POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: THE FALLEN ANGEL

Blogger: srujana oruganti
यूँही कल रात को एक अजीब सी सोच में गुम जाती थी तेरी बातें, तेरी यादेंअब मुझे तन्हा नहीं करते  यूँही हँसते हुए अक्सर ना जाने फिर से क्यूँ अब पुरानी कुछ हसीन बातें मुझे फिर से रुलाती हैं वही देख कर अक्सर मेरी आंखे बरसती हैं मगर एक बात ये भी हैं कि तेरी मा... Read more
clicks 158 View   Vote 0 Like   2:59pm 14 Jan 2012 #
Blogger: srujana oruganti
वो साथ था तो ज़माना था हमसफ़र मेरा मगर अब कोई नहीं मेरे साथ उससे कहो बिखर रही हैं मेरी उमीदें उससे कहो कभी मिले तो यही बात उससे कहो उसे कहो कि बिन उसके दिन नहीं कटता सिसक सिसक के कटती हैं रातें मेरी उसे पुकारूँ या खुद ही चले जाऊं उसके पास नहीं है अब वो ह... Read more
clicks 164 View   Vote 0 Like   1:56pm 10 Jan 2012 #
Blogger: srujana oruganti
दर्द भरी ज़िन्दगी का सुराग ढूंढते हैं...हैं अंधेरों में गुम यहाँ कि चिराग ढूंढते हैं...बनाया था तमाशा ज़िन्दगी का, कुछ इस तरहकि उन मेहरबानियों को पता ढूंढते हैं... कोई है... ? अंधेरों में, मेरे दिल की शमा जला देआज हम अपनी बदनसीबी का राज़ ढूंढते हैं... हसरत का आईन... Read more
clicks 170 View   Vote 0 Like   5:33pm 6 Jan 2012 #hindi kavita
Blogger: srujana oruganti
प्यार का मीठा एहसास दिलाने लगा है तू अब तो मुझे मुझसे चुराने लगा हैं तू वीरान थी ये ज़िन्दगी तेरे आने से पहले खुशियों के सपने दिखाने लगा है तू हर पल होता है बस तेरा ही एहसास इस क़दर मेरी सांसों में समाने लगा है तू रास्ते पे चलते चलते अक्सर घूम जाती हूँ... Read more
clicks 480 View   Vote 0 Like   8:45am 11 Dec 2011 #
Blogger: srujana oruganti
मेरे लिए तुम उस चाँद की तरह हो जिसे मैं देख तो सकती हूँ पर कभी उसे पा नहीं सकती...मेरे लिए तुम उस चाँद की तरह हो जिसकी तरफ मैं हाथ तो बढ़ा सकती हूँ पर कभी उसे छू नहीं सकती...मेरे लिए तुम उस चाँद&nb... Read more
clicks 116 View   Vote 0 Like   2:55pm 27 Nov 2011 #hindi kavita
Blogger: srujana oruganti
नया साल लेके आएगा नए उम्मीदें जो पूरे होंगे कि नहीं, नहीं पता लेके आएगा नए रास्ते जो कहाँ तक ले जायेंगे नहीं पता लेके आएगा नए लोग जो क्या देंगे हमें नहीं पता लेके आएगा नयी सुबह जो कब तक रौशनी देगा नहीं पता लेके आएगा नए रिश्ते जो हमें निभा पाएंगे कि नहीं,... Read more
clicks 133 View   Vote 0 Like   3:47pm 15 Nov 2011 #
Blogger: srujana oruganti
मुझे लगता है ऐसा कभी - कभीजैसे वो अनजबी लड़का मुझसे प्यार करता था मुझे चाहता था अक्सर युही छुप- छुप कर …….देखता था..जाने क्या सोच कर नजरें चुरा लेता था कुछ घबरा सी जाती थी मैं महसूस मुझे यह होता था कि श... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   5:37pm 14 Nov 2011 #hindi kavita
Blogger: srujana oruganti
एक दिन तुमने थामा था हाथ मेरा मेरे हाथो से तुम्हारे हाथो की खुशबू नहीं जाती तुम बहुत प्यार से पुकारते थे नाम मेरा मेरे कानो से तुम्हारी वो आवाज़ नहीं जाती मैं बुलाती भी नहीं थी और तुम आ जाते थ... Read more
clicks 114 View   Vote 0 Like   5:26pm 18 Sep 2011 #
Blogger: srujana oruganti
आज जब दर्द के बादल छायेआज जब गम के साये लहराए जब आँसू पलकों तक आए जब ये तन्हा दिल घबराए जब ये दिल जोर से धड़कने लगे हम ने दिल को ये समझायादिल आखिर तू क्यूँ रोता है ?दुनिया में आखिर ऐसा ही होता&nbs... Read more
clicks 117 View   Vote 0 Like   6:16pm 5 Sep 2011 #
Blogger: srujana oruganti
काश! वो देख सकतेटूटे हुए दिल का हाल बहते हुए आंसुओं को इस अधूरे मौसम कोकाश! वो पढ़ सकतेमेरे हांथों की लकीरों कोमेरे ख़्वाबों कोइस दिल की धड़कन को काश! वो पढ़ पातेमेरे लफ़्जों की गहराइयों को मेरी आँखों की सच्चाई को महफ़िल की तन्हाई कोकाश! वो जोड़ सकत... Read more
clicks 135 View   Vote 0 Like   12:04pm 4 Sep 2011 #hindi kavita
Blogger: srujana oruganti
मेरी आँखों पे मरता था  मेरी बातों पे हँसता था मेरी अदाओं पे मिट जाता था मेरे आसुओं से उसे दर्द होता था ना जाने कौन था वो जो मुझे खोने से डरता था मुझसे जब भी मिलता था हर बार एक ही बात करता&nbs... Read more
clicks 115 View   Vote 0 Like   1:52pm 18 Aug 2011 #hindi kavita
Blogger: srujana oruganti
आज फिर दुनिया को भुलाने का मन कियाइस भीड़ से खुद को मिटने का मन कियाखो गयी थी ये रूह जाने किस रास्तेआज उसे सही राह लेन का मन कियाजिन अपनों को भुलाया था हमनेआज उन्हें याद कर जाने का मन कियाजिनका&nb... Read more
clicks 95 View   Vote 0 Like   7:26pm 9 Aug 2011 #hindi
Blogger: srujana oruganti
कोई आ कर मेरा हाथ थाम ले मुझे तनहाइयों से डर लगता है...समा जाए कोई मेरे वजूद में मुझे जुदाइयों से डर लगता है...मुहब्बत में डूब जाऊँ मैं भी मगर,मुझे गहराईयों से डर लगता है...कर लूँ बर्बाद ज़िन्दगी अपनी म... Read more
clicks 117 View   Vote 0 Like   4:05pm 28 Jul 2011 #
Blogger: srujana oruganti
हमारे ना होने से कुछ भी नहीं बदला,ये सूरज भी वहीँ से निकलता है,आसमान पे तारे भी निकलते हैं,और चाँद की चांदनी भी होती है...हवा भी चलती है,नदियाँ भी बहती हैं,फूल भी खिलते हैं,इनमें खुशबु भी होती है...संसार भी चलता है,लोग भी अपने अपने काम में मस्त हैं सब कुछ वही तो हैऔर वैसा ही ह... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   7:21pm 25 Jul 2011 #pyar
Blogger: srujana oruganti
कहाँ इतनी सज़ाएँ हो, भला इस जिंदगानी में,हजारों घर हुए रौशन जब मेरा दिल जला...सुकून की जिंदगी छोड़ दी एक तेरी खातिर,मगर फिर भी मेरी चाहत से तुम को है गिला...एक लफ्ज़ मोहब्बत की हमने भीख मांगी थी,तरस गए ख़ुशी को हम, मिली है बस यही सजा...टूटा हुआ ये दिल लेकर मैं किसके पास जाउंगी,ह... Read more
clicks 99 View   Vote 0 Like   3:57pm 24 Jul 2011 #hindi poem
Blogger: srujana oruganti
हर वक़्त लडाई करता रहता था,वो सब तो मुझसे बातें करने की कोशिश थी...देखा पलट के उसे के हसरत उसे भी थी,मैं जिस पे मिट गयी, मोहब्बत उसे भी थी...चुप हो गया था देख के वो भी इधर-उधर,दुनिया से मेरी तरह शिकायत, उसे भी थी...ये सोच कर अँधेरे को गले से लगा लिए,रातों को जागने की आदत उसे भी थी...त... Read more
clicks 99 View   Vote 0 Like   8:26pm 14 Jul 2011 #hindi
Blogger: srujana oruganti
एक उम्मीद की किरण के लिएएक जीवन की आशाकिरण के लिएएक रास्ते के अंत के लिए एक ख़ुशी की झोंके के लिए एक साथी के सहारे के लिए  एक रिश्ते की शुरुवात के लिए एक परीक्षा के अंजाम के लिए  कब होगा यह तरस का&nbs... Read more
clicks 96 View   Vote 0 Like   5:41am 15 Apr 2011 #
Blogger: srujana oruganti
खुशियाँ छिन गयीं सपने टूट गए उम्मीद के सारे द्वार बंद हो गएजीवन थम सा गया सांसें रुक गयी साथी बिछड़ गएप्यार दूर हो गया आंसुओं के सैलाब बहने लगे ... Read more
clicks 93 View   Vote 0 Like   5:37am 15 Apr 2011 #
Blogger: srujana oruganti
दो आँखें चाहिए देखने के लिएदो हाथ चाहिए ताली बजाने के लिएदो दिल मिलने चाहिए प्यार करने के लिए दो लोग चाहिए दोस्ती निभाने के लिए दो पैर चाहिए चलने के लिए सभी जगह दो दो चाहिए पर दिल टूटने का दर्द एक ही को क्यूँ ?... Read more
clicks 99 View   Vote 0 Like   11:28am 2 Apr 2011 #
Blogger: srujana oruganti
इनके आंसुओं का कारणइनके दिल पर पत्थर का बोझइनके परेशानियों का कारणइनके मजबूरियों  का कारणइनके दर्द का कारणइनके दिल की अशांति का कारण बनते रहेंगे आखिर कब तक ?... Read more
clicks 110 View   Vote 0 Like   11:23am 2 Apr 2011 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]


Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
Share:
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3941) कुल पोस्ट (195199)