POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: मैख़ाना

Blogger: मुनीश
चिड़ी के ग़ुलामहुकुम के अट्ठेऔरउल्लू के पट्ठेकह रहे हैं कि:आपात्काल चल रहा है !राष्ट्रचीते ,कचिया पपीतेऔरबारूद के पलीतेकह रहे हैं कि:मधुमास चल रहा है !मैं बोल पा रहा हूँ कि:बस श्वास चल रहा है !ये प्रदूषण मुझको खल रहा है ।ये हरामी शहर दरअस्ल जल रहा है # प्रदूषित कविता... Read more
clicks 104 View   Vote 0 Like   3:42am 7 Nov 2016 #
Blogger: मुनीश
याद आता है संयुक्त राष्ट्र महासचिव पद से ज़रा सा चूकने के बाद राजनीति में आए शशि थरूर ने कहा था एक बार कि यदि धन और आराम की ही चाहत होती तो वो अंतर्राष्ट्रीय संस्थानों और विश्वविद्यालयों में भाषण देकर और किताबें लिख कर ही खूब कमा सकते थे । बेशक़, हर दस मिनट के हिसाब से सै... Read more
clicks 155 View   Vote 0 Like   4:14am 18 Jan 2014 #
Blogger: मुनीश
बेशक़ किसी भी कवि को खुल कर कुछ भी कहने की छूट होनी चाहिए किसी भी सभ्य समाज में । जिसे पोयटिक लायसेंस कहा जाता है उसका हक़ है उसे । लेकिन भले ही वो मज़ाहिया या तंज़िया कविता क्यों न हो उसके दायरे से बाहर किसी को हक़ नहीं बनता किसी भी धर्म के विरुद्ध कोई कटाक्ष करने का । क... Read more
clicks 143 View   Vote 0 Like   9:46am 6 Jan 2014 #
Blogger: मुनीश
बड़ी मीठी और तहज़ीब से लबरेज़ जुबाँ है साहब और खासकर तब जबकि आला दर्जे के दानिश्वर समझाने की  गरज से सीधी-सरल बहती सी अदा से बात रखते हों । अभी हाल में यूँ ही सायबराबाद के एक सफ़र में ये मोती  मिल गया । हुकूमते बरतानिया के ताव्वुन से चलने वाले बीबीसी और सरहद पार के आव... Read more
clicks 167 View   Vote 0 Like   2:47pm 8 Oct 2013 #
Blogger: मुनीश
अग़र आपके विडियो को लोड होने में देर लग रही है तो इसमें किसी विदेशी ताक़त का ही हाथ हो सकता है जो नहीं चाहती कि आप एक सच्ची आवाज़ को सुन सकें । आमीन ।... Read more
clicks 161 View   Vote 0 Like   5:46pm 12 Aug 2013 #
Blogger: मुनीश
                   शिन्दा ओन नानोको अर्थात् मर चुकी लड़की का गीत --1967                                        गीतकार, गायक - तोमोया ताकाइशि आज से 68 साल पहले छः अगस्त 1945 को हिरोशिमा शहर पर सुबह सवा आठ ... Read more
clicks 153 View   Vote 0 Like   8:16am 8 Aug 2013 #
Blogger: मुनीश
जापान में नेता जी की पुण्य तिथि अठारह अगस्त मानी जाती है और उसमें 100-150 जापानी इकट्ठे होते हैं । पिछले 66 बरस से हर साल उनकी बरसी यहाँ बड़ी श्रद्धा से मना रहे हैं जापानी । खास बात ये है कि आयोजनस्थल साल में एक बार ही खोला जाता है आम जनता के लिए और 18 अगस्त वही तारीख है । इस बार इत... Read more
clicks 167 View   Vote 0 Like   4:10pm 18 Aug 2012 #
Blogger: मुनीश
हाल ही में भारत में सीधे विदेशी निवेश का हक़ पा चुके इस पड़ौसी के साथ हम जल्द ही क्रिकेट खेलेंगे । आप क्या कहते हैं । ... Read more
clicks 157 View   Vote 0 Like   1:09am 5 Aug 2012 #
Blogger: मुनीश
शाकाल की लाश अरब सागर की मछलियाँ कब की खा चुकी हैं और वो मछलियाँ भी जाने कब की और मछलियों की खुराक बन चुकी होंगी । कुल मिलाकर डीसीपी शिव कुमार की मौत और उनकी मौत का बदला चुके कई बरस बीत चुके हैं मग़र जाने क्यों जब से प्रशांत महासागर के इऩ टापुओँ पे भटक रहा हूँ मुझे अक्सर ड... Read more
clicks 211 View   Vote 0 Like   6:30pm 3 Aug 2012 #
Blogger: मुनीश
मैंने यक़ीनन नहीं देखा कभी भी उसे । बस टीवी पर सुना भर था कि कोई चरवाहा था जिसने सबसे पहले सेना को खबर की 99 की गर्मियों में कि पाकिस्तानी घुस आए हैं । यों, मैं जानता तो जूही चावला को भी नहीं लेकिन मशहूर अदाकारा रही हैं ,पर्दे पे देखा है और 26 / 11 निपटने के बाद जो महफ़िल सजाई थी ए... Read more
clicks 203 View   Vote 2 Like   5:34pm 26 Jul 2012 #
Blogger: मुनीश
तुम अकेले हो...... Read more
clicks 170 View   Vote 0 Like   6:28pm 23 Jul 2012 #
Blogger: मुनीश
नहीं कुछ नहीं बदला है , न तो कोई कमी ही हुई है ज़मीं पर या बहते हुए पानियों में हाँ शायद इज़ाफ़ा हुआ हो तो हो ख़लाओं में । क्या मालूम लेकिन याद रहेगा वो डाकिया और वो अपाहिज सिपाही जिसे किसी नामुराद, भड़वे न्यूज़ चैनल ने याद ना किया लेकिन हम हैं काका आपके क़द्रदान हम नहीं भ... Read more
clicks 147 View   Vote 0 Like   5:07pm 20 Jul 2012 #
Blogger: मुनीश
An old piece of poetry which perhaps best describes the contemporary scenario.   Earth, receive an honoured guest:          William Yeats is laid to rest.          Let the Irish vessel lie          Emptied of its poetry.          In the nightmare of the dark          All the dogs of Europe bark,          And the living nations wait,          Each sequestered in its hate;          Intellectual disgrace          Stares from every human face,          And the seas of pity lie          Locked and frozen in each eye.          Follow, poet, follow right          To the bottom of th... Read more
clicks 165 View   Vote 0 Like   6:08am 14 Jul 2012 #
Blogger: मुनीश
Munish Sharma Earth, receive an honoured guest: William Yeats is laid to rest. Let the Irish vessel lie Emptied of its poetry.... In the nightmare of the dark All the dogs of Europe bark, And the living nations wait, Each sequestered in its hate; Intellectual disgrace Stares from every human face, And the seas of pity lie Locked and frozen in each eye. Follow, poet, follow right To the bottom of the night, With your unconstraining voice Still persuade us to rejoice; --------------------------In memory of W.B. Yeats by W.H. Auden... Read more
clicks 188 View   Vote 0 Like   7:39pm 13 Jul 2012 #
Blogger: मुनीश
अगर नहीं है तो फिर ये इतने खौफ़ज़दा क्यों हैं ?... Read more
clicks 159 View   Vote 0 Like   3:50pm 2 Jul 2012 #
clicks 161 View   Vote 0 Like   9:13am 13 May 2012 #
Blogger: मुनीश
पड़ौसी मुल्क पाकिस्तान के टीवी चैनल्स पर चर्चाएँ बहुत होती हैं हमारे यहाँ की तरह ।  चर्चा कोई खास खर्चा नहीं माँगती लेकिन हमारे यहाँ कहा गया है पुराने समय से कि वादे-विवादे जायते सत्यम् यानि चर्चा , परिचर्चा से सत्य निकलता है । हसन निसार साब कोई बुद्धिजीवी मालूम देते ह... Read more
clicks 174 View   Vote 0 Like   8:57am 13 May 2012 #
Blogger: मुनीश
जापानी लोक कथाओँ में तेंगू नामक एक मिथकीय जीव का ज़िक्र आता है ।बच्चे भी इसका नाम सुनते हुए बड़े होते हैं । लंबी नाक वाले इस तेंगू में इन्सान और परिन्दों दोनों की खूबियाँ हैं और प्राचीन शिंतो मान्यताओं के मुताबिक ये बुरी आत्माओँ का दुश्मन है । इसके हाथ में एक पंखा भी रह... Read more
clicks 159 View   Vote 0 Like   11:19am 28 Apr 2012 #
Blogger: मुनीश
जी हाँ जज साब , दरअस्ल मुझे यूँ वक़्त बर्बाद करना बेहद पसन्द है और मैं अपना गुनाह क़ुबूल करता हूँ ।          हिल स्टेशनघुल रहा है सारा मंज़र शाम धुंधली हो गई चाँदनी की चादर ओढ़े हर पहाड़ी सो गईवादियों में पेड़ हैं अब नील-गूँ परछाइयाँउठ रहा है कोहरा जैसे चाँदनी का हो धुँआंच... Read more
clicks 205 View   Vote 0 Like   12:28pm 22 Apr 2012 #Japan
Blogger: मुनीश
आगे भी होगा जो उसका करम , ये दिन तो मनाएँगे हर साल हमअलविदा साकुरामिलेंगे फिर अगले बरस ....इंशाअल्लाह !!! चित्र सौजन्य- स्टाफ़ एवम् छात्र संयुक्त राष्ट्र विश्वविद्यालय, तोक्यो Photo courtesy: Staff and students,United Nations University,Tokyo ... Read more
clicks 184 View   Vote 0 Like   4:30pm 16 Apr 2012 #Tokyo
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post