POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: 'स्पंदन' SPANDAN

Blogger: arjun rai
जागरण ब्यूरो, इलाहाबाद : क्या सही है और क्या गलत इसका फैसला तो अब हाईकोर्ट की पूर्ण पीठ करेगी लेकिन कानून की अलग-अलग व्याख्या ने शिक्षक भर्ती को उलझा दिया है। इससे नियुक्ति की बाट जोह रहे अभ्यर्थियों को लंबाइंतजार करना पड़ सकता है।वस्तुत: प्रदेश में प्राथमिक शिक्षको... Read more
clicks 124 View   Vote 0 Like   6:59pm 12 Mar 2013 #इलाहाबाद :Updated on: Tue
Blogger: arjun rai
आप सभी  को 'महाशिवरात्रि' की हार्दिक शुभकामनाएँ ।।  ... Read more
Blogger: arjun rai
बता दे सिर्फइतना मेरे सथियाक्या मांगा था तुझसेएक मुहब्बत के सिवा?तुमसे मुझे तेरा प्यारन मिले पर नफरत तोजी भर के मिलीअब कैसे समझाऊँ तुझे?अपने इस कमबख्त दिल कोअपनी दास्तानें वफारब ही जानता है!!कैसे तेरे बगैर जीते है हमउफ़ ये कैसी सज़ा दे दी तुमने ?कि अब खामोश रहकर भी तेरी ... Read more
clicks 133 View   Vote 0 Like   9:19pm 13 Jan 2013 #शायरी
Blogger: arjun rai
नए वर्ष के ऐ पंछी उड़ जा तू कोमल पंख पसार दे आ नूतन प्रेम संदेशाहर एक द्वार-द्वार जाति-पाति और वर्ग-धर्म के भाषा-क्षेत्र,मंदिर-मस्जिद के लौह सलाखें पिघला हर बार प्रेम स्नेह की प्रखर ज्योति सेनयी अरुणिमा की आभा से शहर-शहर और गाँव-गाँव कीरंग दे गलियाँ और चौबार पुरखों की गौर... Read more
clicks 136 View   Vote 0 Like   11:19pm 31 Dec 2012 #Happy New Year - 2013
Blogger: arjun rai
चंद यादें ही तुम्हारी जिंदगी भर को बहुत है, और फिर उनकी शुमारी जिंदगी भर को बहुत है| तुम न शर्माओ की तुमने कम दिया है कम नहीं है, जिंदगी कितनी हमारी,ज़िंदगी भर को ही बहुत है|चंद कहता है कलंकित भाग दुनिया को दिखाकर, एक ही गलती हमारी ज़िंदगी भर को ही बहुत है|  हम न आएंगे वहाँ पर र... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   10:43pm 30 Dec 2012 #ग़ज़ल
Blogger: arjun rai
नमस्तेऽस्तुमहामायेश्रीपीठेसुरपूजिते।शङ्खचक्रगदाहस्तेमहालक्ष्मिनमोऽस्तुते॥१॥नमस्तेगरुडारूढेकोलासुरभयंकरि।सर्वपापहरेदेविमहालक्ष्मिनमोऽस्तुते॥२॥सर्वज्ञेसर्ववरदेसर्वदुष्टभयंकरि।सर्वदुःखहरेदेविमहालक्ष्मिनमोऽस्तुते॥३॥सिद्धिबुद्धिप्रदेदेविभ... Read more
clicks 154 View   Vote 0 Like   4:56pm 13 Nov 2012 #HappY Diwali...
Blogger: arjun rai
शारदीय नवरात्र के पावन अवसर पर आप सभीलोगो को “दुर्गापूजा" व"दशहरा” की ढेर सारी बधाई व शुभ-कामना! मा शेरावाली आप सभीके घर परिवार के उपर सुख-शांति,खुशहाली और आरोग्यता बनायें रहें !... Read more
clicks 141 View   Vote 0 Like   8:33pm 20 Oct 2012 #
Blogger: arjun rai
I was in bad mood,There was total gloom.Sun was shining in the sky however.There was no light in my mind ,There was darkness.All around pain and agony ruled my heart,Thoughts made me scary increased my worries,My gladness gone,Insecurity made me feel alone,Negativity crept in positivity gone.Whom to trust?Whom to believe?The question remained unanswered.Should I talk? Should I write?About what I felt? What I thought?I felt trapped like a fly in the spiders web,Longing to come out of my bad mood,Bring back my rosy smile taking life as it came.                                    ... Read more
clicks 150 View   Vote 0 Like   9:06am 16 Sep 2012 #Poem
Blogger: arjun rai
एक बूढ़ी औरत !राजघाट पर बैठे बैठे रो रही थी न जाने किसका पाप था जो अपने आसुओं से धो रही थी मैंने पूछा माँ! तुम कौन हो?मेरी बात सुनकर वह बहुत देर तक रही मौन,लेकिन जैसे ही उसने अपना मुंह खोला,लगा दिल्ली का सिंहासन डोला वह बोली- अरे तुम जैसे नालायक़ों के कारण शर्मिंदा हूँ न जाने अ... Read more
clicks 141 View   Vote 0 Like   11:28pm 13 Sep 2012 #हिंदी दिवस पर विशेष...
Blogger: arjun rai
सारे जहाँ से  अच्छा हिन्दोस्तां हमारा .................आज एक बार फिर हम सभी स्वतंत्रता दिवस की 66वीं वर्षगाठ मनाने को आतुर है।कालचक्र चलता रहता है। वर्ष,मास,दिन औरपल पल घटनाए बदलती रहती हैं और छोड़ जाती है एक अनुत्तरित सा प्रश्न की क्या हम वास्तव में स्वतंत्र हैं? हमारी अ... Read more
Blogger: arjun rai
                        हे आनंद उमंग भयोजय हो नन्द लाल कीनन्द के आनंद भयोजय कनैया लाल कीहे ब्रज में आनंद भयोजय यशोदा लाल कीनन्द के आनंद भयोजय कन्हैया लाल कीहे आनंद उमंग भयोजय हो नन्द लाल कीगोकुल के आनंद भयोजय कन्हैया लाल कीजय यशोदा लाल कीजय हो नन्द लाल कीहाथी, घोड़ा, पालकी... Read more
clicks 185 View   Vote 0 Like   9:47am 10 Aug 2012 #By: Anil Kumar Singh
Blogger: arjun rai
अनेंक मनोंवैज्ञानिको ने कहा है की व्यक्तित्व मन और शरीर का संगठनात्मक योग है अर्थात हमारा सुन्दर तन ही केवल मायने नहीं रखता इसके साथ साथ सुन्दर मन का भी होना जरूरी है क्योकि हमारा चेहरा हमारे मन का प्रतिबिम्ब है।हमारे बाहरी भावों की अभिव्यक्ति का उद्गम स्थल हमारा म... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   7:57am 7 Jul 2012 #improvement
Blogger: arjun rai
आज के दौर में मैं इतना आगे निकल आयाजिसका मुझे डर था वही सामने पाया! हर पल हर घडी उसी की याद सताती हैबहुत समझाया दिल अपने आप को !पर दिल और दिमाग ने साथ ही नहीं दियादेता भी कैसे ?दिल दिल के हाथों मजबूर था!और दिमाग उसकी यादों में उसकी यादों में थाआखिर बात क्या थी जो उसने दूरी क... Read more
clicks 249 View   Vote 0 Like   7:25am 8 Jun 2012 #shayari
Blogger: arjun rai
फिल्मअभिनेताआमिरखानकेटेलीविजनकार्यक्रम 'सत्यमेवजयते' कोलोगोंसेजबरदस्तप्रतिक्रियामिली।इसकीआधिकारिकवेबसाइटपरइतनेलोगोंनेक्लिककियाकियहअवरुद्धहोगई।लोगोंकीशानदारप्रतिक्रियाकोदेखतेहुएइसकीआधिकारिकसाइटसत्यमेव जयतेडॉटइनपरलिखागयाकिसत्यमेवजयतेकेप्र... Read more
clicks 194 View   Vote 0 Like   6:21am 20 May 2012 #NEWS
Blogger: arjun rai
कह दे प्यार दोस्त से बेवफा न समझे! नज़रों से दूर सही पर दिल से दूर न समझे!  यादेँ अभी भी उसकी मेरे दिल में है महफूज़ व़ो किसी और पर मुझे फ़िदा न समझे!! उसकी बेरुखी ने कुछ इस तरह किया है सितम  उब गया हूं ज़िन्दगी से वो मुझे जिंदा न समझे! मैं तो बस एक अदना सा इन्सा... Read more
clicks 165 View   Vote 0 Like   10:09pm 18 May 2012 #ग़ज़ल
Blogger: arjun rai
I am ITC smart but iam selfish,impatientand a little insecure.I am out of control and make mistakes andat times hard to handlebut if you can not handle me at my wrost,then you sure as helldon't deserve me at my best!... Read more
clicks 159 View   Vote 0 Like   6:16am 17 May 2012 #about me
Blogger: arjun rai
भोजपुरी के'तुलसीदास'के रूप में विख्यात साहित्यकार राम जियावन दास बावलाजी के उनका पैत्रिक आवास पर दोपहर में देहांत हो गईल।उ 90वर्ष के रहलें आ काफी दिन से बीमार चलत रहले।ओइसे त बवला जी कवनो परीचय के मोहताज ना रहले फिर भी इ कमे लोग जानेलेन कि उनका इ उपाधि ... Read more
clicks 147 View   Vote 0 Like   8:01am 2 May 2012 #श्रद्धांजली
Blogger: arjun rai
कसक ये दिल में दबी की दबी रह गई जिँन्दगीमेँ तुम्हारी कमी रह गई ।एक हम एक तुम एक दीवार थे जैसे जिँन्दगी आधी-अधूरी बची रह गई। रात की भीगी छतोँ की तरहमेरी पलकोँ मेँ थोडी सी नमी रह गईमैनेँ रोका बहुत वो चली गई, औरतन्हाई दूर तक फैलती चली गई ।     ... Read more
clicks 145 View   Vote 0 Like   6:57am 2 May 2012 #शायरी
Blogger: arjun rai
आत्मविश्वास व्यक्तित्व का  वह पहलू  जो व्यक्ति को अनिश्चय औरअनिर्णय की स्थिति से निकलकर उसे सम्पूर्णता की ओर ले जाता है । सच तो यह है कि जीवन के किसी भी क्षेत्र में सफलता प्राप्त करने के लिएआत्मविश्वास का होना बेहद जरूरी है ।  ... Read more
clicks 147 View   Vote 0 Like   5:20am 28 Apr 2012 #hought
Blogger: arjun rai
आ  खिले अधरों को एक प्यारा सा उपहार दे दूँ ! इन शर्मीली आँखों कोइक सुनहला संसार दे दूँ! इन सुर्ख हो चले कपोलो परप्यार की बौछार दे दूँ ! हृदय के स्पंदन को एक अचूक उपचार दे दूँ !इन तड़पती आहों कोतृप्ति का पैगाम दे दूँ !अंगड़ाई लेती काया कोबाँहों में विश्राम दे दूँ !गर्म सा... Read more
clicks 169 View   Vote 0 Like   10:03pm 26 Apr 2012 #कविता
Blogger: arjun rai
I honestly tried to ignore youI honestly tried to let you go I honestly tried to forget you I honestly tried not to care for youI honestly tried not to think of you I honestly tried not to long for youBut i honestly can't because...!I honestly love you so much andI honestly want you,you & youAlways  with me even if sometimesI get hurt and cry my love for youkeeps going strong..............!!!... Read more
clicks 169 View   Vote 0 Like   9:23pm 20 Apr 2012 #Poem
Blogger: arjun rai
याद आते है वो स्कूल के दिन,न जाते थे जब स्कूल दोस्तों के बिन,कैसी थी वो दोस्ती कैसा था वो प्यार,जुदाई से डरते थे जब आता था शनिवारचलते-चलते पत्थरो पर मारते थे ठोकर,कभी हँसकर चलते तो कभी चलते थे रोकर कंधे पर बैग लिए हाथ में बोतल का पानी,था बचपना पर दोस्ती की ... Read more
clicks 158 View   Vote 0 Like   8:46pm 12 Apr 2012 #कविता
Blogger: arjun rai
बहुत दिन गुना और बाद मेंहमने उनको चुना ये सोचकर कि वे समाज सेवा में अपना जीवन अर्पण  करेंगे हमारा 'मार्गदर्शन' करेंगे परन्तु हाय चुनकर आते हीउन्होंने अपने आप को 'राजनीति' से जोड़ लिया मार्गदर्शन तो दूर रहा'मार्ग' में 'दर्शन' देनाभी छोड़ दिया...........! ... Read more
clicks 149 View   Vote 0 Like   5:28pm 30 Mar 2012 #व्यंग
Blogger: arjun rai
मुझे अब नींद की  तलाश  नहींरातों में जागनाअच्छा लगता है! मुझे नहीं  मालूम किवो मेरी किस्मत मेंहै या नहीं  मगर खुदा से उसे मांगना अच्छा लगता है! न जाने मुझे हकहै या नहीं  पर इस एहसास कोजीना अच्छा लगता है! उससे प्यार करनागलत है या सही पर उसके लिए जीना अच्छा लगता ... Read more
clicks 145 View   Vote 0 Like   6:44pm 24 Mar 2012 #कविता
Blogger: arjun rai
‘खेलबनखेलायीबखेलवेबिगारब' यहकहावतहमबचपनसेसुनतेआरहेहैलेकिनआजयह UPTET२०११केसन्दर्भमेंएकदमसटीकबैठतीहै। शिक्षा केसन्दर्भमें तमाम दावों,प्रतिदावों,वादों,सकल्पों एवं शिक्षाके अधिकार जैसे कानून बननेके बादकिसी तरह से कई सालों के विराम केबाद,प्राथमिक एवंएवं... Read more
clicks 174 View   Vote 0 Like   10:35am 18 Mar 2012 #TET 2011
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post