POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: चलते -चलते...

Blogger: गिरिजेश कुमार
कल आधी रात के बाद मेरे मोबाईल पर एक मैसेज आया- “अन्ना के आंदोलन का एक साल पूरा हो गया। क्या बदल गया देश?” मेरा जवाब था “बड़े परिवर्तन में वक्त लगता है। निरंतर संघर्ष से ही हमें विजय हासिल होगी। अगर आप मानते हैं कि अन्ना का आंदोलन सही है, तो आपको भी इस लड़ाई को आगे बढ़ाने की जि... Read more
clicks 169 View   Vote 0 Like   9:12am 6 Apr 2012 #सरकार
Blogger: गिरिजेश कुमार
अपडेट  के  लिए नीचे जाएँ ये रिश्तों का क़त्ल  है! “वो लोग जबरदस्ती गाडी में बैठ गए। उसके बाद सब सामान माँगने लगे और फिर आंटी(Aunty) को बगल की गली में जाने कहा फिर मार दिया” यह बयान है चार साल के उस बच्चे का जिसकी आँखों के सामने उसकी आंटी का पहले सामूहिक बलात्कार किया गया, फिर ह... Read more
clicks 170 View   Vote 0 Like   8:49am 27 Mar 2012 #समाज
Blogger: गिरिजेश कुमार
किसी भी देश की पहचान इस बात से होती है कि वह अपने नायकों को किस तरह से याद करता है। भारत ही नहीं बल्कि विश्व इतिहास में देश के लिए त्याग और बलिदान के प्रतीक शहीद-ए-आजम भगत सिंह किसी परिचय के मोहताज़ नहीं हैं। अंग्रेजों के साम्राज्य विस्तार की नीतियों और पूंजीवादी व्यवस्थ... Read more
clicks 192 View   Vote 0 Like   6:30pm 22 Mar 2012 #देश
Blogger: गिरिजेश कुमार
अपनी पारंपरिक सुंदरता और खुशियों के मिश्रण का विहंगम संगम, होली आज बदरंग हो चुकी है। अगर कुछ बचा है तो वह है परम्पराओं के नाम पर रिवाजों को ढोने की मज़बूरी और धार्मिक आस्था, जिसे मानव समाज छोड़ नहीं सकता। एक वह समय होता था, जब होली की खुमारी फागुन के पूरे महीने रहती थी। फाग ... Read more
clicks 205 View   Vote 0 Like   6:49am 8 Mar 2012 #होली
Blogger: गिरिजेश कुमार
क्या हम किसी बड़े हादसे का इंतजार कर रहे हैं? मैं जिस बिल्डिंग में रहता हूँ वह कतई भूकंपरोधी नहीं है। ज़ाहिर है, अगर तेज झटके वाला  भूकम्प आया तो इन पंक्तियों का लेखक भी उस त्रासदी का शिकार हो सकता है। कल एक बार फिर देश के कई शहरों में भूकंप ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। देश ... Read more
clicks 196 View   Vote 0 Like   8:44pm 6 Mar 2012 #समाज
Blogger: गिरिजेश कुमार
शरीर पर गंदे, मैले कुचैले कपड़े, ठंड और उचित देखभाल न होने से हाथ पैर और चेहरों के चमड़े फटे-फटे, उम्र बमुश्किल 12-13 साल, आँखे किसी खरीदार के इंतजार में। यह किसी एक की कहानी नहीं है ऐसे कई चेहरे आपको सरकारी स्कूल के बाहर मिल जायेंगे, जिनकी ज़िन्दगी गुटखा, पान मसाला और तम्बाकू बे... Read more
clicks 229 View   Vote 0 Like   4:46pm 19 Feb 2012 #समाज
Blogger: गिरिजेश कुमार
रूबी सिंह फिल्म ‘डर्टी पिक्चर’ की ‘सिल्क’ को लोग डर्टी मानते हैं। हालाँकि सिल्क बाजारी है या विचारी, इसमें से किसी निष्कर्ष पर पहुँचना आसान नहीं है। लेकिन गंभीर और बड़ा सवाल यह है कि ‘सिल्क’ डर्टी है या सिस्टम? क्योंकि इस सिस्टम में सफलता के लिए या तो समझौता करना होत... Read more
clicks 156 View   Vote 0 Like   11:48am 12 Feb 2012 #
Blogger: गिरिजेश कुमार
आलीशान बंगले में खूबसूरती के सारे साजो-सामान करीने से रखे गए थे। हॉलनुमा कमरे में शीशे की तरह चमकते फर्श पर मँहगी कालीन, गद्देदार सोफ़ा, बीच में टेबल और सामने बड़ा सा रंगीन टेलीविजन। किसी भी घर के आर्थिक रूप से समृद्ध होने के परिचायक के रूप में इतना परिचय काफी है। यूँ तो उ... Read more
clicks 260 View   Vote 0 Like   5:41pm 1 Feb 2012 #उपेक्षा
Blogger: गिरिजेश कुमार
<!--[if gte mso 9]> Normal 0 false false false EN-US X-NONE HI <![endif]--><!--[if gte mso 9]> ... Read more
clicks 221 View   Vote 0 Like   12:58pm 14 Jan 2012 #सूरत
Blogger: गिरिजेश कुमार
पुरुष वर्चस्ववादी सामाजिक अवधारणा में स्त्रियों के साथ दुर्व्यवहार कोई नई बात नहीं है लेकिन बदलते परिवेश में सीमित सोच और घटिया मानसिकता पूरी  व्यवस्था के लिए घातक है। सवाल है चंद लफंगे पुरे समाज को चुनौती देने का दुस्साहस कैसे कर लेते हैं? सवाल यह भी है कि यह सिलसि... Read more
clicks 144 View   Vote 0 Like   9:02am 27 Nov 2011 #छेड़खानी
Blogger: गिरिजेश कुमार
अन्ना का आंदोलन तो टाँय-टाँय फिस्स हो गया न? कंप्यूटर पर कुछ ज़रुरी काम करने के दौरान एक पुराने मित्र का फोन पर यही पहला सवाल था। कई दिनों के बाद अचानक आए फोन पर इस सवाल ने थोड़ी देर के लिए तो मुझे भी सकते में डाल दिया। फिर जवाब दिया अभी अधीर  होने की ज़रूरत शायद नहीं है क्यो... Read more
clicks 151 View   Vote 0 Like   9:15am 23 Nov 2011 #आंदोलन
Blogger: गिरिजेश कुमार
चमचमाती सड़कें, उसपर फर्राटेदार दौड़ती मंहगी कारें और आसमान को छूती इमारतें निश्चित ही किसी भी देश के विकसित और समृद्ध होने का प्रमाण हो सकती हैं लेकिन मुश्किल तब होती है जब इस चकाचौंध में हमारी आँखे इतनी चौंधिया जाती हैं कि हम उसके पीछे छिपे काले अंधेरे को देख नहीं पा... Read more
clicks 169 View   Vote 0 Like   11:37am 27 Sep 2011 #सरकार
Blogger: गिरिजेश कुमार
 लोकतंत्र पर मंडरा रहा है खतरा विविधताओं से भरे इस देश में व्यवस्थागत अराजकता फैले यह हममे से कोई नहीं चाहेगा लेकिन जो परिस्थितियां हाल के दिनों में देश में बनी हैं, जिस तरह से संसद और समाज आमने-सामने दिख रहे हैं या कहें कि संसद और समाज के बीच दुरी बढ़ी है वह इशारा उसी व्... Read more
clicks 145 View   Vote 0 Like   3:30pm 6 Aug 2011 #राजनीति
Blogger: गिरिजेश कुमार
                उदारीकरण के 20 साल, आखिर हासिल क्या हुआ?           विकास के लिए विदेशी पूँजी निवेश की चाह लिए तक़रीबन दो दशक पहले जिस उदारीकरण को तात्कालीन नरसिंह राव की कांग्रेस सरकार ने इस देश मे लागू किया उसने आम आदमी को आखिर दिया क्या? आज जब उदारीकरण को २० साल हो चुके हैं तो स... Read more
clicks 162 View   Vote 0 Like   12:18pm 25 Jul 2011 #उदारीकरण
Blogger: गिरिजेश कुमार
 कह सकते हैं कि धमाकों के सिर्फ बारह घंटे बाद ही जिस तरह से मुंबई अपने रंग मे आ गई और लोग सड़कों पर उसी तरह से दौड़ने लगे जैसे कुछ हुआ ही नहीं, वो हमारी जिजीविषा, मुश्किलों से लड़ने की हमारी शक्ति और इंसानियत के हत्यारों के खिलाफ़ हमारी एकजुटता को प्रदर्शित करती है| हम यह भी कह ... Read more
clicks 159 View   Vote 0 Like   7:45am 17 Jul 2011 #आम आदमी
Blogger: गिरिजेश कुमार
 समाज और देश का नेतृत्व करना सब के वश की बात नहीं होती| यह काम नेताओं का होता है, एक नेता वह होता है जिसके दिमाग मे समाज के विकास की दूरदर्शी योजनाएं होती हैं| उसकी जिंदगी का हर एक मिनट अपने देश की तरक्की और नए मुकाम हासिल करने के रास्तों पर विचार करने मे बीतता है| नेता जी सु... Read more
clicks 152 View   Vote 0 Like   10:23am 13 Jul 2011 #देश
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4019) कुल पोस्ट (193752)