POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: OUR TEERTH & TOURIST PLACES हमारे तीर्थ और पर्यटन स्थल

Blogger: Praveen Kumar Gupta
माता के इस मंदिर में लाल मिर्च से होता है हवन, होती है हर मुराद पूरीहिंदू धर्म में मां दुर्गा के 51 शक्तिपीठ हैं लेकिन इनके अलावा कुछ ऐसे मंदिर भी हैं जो अपने दिव्य चमत्कारों के लिए प्रसिद्ध हैं। छत्तीसगढ़ राज्य का डोंगरगढ़ मंदिर भी कुछ ऐसा ही है। मां बमलेश्वररी मंदिर त... Read more
clicks 166 View   Vote 0 Like   7:07am 14 Oct 2018 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
मध्यप्रदेश बिजासन देवी धाम को आज कौन नहीं जानता। कई लोगों की कुलदेवी होने के साथ देश-विदेश में रहने वाले लोगों की आस्था का भी केंद्र है। लोग माता के इस पवित्र स्थान को सलकनपुर देवी धाम के नाम से भी जानते हैं।नर्मदा नदी के तट से महज 11 किलोमीटर दूर स्थित विंध्याचल पर्वत श... Read more
clicks 169 View   Vote 0 Like   1:28am 12 Oct 2018 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
 शारदीय नवरात्र के मौके पर हर दिन आपको बताएगा प्रदेश के अनोखे मंदिरों के बारे में...। पहली कड़ी में आपके ले चलते हैं भोपाल जिले की बैरसिया तहसील, जहां विराजमान हैं हरसिद्धि माता...।भोपाल। बैरसिया तहसील मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से 35 किलोमीटर दूर है। यहां के तरावली ग... Read more
clicks 61 View   Vote 0 Like   1:21am 12 Oct 2018 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
भोपाल। मां काली के विभिन्न आकर्षक रूपों से हमारा परिचय है लेकिन भोपाल से सटे रायसेन में एक ऐसा मंदिर है जहां मां काली की मूर्ति एक बार स्वयं अपनी गर्दन सीधी करती है। इस मौके पर माता के दर्शनों के लिए भक्तों का तांता लगा होता है। मान्यता है कि जिस भी भक्त को माता की सीधी ग... Read more
clicks 69 View   Vote 0 Like   1:14am 12 Oct 2018 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
साभार: दैनिक भास्कर ... Read more
clicks 121 View   Vote 0 Like   2:00am 10 Oct 2018 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
गोंडा के इस शिव मंदिर में है भीम द्वारा स्थापित एशिया का सबसे बड़ा शिवलिंगपुरातत्व विभाग की जांच में पता चला कि यह एशिया का सबसे बड़ा शिवलिंग है, जो 5000 वर्ष पूर्व महाभारत काल का है।खरगूपुर स्थित प्राचीन पृथ्वीनाथ मंदिर शिवभक्तों की आस्था का प्रमुख केंद्र है। दावा किय... Read more
clicks 113 View   Vote 0 Like   2:12am 14 Feb 2018 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
देश को एक और 'शिमला"मिल गया है, इसे न केवल भरपूर संभावनाओं वाला शहर माना जा रहा है।देश को एक और 'शिमला"मिल गया है, इसे न केवल भरपूर संभावनाओं वाला शहर माना जा रहा है, बल्कि केंद्र सरकार के पर्यटन मंत्रालय ने स्वदेश दर्शन 'ट्रायबल टूरिज्म सर्किट'की परियोजना में शामिल कर लिय... Read more
clicks 246 View   Vote 0 Like   2:03am 18 Dec 2017 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
आज भी मौजूद है श्रीलंका में रामायण के पांच निशानभारत की क्रिकेट टीम लंका फतह करने गई है ये सबको दिख रहा है, पर हम आपको दिखा रहे हैं श्री राम के लंका विजय करने के प्रमाण।सीता माता को हरण के दौरान रखा गया था इन स्‍थानों पर रावण जब माता सीता का अपहरण कर श्रीलंका पहुंचा तो स... Read more
clicks 175 View   Vote 0 Like   2:07am 22 Oct 2017 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
- भद्राचलम का राम मंदिर सूर्यपुत्रभारत की संस्कृति राममय है। यहां रोम-रोम में राम बसे हैं। भारत में अनेक प्राचीन स्थल हैं जो श्रीराम के जीवन से निकटता से जुड़े हैं। प्रभु राम की जन्मभूमि है अयोध्या तो सरयू का तट केवट की कहानी से जुड़ा है। इसी तरह राम कथा से अभिन्न रूप म... Read more
clicks 181 View   Vote 0 Like   2:28am 18 May 2017 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
परंपरागत रास्ते को 16 किमी तक शेड से ढंका जा चुका है। किनारे पर फेंसिंग भी की गई है, ताकि नीचे कोई गिरे नहीं और कचरा न फैलाए।कटरा. जम्मू से कटरा का रास्ता पहले दो घंटे का होता था। तीन टनल की बदौलत अब यह बमुश्किल 40 मिनट का रह गया है। अभी लोग कम आ रहे हैं। पर महज डेढ़ महीने बाद नव... Read more
clicks 168 View   Vote 0 Like   6:17am 22 Aug 2016 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
वृहत संहिता में तीर्थ का बड़े ही सुंदर शब्‍दों में वर्णन किया गया है। इसके अनुसार, ईश्‍वर वहीं क्रीड़ा करते हैं जहां झीलों की गोद में कमल खिलते हों और सूर्य की किरणें उसके पत्‍तों के बीच से झांकती हो, जहां हंस कमल के फूलों के बीच क्रीड़ा करते हों...जहां प्राकृ‍तिक सौंदर... Read more
clicks 183 View   Vote 0 Like   8:09am 31 Jul 2016 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
''ह्मीं बगलामुखी सर्व दुष्टानां वाचं मुखं पदं स्तम्भय जिह्वां कीलम बुद्धिं विनाशय ह्मीं ॐ स्वाहा।''प्राचीन तंत्र ग्रंथों में दस महाविद्याओं का उल्लेख मिलता है। उनमें से एक है बगलामुखी। माँ भगवती बगलामुखी का महत्व समस्त देवियों में सबसे विशिष्ट है। विश्व में इनके स... Read more
clicks 192 View   Vote 0 Like   7:47am 31 Jul 2016 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में स्थित खजियार को भारत का मिनी स्विट्जरलैंड कहा जाता है। खजियार के अलावा, यहां के आस-पास का प्राकृतिक सौंदर्य पर्यटकों को खूब आकर्षित करता है...हिमाचल प्रदेश के चंबा जिले में बेहद खूबसूरत स्थल है खजियार। समुद्र तल से करीब २००० मीटर की ऊंचा... Read more
clicks 174 View   Vote 0 Like   7:40am 31 Jul 2016 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
मध्य प्रदेश में बसा है एक और कश्मीरमध्य प्रदेश में स्थित माण्डू का दर्शन वादिये कश्मीर का आभास देता है। यहां हरी-भरी वादियां, नर्मदा का सुरम्य तट ये सब मिलकर माण्डू को मालवा का स्वर्ग बनाते हैं। यहां की माटी के बारे में कहा जाता है कि ‘मालवा माटी गहर-गंभीर। पग-पग रोटी ड... Read more
clicks 174 View   Vote 0 Like   7:22am 31 Jul 2016 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
 अर्धनारेश्वर मंदिर - मोह्गाव ... Read more
clicks 157 View   Vote 0 Like   7:10am 31 Jul 2016 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
देवीपाटन मंदिर - हिन्दुत्व की सतत् जलती मशाल उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले में स्थित देवीपाटन मंदिर राज्य ही नहीं, पूरे भारत में हिन्दुत्व की सतत जलती मशाल का एक अनोखा उदाहरण है।पौराणिक मान्यता के अनुसार देवीपाटन मंदिर ही वह स्थल है, जहां देवी सती का वाम स्कंध वस्त्र ... Read more
clicks 212 View   Vote 0 Like   7:00am 31 Jul 2016 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
मोढ़ेरा के विश्व प्रसिद्ध सूर्य मंदिर, जो अहमदाबाद से तकरीबन सौ किलोमीटर की दूरी पर पुष्पावती नदी के तट पर स्थित है।माना जाता है कि इस मंदिर का निर्माण सम्राट भीमदेव सोलंकी प्रथम (ईसा पूर्व 1022-1063 में) ने करवाया था। इस आशय की पुष्टि एक शिलालेख करता है जो मंदिर के गर्भगृह क... Read more
clicks 252 View   Vote 0 Like   12:07pm 18 Nov 2015 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
चंबा भारत के हिमाचल प्रदेश प्रान्तका एक नगर है। हिमाचल प्रदेश का चंबा अपने रमणीय मंदिरों और हैंडीक्राफ्ट के लिए सर्वविख्यात है। रवि नदी के किनारे 996 मीटर की ऊंचाई पर स्थित चंबा पहाड़ी राजाओं की प्राचीन राजधानी थी। चंबा को राजा साहिल वर्मन ने 920 ई. में स्थापित किया था। इ... Read more
clicks 229 View   Vote 0 Like   3:41pm 3 Nov 2015 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
हर डेस्टिनेशन की अपनी एक खास पहचान होती है। वहां से की गई खरीदारी आपको हमेशा उन खूबसूरत पलों की याद दिलाती रहती है, जो आपने वहां बिताए हैं। जानिए यात्रा के दौरान किन यादगार चीजों की खरीदारी सूवनिर यानी निशानी के तौर पर कर सकते हैं...मनुष्य स्वभाव से ही अपने परिवेश में बद... Read more
clicks 210 View   Vote 0 Like   3:24pm 31 Oct 2015 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
स्कन्दपुराण के अनुसार राजा दक्ष की पुत्री, सती का विवाह भगवान शिव से हुआ था। त्रेता युग में असुरों के परास्त होने के बाद दक्ष को सभी देवताओं का प्रजापति चुना गया। उन्होंने इसके उपलक्ष में कनखल में यज्ञ का आयोजन किया। उन्होंने, हालांकि, भगवान शिव को आमंत्रित नहीं किया ... Read more
clicks 287 View   Vote 0 Like   4:07pm 8 May 2015 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
हिमाचल के मंडी जिला की लड़भडोल तहसील के सिमस गांव में एक देवी का मंदिर ऐसा है जहां पर निसंतान महिलाओं के फर्श पर सोने से संतान की प्राप्ति होती है। नवरात्रों में हिमाचल के पड़ोसी राज्यों पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ से ऐसी सैकड़ों महिलाएं इस मंदिर की ओर रूख करती हैं जिनक... Read more
clicks 214 View   Vote 0 Like   11:04am 21 Mar 2015 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
.मालवांचल में कौरवों ने अनेक मंदिर बनाएँ थे जिनमें से एक है सेंधल नदी के किनारे बसा यह कर्णेश्वर महादेव का मंदिर। करनावद (कर्णावत) नगर के राजा कर्ण यहाँ बैठकर ग्रामवासियों को दान दिया करते थे इस कारण इस मंदिर का नाम कर्णेश्वर मंदिर पड़ा।ऐसी मान्यता है कि कर्ण यहाँ के भ... Read more
clicks 233 View   Vote 0 Like   11:37am 2 Mar 2015 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
.शीतला का मन्दिर गुड़गाँव, हरियाणा में स्थित है। 'नवरात्रि'के पावन दिनों में शीतला माता के मन्दिर में भक्तों की भीड़ काफ़ी बढ़ जाती है। देश के सभी प्रदेशों से श्रद्धालु यहाँ मन्नत माँगने आते हैं। मन्दिर देश भर के श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र है। यहाँ वर्ष में दो बार ... Read more
clicks 202 View   Vote 0 Like   11:30am 2 Mar 2015 #
Blogger: Praveen Kumar Gupta
हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में काठगढ़ महादेव का मंदिर स्थित है। इस धार्मिक स्थल पर दो नदियों का संगम होता है।यह विश्व का एकमात्र मंदिर है जहां शिवलिंग ऐसे स्वरुप में विद्यमान हैं जो दो भागों में बंटे हुए हैं! अर्थात मां पार्वती और भगवान शिव के दो विभिन्न रूपों को ग... Read more
clicks 245 View   Vote 0 Like   9:39am 17 Feb 2015 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post