Hamarivani.com

तितली

                          क्या मानव को सूझा फिर से , कौतुक कोई न्याराया संदेसा लिखकर भेजा,उसने कोई प्याराकैसा यह नोटिस है मम्मा,मुझको भी बतलाओपढ़ना लिखना मुझको भाए,थोड़ा तो सिखलाओचाहूँ तो बेटा मैं भी यह,तुमको खूब पढाऊँलेकिन भूल मनुज की देखूँ,सोच सोच घबराऊँका...
तितली...
Tag :
  June 19, 2016, 1:29 pm
नन्नू आओ माही आओ,खेलेंगे हम होली मीठी गुझिया में मम्मी ने,मेवा-मिश्री घोली गली गली हुडदंग मचाते,घूमें नन्हे तारे अगर ढोल पर ताल बजी तो, थिरकेंगे मिल सारे भर पिचकारी तुम ले आओ,मैं रंगों की थाली सुर में चाहे चाहे बेसुर,गायें मिल क़व्वाली गुब्बारों से दूर रहें हम,हो बरबाद न ...
तितली...
Tag :
  March 6, 2015, 9:55 pm
भींत पार की सुन्दर दुनिया क्या सचमुच है भूल-भुलैया कोई तो मुझको ले जाए बॉटल टिफिन नये दिलवाएविद्यालय का बस्ता भारी करनी पड़े खूब तैयारीअक्सर मुझे डराते भैया लेकिन मैं जाऊँगा मैया ईंट सहारे ऊपर चढ़कर कल ना देखूँगा मैं छुपकर नित-नित मैं व्यायाम करूँगाजीवन में शुभ काम कर...
तितली...
Tag :
  May 31, 2014, 6:17 am
मस्त मस्त नाचे अलबेली रंगरेजों की आई टोली मन का कचरा आज जलाकर द्वेष दर्द को चले मिटाकर        जूही चंपा और चमेली फूलों से भर लेंगे झोली आया फागुन प्रेम जगाएं नफरत को हम दूर भगाएं थाली में रख मीठी बोली आ री ! आली खेलें होली चित्र गूगल से साभार ...
तितली...
Tag :
  March 15, 2014, 6:06 pm
राखी का था जब त्यौहार घड़ी मिली मुझको उपहार रंग अनोखा उसका लाल मुझे उठाती प्रात:काल कुकड़ू कूँ की देती टेरकहती उठ जा होगी देर घड़ी समय का देती ज्ञान पलपल का रखना तुम ध्यान समय बताती रहकर मौन बूझो तो यह लाया कौन भैया ने दी गुल्लक खोल कहते बहना है अनमोल चित्र गूगल से साभार ...
तितली...
Tag :
  February 12, 2014, 9:50 pm
फरफर करती उड़ती जाती  मन को ये भाने वाली है रंग बिरंगे रूप सजाये पतंग मेरी मतवाली है कोई माथे चाँद सजाये कभी तिरंगा हम फहराएं संग दूसरों के मिलजुलकर खेले वो खेल निराली है लम्बी सी इक पूंछ लगायेसर पर ताज पहन इठलाये बादल से है दौड़ लगाती पंछी से करे ठिठोली है छूट डोर हाथों ...
तितली...
Tag :
  January 4, 2014, 6:22 am
सजी सजीली नन्हीं गुड़ियाशरमाई आफत की पुड़ियामिल कर उसका ब्याह रचाया मंडप प्यारा खूब सजाया बजती है ढोलक शहनाई मस्ती में बाराती भाई पकवानों का दौर चलेगा गायें नाचें रंग जमेगा खेल सभी मिलकर खेलेंगे कभी न प्यारे हम झगड़ेंगे छवि : गूगल से साभार ...
तितली...
Tag :
  December 13, 2013, 6:47 am
रंग बिरंगे फूल विराजे एक टांग पर तिकधिन नाचे जैसे गुडिया फ्रॉक निराला मेरा छाता है मतवाला बरखा से वो मुझे बचायेभरी धूप माथा सहलायेदादा जी का साथी सच्चा लगता नाना को भी अच्छा मोर नाचते जब उपवन में इन्द्रधनुष सजते हैं नभ में छाता मेरा मुझे बुलाये गोल गोल घूमे इतरायेचित...
तितली...
Tag :
  November 24, 2013, 9:44 pm
नभ आँगन को छूकर चहकूँ, थामे हाथ तिहारानाजुक न्यारा हम दोनों का, रिश्ता दादू प्यारामहावीर गौतम कोलंबस, सुनूँ सभी गाथाएंब्लॉग आपके लिखकर सीखूं, रसभीनी कवितायेंसभी जटिलताएं जीवन की, अनुभव से सुलझानाकंप्यूटर पर हम ढूंढेंगे, कोई खास पुरानाविश्वास जगाता है हरदम, ये बाँहो...
तितली...
Tag :
  September 21, 2013, 4:29 pm
माँ तुम अब के सावन की रुत आँगन में इक पेड़ लगा दो नहीं चाहता खेल खिलौने बस छोटा सा पेड़ लगा दो शोर मचाते मोटर बन्दर अब नहीं जीतते मेरा मन मशीनगन का नहीं फायदा टैंकों ने कब जीते दुश्मन बैठे जिस पर चिड़िया चुनमुन ऐसा सुन्दर पेड़  लगा दोहरा रंग सबको हर्षाये खिले फूल राही ल...
तितली...
Tag :
  August 11, 2013, 6:52 am
                                      इक कालीन कहीं मिल जाए सैर गगन की हम कर आयें उड़नखटोला लेकर मित्रों फूलों की घाटी तक जाएँरंग बिरंगे फूल खिले हों गुंजन भँवरे भी करते हों बुलबुल मीठा गान सुनाती अठखेली पंछी करते हों तितली रस फूलों से लाये सौरभ सबका मन हर्षाये नन्हा सा इक बीज उगाकरह...
तितली...
Tag :बालकविता
  June 22, 2013, 6:36 am
बहुत दिनों से बच्चों के लिए कुछ पोस्ट नहीं कर पा रही ...सोचा ये विडियो शेयर करूँ जो मुझे बहुत अच्छे लगेhttp://www.facebook.com/photo.php?v=10151387305778271&set=vb.157749278270&type=2&theaterऔर http://www.facebook.com/photo.php?v=329252280424882&set=vb.130228097083223&type=2&theater...
तितली...
Tag :
  March 21, 2013, 6:34 am

बहुत दिनों से बच्चों के लिए कुछ पोस्ट नहीं कर पा रही ...सोचा ये विडियो शेयर करूँ जो मुझे बहुत अच्छे लगेhttp://www.facebook.com/photo.php?v=10151387305778271&set=vb.157749278270&type=2&theaterऔर http://www.facebook.com/photo.php?v=329252280424882&set=vb.130228097083223&type=2&theater...
तितली...
Tag :
  March 21, 2013, 6:34 am
छोटा सा गोल-गप्पे वाला  काम है देखो बड़ा निराला नन्हीं नन्हीं पूरी बनाकर कद्दू सा फिर उन्हें फुलाकर भरे वो खट्टा मीठा पानी मिर्च लगे तो दे गुडधानी सुना है रोज वो जाता स्कूल कभी होम वर्क गया जो भूल लेकिन देखी उसकी मेहनतसाथी सब करते हैं इज्जत माना मंजिल थोड़ी दूर काम लगन ...
तितली...
Tag :बालकविता
  December 4, 2012, 7:33 am
देखो तो धरती पर तारे कितने सारे प्यारे प्यारे तुम मेरे घर रहने आये साथ नहीं क्यों चाँद को लाये आज कहीं तुम रस्ता भूले पास इतने कि हम भी छूलें आसमान से उतर के आये चमचम करते मन को भाये दौडू और हाथ में ले लूँ या माँ के आँचल में भर लूं वापस ना ये जाने पायें माचिस की इक डिबिया ला...
तितली...
Tag :
  December 4, 2012, 6:56 am
ना सांस लेते दिखाई दें ना बात करते सुनाई दें ना चलते न दौड़ ही पाते मगर सजीव ये कहलाते ज्ञान गंगा डुबकी लगाओ भैया मेरे मुझे बताओ मम्मी मुझको देती खाना चिड़िया भी है खाती दाना पेड़ कहाँ से भोजन पायें बिना हाथों कैसे पकाएं खाना इन्हें भेजता कौन बोलो न भैया क्यों हो मौन पत...
तितली...
Tag :बालकविता
  October 21, 2012, 9:32 pm
छपाछप छैया ताल तलैया नाचूँ मैं और मेरा भैया बनी तो यह कागज की लेकिन मुझको प्यारी मेरी नैया    बिन पानी तो चलती कैसे डूब डूब उतराती कैसे बिन मोटर और बिन पतवार ठुमक ठुमक इतराती ऐसे दूर देश की सैर करे हम बाधाओं से नहीं डरें हम ठानी मन में नया करें कुछ बन कोलम्बस बढे कदम ...
तितली...
Tag :बालकविता
  September 3, 2012, 7:11 am
कितने दिनों तक देखी बाटमाँ से आज बनवाई चाट आलू मटर छोले नमकीन अब तो अपने हो गए ठाट पत्ते पर था उसे सजाया चाट मसाला भी बुरकाया चटनी भी थी खट्टी मीठीचाट चाट के सबने खायाखुशबू थी कुछ उसकी ऐसीजान गए थे सभी पड़ोसी हम तो सारे मिल जुल बैठे बिल्लू अब्दुल पिंटू जस्सीमानो जीभ लगे ...
तितली...
Tag :बालकविता
  July 18, 2012, 8:59 pm
छोटे राजा नन्हीं रानी फ़ौज है किन्तु उनकी भारी जुटा रहे हैं दाना–पानीकहलाये सामाजिक प्राणी बातें करती भागी फिरती मेहनत की हैं वो पुजारी गिरती उठती उठकर चलतीलेकिन हार कभी ना मानी चीनी मीठे की दीवानी निश्चय होगी मीठी वाणी कहती हो तुम कौन कहानी चींटी रानी चींटी रानीimages ...
तितली...
Tag :बालकविता
  June 19, 2012, 9:27 pm
गुनगुन करतेगीत सुनाते बिना बात सिरपर चढ़ जाते गगन तले व नदीकिनारे रहें पार्क मेंसाथ हमारे सुई लगाता बनकरडॉक्टर बीमारी दे जाताअक्सर साढ़े तीन हैंनाम में अक्षर जी हाँ दादू वोहैं मच्छर दादी को मैनेंबतलाया मजबूत इक किलाबनवाया द्वार नहीं परकई झरोखे लेकिन मच्छर इकन झाँ...
तितली...
Tag :बालकविता
  April 13, 2012, 8:49 pm
आ गए परीक्षा के दिन... तो याद करने के लिये अपनाएं कुछ मजेदार तरीकेजैसे-पर्यायवाची1भूमि धरती मही धरणी पृथ्वी के हैं नाम सभी 2नदी पार ले जाये जो नौका नाव तरी तरणी3रात्रि रात निशा यामिनी  रजनी या फिर विभावरी 4मत्स्य मीन मकर शफरी जल बिन तडपे रे मछली 5कुंजर नाग मतंग करी गज हाथी क...
तितली...
Tag :बालकविता
  March 12, 2012, 10:25 pm
बूढी दादी रहे अकेलीसंग साथ न कोई सहेलीदिन भर खुद से बात करे हैया सुलझाए कोई पहेलीचलो काम में हाथ बंटाएंसमय थोडा सा संग बिताएंदादी के हम नन्हें साथीउसे कहेंगे कथा सुनाएँचित्र : गूगल से साभार ...
तितली...
Tag :
  February 8, 2012, 6:56 am
खिल रहे रंग छाई उमंग मन में तरंग लाई पतंग तक धिन धिन ना                              झूमती डोर उठती हिलोर मन हुआ मोर हो रहा शोर अरे !छूटे ना प्राणों की जंग सपने पतंगरहना दबंग सुन रे! मलंग कट जाये ना उठे फिर गिरे गिरे फिर उठे सुनो क्या कहे छूटे टूटे तो रूठो ना !करो एक बार फिर तेज धार बन हो...
तितली...
Tag :बालकविता
  January 12, 2012, 9:21 pm
नॉर्थपोल का रहने वाला मैं दुनिया में सबसे आला नहीं अन्जानी है यह बात आता सिर्फ क्रिसमस की रात सांता क्लॉज है मेरा नाम प्यार बांटना मेरा काम रुनझुन रुनझुन घंटी बाँधी चन्द्र किरण की करूँ सवारी स्लेज कहाये मेरी गाड़ीलाल सूट है लंबी दाढ़ी गाँव हमारा बड़ा निराला माह जून म...
तितली...
Tag :बालकविता
  December 21, 2011, 8:58 pm
ताम ताम ते तत ते तानीमैं तो हूँ शैतान की नानीपूंछ उठाकर छम छम नाचेछोटी नटखट चुहिया रानीनीचे ऊपर ऊपर नीचेचादर ताने परदे खींचेलगा के ऐनक ऐसे बैठेजैसे कोई चिट्ठी बांचेदूर से बिल्ली देख  रही थीपलकें झप झप झपक रही थीकैसे पकडूँ कैसे झपटूँबैठी बैठी सोच रही थीदोहराऊँगी वही ...
तितली...
Tag :बालकविता
  November 30, 2011, 10:23 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3694) कुल पोस्ट (169756)