POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: अपनी माटी डॉट कॉम(www.ApniMaati.com)

Blogger: Manik Ji
जून 2013 अंक                                 योगेश कानवा कविता और कहानी में  सधा हुआ हाथ है। आकाशवाणी चित्तौड़गढ़ में  कार्यक्रम अधिकारी है। मूल रूप से जयपुर के हैं। मेडिकल सेवाओं में रहने के बाद  सालों से आकाशवाणी में हैं। तीन पुस्तकें  (हिंदी और राजस्थानी में  एक-एक कविता संग... Read more
clicks 293 View   Vote 0 Like   3:30pm 25 May 2013 #योगेश कानवा
Blogger: Manik Ji
सम्पादकीय:यहाँ अब मन्ना नहीं रहते झरोखा:भवानी प्रसाद मिश्र टिप्पणी:इतिहास लेखन को चुनौती देता ‘एकलव्य उवाच’ : पुखराज जाँगिड़ आलेख: गुलज़ार-एक शर्मीला परिन्दा / सुरेन्द्र डी. सोनी आलेख:जयशंकर प्रसाद के समग्र साहित्य / राजीव आनंद आलेख:'धूमिल की कविताओं की शक्ति' / शैलेन्... Read more
clicks 365 View   Vote 0 Like   5:15pm 30 Apr 2013 #May-2013 Cover
Blogger: Manik Ji
मई -2013 अंक  साथियो, नमस्कार  भवानी प्रसाद मिश्र जहाँ मैं रहता हूँ , मध्य प्रदेश के उस होशंगाबाद  जिले ने  हिंदी साहित्य को तीन बड़े साहित्यकार दिए हैं। माखन लाल चतुर्वेदी, हरि शंकर  परसाई और भवानी प्रसाद मिश्र। इन सबसे मेरा पहला परिचय स्कूल की किताबों ने करवाया  ... Read more
clicks 320 View   Vote 0 Like   4:59pm 30 Apr 2013 #अशोक जमनानी
Blogger: Manik Ji
मई -2013 अंक  29 मार्च सन् 1913 को मध्य प्रदेश के होशंगाबाद  ज़िले में जन्मे भवानीप्रसाद मिश्र  दूसरे सप्तक के प्रमुख कवि हैं।  आपने हिन्दी, अंग्रेजी तथा संस्कृत विषयों से  स्नातक की उपाधि प्राप्त की।  महात्मा गांधी जी के दर्शन से प्रभावित  यह रचनाकार हिन्दी काव्य जगत् म... Read more
clicks 363 View   Vote 0 Like   4:59pm 30 Apr 2013 #May-2013
Blogger: Manik Ji
मई -2013 अंक  जेएनयू (जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, नयी दिल्ली) की रंगमचीय गतिविधियाँ हम सबके लिए हमेशा से गहरे आकर्षण का विषय रही है। सच कहूँ तो हम यहाँ जितना कक्षाओं में सीखते है उससे कहीं अधिक बाहरी गतिविधियों, विशेषकर नाटकों से सीखते है। कुलदीप कुणाल लिखित और सतीश म... Read more
clicks 331 View   Vote 0 Like   4:58pm 30 Apr 2013 #पुखराज जाँगिड़
Blogger: Manik Ji
मई -2013 अंक (यह रचना पहली बार 'अपनी माटी' पर ही प्रकाशित हो रही है।) (ये कवितायेँ राजस्थान के प्रतिबद्ध रचनाकार कवि विनोद पदरज के कविता संग्रह 'कोई तो रंग है' से पाठक हित में साभार यहाँ ली जा रही हैं जो असल में सन 2002 में प्रकाहित हुआ था।उनकी कविताओं में उनके जीवन और ... Read more
clicks 161 View   Vote 0 Like   4:57pm 30 Apr 2013 #May-2013
Blogger: Manik Ji
मई -2013 अंक  गुलज़ार साहेब (चित्र साभार ) लोकतन्त्र ने जहाँ आज़ादी के बाद के हिन्दुस्तान की जवान होती नस्लों को अपने हक के लिए आईन की हदों में लडऩा सिखाया है, वहीं सिनेमा ने इसे समाजी बन्दिशों को तोडक़र मस्ती भरे अल्हड़पन से प्यार करना सिखाया है। यह प्यार केवल दो मचलते द... Read more
clicks 162 View   Vote 0 Like   4:56pm 30 Apr 2013 #गीत
Blogger: Manik Ji
मई -2013 अंक                               यह रचना पहली बार 'अपनी माटी' पर ही प्रकाशित हो रही है।                            भारतेन्दु के उपरांत जयशंकर प्रसाद की प्रतिभा ने साहित्य के अनेक क्षेत्रों को एक साथ स्पर्श किया है। करूण मधुर गीत, अतुकान्त रचनाएं, मुक्त छंद, खंडकाव्य सभी उनके काव्... Read more
clicks 230 View   Vote 0 Like   3:41pm 30 Apr 2013 #राजीव आनंद
Blogger: Manik Ji
मई -2013 अंक                               (यह रचना पहली बार 'अपनी माटी' पर ही प्रकाशित हो रही है।) धूमिल सन 1960 के बाद की हिंदी कविता में जिस मोहभंग की शुरूआत हुई थी, धूमिल उसकी अभिव्यक्ति करने वाले अंत्यत प्रभावशाली कवि हैं | उनकी कविता में परंपरा, सभ्यता, सुरुचि, शालीनता और भद्र... Read more
clicks 287 View   Vote 0 Like   3:40pm 30 Apr 2013 #शैलेन्द्र चौहान
Blogger: Manik Ji
मई -2013 अंक (हमारे इस बदलते हुए समाज में जहां टोंकाटोकी की संस्कृति ही लगभग ख़त्म होती जा रही है वहाँ व्यंग्य की बात करना बहुत दूर का मसला होगा। हमने अपनी सफाई पर ध्यान देना ही बंद कर दिया है जिस सफाई के माध्यम से हम अपने अन्दर के मेल को साफ़ कर सकते थे अफ़सोस इस काम के सा... Read more
clicks 213 View   Vote 0 Like   3:40pm 30 Apr 2013 #डॉ. राजेश चौधरी
Blogger: Manik Ji
मई -2013 अंक                          (यह रचना पहली बार 'अपनी माटी' पर ही प्रकाशित हो रही है।) पुखराज जाँगिड़ युवा आलोचक हैं। राष्ट्रीय मासिक ‘संवेद’ और ‘सबलोग’ के सहायक संपादक,  ई-पत्रिका ‘अपनीमाटी’  व ‘मूक आवाज’ के  संपादकीय सहयोगी है।  दिल्ली विश्वविद्यालय से  ‘लोकप्... Read more
clicks 188 View   Vote 0 Like   3:40pm 30 Apr 2013 #पुखराज जाँगिड़
Blogger: Manik Ji
सरोकार और सृजन (कविता-संग्रह) डॉं. महेन्द्र भटनागर, शांति प्रकाशन 1780, सेक्टर-1, दिल्ली बाई पास, रोहतक- 124001 मई-2013 अंक (यह रचना पहली बार 'अपनी माटी' पर ही प्रकाशित हो रही है।) महेन्द्रभटनागर-रचित काव्य-संकलन — ‘सरोकार और सृजन’ सामाजिक यथार्थ पर आधारित है । इस संग्रह मे... Read more
Blogger: Manik Ji
मई -2013 अंक (यह रचना पहली बार 'अपनी माटी' पर ही प्रकाशित हो रही है।)                                   विनोद पदरज      कवि और बैंक में प्रबंधक हैं।         फरवरी,उन्नीस सौ साठ में                         मलारना,             सवाई माधोपुर...... Read more
clicks 157 View   Vote 0 Like   3:39pm 30 Apr 2013 #May-2013
Blogger: Manik Ji
मई -2013 अंक  (यह रचना पहली बार 'अपनी माटी' पर ही प्रकाशित हो रही है।) लोक संस्कृति में छा रही चुहुलबाजी और हल्के-फुल्के मनोरंजन की तुलना में जसनाथी पंथ का अग्नि नृत्य अपनी पुरातन छाप को सुरक्षित रखते हुए कठिन साधना और आध्यात्मिक लोक लुभावन की बेमिसाल कड़ी है। लगभग... Read more
clicks 353 View   Vote 0 Like   3:35pm 30 Apr 2013 #फीचर
Blogger: Manik Ji
'माटी के मीत' आयोजन रिपोर्ट   चित्तौड़गढ़ में कविता केन्द्रित आयोजन  गत इक्कीस अप्रैल को ई-पत्रिका अपनी माटी द्वारा माटी के मीत नाम से एक कविता केन्द्रित कार्यक्रम का आयोजन किया गया।सवाई माधोपुर के विनोद पदरज और अजमेर के अनंत भटनागर ने सामान्य श्रोताओं के मध्य ... Read more
clicks 220 View   Vote 0 Like   3:33pm 30 Apr 2013 #आयोजन रिपोर्ट
Blogger: Manik Ji
मई -2013 अंक (यह रचना पहली बार 'अपनी माटी' पर ही प्रकाशित हो रही है।) चित्र गूगल से साभार लिए हैं।... Read more
clicks 323 View   Vote 0 Like   3:33pm 30 Apr 2013 #छायाचित्र
Blogger: Manik Ji
                                         अपनी माटी का प्रवेशांक अप्रैल-2013 सम्पादकीय:हाशिये से बाहर होती संस्कृति फीचर:'गुलाब की खेती' /नटवर त्रिपाठी  फीचर:गोवा में रंगो का मेल /नटवर त्रिपाठी कहानी:ढ़ाबे की खाट / योगेश कानवा आलेख:आचार्य तुलसी:अणुव्रत अणुशास्ता, राष्ट्रसंत एवं मान... Read more
clicks 180 View   Vote 0 Like   11:49am 19 Apr 2013 #April-2013 Cover
Blogger: Manik Ji
अप्रैल 2013 अंक ('झरोखा' मतलब कभी-कभी क्लासिक मटेरियल भी पढ़ लेना चाहिए-सम्पादक) हरिशंकर परसाई  भारत के सामने अब एक बड़ा सवाल है - अमेरिका को अब क्या भेजे? कामशास्त्र वे पढ़ चुके, योगी भी देख चुके। संत देख चुके। साधु देख चुके। गाँजा और चरस वहाँ के लड़के पी चुके। भारतीय ... Read more
clicks 166 View   Vote 0 Like   9:26am 3 Apr 2013 #हरिशंकर परसाई
Blogger: Manik Ji
अप्रैल 2013 अंक साथियो               नमस्कार कुँअर रविन्द्र का बनाया  पोस्टर  मुझसे कई बार प्रश्न पूछा गया है कि जब देश में अभी भी करोड़ो लोग ठीक से दो वक़्त का खाना नहीं खा पाते तब संस्कृति की बात करना कितना ज़रूरी है ? और अगर ज़रूरी है भी तो संस्कृति असल में है क्या ? सच कह... Read more
clicks 180 View   Vote 0 Like   9:25am 3 Apr 2013 #अशोक जमनानी
Blogger: Manik Ji
                                                अपनी माटी का प्रवेशांक मासिक अंक अप्रेल-2013 सम्पादकीय:हाशिये से बाहर होती संस्कृति खेती-किसानी:नटवर त्रिपाठी का फीचर 'गुलाब की खेती' कहानी:ढ़ाबे की खाट / योगेश कानवा आचार्य तुलसी:अणुव्रत अणुशास्ता, राष्ट्रसंत एवं मानव कल्याण के पुरोधा / ... Read more
clicks 213 View   Vote 0 Like   5:31pm 31 Mar 2013 #April-2013 Cover
Blogger: Manik Ji
अप्रेल-2013 अंक साथियो               नमस्कार कुँअर रविन्द्र का बनाया  पोस्टर  मुझसे कई बार प्रश्न पूछा गया है कि जब देश में अभी भी करोड़ो लोग ठीक से दो वक़्त का खाना नहीं खा पाते तब संस्कृति की बात करना कितना ज़रूरी है ? और अगर ज़रूरी है भी तो संस्कृति असल में है क्या ? सच कह... Read more
clicks 175 View   Vote 0 Like   5:07pm 31 Mar 2013 #अशोक जमनानी
Blogger: Manik Ji
मई-2013 अंक  प्रायः यह कहा जाता है कि खेती आजकल लाभ का उपक्रम नहीं है। किन्तु राजस्थान चित्तौड़गढ़ के जीतावल ग्राम के खेतिहर श्याम सुन्दर ने इस धारणा को निर्मूल किया है। ऐसे में कोई महज दो बीघा भूमि में तापमान की विपरीत परिस्थितियों को अनुकूल बना कर  गुलाब की खेती में... Read more
clicks 305 View   Vote 0 Like   5:06pm 31 Mar 2013 #गोवा
Blogger: Manik Ji
अप्रेल-2013 अंक                                                                                                    ढाबे की वो खाट  योगेश कानवा कविता और कहानी में  सधा हुआ हाथ है। आकाशवाणी चित्तौड़गढ़...... Read more
clicks 160 View   Vote 0 Like   5:06pm 31 Mar 2013 #योगेश कानवा
Blogger: Manik Ji
अप्रेल-2013 अंक  रवि कुमार स्वर्णकार, संस्कृतिकर्मी के तौर जाने जाते हैं जनवादी विचारों से ओतप्रोत रवि  वर्तमान में चित्तौड़गढ़ जिले  के रावतभाटा में नौकरी पर हैं  यदा-कदा कविता,कविता पोस्टर के ज़रिए  साहित्य-संस्कृति जगत में बने हुए हैं. उन्हें शिवराम जैसे वरिष्... Read more
clicks 154 View   Vote 0 Like   5:03pm 31 Mar 2013 #April-2013
Blogger: Manik Ji
अप्रेल-2013 अंक  रंजन माहेश्वरी राजस्थान टेक्नीकल यूनिवर्सिटी , कोटा ,राजस्थान में असोसिएट प्रोफ़ेसर हैं। स्वतंत्र लेखक हैं। उनका ब्लॉग  फेसबुकी...... Read more
clicks 143 View   Vote 0 Like   5:02pm 31 Mar 2013 #रंजन माहेश्वरी
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (4020) कुल पोस्ट (193860)