Hamarivani.com

हिंदी साहित्य मार्गदर्शन

5  Excuses That Hold You Back From Success and What to Do About Them सपने कौन नहीं देखता ? अमीर बनने के, हर क्षेत्र में सफल होने के या फिर कुछ ऐसा कर जाने का सपना जिससे दुनिया हमेशा हमें याद करे, हम सब ऐसा कोई न कोई सपना जरूर देखते हैं। मैं उन सपनो की बात नहीं कर रहा हूँ जो आप सोते हुए देखते हैं बल्कि उन सपनो की ब...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Self-Help Hindi Articles
  May 4, 2015, 11:40 am
Download Hindi Quotes Ebook With 1000+ Quotes On Different Topicsडाउनलोड हिंदी सुभाषित सहस्र हिंदी साहित्य मार्गदर्शन आज आपके लिए एक बेहतरीन इ-बुक(Hindi Quotes Ebook In PDF Format) लेकर आया है जिसमे आम जीवन में उपयोग होने वाले लगभग हर विषय पर महापुरुषों के १००० से अधिक अनमोल विचारों/कथनों का संग्रह किया गया है।  इ...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :E-Book
  April 29, 2015, 10:00 am
जैसे हमारे शरीर का निर्माण 5 तत्वों का मिल कर हुआ हैं, इसी प्रकार सफलता के लिए 2 अहं बाते जो आपके पास होने चाहिए, वो हैं:- प्रेम और विश्वास विश्वास, जो लोग विश्वास को मानते है. उन्हें उस विश्वास का परिणाम मिलाता हैं, हमारा विश्वास हमें अपने लक्ष तक पहुचता हैं, हेनरी फोर...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Self-Confidence
  April 28, 2015, 10:14 am
महाभारत कर्ण-पर्व के अध्याय 90 में एक कथा आती है-खण्डन वन में एक महा सर्प रहता था-नाम था अश्वसेन। वन में आग लगी। उस अग्नि काँड का निमित्त अर्जुन को माना गया। अग्नि काँड में अश्वसेन की माता चक्षुश्रक मर गई। इस पर उसे बहुत क्रोध आया और अर्जुन से बदला लेने के लिए घात लगाने लगा...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Hindi Motivational Stories
  April 21, 2015, 11:55 am
Sanskrit Shlok About Benefits Of Good Exercise & Good Health व्यायामात् लभते स्वास्थ्यं दीर्घायुष्यं बलं सुखं।आरोग्यं परमं भाग्यं स्वास्थ्यं सर्वार्थसाधनम्॥ भावार्थ :व्यायाम से स्वास्थ्य, लम्बी आयु, बल और सुख की प्राप्ति होती है। निरोगी होना परम भाग्य है और स्वास्थ्य से अन्य सभी कार्य सिद्...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Exercise
  April 13, 2015, 11:00 am
शौरपुच्छ नामक बणिक ने एक बार भगवान बुद्ध से कहा-भगवन् मेरी सेवा स्वीकार करें। मेरे पास एक लाख स्वर्ण मुद्राएँ हैं, वह सब आपके काम आयें। बुद्ध कुछ न बोले- चुपचाप चले गए?कुछ दिन बाद वह पुनः तथागत की सेवा में उपस्थित हुआ ओर कहने लगा- देव! यह आभूषण और वस्त्र ले लें, दुःखियों के...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Gautam Buddha Stories
  April 9, 2015, 11:40 am
Top 22 Quotes About Anger In Hindi "क्रोध से मूढ़ता उत्पन्न होती है, मूढ़ता से स्मृति भ्रांत हो जाती है, स्मृति भ्रांत हो जाने से बुद्धि का नाश हो जाता है और बुद्धि नष्ट होने पर प्राणी स्वयं नष्ट हो जाता है।" ~ भगवान कृष्ण "किसी विवाद में हम जैसे ही क्रोधित होते हैं हम सच का मार्ग छोड़ देते ...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Anger Quotes
  April 7, 2015, 11:38 am
बहुत समय पहले की बात है, एक गाँव में एक लड़का रहता था. वह बहुत ही गुस्सैल था, छोटी-छोटी बात पर अपना आप खो बैठता और लोगों को भला-बुरा कह देता. उसकी इस आदत से परेशान होकर एक दिन उसके पिता ने उसे कीलों से भरा हुआ एक थैला दिया और कहा कि, ”अब जब भी तुम्हे गुस्सा आये तो तुम इस थैले में...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Anger Stories
  April 6, 2015, 11:31 am
How To Let Go of Past Mistakes: 5 Steps To Forgiving Yourself कभी कभी हम कुछ ऐसा कर बैठते है या बोल देते हैं जिसके लिए हमें बाद में बेहद पश्चाताप होता है। अगर आपके साथ भी हाल में ही कुछ ऐसा हुआ है तो आपको ये सब भूलने में काफी मशक्कत करनी पड़ रही होगी, खासकर तब जब आपने किसी अपने का दिल दुखाया हो। कुछ महीने पह...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Happiness
  April 3, 2015, 11:18 am
फ्राँस के सेंट आमेर प्राँत में सन् 1826 ई॰ में जन्मा जीन फ्राँकाईस ग्रेवलेट दुनिया का एक अद्भुत एवं साहसी कलाकार माना जाता हैं। सामान्य आर्थिक स्थिति के कारण उसे किसी अच्छे विश्वास में पढ़ने का अवसर न मिल सका। साधारण सी शिक्षा ग्रहण करने के बाद उसने जिमनास्टिक विद्या...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Hindi Motivational Stories
  April 1, 2015, 11:00 am
अयोध्या नगरी में वीरकेतु नाम का राजा राज करता था। उसके राज्य में रत्नदत्त नाम का एक साहूकार था, जिसके रत्नवती नाम की एक लड़की थी। वह सुन्दर थी। वह पुरुष के भेस में रहा करती थी और किसी से भी ब्याह नहीं करना चाहती थी। उसका पिता बड़ा दु:खी था। इसी बीच नगर में खूब चोरियाँ होन...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Great Stories
  March 30, 2015, 11:00 am
Sankrit Shlok About Power Of Enthusiasmउत्साहो बलवानार्य नास्त्युत्साहात्परं बलम्। सोत्साहस्य च लोकेषु न किंचिदपि दुर्लभम्॥ Hindi Translation Of Shlok About Power Of Enthusiasm उत्साह श्रेष्ठ पुरुषों का बल है, उत्साह से बढ़कर और कोई बल नहीं है।  उत्साहित व्यक्ति के लिए इस लोक में कुछ भी दुर्लभ नहीं है॥ English Translation Of Shlok About P...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Energy
  March 28, 2015, 10:58 am
स्मार्टफोन्स ने हमारे जीवन में एक साकारात्मक परिवर्तन लाया है। आज लगभग सबके पास स्मार्टफोन तो जरूर होता है, इसकी मदद से हम लगातार अपने मित्रों और बाकि दुनिया से जुड़े रहते हैं। खबरें पढ़नी हो या गानों का मज़ा लेना हो, किसी को पैसे भेजने हों या कोई बिल भरना हो, नौकरी के लिए अ...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Self-Help Hindi Articles
  March 23, 2015, 11:00 am
विदेशेषु धनं विद्या व्यसनेषु धनं मति:। परलोके धनं धर्म: शीलं सर्वत्र वै धनम्॥ विदेश में विद्या धन है, संकट में बुद्धि धन है, परलोक में धर्म धन है और शील(अच्छा चरित्र ) सर्वत्र ही धन है॥  Knowledge is wealth in a foreign land. Intelligence is wealth in tough times. Righteousness is wealth... [ This is an article summary only. Click on the article Title to continue reading this article,share your c...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Good Character
  March 21, 2015, 8:57 am
न ही कश्चित् विजानाति किं कस्य श्वो भविष्यति। अतः श्वः करणीयानि कुर्यादद्यैव बुद्धिमान्॥    हिंदी भावार्थ  कल क्या होगा यह कोई नहीं जानता है इसलिए कल के करने योग्य कार्य को आज कर लेने वाला ही बुद्धिमान है॥ English Translation No one knows what is going to happen tomorrow. So doing all of... [ This is an article summary only. Click on the article Title to...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Picture Quotes
  March 19, 2015, 11:57 am
खाना खाने की मेज पर हम अगर छोटी - छोटी बातों की तरफ भी ध्यान दें, तो अपने व्यक्तित्व में और अधिक निखार ला सकते हैं। ये छोटी छोटी बातें निम्नलिखित हैं :  बैठते समय कुर्सी को खींच कर नहीं बल्कि बिना आवाज किये हल्के से उठाकर सरकाएं.कुहनियों को मेज के किनारों पर रख कर न बैठे।...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Personality Development
  March 17, 2015, 11:30 am
सफलता हासिल करने की इच्छा रखने वालों को इन ६ दोषों का त्याग करना चाहिए : निद्रा  तन्द्रा  भय  क्रोध  आलस्य  और काम टालने की आदत  [ This is an article summary only. Click on the article Title to continue reading this article,share your comments, browse the website and much more !! ]...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Picture Quotes
  March 12, 2015, 12:00 pm
एक समय की बात है गौतम बुद्ध किसी उपवन में विश्राम कर रहे थे| तभी बच्चों का एक झुंड आया और पेड़ों पर पत्थर मारकर आम तोड़ने लगा| तभी एक पत्थर बुद्ध के सर पर लगा और उस से खून बहने लगा| बुद्ध की आँखों में आंसू आ गये| बच्चों ने देखा तो भयभीत हो गये और उन्हें लगा कि अब बुद्ध उन्हें ...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Great Stories
  March 7, 2015, 11:59 am
एक बहुत बड़े ठेकेदार के यहां हजारों मजदूर काम करते थे। एक बार उस क्षेत्र के मजदूरों ने अपनी मांगों को लेकर हड़ताल कर दी। महीनों हड़ताल चलती रही। नतीजतन मजदूर भूखे मरने लगे और रोजी-रोटी कमाने के लिए दूसरी बस्तियों में चले गए, लेकिन दूसरी बस्तियों के गरीब मजदूर इस बस...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Hindi Motivational Stories
  March 5, 2015, 11:19 am
उदये सविता रक्तो रक्त:श्चास्तमये तथा। सम्पत्तौ च विपत्तौ च महतामेकरूपता॥ हिंदी भावार्थ : उदय होते समय सूर्य लाल होता है और अस्त होते समय भी लाल होता है, सत्य है महापुरुष सुख और दुःख में समान रहते हैं॥   English Translation: The sun appears red while rising and setting. Great men too remain... [ This is an article summary only. Click on the article Title to continue ...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Picture Quotes
  March 3, 2015, 10:16 am
अक्सर हम सब में एक सबसे खतरनाक आदत होती है - दूसरों से अपनी तुलना करने की। हम अपनी  गाड़ियाँ, घर, नौकरियां, पैसा, सामाजिक प्रतिष्ठा और कई चीजें दूसरों से तुलना करते रहते हैं, और फिर अंत में हम अपने अंदर सिर्फ ढेर सारी नकारात्मक ऊर्जा और भावनाएं भर लेते हैं, जिनका बहुत बुरा ...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Positivity
  February 26, 2015, 11:00 am
सारा योरोप यूनान की फौजों से संत्रस्त था। अजेय समझी जाने वाली यूनानियों की धाक उन दिनों सब देशों पर छाई हुई थी और जिस पर भी आक्रमण होता वह हिम्मत हारकर बैठ जाता और अपनी पराजय स्वीकार कर लेता।  रोम के सेनापति सीजर ने देखा कि इस व्यापक पराजय का कारण लोगों में संव्याप्त ...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Self-Confidence
  February 20, 2015, 11:00 am
हमारे जीवन में अक्सर ऐसे मौके आते हैं जब हमें सारे दरवाजे बंद नजर आते हैं और हम बेहद निराश और  उदासी से घिर जाते हैं। ऐसे मौके पर हमें आपने आप को अपने परिवेश की अच्छी चीजों की याद दिलानी पड़ती है क्यूंकि ऐसी चीजें हमारे आस-पास हमेशा मौजूद रहती हैं, और जब हम अपनी और अपने आस...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Motivational Tips
  February 18, 2015, 11:00 am
भर्तृहरि नीति शतक श्लोक २२  दाक्षिण्यं स्वजने, दया परजने, शाट्यं सदा दुर्जने  प्रीतिः साधुजने, नयो नृपजने, विद्वज्जनेऽप्यार्जवम् । शौर्यं शत्रुजने, क्षमा गुरुजने, नारीजने धूर्तता   ये चैवं पुरुषाः कलासु कुशलास्तेष्वेव लोकस्थितिः ॥ [22] नीति शतक श्लोक २२ का हिंदी भ...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Bhartrihari Neeti Shatak
  February 16, 2015, 11:00 am
दर्शने स्पर्शणे वापि श्रवणे भाषणेऽपि वा। यत्र द्रवत्यन्तरङ्गं स स्नेह इति कथ्यते॥ If seeing or touching somebody; hearing or speaking with somebody, touches your heart, then it is called affection. [ This is an article summary only. Click on the article Title to continue reading this article,share your comments, browse the website and much more !! ]...
हिंदी साहित्य मार्गदर्शन...
Tag :Love Quotes
  February 14, 2015, 8:25 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3693) कुल पोस्ट (169654)