Hamarivani.com

आओ हँस लें

कहते हैं सबये राजनीति वोटों तक ही नही सीमित होनी चाहिएउससे आगे भी जानी चाहिएतुम्हारी जाति क्या हैक्या है तुम्हारा मजहबअगड़े हो क्याया मनुवादी , या फिरपिछड़ाउससे भी पिछड़ामहा पिछड़ादलितउससे भी दलितमहा दलितऔर इन सबका कुछ न कुछ आरक्षणशब्द बदलते गएआदमी वहीं का वहींराजनी...
आओ हँस लें...
Tag :
  March 1, 2016, 11:11 am
मेरे गाव मेकल हीपहरेदार आए हैअपनी संस्कृति बचाने  को  दूर सेलंबरदार आए हैघने बागों मे,   दल बल सहित डेरा जमाया हैअनन्य   भक्तों ने  बड़ा आसन सजाया हैबेचेंगे टिकट , डाइरेक्ट, एकदम स्वर्ग जाने का ठेका लिया  है  आपके कल को बनाने का वर्जित है ,यहाँ आश्रम मेजूते और खा...
आओ हँस लें...
Tag :
  September 28, 2015, 5:06 pm
झाड़ू लेकर मैं चला , गंदा मिला न कोयजो घर देखा आपना , मुझसा गंदा न होयमीडिया  के साथी मेरे , अपना मीडिया होय स्ट्रिंग अपना कैसे हुआ , झाड़ू दिया भिगोयगले मे मफ़लर, खो खो खांसी , बंगलुरू विश्राम कौन बना है बाप आपका ,छिड़ा हुआ संग्राम बिजली सस्ती, पानी मुफ्त , वाईफ़ाई पैसों से...
आओ हँस लें...
Tag :
  March 14, 2015, 1:27 pm
झाड़ू सर पे चढ़ गईऐसा घूमा चक्रमोदी जी का,  सीधा खाकाहुआ दिल्ली मे वक्रमफ़लर डाले आम आदमीमंच से ऐसा खाँसामुफ्त-मुफ्त के राग  मे आकारखा गए तगड़ा झांसाबिजली  सस्ती ,पानी मुफ्तसरकार रहेगी एकदम चुस्तविभागीय बोझ उठाएँ मंत्रीजल्दी निर्णय लेंगेसीएम  बस पहरेदारी मेयहाँ ...
आओ हँस लें...
Tag :
  February 16, 2015, 4:44 pm
चुनाव हुये पूरेहम वही रह गए अधूरेगरीबी कम होगीवोट दिया थाक्या पताआखिरी बारउधार का घी पिया थाआलूबाबा मोलटमाटरताई मोलऔर प्याज़ का पूंछों मत हालन जाने कहाँ हो गयागोलहमारी झोपड़ी के ऊपर सेकल रात गुजरी बुलेट ट्रेनरात मे ही गूंज उठी किलकारीआम्मा बोलीये और आई महगाई की मारी...
आओ हँस लें...
Tag :
  July 13, 2014, 5:16 pm
नेताजी के वोट मांगने परवोटर चिल्लायाशहर कूडे से बजबजा रहा हैबीमारी से अस्पतालपूंछते हो कैसा है हालनेताजी बोले मेयर किसका हैउससे क्यो नहीं पूछतेवोटर बोलाअच्छा बिजली ही बताइयेकहाँ चली जाती हैसड़क क्योंगिट्टियों से गुलछर्रे उड़ाती हैखुदे चौराहों परतुम्हें लाज नहीं ...
आओ हँस लें...
Tag :
  April 16, 2014, 1:41 pm
लूट चुके प्रदेश बहुतअब दिल्ली जाना हैकैसे होते है घोटालेपता लगाना हैआवंटन पर मुह ताकनाअनुदान की सड़क नापनासब बिसराना हैलूट चुके प्रदेश बहुतअब दिल्ली जाना हैखुदी पड़े प्रत्येक सडकबिजली से जनता रही भड़कगुंडों को , मुस्टंडों कोदिल्ली पहुचाना हैलूट चुके प्रदेश बहुतअब द...
आओ हँस लें...
Tag :
  April 4, 2014, 5:08 pm
आ गए चुनाव हर गंगेहम्माम में सब नंगे हर गंगे टोपी ,बिल्ले,कम्बल, धोती इसकी उसकी छीने रोटी आओ खेले दंगे दंगे   हर गंगे सुरा सुन्दरी दौर चलेगा रात रात भर ठौर चलेगा चाकू, छुरी पिस्तौल  पुराने AK सैतालिस के गए जमाने आरडीएक्स रखते मुस्टंडे&n...
आओ हँस लें...
Tag :
  February 16, 2014, 6:37 pm
झाड़ूघर बुहारने के लिए ली थीसड़क बुहारने लगीऔर यहाँ वहाँ फैले कचरे को बुहार करएक जगह इकट्ठा कर लियाकचरा पानी मे भीग गयासड़ गयाऔर पूरा शहर बजबजाने लगाअब झाड़ू भी  नाकाम थी कीचड़ बुहर ही नाही रहा थाझाड़ू की तिलियां भीकीचड़ से भर गईंटूट कर बिखरने लगीसोचा था देश बुहारेंगेसा...
आओ हँस लें...
Tag :
  January 22, 2014, 6:50 pm
आओ फिर से सपना देखेंसपने में सरकार बनायेंनिकली लम्बी जीभ रसीलीसूखे होंठों पे चमकाएंआओ  अब सरकार बनाएं .......बहुत हुए सत्ता से दूरमाल मलाई से मजबूरआओ , फिर जुगाड़ भिडायेंजोड़ तोड़ की जुगत लगाएंआओ  अब सरकार बनाये ........जंग लगे औज़ार सम्हालेंमुर्दे  गड़े , सब खोद निकालेंकफ़...
आओ हँस लें...
Tag :
  March 30, 2013, 6:40 pm
अंग्रेजी महलों में रहती है हिंदी भरती पानी सौतन बन  आयी  जो  घर में बन बैठी वो रानी सेवा करने की बेईमानी मन रखती मेंम सरकारी पति को बस में कर बोली होगा चेंज अब तो  होगा चेंज चलेगी अपनी घर में हिंदी तू बस नौकर बनके रहना, पडी नरक  मेंए , बी , सी ,डी   वन-टू -थ्री - फोर होगा अ...
आओ हँस लें...
Tag :
  February 25, 2013, 10:18 pm
अंग्रेजी महलों में रहती है हिंदी भरती पानी सौतन बन  आयी  जो  घर में बन बैठी वो रानी सेवा करने की बेईमानी मन में  रखती मेंम सरकारी पति को बस में कर बोली होगा चेंज अब तो  होगा चेंज चलेगीअपनी घर में हिंदी तू बस नौकर बन केरहना पडी नरक  मेंए , बी , सी ,डी   वन-टू -थ्री - फोर हो...
आओ हँस लें...
Tag :
  February 25, 2013, 10:18 pm
...
आओ हँस लें...
Tag :
  January 18, 2013, 9:52 pm
तुम नेता हो भाषणों  में असत्य उगलो लफंगई रंगों में दौडाओ इन्कलाब जिंदाबाद की भीड़ जुटाओ बड़ी-बड़ी मूंछों वाले पथरीले चेहरे पालो अस्मत लूटो नालों में रक्त बहाओ गलियों में गस्त और कर्फ्यू  लगाओ बस तुम अपने घडियाली आंसू  बहाओ दौरे से लौटो बन्दूक से कारतूस के खुक्खल...
आओ हँस लें...
Tag :
  August 31, 2012, 10:34 pm
नेताजी चिल्लाए अबकी न जानवर न कोई सवारी और न हीअंतररास्ट्रीय फूलअबकी बारसब कुछ भूल जाओबसतमाचे के साथ आओगरीबी हटाओबीस सूत्रीय कार्यक्रमइमरजेंसीफिर दोहराए जायेंगेनसबंदी चाहो तो करानाचाहो तोविदेश से बच्चे ले आनाहम नहीं रोकेंगेन हम टोकेंगेऍफ़डीआई  जरूर ला...
आओ हँस लें...
Tag :chunav
  January 11, 2012, 5:30 pm
एक नेता जी मंच से दहाड़े मुझे जिताओतुम्हारे दरवाजे दूध की नदियाँ बहा दूंगापीने को भले न मिले पानीतुम्हें  शराब से नहला दूंगाखुलवा दूंगा  घर घर भट्ठी फिर रोज बनाओरोज़ पाओखेती में क्या करोगे फसल बोकर कभी बाढ़ कभी सूखारहोगे भुक्खड़ के भुक्खड़  सड़क क्या करोगेबनी...
आओ हँस लें...
Tag :दलबदलू
  January 6, 2012, 12:54 am
प्रजातंत्र के मंदिर में ये कैसा अद्भुत खेल, राजनीति के नाम उडेला अपना-अपना तेल, जनमानस को छलते-छलते भूल गए व्यवहार, संस्कार छलनी कर डाले बना दिया व्यापार,बाते हों गंभीर करते  कुछ  सूखे मन  की बात ,दे जाते  भूखी जनता को कुछ मीठी  सौगात, कुर्सी की मारा-मारी में भूले दुनियाद...
आओ हँस लें...
Tag :chunaav
  December 31, 2011, 4:25 pm
...
आओ हँस लें...
Tag :lokpaal
  December 21, 2011, 8:09 pm
बन गया लोकपाल आओ झूमे गाये, हल हुए  सवालआओ झूमे गाये, कल तक जो सीना तान करचलते थे रिश्वतखोर,छुप  गये माई के लालआओ झूमे गाये, बिखरे पड़े है नोटदरवाजे पर काले धन के, विदेश भाग गाये दलालआओ झूमे गाये, पूरे देश की सड़के बन गयी चकाचक, कमीशनबाज़ हुए बेहाल  आओ झूमे गाये,भर ...
आओ हँस लें...
Tag :lokpal
  December 18, 2011, 11:11 pm
आओ चलो उठाओ पत्थरभिखमंगे आये है दरवाजे पर राजनीति के नंगे आये है .......बिजली ,पानी और सड़कों को रोते रोते हार गएएक पहर की रोटी खाते जीवन अपना मार गए महगाई पर गाल बजानेतिलंगे आये हैं दरवाजे पर राजनीति के नंगे आये है.......... घोल के पी गए शर्म हया मन में रत्ती भर नहीं  दयाशमा जली तो ...
आओ हँस लें...
Tag :
  November 17, 2011, 5:40 pm
वो गला फाड़ कर चिल्लायेभूखे हो क्या ?तो भीख क्यों नहीं मांगते कमबख्त भिखमंगों से कौन मांगे आज देंगे कल मांगने  आ जायेंगे इन्हें तो हर पाच साल में आना है और कोई न कोई करतब दिखाना हैमदारियों की तरह उछलकूद लेंगे एक दुसरे पर थूकेंगे इसकी उसकी धोती उतारेंगेपुदीने के पेड़ परद...
आओ हँस लें...
Tag :
  November 16, 2011, 12:20 am
एक देश की अद्भुत रानी गजब देश की अजब कहानीराजा की बातें अनमोलबोले शब्द शब्द  को तोल मंत्री,संतरी बागड़ बिल्ला उनमे था एक बड़ा चबिल्ला लगाया था स्वांशों  पर  टैक्स रानी को कर दिया फैक्स मंत्री को दरबार बुलाया कान पकड़ कर  छत बैठाया उसकी जगह दूसरा भेजा ये  कायदे की बा...
आओ हँस लें...
Tag :
  November 5, 2011, 5:19 pm
चुनाव आये नेता बोले मझे फिर जिताओमैं अब आपकी सारी आकान्छाएं सारी अभिलाषाएं पूरी करूंगा पिछले पांच सालों में आपके लिए कुछ नहीं कर सका मजबूरी थी पहले पैरों के नीचे की जमीन जरूरी थी  वो मजबूत हो गयी अब आपकी बारी है आपको उठाने की कमर कस के तैयारी है किसी और को जीतोगे मुह ...
आओ हँस लें...
Tag :
  October 29, 2011, 11:22 pm
हम गांधी है हमको और ना गोली मारो हमने कही पुराणी बातें उनको फूटी आँख निहारो .. गोली मारो टोपी पहनो खादी पहनो धोती आधी-आधी पहनो जो भी  अपनी बात न मानेउनपर ये चप्पल फटकारो .. गोली मारो मुन्नी मिश्रित भजन बनाओ डी के बोस सी  गाली गाओउल-जुलूल आदर्श परोशो, अमर हो जाओ ..गोली मारो...
आओ हँस लें...
Tag :
  October 3, 2011, 9:04 am
बंधू इस सन्सार में , भाति-भाति के लोगमरहम लेकर हांथ में, दिल पर करते चोटदिल पर करते चोट, रहेंगे निपट अकेलेराम राम जपते फ़िरें अहिरावण के चेलेहिन्दी ब्लोगिंग हो गयी, ठर्रे की दूकानचार-यार मिलकर पियें, गाली देना शानगाली देना शान, हमीं हैं बडे खिलाडी"मेल" हैं सारे हैं कु...
आओ हँस लें...
Tag :
  September 20, 2011, 10:14 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163572)