Hamarivani.com

बुद्धू महाशय

तेरी राह में जो थी पलके बिछायी तू न देख सकी उन्हें भी जा ये सुनती जा जाती जाती मैंने भुला दिया है तुझे भी तेरे गालो का जो रंग था गुलाबी अब भूल जाऊंगा उन्हें भी भले ही तू थी कितनी प्यारी  मैंने भुला दिया है तुझे भी तेरी आँखों में जो नशा था शराबी अब नशा छोड़ चूका हूँ मैं भी भल...
बुद्धू महाशय...
Tag :romance
  January 16, 2012, 11:14 pm
पल दो पल की ही तो बात है जब उस से हुई मुलाकात है अब तो मेरा दिल कहता हैइसमें कुछ तो बात है चलो तुम्हे अपने दोस्त से मिलवाता हूँ इसके चुम्बकीये व्यक्तित्व को दिखता हूँ अपने कुछ टूटे शब्दों से इसके प्रति अपने भावो को दर्शाता हूँ पहली नजर में तो एक बच्ची है दूजी में झाँसी ...
बुद्धू महाशय...
Tag :misc
  January 10, 2012, 1:41 am
राजपूत संस्कृति की बात करते हो आखिर जानते क्या हो इस संस्कृति के बारे में बदनामी की बात करते हो आखिर जानते ही क्या हो बदनामी के बारे मेंबदनामी तो साहसियो की होती हैनाम वाले क्या साहस करेंगेजो घोड़े से गिरने से डरते होवो क्या खाक घुड़सवारी करेंगेमेरे नाम की चिंता राम ...
बुद्धू महाशय...
Tag :rajputana
  January 10, 2012, 12:26 am
आज सुबह सुबह एक बात हुई एक परी से मेरी मुलाकात हुई बड़ा सोना सा उसका नाम है फेसबुक का पेज मेंनेज करना काम हैमैंने देखा और देख्नता ही रह गयाजिस जगह जगह मौजूद थाबस वंही का रह गयाख्वाबो के दरिये में बस बहता ही रह गयाधन्यवाद करू उस पेज के ओनर काजिसने तुम्हे एडमिन बनायाया ध...
बुद्धू महाशय...
Tag :romance
  January 10, 2012, 12:14 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163607)