा नहीं छोड़ती; और इस समस्या की शुरूआत उसके शैक्षिक जीवन में ही हो जाती है। १०वीं के बाद जब विषय-चयन की सम... Read more
clicks 245 View   Vote 0 Like   7:44am 11 Sep 2013 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
चलिए, आज हम आपको तिथियों के बहाने सूरज और चंदा की प्रेम कहानी सुनाते हैं। पर ये प्रेम कहानी बाकी कहानियों से अलग है। जहाँ अन्य सभी प्रेमी-युगल मिलन की बाट जोहते रहते हैं, वहीं हमारी चंदा रानी सूरज से मिलन होते ही एकदम काली पड़ जाती हैं और जैसे-२ सूरज महाराज से उनकी दूरी बढ़... Read more
clicks 190 View   Vote 0 Like   6:20am 29 Jul 2013 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
आप में से कई लोग ऐसे होंगे, जिन्हें ज्योतिष-विद्या पर पूर्ण विश्वास है और वो इसका लाभ भी उठाना चाहते हैं; पर एक ही चीज जो हर बार उन्हें मायूस कर देती है, वो है सही जन्म-समय का ‌ज्ञात ना होना। पुराने समय में तो सही जन्म-समय लिखने पर कोई ध्यान ही नहीं देता था और सही समय लिखना त... Read more
clicks 256 View   Vote 0 Like   10:44am 7 May 2013 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
अक्सर लोग इस विषय पर चिन्तन करते देखे जाते हैं कि नाम राशि आधारित होना चाहिए या नहीं। कुछ लोगों का ऐसा मानना है कि अगर बच्चे का नाम राशि पर आधारित रखा जाये, तो वो बड़ा होकर धनवान एवं प्रसिद्ध होगा; जबकि इसके विपरीत कुछ लोगों का ऐसा सोचना है कि जिस व्यक्ति का नाम राशि के अक्... Read more
clicks 303 View   Vote 0 Like   11:05am 21 Jan 2013 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
आज जिस तरह कम्प्यूटर लोगों की जिन्दगी में एक आम बात हो गयी है, उसी तरह ज्योतिष ने भी लोगों की जिन्दगी में अपनी जगह बनानी शुरू कर दी है। ऐसा नहीं है कि ज्योतिष पहले लोगों की जिन्दगी में नहीं था, परन्तु पहले ये एक विशेष वर्ग के लोगों तक ही सीमित था। आजकल लोग अपने भविष्य के बा... Read more
clicks 459 View   Vote 0 Like   10:48am 18 Oct 2012 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
अक्सर जब भी कोई परेशानी हमारे समक्ष आती है, तो हम उसका निदान ढूँढने में जी-जान से लग जाते हैं... ज्योतिष शास्त्र में अगर हम किसी समस्या के निदान की बात करें, तो सर्वोत्तम उपाय सम्बंधित पीड़ा कारक ग्रह की शांति मंत्रोच्चार द्वारा करना है... अब अचानक ही आपके मन में ये प्रश्न ... Read more
clicks 252 View   Vote 0 Like   10:17am 6 Aug 2012 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
अक्सर जब हम पुराणों में वर्णित कथाओं को सुनते है, तो आपके मन में भी अक्सर ये प्रश्न स्वाभाविक रूप से उठा होगा कि क्यों विश्वामित्र क्षत्रिय राजा होकर भी ब्राह्मण गुणों से युक्त थे और क्यों परशुराम एक ब्राह्मण होते हुए भी क्षत्रिय गुणों से युक्त थे...शायद आपको ये जानकर ... Read more
clicks 211 View   Vote 0 Like   11:32am 25 Jul 2012 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
                         आज हम जिस ज्वलंत मुद्दे को उठाने जा रहे हैं, वो है भाग्य एवं कर्म... अक्सर लोग इस मुद्दे पर बहस करते हुए देखे जा सकते हैं कि भाग्य बड़ा है या कर्म... जो भाग्य में लिखा है, वही हमें मिलेगा या कर्म से भाग्य को बदला जा सकता है... सच्चाई तो ये है कि कर्म और भाग्य न... Read more
clicks 356 View   Vote 0 Like   6:28am 9 Jul 2012 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
                         आप में से कईयों ने अक्सर लोगों से या पंडित जी से तिथि-क्षय एवं तिथि-वृद्धि के विषय में अवश्य सुना होगा... तो क्या वास्तव में तिथियों का क्षय एवं वृद्धि होती है? जी नहीं, असल में तिथियों का प्रारंभ सूर्योदय से माना जाता है, अर्थात सूर्योदय के समय जो तिथि ... Read more
clicks 222 View   Vote 0 Like   1:22pm 1 Jul 2012 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
                                        आप में से ज्यादातर लोग ऐसे होंगे, जो सुबह उठकर अख़बार में या टी. वी . में अपना राशिफल देखते होंगे, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इस फलित का ज्योतिष शास्त्र से या आपके भविष्य से कोई लेना-देना नहीं है। ये तो केवल ज्योतिषियों की झोली भरने या टी. वी. क... Read more
clicks 208 View   Vote 0 Like   11:43am 12 Jun 2012 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
                    ज्योतिष के इस भयावह नाम को तो आप अक्सर सुनते ही रहते होंगे ? शायद इसकी भयावहता से बचने के लिए शनि महाराज को बहुत सारा तेल भी चढ़ा दिया होगा.. लेकिन क्या आपको पता है कि पं. जवाहर लाल नेहरु, इंदिरा गाँधी, राजीव गाँधी, मोरारजी देसाई, चरण सिंह, गोर्डन ब्राउन जैसे ... Read more
clicks 309 View   Vote 0 Like   11:58am 8 Jun 2012 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
                    आपमें से शायद ही कोई ऐसा होगा, जिसने काल-सर्प दोष का नाम न सुना होगा.. जी हाँ, आपने ठीक समझा, आज हम इसी के बारे में बात करने जा रहे हैं.....                    अगर मैं आपसे कहूँ की काल-सर्प दोष जैसी कोई चीज नहीं होती, तो शायद आप मुझे ही बेवकूफ कहेंगे.. लेकिन मैं आपकी जानक... Read more
clicks 241 View   Vote 0 Like   12:31pm 30 May 2012 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
                      ह्म्म्म..... ज्यादा इंतजार तो नहीं करना पडा ना..?हाँ, तो आज हम चर्चा करने वाले हैं, मंगल-दोष के काट या निवारण की..वैसे आप में से किसी ने कोशिश की मंगल-महाराज से दोस्ती करने की..?क्या कहा..? हिम्मत नहीं पड़ी...चलिए मेरे साथ.....वैसे मंगल-महाराज इतने बुरे भी नहीं है, आखिर... Read more
clicks 268 View   Vote 0 Like   5:18pm 25 May 2012 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
                    चलिए इस ब्लॉग की शुरुआत कुछ शुभ-मंगल बातों से करते हैं.. 'विवाह' एक ऐसा अवसर है, जो हम सभी के जीवन में किसी न किसी रूप में अवश्य सामने आता है.. विवाह के रूप में परिणिति से पहले रिश्ते की शुरुआत में कुंडली-मिलान के समय एक अनचाहा सा भय हम सभी के दिलो-दिमाग पर छा... Read more
clicks 241 View   Vote 0 Like   12:17pm 24 May 2012 #
Blogger: डा. गायत्री गुप्ता 'गुंजन'
                                                      जब भी हम ज्योतिष शब्द को सुनते हैं, तो उसके साथ ही एक दूसरा शब्द जुड़कर अपने आप ही हमारी आँखों के सामने आ जाता है, वो है 'अंधविश्वास '.. इस ब्लॉग कीशुरुआत इसी मुहिम का प्रारंभ है कि 'ज्योतिष ' के ऊपर से इस अंधविश्वास रुपी काली छाया को ह... Read more
clicks 223 View   Vote 0 Like   7:17am 23 May 2012 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post