POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: सुनिये मेरी भी....

Blogger: प्रवीण
...बड़े शहर के अनेकों रेलवे स्टेशनों में यह एक कम व्यस्त स्टेशन है, मेरी ट्रेन अल सुबह 12.45 की प्लेटफॉर्म पाँच से है, पर मैं पूरे सवा घण्टे पहले पहुँच गया हूँ, पूरब जाना है, देखता हूँ कि सवा घण्टे पहले भी प्लेटफॉर्म की सारी बेंचें लोग कब्ज़ा लिये हैं, मुझे एक नम्बर एकदम खाली दिख... Read more
clicks 39 View   Vote 0 Like   2:56pm 29 Sep 2019 #
Blogger: प्रवीण
...सदी का आविष्कार !और आखिरकार वह दिन आ ही गया, जब बिट्टू ने अपनी खोज का फाइनल टैस्ट करना था, भैया अब केवल कार का ही प्रयोग करते थे, बाइक पूरी तरह उसी की थी, दिन में उसने भैया की बाइक की टंकी पूरी तरह खाली की, ठीक एक लीटर तेल भरा, आधा लीटर बोतल में ले ठीक बारह बजे हाइवे पर बाइक 40 की... Read more
clicks 29 View   Vote 0 Like   8:04am 7 Jul 2019 #
Blogger: प्रवीण
...सुबह की सैर के दौरानदिखती है अक्सर हीस्कूल जाती बच्चियाँकरीने से दो चोटी बनायेसाफ सुथरी यूनिफॉर्म पहनेहाथों में भी किताबें संभालेएक दूसरे से चुहल करकेफिर हँसती मुस्कुराती हुईचिड़ियों सी चहचहाते हुऐस्कूल नहीं है दरअसल वोवह तो है कारखाना एकजहाँ बनायेगी बच्ची हरे... Read more
clicks 115 View   Vote 0 Like   2:54pm 29 Aug 2017 #हिन्दी-ब्लॉगिंग
Blogger: प्रवीण
...ऑटो से उतरते ही ICU की ओर भागी सिस्टर मथाई, एक साल पहले रिटायर भले ही हो गयीं हों वे, पर आज भी अस्पताल का हर कोई उनको जानता है... क्यूबिकल 4 के बाहर पहुँचते ही ठिठकीं वो, अंदर डॉ सत्येन कप्पू अविजित को देख अपने नोट्स लिख रहे थे, बेड पर दाहिना घुटना टिकाये अपने चिरपरिचित अंदाज म... Read more
clicks 150 View   Vote 0 Like   12:05pm 16 Aug 2017 #कहानी
Blogger: प्रवीण
...छुट्टी का दिन था आजलंच के बाद जमकर अलसाये सबउठने के बाद उसने होमवर्क कियाबोर्नविटा धीरे धीरे पीते हुएफिर माँ के मोबाइल को हथियायाऔर खोल लिया फेवरेट यूट्यूबवौइस् सर्च कर घंटों देखे उसनेपॉमपॉम, टॉम एंड जेरी, ब्रूस लीऔर भालू-माशा के अनगिनत वीडियोदेखती रही तब तक, जब तक ... Read more
clicks 114 View   Vote 0 Like   3:47pm 9 Aug 2017 #बिटिया रानी
Blogger: प्रवीण
...टीवी पर लगातार चोटी कटवा की खबरें आ रहीं हैं, न्यूज एंकर बता रहा है कि राजस्थान के नोखा कस्बे में पहली चोटी कटने के बाद से पिछले दो हफ्तों में यह 1800वां मामला है... डॉ अनुपम मानव इन सब खबरों को देखते हुए अपनी पत्नी अनुपमा और इकलौती बेटी अनुपम ज्योति के साथ डिनर ले रहे हैं... अ... Read more
clicks 117 View   Vote 0 Like   12:55pm 5 Aug 2017 #चोटी कटवा
Blogger: प्रवीण
...दुविधा में था काफी दिनों से, इन दोनों में से एक ही को चुनना होगा आखिरकार... कल जी कड़ा करके फैसला करने की सोची... पहला प्यार ब्लॉगिंग हेड और फ़ेसबुक टेल... जो भी आयेगा, आगे बस उसी को समय दिया जायेगा... और खुली छत में जाकर उछाल ही दिया सिक्का...उछले सिक्के को लपक कर हथेलियों में समेट... Read more
clicks 112 View   Vote 0 Like   9:49am 1 Aug 2017 #
Blogger: प्रवीण
...'फालतू में !'नया शहर है मेरे लिये, कल देर शाम यों ही एक्सप्लोर करने निकला, एक बड़ी, मात्र नमकीन की दुकान दिखी तो याद आया कि नमकीन भी खरीदनी थी, दुकान बन्द करने का समय हो गया था शायद, मैंने अंदर जाकर अपने दोनों आइटम बनाना चिप्स और बादाम लच्छा खरीदे, पेमेंट कर रहा था कि दुकान मा... Read more
clicks 117 View   Vote 0 Like   4:28am 23 Jul 2017 #
Blogger: प्रवीण
...प्रश्न बड़ा है!पोखर में पूरी डूब मस्त तैरते, मात्र सिर नथुने पानी से निकाले बाहर कोआँखे बन्द कर जुगाली में तल्लीन है, एक पूरा का पूरा भैंसों का दल वोरिमझिम बरसात में, तैयार किये, पानी भरे, चित्र से लगते अपने खेतों मेंमुट्ठी से नाप नाप, धान की पौध रोपता है अन्नदाता और उसका ... Read more
clicks 130 View   Vote 0 Like   2:22am 18 Jul 2017 #Big Question
Blogger: प्रवीण
...औरआज भी सूरज निकलेगाहोगी बारिश भी कहीं कहींकहीं ठंडी ठंडी हवा चलेंगीतो होगी कहीं उमस-घुटन भीऔरआज भी होगा वही बाजारपार्क भी होगा वैसे ही गुलजारअड़ेगा कोई बच्चा आइसक्रीम कोमनाया जायेगा भेलपुरी दिलाकरऔरदुकान आज भी खोलेंगे लालाजीसमोसे जलेबी छानेंगे कारीगर भीबिकेंग... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   1:14pm 1 Jul 2017 #
Blogger: प्रवीण
...मेरे ब्लॉगर और फ़ेसबुकिया मित्रों,थोड़ा सा भी सोचें अगर, तो सबसे बड़ी वह बात जो आपको मुझ से और मुझे आपसे जोड़ रही है वह है हम दोनों की भाषा, यानी आज के हिन्दुस्तान की हिंदी...मैं कोई भाषा विशेषज्ञ नहीं, और न ही मैं हिन्दी अथवा किसी भी अन्य भाषा में शुद्धता और शास्त्रीयता का आग... Read more
clicks 131 View   Vote 0 Like   6:35pm 30 Jun 2017 #
Blogger: प्रवीण
...ब्लॉग पर लिखना हो नहीं पाता आजकल, इसलिये फेसबुक की कुछ खुराफातें ब्लॉग पर... क्या किया जाये मित्रों, आखिर ब्लॉग को जिन्दा भी जो रखना है... :)१-प्रवीण 'सुनिये मेरी भी'March 10 at 6:46pm · लप्रेक पढ़ीं होंगी आपने, आज पढ़िये 'अलक' (अति लघु कथा)गाँव का स्टेशन... चाय की दुकान पर बारह साल का लड़क... Read more
clicks 248 View   Vote 0 Like   1:13pm 14 Mar 2015 #अलक
Blogger: प्रवीण
Search9+प्रवीण 'सुनिये मेरी भी'November 9 at 10:34am · Edited · इतवारी फेसबुक चिन्तन:-किसी के प्रति (यहाँ स्त्री-पुरुष, स्त्री-स्त्री व पुरुष-पुरुष के प्रेम की बात कर रहा हूँ मैं)# अपने प्रेम को अभिव्यक्त करने के तरीकों में 'सार्वजनिक चुम्बन'की गिनती कुछ निश्चित रूप से फूहड़ तरीकों में आत... Read more
clicks 188 View   Vote 0 Like   2:52am 12 Nov 2014 #
Blogger: प्रवीण
...कितने नासमझ हैं वोजो मुझे गालियाँ देते हैंमेरी लिखी-कही बात परशायद वो नहीं जानतेइतनी अक्ल नहीं है उनमेंया जानना ही नहीं चाहतेकि मैं हरदम-हमेशा हीउनकी इन्हीं गालियों काबेसब्री से करता हूँ इंतजारयही गालियाँ तो बताती हैंमुझमें विश्वास जगाती हैंकि चोट सही जगह पर थी&nbs... Read more
clicks 198 View   Vote 0 Like   2:44am 12 Nov 2014 #
Blogger: प्रवीण
...कितने नासमझ हैं वोजो मुझे गालियाँ देते हैंमेरी लिखी-कही बात परशायद वो नहीं जानतेइतनी अक्ल नहीं है उनमेंया जानना ही नहीं चाहतेकि मैं हरदम-हमेशा हीउनकी इन्हीं गालियों काबेसब्री से करता हूँ इंतजारयही गालियाँ तो बताती हैंमुझमें विश्वास जगाती हैंकि चोट सही जगह पर थी&nbs... Read more
clicks 209 View   Vote 0 Like   2:44am 12 Nov 2014 #
Blogger: प्रवीण
...पिता ने उसे दूर से ही देख लिया, उसने गेट खोला और दौड़ कर पास गये दोनों कुत्तों को प्यार से सहलाने लगा।"जाओ बिटिया, कल के तीनों अख़बार महावीर को दे दो जाकर, तैयारी कर रहा है वह इम्तिहान की"..."हुं, जाये मेरी जूती, क्या जरूरत है इस तरह के सड़क के बच्चों को इतने ऊँचे ख़्वाब देखने की?"...... Read more
clicks 179 View   Vote 0 Like   1:18pm 25 Oct 2014 #
Blogger: प्रवीण
...असल आपत्ति थीऔर विरोध भी तोइस बात का ही थाकि आखिर क्यों किसकरकिसी पुरानी लड़ाईमें जीतने वाले कोबना दिया गया हैसर्वगुण सम्पन्न देवताउसे पूजते हैं लोगभव्य मंदिर बनाकरउसी पुरानी लड़ाई मेंहारने वाले योद्धा कोकह दिया जाता है असुरहर बुराई से लदा-भराऔर उसकी उस मौत काहोता ... Read more
clicks 201 View   Vote 0 Like   11:14am 19 Oct 2014 #
Blogger: प्रवीण
...मैं नहींसचमुच नहींडरता हूँगालियों सेठीक हैकि आज तुमबिना मुझेजाने समझेबूझे गुनेदे जाते होबेशुमार गालियाँफिर भीमेरे अजीज़ दोस्तबहुत खुश हूँमैं तुम्हारीउन गालियों सेदेते रहोरोजाना उनकोनियम सेलगातारफिर आयेगाएक दिनवह दिन भीजब आख़िरकारतुम्हारे शब्दकोष मेंनहीं ब... Read more
clicks 212 View   Vote 0 Like   3:32am 17 Oct 2014 #गालियाँ
Blogger: प्रवीण
...प्रवीण 'सुनिये मेरी भी'Mon · Edited · वो कौन था ?(धारावाहिक फेसबुक कहानी या जो कुछ भी आप इसे कहना चाहें)31 नवम्बर 2014 (भाग-2)'गोल्फ़'द्वारा मिला मेरा आज का टास्क है कि मुझे अपनी वाल का हर फेसबुक स्टेटस एकदम एकाग्र हो पढ़ना है, क्योंकि उन्हीं में मेरा अगला असाइनमेंट छुपा है। अब आप... Read more
clicks 209 View   Vote 0 Like   2:54pm 14 Sep 2014 #
Blogger: प्रवीण
...शुरुआती तैयारी...प्रवीण 'सुनिये मेरी भी'September 4 at 8:51am · Edited · यहीं अपनी फेसबुक वाल पर एक धारावाहिक रहस्य कथा लिखना चाहता हूँ, इस कहानी के किरदार होंगे मेरे ब्लॉगर-फेसबुक मित्र, कहानी में जब भी उनका जिक्र आयेगा तो टैग करूँगा, कहानी की माँग के अनुसार उनके चरित्र चित्रण मे... Read more
clicks 199 View   Vote 0 Like   4:38pm 13 Sep 2014 #
Blogger: प्रवीण
...जब मैंकविता को हीखातापीताबरततारगड़ताओढ़ताबिछाताहूँ सारे दिनमैं तोकविता को हीजीता हूँऔर उसमें हीहूँमरता भीपूरा दिनकविता से हीहूँ मैंबोलताबतियाताबहस करतागपियाताकविता हीहै मेरी मुस्कानहँसीऔर ठहाका भीदुखी होतारोता भीहूँ मैंकविता में हीऔर तो औरनहात... Read more
clicks 221 View   Vote 0 Like   1:21am 3 Sep 2014 #
Blogger: प्रवीण
...क्या यह एक अज़ीब सा इत्तेफ़ाक नहीं, कि खाकसार भी इसी साल अपनी ज़िन्दगी के पैंतालीस बरस पूरे करेगा ?... 'पैंतालीस बरस का आदमी'किसी की भी गलत बात परपहले की तरह उसे अबअनियंत्रित क्रोध नहीं आताकाफी शान्त जो हो गया हैपैंतालीस बरस का आदमीनहीं सोचता अब बदलने कीदुनिया औ निज़ाम को ... Read more
clicks 202 View   Vote 0 Like   3:36am 29 Aug 2014 #
Blogger: प्रवीण
...आज पंद्रह अगस्त हैसुबह सुबह निकला हूँअपने ऑफिस की ओरझन्डा जो फहराना हैमुल्क की आजादी काउत्सव एक मनाना हैऔर मुझे दिखता हैशहर का वह चौराहाजहाँ पर अल्ल सुबहफहरा के चला गया हैहमारा राष्ट्र ध्वज कोईइसकी गवाही दे रहे हैंबिखरी गुलाब की पंखुडियांसड़क पर पड़ा ढेर सा चूनाऔर ... Read more
clicks 220 View   Vote 0 Like   6:16am 15 Aug 2014 #
Blogger: प्रवीण
...बात बहुत पहले की है, मैं छुट्टियों में घर गया था... सुबह सुबह एक पड़ोसन घर आई और न्योता दिया एक आयोजन का, बोली "पंजाब से हमारे गुरु जी आने वाले हैं "... हम सब भाइयों और बहन के अनिच्छा जताने पर भी माँ ने बहन की ड्यूटी लगा दी उस फंक्शन को अटेंड करने की और मेरी ड्यूटी लग गयी अपने से स... Read more
clicks 226 View   Vote 0 Like   1:22pm 10 Jun 2014 #Gurudom
Blogger: प्रवीण
...इस मेंउस मेंतुझ मेंतुम सब में हीहै ऐसा कोई ?जो काबिल होमेरे, हाँ, मेरे हीविचार कानजर काभरोसे काजिम्मेदारी कागुस्से काप्यार काइल्ज़ामों काआभार कागालियों का भीअब जब तुम किसी काम केहो ही नहींतो पकड़ो मेरायह मौन समर्थनया बताओ मुझेकि मैं तुम्हाराक्यों विरोध करूँ ?...... Read more
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4011) कुल पोस्ट (192142)