Hamarivani.com

Aman..The messenger of love...

कुछ पंक्तियाँ.."ये गहने दुकानों की सेजों पर कितने खुबसूरत थे, तूने जो पहना, तेरी खूबसूरती के आगे फीके पड़ गए हैं..""पुछा मैंने ए जिंदगी इस मुहब्बत में रखा क्या है कहा जिंदगी ने, सोच तेरे मुस्कराने की वजह क्या है..""मन जो बातें तेरी करता है कहता हूँ मैं रुक जा तूक्यूँ मु...
Aman..The messenger of love......
Tag :Short composition
  December 23, 2011, 12:32 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163575)