Hamarivani.com

.मेरी अभिव्यक्ति

कुछ# इस तरह# से जीना# आ गया !कुछ इस तरह से जीना आ गया , मुस्कुराते हुये ग़मों को पीना आ गया ।मुश्किलों के दौर के आये जो मंजर , कोई साथ न देगा न थी ऐसी खबर । मदद की आस में भटकते दर बदर , परेशानियों से लड़ने का हुनर जो आ गया। खुद ही अपने जख्मों को सीना आ गया .........फिजाओं में घुल रहे है ...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :
  January 13, 2019, 8:53 pm
खरे सोने# सी बढे दुनिया# में कदर# ।खुशियों का फैला हो अनंत आकाश ,उत्साहों से भरा हो अथाह समंदर ।ऊर्जाओं का बिखरा हो अपार प्रकाश, अवसरों की खुली होअनेकों डगर ।गिरकर उठ जाने के हो पुनः प्रयास , एकलव्य सा दोगुना हो जूझने का असर ।संभावनाओं के दिन व् दिन बढे कयास, लक्ष्यों पर हो...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :
  January 1, 2019, 10:54 am
लो बीत# गये वो पल# ।...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :pal
  December 26, 2018, 11:06 pm
नजाने# किस बात# का नशा# है।क्यों भटक रहे कुछ युवा, न जाने किस बात का नशा है।अपने में ही खोये हुये है , दुनिया भी उसकी जुदा है।बंधनों में नहीं चाहते बंधना ,न ही चाहते कोई कायदा। जरुरत नहीं मशविरों की ,जिद पूरी करने पर अमादा है।सब पाने की चाह लिये है ,कच्चे रास्तों सा इरादा ह...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :
  December 21, 2018, 12:11 am
काश# समेट# लेता उन पलों# कोकाश समेट लेता उन पलों को ,और बंद करके रख लेता संदूक में।उत्साह और खुशियों से सरोबार ,बिताये जो अपनों और दोस्तों संग।वे पल जो गवाह है आज हकीकत के,बन जायेंगे किस्से कहानी के अंग।जब कभी फुरसत से बैठेंगे अकेले में ,और न होगा दोस्त न अपनों का संग।चुपक...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :palon
  December 13, 2018, 8:23 pm
आओ संभाल  लें  रिश्तों को दरकने से पहले ,करें एक पहल नजरों में खटकने से पहले। माना कि कुछ अनबन हो गई हो कभी ,कुछ अपने रुसवा  हो  गये हो तभी ,करें एक पहल फासले  मिटायें ,आओ रूठे हुये अपनों  को मनायें।गर  दोस्तों से बहुत दिनों से न हो मिलेजीवन की उलझनों में अब तक रह...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :khatakane
  November 17, 2018, 2:42 pm
दीपों# की जगमग# से है रोशन# सारा जहाँ ,दीपों की जगमग से है रोशन सारा जहाँ ,सबके त्याग और सहयोग की है सुन्दर दास्ताँ ।बिन बाती के तेल भी रौशनी दे कहाँ ,बिन तेल के बाती में लौ जले कहाँ ,तेल अपनी आप को समर्पित करता यहाँ ,स्वयं को जला बाती भी रोशन करें जहाँ।दीपक के बलिदान का भी है ...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :jagmag
  November 5, 2018, 12:07 am
नशे सी हो गयी जिंदगी ,पिये जा रहे इसे व्हिस्की और रम की तरह ,कभी तो खुशगवार होगी ये ,जिये जा रहे है इसे एक वहम की तरह।मिल जाते लोग कदम कदम पर कई रिश्तों में ,निभा लेंगे हर रिश्ता जिंदगी से एक रसम की तरह।कभी अपनों की दुआओं तो कभी अपनों का सहारा ,जिंदगी के तपते रेगिस्तान में हो...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :jindgi
  October 24, 2018, 12:05 pm
सब कुछ छोड़ आया कुछ पाने की आस में ।सब कुछ छोड़ आया कुछ पाने की आस में ।मुझे खूब आगे बढ़ना है मुझे कुछ बनना है ,शोहरतें और सब सुविधाएँ पाने की तमन्ना है ,कितनी दूर निकल आये इन सबकी तलाश में ।पहले चैन और सुकून छूटा फिर घर छूटा ,परिवार छूटा फिर दोस्त और यारी छूटी ,गली मोहल्ला और ब...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :छोड़ आया ।
  October 4, 2018, 11:27 pm
चलो वक्त से थोड़ा बचपन लें उधार .जाती हुई बारिश से बातें कर लें दो चार .फिर न मिलेगी वो बारिश की फुहार . और न ही होगा बड़ी बूंदों का प्रहार .पानी भरे गड्डों में थोड़ा उछल लें यार .मस्ती से भीगकर हो जायें सरोबार .कीचड लगने की चिंता करना है बेकार .चलो पानी में कागज़ की नाव दें उतार ...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :बारिश
  September 9, 2018, 7:22 pm
जब भिन्न रूपों में गुरुओं का हो वरद हाथ ।जीवन में लक्ष्यों का है  अनंत आकाश ।जिन्हें बाँहों में समेटने का अथक प्रयास ।जब भिन्न रूपों में गुरुओं का हो वरद हाथ ।प्रथम गुरु माता पिता का हो  आशीर्वाद ।दूजा गुरुओं के ज्ञान का हो चिर प्रकाश ।भाई बहिन व् अपनों की सबक और डां...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :
  September 5, 2018, 3:20 pm
हे  !  कान्हा तेरे आने से आस जगी है अपार ।रोग द्वेष सब दूर होंगे खुशियों से सजेंगे हर द्वार ।आशा और उम्मीद की किरणें लेने लगी आकार ।हर जायेंगे सब दुःख संताप होगा सबका उद्धार ।निःस्वार्थ प्रेम की निश्चल धारा फिर बहेगी इस बार ।जब बालसखा और गोपियों संग छायेगी रास बहार ।...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :
  September 3, 2018, 10:21 am
तब जरुरी# है गुरु# का मार्गदर्शन# ।कुछ भी कर गुजरने का है दम ।पर इंतजार का नही है संयम ।जैसे ही उठाया कोई कदम ।चाहा झट मिल जाये प्रतिफल ।जब हक में नही रहता करम ।असफलता हो जाती असहन ।टूटने लगता है सपनों का भ्रम ।मायूसी का छा जाता है तम ।तब जरुरी है गुरु का मार्गदर्शन ।जो दूर...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :
  July 27, 2018, 9:34 pm
खुलकर# बरसने# दो इस बारा# !चुभती गर्मी से पाने को छुटकारा , फिर सबने बारिश को है पुकारा ।जब आया शीतल बारिश का फुहारा , नाच उठा खुशि से जग सारा ।कुछ ही दिन था खुशियों का खुमारा ,बारिश लगने लगी अब नगवारा ।चारो और जब फैला कीचड़ सारा , फिसलन ने जब तब खेल बिगाड़ा ।बस भीग भीग कर इंसा हा...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :बरसने
  June 29, 2018, 11:19 pm
कहता# नहीं मुंह# पर ........! कितने फरेब पाल रखे है इंसा ,पर कोशिश होती है सच की तरह दिखाने की ।कोई समझ न पायेगा सोचता है इंसा ,खुश होता है सोचकर नादानियां जमाने की ।खुद तो जिम्मेदारी से दूर भागता है  इंसा ,दूसरों को तालीम देता है उसूलों को आजमाने की।खुदा भी रखता हिसाब भूल जा...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :
  June 16, 2018, 12:17 am
तुम आये पर दीदार# न हुआ तेरा# !तप्ती धूप की जलन इस पर पसीने की चुभन ,तुझसे मिलने का है मन , तेरे इंतज़ार में खड़े है हम ,तुम आये पर दीदार न हुआ तेरा ,क्योंकि चेहरे पर नकाब जो चढ़ा रखा था ।सोचा था होगा मिलन कुछ तो कम होगी जलन,तेरे झील से है जो लोचन डूबकर राहत पा लेंगे हम ,पर नजरों पर न...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :दीदार
  May 30, 2018, 10:14 pm
चाँद# तारे# तोड़ लाने का वादा# न कर सही ।चाँद तारे तोड़ लाने का वादा न कर सही ।हर पल साथ चलने का इरादा तो कर सही ।मिले खुशियों के चार पल ग़ुम न हो कहीं ।इसमें ही तो छिपी है अपनी  दुनिया  कहीं ।भले राहों में खुशियों के फूल बिछे हो नहीं ।काँटों भरी राहों से जरा एतराज भी तो नहीं ...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :
  May 24, 2018, 10:01 pm
है सूर्य# देवता# ..............!!!है सूर्य देवता! आपका इतना तपन भरा रोद्र रूप जायज है।क्योंकि हम इंसानों ने भी प्रकृति के साथ खूब किया छल है ,काट दिये जंगल है,नदी नाले तालाब के सुखा दिये जल है,बूंद बूंद पानी पर मची दंगल है ,चारों तरफ बस अमंगल है,अपनी अपनी जिंदगी बचाने की हो रही रस्में ...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :Sury
  May 19, 2018, 7:34 am
हे सूर्य# देवता# ..............!!!हे सूर्य देवता! आपका इतना तपन भरा रोद्र रूप जायज है।क्योंकि हम इंसानों ने भी प्रकृति के साथ खूब किया छल है ,काट दिये जंगल है,नदी नाले तालाब के सुखा दिये जल है,बूंद बूंद पानी पर मची दंगल है ,चारों तरफ बस अमंगल है,अपनी अपनी जिंदगी बचाने की हो रही रस्में ...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :Sury
  May 19, 2018, 7:34 am
भरी गर्मी में भी सेकती है रोटियां ,गर्म भाप और चूल्हे की लौ से उँगलियाँ जलाते हुये ।सुबह चाय की प्याली से मिटाती है उबासियां ,सर्द सुबहों में भी सबसे जल्दी उठकर ठिठुरते हुये ।बच्चों को रोज रात सुनाती है लोरियाँ ,अपनी दिनभर की थकान और नींद को भुलाते हुये।घर आते ही परोसती...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :
  May 12, 2018, 11:08 pm
आज एक मासूम का सुरक्षित नहीं है मान सम्मान और जहान।आखिर बेटियों को क्यों शिकार बना रहा है  हर उम्र का इंसान।क्या हमारी सामाजिक व्यवस्था का धवस्त हो रहा है तान बान।या आज के माता पिता नहीं बना पा रहें बच्चों को संस्कारवान ।क्या नंबरों की होड़ वाली शिक्षा व्यवस्था का भी ...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :khilkhilata
  April 20, 2018, 10:19 pm
आज एक मासूम का सुरक्षित नहीं है मान सम्मान और जहान।आखिर बेटियों को क्यों शिकार बना रहा है  हर उम्र का इंसान।क्या हमारी सामाजिक व्यवस्था का धवस्त हो रहा है तान बान।या आज के माता पिता नहीं बना पा रहें बच्चों को संस्कारवान|क्या नंबरों की होड़ वाली शिक्षा व्यवस्था का भी ह...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :khilkhilata
  April 20, 2018, 10:19 pm
कब तक ज्यादिती# की बेदी# पर बेटी# चढ़ती रहेगी रोज।जन्म से पहले ही तो सुरक्षित नहीं थी माँ की कोख ।दुनिया में आने से पहले अपने ही लगा रहे थे रोक ।जैसे तैसे इस दुनिया में बेटी ने जन्म लिया एक रोज ।क्या पता पहले से ही ताक पर बैठे मिलेंगे दरिंदे लोग ।किस से बचाये अपने को न जाने क...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :ज्यादिती
  April 15, 2018, 11:55 pm
तय# होते रहें सफ़र# ए जिंदगी# !कुछ की गोद में है खेले ,कुछ की ऊँगली पकड़ चलना सीखे ।तो कुछ सीख देकर चले गए,तय होते रहें सफ़र ए जिंदगी ।कोई कम उम्र में ही छूटे,तो किसी के जीवन बहुत लंबे बीते ।एक एक कर  साथ छुटे , तय होते रहें सफ़र ए जिंदगी ।किसी से अपने थे रूठे, तो किसी को अपनों ने दि...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :Safar
  April 4, 2018, 10:53 pm
अब तो #इंतज़ार में ही #नफा है !गुजर जाते हैं हर बार सामने से नजर मिला न सका है ।वो भी तो कभी कुछ कहते नहीं न जाने क्या रजा है ।कह  सकूँ दो बातें उनसे  कोशिश भी की कई दफा  है ।मेरी  नादानियां कहीं ऐसे ही उन्हें  कर न दे खफा है ।नाराजगियां उनकी कहीं  यूँ  ही न बन जाये सजा...
.मेरी अभिव्यक्ति...
Tag :नफा
  March 29, 2018, 12:02 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3846) कुल पोस्ट (185857)