POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: चौथा स्तंभ

Blogger: mukesh kumar Gajendra
निठारी के कथित नर पिशाच सुरेंद्र कोली की फांसी की सजा जब टली तो मामला एक बार फिर सुर्खियों में आ गया। इस दौरान उसकी मां ने उससे मेरठ जेल में मुलाकात की। पहली बार उसके परिवार की तरफ से उसे फंसाए जाने की बात कही गई। निठारी में इस घिनौने कांड के खुलासे से लेकर कोली की फां... Read more
clicks 150 View   Vote 0 Like   12:28pm 26 Sep 2014 #
Blogger: mukesh kumar Gajendra
टीवी रियलटी शो बिग बॉस में सब कुछ पहले से फिक्स होता है। प्रतियोगी अपने मन मुताबिक कमरे में रह सकता है। अपने साथ डायरी-पेन रख सकता है। एंट्री से पहले अपने हिसाब से शो के नियम-कानून भी बदलवा सकता है। 'आप' नेता और कवि डॉ. कुमार विश्वास का कहना है कि उनको शो में शामिल होने क... Read more
clicks 96 View   Vote 0 Like   11:07am 16 Sep 2014 #
Blogger: mukesh kumar Gajendra
ट्रेन आपनी रफ़्तार से दौड़ रही थी. खचाखच भरे हुए उस डिब्बे के एक कोने में किसी तरह जगह मिल सकी थी. मेरे सामने बैठे एक सज्जन बगल में बैठे एक दूसरे सज्जन से चीखते हुए बोल रहे थे - "अरे मेरा भतीजा पत्रकार में भर्ती होना चाहता है. इसके लिए उससे 1500 रुपया बतौर सिक्योरिटी मांगा जा र... Read more
clicks 140 View   Vote 0 Like   1:48pm 4 Mar 2013 #
Blogger: mukesh kumar Gajendra
ट्रेन अपनी रफ्तार से दौड़ रही थी। खचाखच भरे हुए उस डिब्बे के एक कोने में किसी तरह जगह मिल सकी थी। मेरे सामने बैठे एक सज्जन अपने बगल में बैठे दूसरे सज्जन से लगभग चीखते हुए बोल रहे थे- 'अरे मेरा भतीजा पत्रकार बनना चाहता है। इसके लिए उससे 1500 रुपए बतौर सिक्युरिटी मांगा जा रह... Read more
clicks 110 View   Vote 0 Like   1:48pm 4 Mar 2013 #
Blogger: mukesh kumar Gajendra
लोग कितने भावुक और मूर्ख हैं। जिधर हवा चली, उधर हो लिए। मीडिया ने जो कहा वही मान लिए। कुंडा में गांव वालों ने डीएसपी की हत्या की, तो लोगों ने राजा भैया को दोषी ठहरा दिया। बिना यथास्थिति जाने हवाबाजी करने लगे। मीडिया ने भी अपना फैसला सुना दिया। अब जरा उस स्थिति का अंदाजा ... Read more
clicks 141 View   Vote 0 Like   12:57pm 4 Mar 2013 #
Blogger: mukesh kumar Gajendra
उस दिन भी रोज की तरह बगीचे में टहल रहा था। मन में अजब बेचैनी थी। तरह-तरह के ख्याल आ रहे थे। तभी मेरी नजर एक पके आम पर पड़ी। आम को देखते ही जाने क्यों आम आदमी का ख्याल आ गया। भाषण, लेख, हिदायतों और नसीहतों के बीच बचपन से ही आम आदमी के बारे में सुनता आ रहा हूं। लगा कि भले बदलाव क... Read more
clicks 188 View   Vote 0 Like   9:23am 27 Nov 2012 #
Blogger: mukesh kumar Gajendra
मराठियों के 'नायक' तो उत्तरभारतीयों के लिए 'खलनायक' रहे हैं ठाकरे बंधु। राजनीति के शेर बाल ठाकरे शनिवार दोपहर 3:30 बजे सदा के लिए शांत हो गए। चमत्कार की आस लगाए मातोश्री के बाहर खड़े लाखों शिवसैनिकों का भरोसा टूट गया। 86 साल के ठाकरे 14 नवंबर से ही बेहोशी की हालत में थे। सेहत ... Read more
clicks 124 View   Vote 0 Like   10:20am 15 Nov 2012 #राजनीति
Blogger: mukesh kumar Gajendra
मराठियों के 'नायक' तो उत्तरभारतीयों के लिए 'खलनायक' रहे हैं ठाकरे बंधु। शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे की हालत नाजुक है। उन्हें मातोश्री में जीवन रक्षक उपकरणों पर रखा गया हुआ है। उनकी स्थिति को लेकर संशय कायम है। अपने कैरियर की शुरुआत एक कार्टूनिस्ट के रूप में करने वाले ठाक... Read more
clicks 166 View   Vote 0 Like   10:20am 15 Nov 2012 #राजनीति
Blogger: mukesh kumar Gajendra
ट्रायल मुकदमे का होता है, आरोपी का होता है, वह भी जांच के बाद। ट्रायल अदालत में होता है, वह भी तब जबकि पुलिस या ऐसी कोई अन्य राज्य शक्तियों से निष्ठ संस्था मामला वहां ले जाए या अदालत स्वयं संज्ञान लेकर जांच कराए। ट्रायल के बाद किसी को सजा मिलती है, तो कोई छूट जाता है। बहुस्... Read more
clicks 177 View   Vote 0 Like   12:34pm 29 Oct 2012 #मीडिया
Blogger: mukesh kumar Gajendra
ट्रायल मुकदमे का होता है, आरोपी का होता है, वह भी जांच के बाद। ट्रायल अदालत में होता है, वह भी तब जबकि पुलिस या ऐसी कोई अन्य राज्य शक्तियों से निष्ठ संस्था मामला वहां ले जाए या अदालत स्वयं संज्ञान लेकर जांच कराए। ट्रायल के बाद किसी को सजा मिलती है, तो कोई छूट जाता है। बहुस... Read more
clicks 141 View   Vote 0 Like   12:34pm 29 Oct 2012 #
Blogger: mukesh kumar Gajendra
आज समाज में विश्वास का संकट है. हर संस्था या इससे जुड़े लोग अपने कामकाज के कारण सार्वजनिक निगाह में हैं. इसलिए मौजूदा धुंध में मीडिया को विश्वसनीय बनने के लिए अभियान चलाना चाहिए. इस दिशा में पहला कदम होगा, ईमानदार मीडिया के लिए नया आर्थिक मॉडल, जिसमें मुनाफा भी हो, शेयरध... Read more
clicks 176 View   Vote 0 Like   10:12am 28 Oct 2012 #मीडिया
Blogger: mukesh kumar Gajendra
डेंगू नामक बीमारी को कौन नहीं जानता है? हर साल हजारों लोग इस बीमारी के शिकार होते हैं। लेकिन इन दिनों डेंगू कुछ ज्यादा ही हाईप्रोफाइल हो गया है। इसने देश के जाने-माने फिल्मकार यश चोपड़ा को डंक मारने का दुस्साहस किया है। उसके डंक की चोट से यश जी तो चले गए, लेकिन देश में चर... Read more
clicks 326 View   Vote 0 Like   11:10am 23 Oct 2012 #
Blogger: mukesh kumar Gajendra
डेंगू नामक बीमारी को कौन नहीं जानता है? हर साल हजारों लोग इस बीमारी के शिकार होते हैं। लेकिन इन दिनों डेंगू कुछ ज्यादा ही हाईप्रोफाइल हो गया है। इसने देश के जाने-माने फिल्मकार यश चोपड़ा को डंक मारने का दुस्साहस किया है। उसके डंक की चोट से यश जी तो चले गए, लेकिन देश में च... Read more
clicks 133 View   Vote 0 Like   11:10am 23 Oct 2012 #
Blogger: mukesh kumar Gajendra
सीबीआई को देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी माना जाता है। किसी भी घटना में तह तक जाने या इंसाफ पाने के लिए उस पर सबसे ज्यादा भरोसा किया जाता है। यही कारण है कि जब भी कोई वारदात या घोटाला होता है तो लोगों की जुबां पर सीबीआई का नाम होता है। पर यूपी के दो सबसे चर्चित और सनसनीखेज मु... Read more
clicks 158 View   Vote 0 Like   12:21pm 3 Oct 2012 #समाज
Blogger: mukesh kumar Gajendra
सीबीआई को देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी माना जाता है। किसी भी घटना में तह तक जाने या इंसाफ पाने के लिए उस पर सबसे ज्यादा भरोसा किया जाता है। यही कारण है कि जब भी कोई वारदात या घोटाला होता है तो लोगों की जुबां पर सीबीआई का नाम होता है। पर यूपी के दो सबसे चर्चित और सनसनीखेज म... Read more
clicks 129 View   Vote 0 Like   12:21pm 3 Oct 2012 #
Blogger: mukesh kumar Gajendra
भई...इसे कहते हैं राजनीति के अखाड़े का सधा हुआ खिलाड़ी। सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह की 'चाल' तो देखिए...ऐसे चले कि दो बंगाली बुद्धिमान ढेर हो गए। पहले ममता के साथ मिलकर कांग्रेस को ब्लैकमेल करना चाहा, लेकिन सीबीआई से डर गए। ममता को पता ही नहीं चला, प्रणब के साथ पर्चा भरवाते हु... Read more
clicks 155 View   Vote 0 Like   11:36am 21 Jul 2012 #
Blogger: mukesh kumar Gajendra
'आज भी आदम की बेटी हंटरों की जद में है, हर गिलहरी के बदन पर धारियां जरूर होंगी'यत्र नार्यस्तु पूज्यन्ते रमन्ते तत्र देवता। बचपन से अपने देश में ऐसी शिक्षा हर घर में दी जाती है। लेकिन जल्लाद हर समाज में मौजूद हैं। किसी ने सच ही कहा है, ''आज भी आदम की बेटी हंटरों की जद मे... Read more
clicks 177 View   Vote 0 Like   6:47am 14 Jul 2012 #
Blogger: mukesh kumar Gajendra
कहते हैं कि तस्वीरें बोलती हैं। उसमें एक कलाकार की भावनाएं समाहित होती हैं। उसमें एक संदेश होता है। बस जरूरत है तो उस संदेश और भावनाओं को समझने की। आपके लिए हाजिर हैं 10 दु्र्लभ तस्वीरें। इन्हें देखिए और उसमें छिपे संदेश को तलाशने की कोशिश कीजिए। सभी तस्वीरें ... Read more
clicks 168 View   Vote 0 Like   8:18am 27 Mar 2012 #समाज
Blogger: mukesh kumar Gajendra
''यार, यहां बहुत बेगार करवाते हैं। कोई सेल्फ रिस्पेक्ट ही नहीं है। इलेक्शन के खर्चों का टारगेट अभी से दे दिया है। क्या इसलिए इतनी पढ़ाई करके आईपीएस बना था? ये लोग वर्दी वालों से ही उगाही करवा रहे हैं। अब नौकरी छोड़ दूंगा।'' खुदकुशी से ठीक पहले बिलासपुर (छत्‍तीसगढ़) के एसप... Read more
clicks 163 View   Vote 0 Like   10:49am 18 Mar 2012 #समाज
Blogger: mukesh kumar Gajendra
यूपी में चुनाव परिणाम आने से पहले ही सियासी गलियारों में जोड़-तोड़ का गणित शुरू हो चुका है। चुनाव से पहले तक खुद के दम पर सरकार बनाने का दावा करने वाली राजनीतिक पार्टियां गठजोड़ में लगी हुई हैं। राजनीतिक पंडितों की मानें तो सपा चुनाव परिणाम आने के बाद सबसे मजबूत स्थित... Read more
clicks 168 View   Vote 0 Like   11:27am 4 Mar 2012 #राजनीति
Blogger: mukesh kumar Gajendra
यदि आप मुझसे संपर्क करना चाहते हैं तो लिखें-mukesh11.eka@gmail.comPh- 07566969985... Read more
clicks 195 View   Vote 0 Like   10:27am 16 Jan 2012 #
Blogger: mukesh kumar Gajendra
बज गई चुनावी रणभेरीचढ़ गईं उनकी त्योरियां...नाचने लगी उनकी आंखेंबजने लगे उनके गाल...बढ़ गई गरीबों की पूछआम आदमी हुआ खास...बहुर गए इनके दिनझोपड़ी में दिखे राजकुमार...खड़ंजें पर चली सैंडिलपगडंडियों पर दौड़ी साइकिल...कीचड़ में खिला कमलहाथ का मिला साथपर अफसोस...फिर छा जाएगी म... Read more
clicks 169 View   Vote 0 Like   1:13pm 24 Dec 2011 #poem
Blogger: mukesh kumar Gajendra
रमेश कनॉट प्लेस में शापिंग कर रहा था। अचानक उसकी नजर एक महिला से टकराई। दोनों ठीठक गए। दोनों एक-दूसरे को पहचानते थे। वह मोना थी। रमेश को देखते ही बोली, 'हॉय कैसे हो। मेरी शादी हो गई है। मेरा पति एक बहुत बड़ी कंपनी में जॉब करता है। पता है उसका सैलरी पैकेज 10 करोड़ है। बहुत स... Read more
clicks 508 View   Vote 0 Like   9:47am 16 Dec 2011 #story
Blogger: mukesh kumar Gajendra
रमेश शापिंग कर रहा था। अचानक उसकी नजर एक महिला से टकराई। दोनों ठिठक गए। वह मोना थी। रमेश को देखते ही वह बोली, 'ओह माई गॉड, रमेश तुम? कैसे हो? इट्स सरप्राइज फॉर मी। इनसे मिलो, ये मेरे हसबैंड सोहन हैं। बहुत बड़ी कंपनी में काम करते हैं।' मोना बोलती जा रही थी, रमेश उसकी बातें गौ... Read more
clicks 129 View   Vote 0 Like   9:47am 16 Dec 2011 #साहित्य
Blogger: mukesh kumar Gajendra
अ लव स्टोरी...नॉट ट्रू, बट नॉट लेस देन ट्रू!!!रमेश कनॉट प्लेस में शापिंग कर रहा था। अचानक उसकी नजर एक महिला से टकराई। दोनों ठीठक गए। दोनों एक-दूसरे को पहचानते थे। वह मोना थी। रमेश को देखते ही बोली, 'हॉय कैसे हो। मेरी शादी हो गई है। मेरा पति एक बहुत बड़ी कंपनी में जॉब करता है।... Read more
clicks 179 View   Vote 0 Like   9:47am 16 Dec 2011 #story
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post