POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: ब्लाग तड़ाग

Blogger: Sudheer Maurya
कलम से..: खूबसूरत अंजलि उर्फ़ बदसूरत लड़की की कहानी - सुधीर ...: बहुत खूबसूरत थी वो लड़कपन में।       लड़कपन में तो सभी खूबसूरत होते है।   क्या लड़के , क्या लड़कियां।   पर वो कुछ ज्यादा...for gazal, nazm & poems... Read more
clicks 187 View   Vote 0 Like   3:09am 16 May 2015
Blogger: Sudheer Maurya
कमर पे रखे हुए घड़े से छलकते हुए पानी से खाली हुए घड़े को वापस भर देता है उसकी आँख से बहता हुआ पानी लोग करते हैं अश्लील इशारे पानी से भीग कर  अधफटे वस्त्र चिपक जाते हैं नितम्बो से  आँख झुका कर निकल जाती है वह फ़िक़रे कसती हुई गलियों सेआँगन में सास की गोद में र... Read more
clicks 186 View   Vote 0 Like   6:00pm 23 May 2014
Blogger: Sudheer Maurya
मिटानाचाहतामुझकोज़माना समझकरहमकोएकमुफलिसदीवाना यहाँमरकज़मेंअब रोटीनमक है वहांसोनेकेबिस्कुटकाखजाना     हुनरआताहैतुमकोयेअज़लसे दबेकुचले गरीबों को साताना      करोडो खाकेलाखोपर नज़रहै   तिजोरीहैकिसुरसाकामुहाना    न... Read more
clicks 188 View   Vote 0 Like   4:03pm 20 Dec 2013
Blogger: Sudheer Maurya
जनवरीकी सर्दसडकोंके दोनोंओर हल्कीहवासे सरसराते सूखेपेड़-हरेपत्ते मेरीबेबसीपर कभीरोते कभीहँसते बड़ागहरा ताल्लुकहैमेरा इससड़क औरइनकेकिनारेके इनपडोंसे जिन्होंनेमुझे निहाराथाकभी मेरेगाँवकी दोखेजदोशीजाके क़दमोंसेकदम मिला... Read more
clicks 192 View   Vote 0 Like   2:17pm 23 Aug 2013
Blogger: Sudheer Maurya
Sudheer Maurya********************मेरादिल आहेजब सर्द-सर्द भरनेलगाथा कदमदहलीजपे जवानीकेजब रखनेलगाथा तबमेरे आँखोंसेटकराईथी मेरेएक गाँवकीलड़कीजवानी तिफ्ली सेउसके गलेलगके हंसती थीहिरनऔर मोरतकतेथे  जबकेचाल चलतीथी उसकीबाहें सुनहरीथी जुल्फकाली घनेरीथी नैनफरिश्तोंके कातिलथ... Read more
clicks 356 View   Vote 0 Like   3:43pm 6 Feb 2013
Blogger: Sudheer Maurya
Sudheer Maurya*********************मेरी मय्यत से लिपट कर वो गुलो का हार रो पडा शायद वो भी उसका ठुकराया हुआ था सुधीर मौर्य 'सुधीर' गंज जलालाबाद, उन्नाव 209869     for gazal, nazm & poems... Read more
clicks 169 View   Vote 0 Like   3:30pm 26 Jan 2013
Blogger: Sudheer Maurya
Sudheer Maurya 'Sudheer' ********************************लांघकर अपनी अटारीकी मुंडेर मेरीअटारीपे आके उसनेबांधाथा मेरीकलाईपे लजाते - सकुचाते फ्रेंडशिपबेंड जिसकारंगथा राजहंसकेपंखोजेसा।बेंडतोबेंडथा वक़्तकेसाथ टूटकरबिखरगया। लेकिनउसकाउजलापन अबभीमेरीरातोंमें चांदनीबिखेरताहै मेरीकलाई... Read more
clicks 217 View   Vote 0 Like   5:45pm 14 Jan 2013
Blogger: Sudheer Maurya
Check out हिन्दू सामग्री देवल देवी.. « sudheer ek kavi, ek kahanikarfor gazal, nazm & poems... Read more
clicks 223 View   Vote 0 Like   3:26pm 8 Jan 2013
Blogger: Sudheer Maurya
मेरी ७९ नज़्म का संग्रह...सुधीर मौर्य 'सुधीर' Vpo- Ganj Jalalabad, Unnao209869for gazal, nazm & poems... Read more
clicks 175 View   Vote 0 Like   3:52am 4 Jan 2013
Blogger: Sudheer Maurya
मेरी ७९ नज़्म का संग्रह...सुधीर मौर्य 'सुधीर' Vpo- Ganj Jalalabad, Unnao209869for gazal, nazm & poems... Read more
clicks 230 View   Vote 0 Like   3:52am 4 Jan 2013
Blogger: Sudheer Maurya
Sudheer Maurya 'Sudheer'*********************************बरसो बाद पतझड़ो के मौसम मेंउनका दीदार हुआ..हाथ में चूडियाँपावं में महावरआँखों में काजलऔरमाथे पे सिंदूर..मुझे देख करउनके होठों पेतैर गई, वही मुस्कानजो बचपन से उनकी सूरत की सहेली रही...और सच  पुछो तो यही मेरे जीवन की सबसे बड़ी पहली रही..हाँ, हम जा... Read more
clicks 192 View   Vote 0 Like   2:59am 26 Dec 2012
Blogger: Sudheer Maurya
सुधीरमौर्य 'सुधीर'********************सलामकरताहूँ मेंतेरीहिम्मतकोओ! हिन्दकीबेटी'दामिनी'तुझेलड़नाहैमौतसे औरदेनाहैउसे शिकस्तउठ औरबिजलीकीतरह चमककरसार्थक करदे अपना नाम औरलिखदे उनदरिंदोकेखूनसेआसमानकेकेनवासपर तूँअबलानहीं  जोदमतोड़देघबराकेजहाँके सितमसेतूँतो वो सब... Read more
clicks 220 View   Vote 0 Like   2:47pm 23 Dec 2012
Blogger: Sudheer Maurya
हर फैसला मेरे बाबत उसी का थावो शक्स जो मुझे अब पहचानता नहींउसकी यादो के सहारे ही जी लेतेजो वो ख्वाबो में आकर सताता नहींनहीं-नहीं ये खबर मेरे दुश्मनों की होगीउसके बालो में अब गजरा महेकता नहींकुछ मेरी भी खता होगी जो वो यूँ खफा हुआमेरे शहर में आये और मेरी गली से गुजरता नह... Read more
clicks 237 View   Vote 0 Like   7:32am 13 Nov 2012
Blogger: Sudheer Maurya
तेरे होंठ की सुर्खी ले-ले करहर फूल ने आज किया सिंगारतेरे ज़ुल्फ़ की खुशबु मौसम मेंतेरे दम सेकालियों पे है निखारजिस महफ़िल में तुम आ जाववहां एक सुरूर आ जाता हैमेरे शानो पे जब सर रखती होमुझे खुद पे गुरुर आ जाता हैकविता संग्रह 'हो न हो' से..for gazal, nazm & poems... Read more
clicks 187 View   Vote 0 Like   6:05am 13 Oct 2012
Blogger: Sudheer Maurya
ओ मेरी सुरमई प्रियतमेतुम्हे याद है,जब मुझे अपनी आँखों सेतुम महुवे का रस पिलाती थीऔर में मदहोश होकरतुम्हारी गोद में सर रखकरलेट जाता था-तब तुमअपनी नर्म कोमल अँगुलियों सेमेरे बालो में कंघी करती रहती थी...ओ हिरनी सी आँख वाली मेरी प्रेयसीतुम्हे याद हैजब मेरे गालों पर, त... Read more
clicks 199 View   Vote 0 Like   5:53pm 26 Sep 2012
Blogger: Sudheer Maurya
ओ मेरे गावं कीनोखेज़ दोशीजा !मेरी प्रियतमा...मैंने महसूस किया हैतेरी पिंडलियों की थरथराहट कोउस वक़्तजब म्रेरे होठों के लम्स सेतेरे होठभीगती रात में सरशार हुए...अरी ओ रसगंधा !मेरे जन्मो की प्रेयसी इसी जन्म में चुकणी थी क्यातेरे बदन की मह्वाई  गंधया आठवां जन्म था हमा... Read more
clicks 206 View   Vote 0 Like   3:29pm 19 Sep 2012
Blogger: Sudheer Maurya
तेरे इश्क में सितमगर कैसे अज़ाब देखेकाँटों पे ज़बीं रखे रोते गुलाब देखेगैरों की बज़्म में यूं बेरिदा ही झमकेहमने तो रुख पे तेरे हरदम नकाब देखेबनके रकीबे जां तुम उल्फत में मुस्कराएमिटा के मुझको तुने कैसे शवाब देखेइश्क की बला से कोई बच न सका 'सुधीर'इसके कहर से खाक में म... Read more
clicks 185 View   Vote 0 Like   7:18am 14 Sep 2012
Blogger: Sudheer Maurya
इन दिनोंपलाश सा खिला हैचेहरा उसका...कोयल सी कुहक हैहोठों पे उसके...झील सी आँखें करती हैंअठखेलियाँ उसकी...खिलने लगी हैचंद्रिमा पूनम कीगालों में उसके...हिरन सी लचक हैचाल में उसकी...लगता है जेसेअवतरित हुआ है मधुमासशरीर में उसके...हो न हो...चड़ने लगा है उसपेप्रीत का रंग किसी-... Read more
clicks 211 View   Vote 0 Like   2:43pm 8 Sep 2012
Blogger: Sudheer Maurya
नदी पे तैरते अंगारेउन अंगारों से निकलतीधुंए की स्याह लकीरउन लकीरों मेंदफन होते मेरे ख्वाबउन दफन क्वाबो में भटकती मेरी रूह...तुम्ही को तलाश करती हैपर तुम खोये कहाँ थे...तुम तो छोड़ गए थे मुझेएक बेगाना समझ करकिसी अपने के लिए...कौन ढूंढेगा हल इस सवाल का...क्यों एक गैर कोम... Read more
clicks 189 View   Vote 0 Like   1:16pm 25 Aug 2012
Blogger: Sudheer Maurya
फांका से दम न रहा कुछ यूँ कमज़ोर भी हैंइक मुहब्बत के सिवा जहाँ में गम और भी हैंमैंने सोचा था तेरे वस्ल से हसीं क्या होगातेरी जुदाई सा दर्द जहाँ में कहीं क्या होगासाडी दुनिया है सनम गम की सताई हुईअपना कुछ दर्द नहीं जो यूँ जुदाई हुईहाँ तू मिल जाती जो तकदीर सवंर जाती मेरीत... Read more
clicks 181 View   Vote 0 Like   5:14pm 24 Aug 2012
Blogger: Sudheer Maurya
भ्रष्टाचारी कब तक लगायंगे दाग हिंद के भाल में,कब तक समायंगे बेगुनाह असमय काल के गाल में.एक तरफ तो चीन हे एक तरफ नापकियाँ हें,फंस रहा हे देश फिर से दुश्मनों के जाल में.कौन करेगा मुकाबला अब देश के आतंकियों  से,न प्रताप में वो तड़प रही न ख़म शिवा की चाल में.गा... Read more
clicks 181 View   Vote 0 Like   2:33am 15 Aug 2012
Blogger: Sudheer Maurya
बाद मुद्दत के आया मेरे ख्वाब मेंपुरखार-ऐ-बयाबां इरम हो गयाउल्फत से  खुल गई मिज्गा-ऐ-तश्नाहाय ये क्या हुआ क्या गजब हो गयादोशीजा-ऐ-नखवत की गिरी बर्क ऐसेआशियाना-ऐ-मुहब्बत ख़तम हो गयाखेल-ऐ-उल्फत में था कितना पुरकार वोदेख ग़ुरबत रकीब-ऐ-सनम हो गयाकैसी उम्मीद अब नादां तुझको ... Read more
clicks 217 View   Vote 0 Like   6:39pm 31 Jul 2012
Blogger: Sudheer Maurya
एक दरिया जो मेरी आँख से बहता है अभीउसके साहिल पे तेरे नाम की इमारत है कोईमेरी आँखों के नमकीन पानी की वजहखंडहर सी दिखती हुई वो मिस्मार सी हैतेरे इश्क में ये बात मैंने कुफ्र की कर दीतेरी याद में वहां इबादत तेरे बुत की कर दीन धुप, न कपूर, न लोबान की खुशबूतेरी यादें , मेरी आं... Read more
clicks 177 View   Vote 0 Like   2:05pm 23 Jul 2012
Blogger: Sudheer Maurya
सिसक रहें हैज़मीं के ज़ख़्मरिस रहा है लहूपहाडो के बदन सेजल रहें हैं जंगल के जंगलहर रोज़ शमशान मेंइंसान अब इंसान कहाँ रह  गया हैनोचने लगा है बदनअपने ही जन्मदाताओं काअपने ही पालनहार काहाँ वो बदल रहा हैआदमी से हैवान में अब शहर,शहर नहीं रहेजिनकी राहों से गुजरते थे लो... Read more
clicks 173 View   Vote 0 Like   2:07pm 10 Jul 2012
Blogger: Sudheer Maurya
सबक आख़िरी भी मुहब्बत का सीखातुझे दुश्मनों में खडा हमने  देखा...   हो न हो  से...सुधीर मौर्यfor gazal, nazm & poems... Read more
clicks 242 View   Vote 0 Like   5:38am 6 Jul 2012
[ Prev Page ] [ Next Page ]


Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
Share:
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3916) कुल पोस्ट (192384)