POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: हमारा शरीर : हमारी भाषा

Blogger: R Ravi
अगर कोई एक होर्मोन जिसके विषय में अधिकतर लोगों ने सुन रखा है तो वह शायद इंसुलिन ही है। हमारे स्वास्थय के लिये यह एक अत्यंत महत्वपूर्ण अंत:स्राव (hormone) है। चलिये आपको एक कहानी सुनाता हूँ। सन् १८५७ की क्रांति को विलायती हुकूमत ने बेदर्दी से कुचल दी थी। हताश हिंदुस्ता... Read more
clicks 223 View   Vote 0 Like   11:10am 19 Dec 2015 #
Blogger: R Ravi
अगर कोई एक होर्मोन जिसके विषय में अधिकतर लोगों ने सुन रखा है तो वह शायद इंसुलिन ही है। हमारे स्वास्थय के लिये यह एक अत्यंत महत्वपूर्ण अंत:स्राव (hormone) है। चलिये आपको एक कहानी सुनाता हूँ। सन् १८५७ की क्रांति को विलायती हुकूमत ने बेदर्दी से कुचल दी थी। हताश हिंदुस्ता... Read more
clicks 156 View   Vote 0 Like   11:10am 19 Dec 2015 #
Blogger: R Ravi
सुल्तान -ए - अन्तःस्रावी दुनिया  अन्तःस्रावी ग्रन्थियों का सिरमौर पीयूष ग्रंथि ही है. इसे अंग्रेजी में pituitary (पिट्यूटरी ) ग्लैंड कहते हैं. यह मष्तिष्क के बिलकुल भीतरी भाग में, इसके अंतःस्थल में अवस्थित होता है. अगर आप अपनी जिह्वा की नोक से, तालु का सख्त भाग,  जो आ... Read more
clicks 281 View   Vote 0 Like   10:16am 22 Nov 2015 #
Blogger: R Ravi
पारा थाइरॉयड ग्रन्थि एक लम्बे अवकाश के पश्चात पुनः अपने शरीर से सम्बंधित - अन्तःस्रावी ग्रंथियों की बात को आगे बढ़ाना चाहता हूँ. अब तक हमने पीयूष और थाइरॉयड की बातें की है.  आम तौर से लोग इनके बारे में परिचित भी होते हैं. मगर आज मैं बात करने जा रहा हूँ पारा थाइरॉयड क... Read more
clicks 182 View   Vote 0 Like   3:44pm 5 Jan 2015 #
Blogger: R Ravi
अन्तः स्रावी ग्रन्थियां -२ - थाइरॉयडपिछले पोस्ट में , जिसे लिखे एक अरसा हो गया है,  हमने अन्तःस्रावी ग्रंथियों और हॉर्मोन के बारे में कुछ मौलिक बातें की थी।  उस वार्ता के मुख्य बिंदु थे कि हॉर्मोन हमारे शरीर के  कुछ ख़ास ग्रंथियों से उत्पन्न ऐसे रसायन हैं  जो रक्त ... Read more
clicks 228 View   Vote 0 Like   10:19am 14 Jul 2014 #
Blogger: R Ravi
अंतःस्रावी ग्रंथियां और हॉर्मोनअंतःस्रावी ग्रंथियाँ हमारे शरीर में स्थित छोटी मगर बहुत ही महत्वपूर्ण संरचनआये  है। आपमें से अधिकतर  लोगों ने  Endocrine glands या endocrinologists  के बारे में तो अवश्य हे सुना होगा। यह ही है अंतःस्रावी  ग्रंथि और  हॉर्मोन से सम्बंधित बिमार... Read more
clicks 273 View   Vote 0 Like   9:03am 5 Jan 2014 #
Blogger: R Ravi
मुझे याद है कि नोंवीं- दशवीं तक की पढाई के बाद भी जब मैं यह सोचता था कि इश्वर के होने का क्या प्रमाण है तो एक बात जो बिलकुल चमत्कृत सी करती थी कि दिल जो लगातार धड़क रहा है बगैर  मेरी इच्छा के; यह तो ईश्वरीय चमत्कार ही हो सकता है और क्या?अब शायद न तो प्रमाण ढूँढने की कोशिश होती... Read more
clicks 292 View   Vote 0 Like   5:08am 7 Apr 2012 #
Blogger: R Ravi
दिल या हृदय- शरीर का एक ऐसा अंग जो अनवरत धड़कता रहता है. इसकी धड़कन ही हमारे जीवित होने का प्रमाण है. यह रुका  तो जीवन ख़त्म. मां  के  गर्भ  में  जब भ्रूण  करीब  ५-८ सप्ताह का होता है, तब से दिल की धडकन जो   शुरू  होती है तो फिर मृत्यु के साथ ही बंद होती है. कुदरत का करिश्मा है यह ... Read more
clicks 361 View   Vote 1 Like   1:46pm 17 Mar 2012 #
Blogger: R Ravi
स्वास्थ्य शब्दावली २ :"आँखों से खुदा का नूर झलकता है""आपकी झील सी आँखों में डूब उतरने को जी चाहता है" हमारे  शरीर का कोई एक अंग जो हमें सबसे ज्यादा आकर्षित करता है विस्मित करता है तो वह है "आँखें"साहित्य "नयनों" को अलग अलग तरह से वर्णित करता रहा है. इससे सम्बंधित कई श... Read more
clicks 345 View   Vote 0 Like   10:13pm 9 Mar 2012 #
Blogger: R Ravi
स्वास्थ्य शब्दावली १ गुणसूत्र (chromosome - क्रोमोज़ोम ): आधुनिक जीव विज्ञान में हुई सबसे शानदार खोज गुणसूत्र का पता लगना  और समझना है. ये सूत्र/ डोर  के सामान  संरचनाएं हैं जो हर कोशिका की नाभि(nucleus ) में पाई   जाती हैं. जैसे  धागा अपने ऊपर ही उमठ  कर मोटा धागा बन जाता है और फिर उसे ... Read more
clicks 367 View   Vote 0 Like   10:24pm 4 Mar 2012 #
Blogger: R Ravi
आज कोई अंग विशेष से सम्बंधित न हो कर ऐसे शब्दों से शुरू कर रहा हूँ जो शरीर की मौलिक संरचना को समझने के लिए आवश्यक हैं:कोशिका (सेल- cell): जैसे दीवार ईंटो  से बनी  होती  है शरीर कोशिकाओं से. कोशिका सबसे सूक्ष्म इकाई है जो जीवित होती है- जैसे अणु किसी भी पदार्थ का सूक्ष्मतम कण होत... Read more
clicks 296 View   Vote 0 Like   6:31am 3 Mar 2012 #
Blogger: R Ravi
अभिवादन!अपनी जुबान में आप सबों से "वर्धमान" के जरिये रूबरू तो होता रहा हूँ मगर हिंदी ब्लॉग जगत में शामिल होने का एक जो उद्देश्य था कि अपनी भाषा में शरीर और स्वस्थ्य के उपर कुछ लिखूं.थोड़ा प्रयास किया भी मगर अधूरा और असंतुष्ट ही रहा.अब इस नए ब्लॉग "हमारा शरीर : हमारी भाषा" क... Read more
clicks 271 View   Vote 0 Like   10:00pm 2 Mar 2012 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]


Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
Share:
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3916) कुल पोस्ट (192559)