POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: MUSKAAN- BHRAMAR KA DARD JAGRANJUNCTION PAR

Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
 शीत बतास औे पाला सहे नितठूंठ बने हिय ताना सुने जगकूंच गई फल फूल मिलेतेरे साहस पे नतमस्तक सबपल्लव कोंपल है गोद हरीरस भर महुआ निर्झर झर झरसब खीझत रीझत दुलरातेसम्मोहित कुछ वश खो जातेमधु रस आकर्षित भ्रमर कभीरी होली फाग सुनावत हैंछलकाए देत रस की गागरज्यों अमृत पान कराव... Read more
clicks 5 View   Vote 0 Like   12:23am 1 Apr 2021 #नारी
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
हमने मिलकर थाल बजाई,शंख बजा फिर ज्योति जगाई,मंत्र जाप मन शक्ति अाई,योग ध्यान आ करें सफाई,जंग जीत हम छा जाएंगे,विश्व गुरु हम कहलाएंगे,आत्मशक्ति अवलोकन करके,एकाकी ज्यों गुफा में रह के,जन मन का कल्याण करेंगेद्वेष नहीं हम कहीं रखेंगेप्रेम से सब को समझाएंगेमानव मानवता को व... Read more
clicks 77 View   Vote 0 Like   11:10am 3 May 2020 #bhramar5
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
दे ऐसा आशीष मुझे माँ आँखों का तारा बन जाऊं... Read more
clicks 170 View   Vote 0 Like   7:09am 24 May 2016 #
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
अभिव्यक्तिकीआजादी=======================पढ़तेहुएबच्चेकाअनमनामनटूटतीध्यानमुद्राबेचैनीबदहवासीउलझनअच्छेबुरेकीपरिभाषाखोखलाकरतीखाएजारहीथी .......कर्मज्ञानगीतामहाभारतरामायणराम-रावणभयडरआतंकरामराज्यदेव-दानवधर्मग्रन्थमंदिरमस्जिद ..औरभीबहुतकुछ ..पीएचडीकरभीजेलजानागरीबअमी... Read more
clicks 154 View   Vote 0 Like   6:19am 5 Mar 2016 #desh
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
आदरणीया निशा जी के प्रोत्साहन पर एक अधूरी कहानी पूरी करने की कोशिश ... अपना अंगना मेंरंजना नन्ही वंशिका की बातों से अचंभित रह गयी छोटी बच्ची और इतनी बड़ी बात . ..उसका मन कचोटने लगा कि क्यों वो आज तक ऐसा नहीं सोचती रही क्या कमी है उसके अंदर हर दिन हर समय घुटन , एक नारी होने का ये... Read more
clicks 172 View   Vote 0 Like   1:25pm 30 Apr 2014 #nasha
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
इस रचना में एक अधिवक्ता की पत्नी का दर्द फूट पड़ा है ………………ना जइयो तुम कोर्ट हे !मेरे दिल को लगा के ठेस ….जब जग जाहिर ये झूठ फरेबीबार-बार लगते अभियोगअंधी श्रद्धा भक्ति तुम्हारीक्यों फंसते झूठे जप-जोगआँखें खोलो करो फैसलाना जाओ लड़ने तुम केस ………….ना जइयो तुम कोर्ट हे !मेर... Read more
clicks 194 View   Vote 0 Like   3:21pm 14 Sep 2013 #anyay
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
प्रिय दोस्तों इस रचना को ( कोई नहीं सहारा ) ३.३.२०१3 के दैनिक जागरण अखबार में कानपुर रायबरेली (उ.प्रदेश भारत ) आदि से प्रकाशित किया गया रचना को मान और स्नेह देने के लिए आप सभी पाठकगण और जागरण जंक्शन का बहुत बहुत आभारभ्रमर ५मै आतंकी बनूँ अगर माँ खुद “फंदा” ले आएगीहम सहिष्णु ... Read more
clicks 213 View   Vote 0 Like   6:23pm 14 Mar 2013 #shoshan
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
हम लोगों की आँखों के सामनेपैदा हुए कुछ पिल्ले यहीं पले बढेदूध मलाई खाए कार में चढ़े दुलरायेभौंकते-हमें डराते ताकतवर बन जाते हैं( फोटो साभार गूगल नेट से लिया गया)फिर झुग्गी बस्ती में आये पेट दिखाएदुम हिलाए पाँव चाटे दोस्त बन जाते हैंआगे पीछे घूम घूम सूंघ सूंघ सारी ख़बर... Read more
clicks 196 View   Vote 0 Like   4:52pm 22 Nov 2012 #chamche
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
Check out उँगलियों के इशारे नचाने लगी « Bhramar ka 'Dard' aur 'Darpan'... Read more
clicks 175 View   Vote 0 Like   6:04am 13 Oct 2012 #
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
Check out उँगलियों के इशारे नचाने लगी « Bhramar ka 'Dard' aur 'Darpan'... Read more
clicks 162 View   Vote 0 Like   6:04am 13 Oct 2012 #
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
अपने इस चमन के दो निराले और प्यारे प्यारे  फूल , इन्हें नमन और हार्दिक श्रद्धांजलिराष्ट्रपिता महात्मा गांधी -जन्मदिन  2 अक्टूबर 1869 काठियावाड़  पोरबंदर गुजरात - मृत्यु - नाथूराम गोडसे द्वारा गोली मारने से 30.जनवरी 1948 दिल्ली (भारत को ब्रिटिश साम्राज्य से मुक्ति दिलाने मे... Read more
clicks 184 View   Vote 0 Like   1:17pm 2 Oct 2012 #satyam
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
Check out एक ‘कवि’ बीबी से अकड़ा « Bhramar ka 'Dard' aur 'Darpan'... Read more
clicks 208 View   Vote 0 Like   10:40am 21 Aug 2012 #
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
Check out एक ‘कवि’ बीबी से अकड़ा « Bhramar ka 'Dard' aur 'Darpan'... Read more
clicks 210 View   Vote 0 Like   10:40am 21 Aug 2012 #
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
एक कवि जब खिन्न हुआ तो  बीबी से वो अकड़ाकमर कसा बीबी ने भी शुरू हुआ था झगडाकितनी मेहनत मै करता हूँकरूँ  कमाई सुनूं बॉस की रोता-गाता-आतासब्जी का थैला लटकाए आटे में रंग आताकभी कोयला लकड़ी लादूँ हुआ ‘कोयला’ आतादिन भर सोती भरे ऊर्जा लड़ने को दम आता ?पंखा झल दो चाय बनाओ सिर ... Read more
clicks 201 View   Vote 0 Like   5:34pm 13 Aug 2012 #aurat
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
कोख को बचाने को भाग रही औरतें ------------------------------------------ये कैसा अत्याचार है 'कोख' पे प्रहार है कोख को बचाने को भाग रही औरतें दानवों का राज या पूतना का ठाठ  है कंस राज आ गया क्या ?फूटे अपने भाग है ..रो रही औरतें --------------------उत्तर , मध्य , बिहार  से 'जींद' हरियाणा चलीं दर्द से कराह रोयीं आज ध... Read more
clicks 203 View   Vote 0 Like   12:12pm 15 Jul 2012 #bhroon hatya
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
हमारे प्रिय जांबाज कुश्ती के माहिर , पहलवानी से 50 के दशक में आये फिल्म जगत में छाये दारा  सिंह जी 84 तक साथ निभा अब हमें छोड़ चले ..नम  आँखों से हम उन्हें हार्दिक और भावभीनी श्रद्धांजलि देते हैं .....प्रभु उनकी आत्मा को शांति दे और उनके परिवार जन को इस कष्ट की बेला को झेल कर आग... Read more
clicks 202 View   Vote 0 Like   5:55pm 12 Jul 2012 #
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
असीमित विस्तार ममता अपारमाँ का प्यार !----------------सुख की मेहकरुना सागरमाँ का नेह !---------------त्याग  वलिदान सुख की खान"माँ" एक नाम !-------------------खुशियाँ किलकारीसर्व दुःखहारीमाँ अति प्यारी !----------------मरू में छायाअमृत धारामाँ की माया !------------------दो कुल का कुल-दीपक'लक्ष्मी'-जनती -कुल-दीपकरचती -मा... Read more
clicks 219 View   Vote 0 Like   4:26pm 13 May 2012 #
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
हैप्पी बर्थ डे टू “सत्यम “---------------------------मेरे प्यारे नन्हे मुन्नों मित्र हमारे दिल हो मात - पिता के बहुत दुलारे जग के तुम दीपक हो !------------------------------आओ अपने नन्हे कर से सुन्दर प्यारा जहाँ बनायें सूरज चंदा तारों से हम झिलमिल -झिलमिल इसे सजाएं !------------------------------------प्रेम की बहती अमृत धा... Read more
clicks 247 View   Vote 0 Like   2:49pm 26 Apr 2012 #
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
Check out हे प्रभु मुझको “जीरो” कर दे या कर दे तू “हीरो “ « Bhramar ka 'Dard' aur 'Darpan'... Read more
clicks 209 View   Vote 0 Like   4:17am 22 Apr 2012 #
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
Check out हे प्रभु मुझको “जीरो” कर दे या कर दे तू “हीरो “ « Bhramar ka 'Dard' aur 'Darpan'... Read more
clicks 210 View   Vote 0 Like   4:17am 22 Apr 2012 #
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
छोटी -छोटीबातें --------------------छोटीछोटीबातोंपर अनायासहीअनचाहे मनमुटावहोजाताहै दुरावहोजाताहै दूरीबढ़जातीहै हमतिलमिलाजातेहैं मौनहोजातेहैं अहमभागजाताहै मनकायक्षप्रश्नबारबार झकझोरताहै कुरेदताहै हमबड़ेहैं फले-फूलेहैं हमदेतेहैंपालतेहैं पोसतेहैं नजानेक्यों... Read more
clicks 180 View   Vote 0 Like   4:14am 14 Apr 2012 #
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
होरी खेलि रही सरकार—————————–अपनी अपनी थाप ढोल पेरोज बजाये जाती हैचोर-चोर मौसेरे भाईगाना-गाये जाती हैरंग -विरंगे मदिरालय काउदघाट्न करवाती हैबेंच -खोंच सब नशे सिखाकरअपना-धंधा चलवाती हैकर में “कर” को भरे हुएजोड़ -तोड़ घर बाहर करतीघर तो अपना भर डाली ?अब बाहर जा पहुंचात... Read more
clicks 180 View   Vote 0 Like   7:56pm 7 Apr 2012 #
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
यहीं खिलेंगे फूल——————–क्या सरकार है कैसे मंत्रीकाहे का सम्मान ??भिखमंगे जब गली गली होंभ्रष्टाचारी आम !——————————माँ बहनें जब कैद शाम कोभय से भागी फिरतींथाना पुलिस कचहरी सब में -दिखे दु:शासनबेचारी रोती हों फिरतीं——————————-बाल श्रमिक- होटल ढाबों मेंमैले –कुचले- भू... Read more
clicks 213 View   Vote 0 Like   3:17am 3 Apr 2012 #DARD
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
झरना से सरिता बन जाऊं-----------------------------------प्रभु जी मैंने पाल राखी है ज्योति पुंज की आशादुर्बल मूढ़ इतै उत भटकूँ ना समझूँ परिभाषातन का  मन का निज का उस का सुख क्या किसका अच्छा  ??अच्छा सच्चा यदि ये कहिये उसको वो क्यों अच्छा ??है आनंद रूप प्रभु तेरा तो वो नित तो पाताफिर अनुचित कह... Read more
clicks 164 View   Vote 0 Like   3:26am 1 Apr 2012 #
Blogger: surendra kumar shukla Bhramar5
झरना से सरिता बन जाऊं-----------------------------------प्रभु जी मैंने पाल राखी है ज्योति पुंज की आशादुर्बल मूढ़ इतै उत भटकूँ ना समझूँ परिभाषातन का  मन का निज का उस का सुख क्या किसका अच्छा  ??अच्छा सच्चा यदि ये कहिये उसको वो क्यों अच्छा ??है आनंद रूप प्रभु तेरा तो वो नित तो पाताफिर अनुचित कह जग ... Read more
clicks 200 View   Vote 0 Like   3:26am 1 Apr 2012 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4020) कुल पोस्ट (193860)