Hamarivani.com

ek tukda muskan joke

हर युग में हर पीढ़ी ने अपनी भाषा गढ़ी है आज की तेज रफ़्तार वाली जिन्दगी या कहिये डिजिटल जिन्दगी में शब्दों की जगह संकेतो ने ले ली है.जो कंप्यूटर या मोबाइल में अपनी भावनाए व्यक्त कर रही है.इन्हें ही स्माइली कहते है.यानि खुशनुमा चेहरे .इनका सबसे पहले उपयोग अमेरिका के एक प...
ek tukda muskan joke...
Tag :smily
  December 18, 2011, 3:43 pm
सब्जी वाला महिला से-बहन जी क्या आप एम् ए पास हो?महिला (गर्व से)-हाँ पर तुमने केसे जाना?सब्जी वाला-तभी आप टमाटर के  ऊपर आलू डलवा रही हैं.................
ek tukda muskan joke...
Tag :
  November 5, 2011, 4:28 pm
उनको देखा तो पलट आये जमाने कितनेफिर हरे होने लगे जखम पुराने कितनेमशवरा मेरी वसीयत का मुझे देते हैंहो गए है कितने मेरे मासूम अपनेमेरे बचपन की वो बस्ती भी अजब बस्ती थीदोस्त बन जाते थे एक पल में बेगाने कितनेकितनी खामोश है अब इन आँखों की गलीइनमे बसते थे कभी ख्वाब सुहाने क...
ek tukda muskan joke...
Tag :
  November 2, 2011, 3:14 pm
ek tukda muskan joke: jub mene dor bell bajayi...
ek tukda muskan joke...
Tag :
  November 1, 2011, 8:13 pm
मुझे बहुत पीड़ा होती हैजब कोई घरेलू हिंसा की शिकार महिला दिखाई देती हैकितने क़ानून सरकार ने बनाये हैंऔर शिकायत मिलने पर क़ानून बड़ी निष्ठां से निभाए हैंलेकिन इन कानूनों का कोई प्रचार नहीं हैइसलिए बहन घरेलू हिंसा से बची नहीं हैहमने सोचा हम इस बात में लोगो की मदद करेग...
ek tukda muskan joke...
Tag :
  November 1, 2011, 7:30 pm
भाइयो वैसे तो में एक शर्म सार इंसान हूँलेकिन अपने देश और देशवासियो से परेशान हूँ यहाँ हर चीज चल जाती हैया यूं कहो चलाई जाती हैआज कल राखी सावंत फिर अपने नए गाने को लेकर ड्रामा कर रही हैअन्ना हजारे या फिर दिग्विजय के पास जाने की दुहाई दे रही हैंहमारी कालोनी में भी राखी क...
ek tukda muskan joke...
Tag :
  November 1, 2011, 3:02 pm
में जब भी किसी महिला को गाडी चलते देखती हूँ,तो मन में उसके प्रति प्रशंसा , तरस और जलन तीनो भाव एक साथ आते है.प्रशंसा इसलिए  इसलिए की वाह क्या बढ़िया गाडी चला रही है,तरस इस लिए की है केसे इसने सीखा होगा,और जलन इस लिए क्योकि में गाडी चलाना न  सीख पायी .               ...
ek tukda muskan joke...
Tag :
  October 30, 2011, 8:11 am
जब से मेने करीना का जीरो फिगर देखा है वो मेरी रोल मोडल बन गयी है.है कहा वो करीना का परफेक्ट फिगर कहाँ मेरी ये मोटी कमर.चलती  है तो क्या मटकती है.और हम चले  तो देखने वाले तरस खाते है कहते है देखो मोटी केसे लुढ़क रही है बेचारी.                    हाँ अब मेने सोच लिया ...
ek tukda muskan joke...
Tag :
  October 29, 2011, 8:02 pm
ek tukda muskan joke: mera aashiyaana...
ek tukda muskan joke...
Tag :
  October 26, 2011, 11:57 pm
एसा क्यों की कई बार मन चंचल हो जाता हैकितना भी चाहे यादो से उबार नहीं पता हैएसा क्यों की कोई पास रह कर भी अजनबी और दूर हो कर भी अपना बन जाता हैएसा क्यों साथ र५अह कर अपना दंभ आड़े आता है और दूर रह कर अकेलापन सताता हैएसा क्यों की झूटी बाते सच्ची लगती है और सच्चे मोतिओ में झूट ...
ek tukda muskan joke...
Tag :
  October 26, 2011, 11:14 pm
जिंदगियो के बसने के लिए चंद दीवारे ही बहुत होती हैं ............इन्ही दीवारों के साए  में मुहब्बत अरमानो के संग चैन से सोती हैदिन बसर यहीं होता है, शाम भी ढलती है यहींतेरे तस्सवुर की आगोश में मेरे वजूद की शमा जलती है यहींकैद हैं इसमें वफ़ा के कई अफ़सानेबिखरे हैं इसकी फिजा में ...
ek tukda muskan joke...
Tag :
  October 26, 2011, 11:03 pm
ek tukda muskan joke: hip hip hurre: अरे ओ किरकेट के कप्तान नासिर भाई आपकी एक बात मेरी समझ में नहीं आई क्या आप गधो को वाकई पहचानते हो या बस यूं ही अनाप शनाप बक जाते हो मुझे तो ल......
ek tukda muskan joke...
Tag :
  October 26, 2011, 3:53 pm
अरे ओ किरकेट के कप्तान नासिर भाईआपकी एक बात मेरी समझ में नहीं आईक्या आप गधो को वाकई पहचानते होया बस यूं ही अनाप शनाप बक जाते होमुझे तो लगता है की आपको पहचान नहीं हैइसलिए भारत के लिए क्या कह गए इसका भान नहीं हैयदि आपने हमारे क्रिकेटरों को पहचान लिया होतातो इस तरह आसमान क...
ek tukda muskan joke...
Tag :
  October 26, 2011, 2:44 pm
जिधर देखो चहु ओरहै महगाई का शोरबढ़ी रेट सुन सुन कर के ,हम तो हो गए बोरहम तो हो गए बोर,हाईटेक  हुई दीवाली,एक जेब तो कट  गयी,दूसरी हो गयी खालीसुबह सुबह जब हम गए लेने सब्जी  मंडी,बीस रुपिया आलू मिले चालीस मिली भाई भिन्डीचालीस मिली भाई भिन्डी गोभी का तो कहना क्या थाथोड़ी&nbs...
ek tukda muskan joke...
Tag :
  October 25, 2011, 9:34 pm
पत्नी हमारे पास बड़े प्यार से आईआ कर चाय थमाई,फिर बड़ी अदा से इठलाईहम कुछ सोच कर सतर्क हो उठे,क्योकि उनके इठलाने में हमें खतरे की घंटी दी सुनाईहमने कहा भागवान यूं न शरमाओअगर कोई फरमाइश हो तो हमको  बतलाओअब पत्नी कुछ तुनक कर बोलीअपनी कडवी जबान को कुछ मीठा बना कर बोलीआप भ...
ek tukda muskan joke...
Tag :
  October 25, 2011, 9:07 pm
एक  बार  हमारी  पत्नी  को अंग्रेजी सीखने का शौक चर्रायाउन्होंने बड़े प्यार से हमें फरमायादेखो जी सभी  हेज्बेन्दो की वायिफे गिट पिट अंग्रेजी बोलती हैबड़ा मजा आता है जब चाह कर भी हिंदी नहीं बोलती हैए जी मुझे भी अंग्रेजी सिखवा दो नमारूति से स्विफ्ट vdi बना दो न ...
ek tukda muskan joke...
Tag :
  October 25, 2011, 3:20 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163856)