Hamarivani.com

Bezaban

जब अन्ना अनशन करते थे तो कांग्रेस पार्टी के लोग कहते थे   लोगों के बीच जाके वोते लो और जीत के संसद में आओ । अब जब अन्ना ने अपने लोगों को जनता के बीच ले जाने का फैसल किया तो यही कांग्रेसी उनका मज़ाक बना रहे हैं । क्यों?केवल कांग्रेसी ही नहीं राजनीती से जुड़े बहुत से डालो के ...
Bezaban...
Tag :अन्ना
  August 4, 2012, 6:15 am
अन्ना हजारे का शो फ्लॉप  क्यों? जी हाँ कल शाम से मीडिया में शोर है अन्ना हजारे का शो फ्लॉप हुआ । मुझे ताज्जुब भी नहीं हुआ क्यों की यदि अन्ना अन्य नेताओं की तरह किराये की भीड़ इकठ्ठा क्र लेते या सच में उनके इस मिशन पे अधिक लोग उनके साथ हो जाते तो शक होता की कहीं अन्ना भी तो अ...
Bezaban...
Tag :
  July 27, 2012, 5:28 pm
आज जब खबरें देख रहा था तो अचानक एक ऐसी खबर पे नज़र पडी जहां कौन सही ओर कौन गलत का फैसला करना मुश्किल लगा | उदयपुर पे एक शादी शुदा महिला अपने पडोसी प्रेमी के साथ भाग गयी | गाँव वालों ने उस जोड़े को पकड़ा ओर उसके बाद इनकी सार्वजनिक पिटाई कि गयी फिर इन दोनों को की इज्जत को सरेआम...
Bezaban...
Tag :
  July 23, 2012, 10:05 am
नए शैक्षिक सत्र में कई अरमान पालने वाले वाराणसी के उदय प्रताप कालेज के छात्र-छात्राओं को झटका लगा है। कालेज प्रबन्धन ने जहां उनके मोबाइल लाने पर प्रतिबन्ध लगा दिया है वहीं कालेज पढ़ने वाली लड़कियां अब जींस, कैजुअल ड्रेस पहनकर भी पढ़ने नहीं आ सकेंगी।उदय प्रताप कालेजम...
Bezaban...
Tag :
  July 21, 2012, 9:25 pm
कन्या भ्रूण-हत्या एक निन्दनीय कृत्य: इस्लाम पाश्चात्य देशों की तरह, भारत भी नारी-अपमान, अत्याचार एवं शोषण के अनेकानेक निन्दनीय कृत्यों से ग्रस्त है। उनमें सबसे दुखद ‘कन्या भ्रूण-हत्या’ से संबंधित अमानवीयता, अनैतिकता और क्रूरता की वर्तमान स्थिति हमारे देश की ही ‘विश...
Bezaban...
Tag :
  July 21, 2012, 1:31 pm
जब जब प्रेमी जोड़े सामाजिक बंधनों को तोड़ के अपनी प्यार की दुनिया बसाना चाहते हैं तो यह समाज उसे कुबूल नहीं करता | सवाल यह उठता है कि क्या यह समाज प्यार का दुश्मन है ? ऐसा नहीं है कि यह समाज प्यार का दुश्मन है बल्कि इस समाज ने ऐसे बहुत से कानून खुद से ही बना लिए हैं जिनकी क...
Bezaban...
Tag :
  June 30, 2012, 9:02 am
मैं लोगों के वेयूज़ लेकर क्या करूँगा |जी हाँ हमरे बहुत से ब्लॉगर ऐसे हैं जो टिपण्णी पाने के लिए अजीब अजीब हथकंडे अपनाते हैं |दिन भर दूसरों के लिख पे टिपण्णी किया करते हैं चाहे उनकी कविता या लेख पसंद हों या न हों | नतीजा यह होता है कि टिपण्णी करने वाला और पाने वाला दोनों जान...
Bezaban...
Tag :
  May 28, 2012, 6:01 am
दशक के हिन्दी चिट्ठाकार वास्तविकता याबाजारवाद की पराकाष्ठा?अच्छे लेखकों को पुरस्कार दे के उनका उत्साह बढ़ाना एक बेहतरीन काम है और यदि इस ब्लॉगजगत में कोई इसे इमानदारी के साथ करता है तो इस से हिंदी ब्लॉगजगत काफी भला  हों सकता है |बहुत से ब्लॉगर पिछले ८-९ सालों से अपने अ...
Bezaban...
Tag :
  May 16, 2012, 5:12 pm
एक निवेदन !आपके लिखे गए ब्लॉग पोस्ट बेहद महत्वपूर्ण हो सकते हैं, कई बार कमेंट्स से बेहतर जागरूक लेखकों  कि पोस्ट लगती हैं,पोस्ट लिखते  समय कृपया ध्यान रखें कि जो आप लिख रहे हैं, उसमें बेहद शक्ति होती है,लोग अपनी अपनी श्रद्धा अनुसार पढेंगे, और तदनुसार आचरण भी कर सकते हैं , ...
Bezaban...
Tag :
  May 11, 2012, 3:42 pm
सतना जिलेका अजीब गांव बेटी की शादी करने की जगह बेटी बेचने कि प्रथा देश का हृदय कहा जाने वाला मध्य प्रदेश के पथरौंधा गांव में बेटी को ब्याहने के बजाय बेचने की शर्मनाक प्रथा मौजूद है।यह अजीबो गरीब गांव सतना जिले में नौगद – मैहर रोड में नौगद से लगभग 11 कि मी कि दूरी पर है। आम ...
Bezaban...
Tag :
  May 3, 2012, 7:28 pm
जी हाँ जनाब यह एक ऐसा एहसास है जो अक्सर लोगों को कुछ खास पसंदीदा काम करने में आता है. नेक इंसान को किसी की मदद करने में फील गुड का एहसास होता है तो बुरे इंसान को लूट,चोरी,बुराई इत्यादि बुरे काम करने में यह एहसास पैदा हुआ करता है.आज के समाज में इंसान अकेलेपन का शिकार होता जा ...
Bezaban...
Tag :
  February 22, 2012, 12:13 pm
दिव्या जी की दी गयी ईद ए कुर्बान की मुबारकबाद और उसपे   कमेन्ट आप्शन बंद जैसी मजबूरी देख के अफ़सोस हुआ. कमेन्ट आप्शन बंद का कारण जो बताया गया वो उचित ही है.  मुझे यह देख के अच्छा लगता है की एक इंसान किसी की भी जान जाते देख दुखी होता है यहाँ तक की जानवर की भी जान जात...
Bezaban...
Tag :
  November 7, 2011, 3:51 pm
जब तक इंसान जिंदा रहता है उसके साथ साथ का एक रिश्तों का जाल सा चलता रहता है. कोई भाई है , कोई दोस्त है, कोई दफ्तर का साथी है तो कोई दुश्मन हैं. कोई उसे देख खुश होता है कोई बुरा कहता. इन रिश्तों का उसकी म्रत्यु के साथ ही अंत सा हो जाता है. अब रह जाती हैं उसकी अच्छी बुरी यादें .क...
Bezaban...
Tag :
  September 29, 2011, 11:10 pm
.......जी हाँ यह बात हम सभी जानते हैं कि इस दुनिया से जाने  वाले  लौट  के फिर कभी नहीं आते. इसीलिये तो लोग अपने चाहने वालों के लिए दुआ भी करते नज़र आते हैं कि ऐ जाने वाले हो सके तो लौट के आना. इसी प्रकार यह भी सत्य है कि इस दुनिया से जाने वाला कभी जाना नहीं चाहता और इस कारण उसका ...
Bezaban...
Tag :
  September 20, 2011, 2:57 pm
आज हिंदी दिवस है और हिंदी ब्लॉगजगत के लिए तो यकीनन विशेष दिन है. सभी तरफ से हिंदी दिवस कि शुभकामनाओं के लेख़ पढने को मिल रहे हैं. लोग इसकी उन्नति कि दुआएँ कर रहे हैं. लेकिन क्या हम स्वम ही अपनी राष्ट्र भाषा के साथ सौतेलेपन का व्यवहार नहीं कर रहे? यह हम ही हैं जिसने हिंदी भ...
Bezaban...
Tag :
  September 14, 2011, 3:20 pm
आज हर अपनी हर चीज़ को इंसान व्यक्तिगत बनाना चाहता है. हम सभी अपना ब्लॉग चलाने के लिए ब्लागस्पाट या वर्डप्रेस इत्यादि कि सहता लेते हैं लेकिन इस्पे ब्लॉग के नाम के साथ ब्लॉगर या वर्डप्रेस लगा रहता है. वर्डप्रेस तो आप को अपनी पसंद का नाम (डोमेन) लगाने के पैसे लेता है लेकिन ब...
Bezaban...
Tag :
  September 11, 2011, 7:03 am
पिछले दिनों मैं कोशिश कि के अपने कुछ ब्लोगर्स भाई कुछ आमदनी कर सकें ब्लोगिंग के साथ साथ और मुझे देख के ख़ुशी हुई कि कई ब्लोग्गेर्स से हिंदी के ब्लॉग के साथस आठ अंग्रेजी का ब्लॉग बनाया और गूगल एडसेंस से कमाई  कर रहे हैं. मैंने बचपन  से सीखा ज्ञान बाँटने से बढ़ता है और ...
Bezaban...
Tag :
  September 10, 2011, 9:22 am
 ईद के चांद ने वातावरण को एक नए रूप मे खुशगवार बना दिया. चांद देखते ही लोगों के बीच ख़ुशी की लहर दौड़ जाती है.  बच्चों की ईदइसलिए सबसे निराली होती है क्योंकि उन्हें नए-नएकपड़े पहनने और बड़ों से ईदी लेने की जल्दी होती है. बच्चे, चांददेख कर बड़ों कोसलाम करते ही यह पूछने म...
Bezaban...
Tag :
  August 30, 2011, 8:37 pm
 जिस  दिन  से मैंने गूगल एडसेंस के बारे मैं लेख लिखा है बहुत से सवाल हमारे ब्लोगर भाई बहन मुझ से  पूछ रहे हैं.  सबको अलग अलग जवाब देना मेरे लिए संभव नहीं हो प् रहा है . इसलिए आज सोंचा सबको   इस लेख के ज़रिये जवाब दे दूं . इस से दूसरे ब्लॉगर का भी फायदा  हो सकेगा. सवाल1...
Bezaban...
Tag :
  August 20, 2011, 11:15 pm
अन्ना हजारे आज गिरफ्तार हुए. लोग सड़कों पे आ गए बहुत सी राजनितिक पार्टियों ने उनको सपोर्ट देना शुरू कर दिया. आगे क्या होगा यह तो वक़्त ही बता पाएगा लेकिन जो हालत हैं उससे यह समझ नहीं आ रहा कि ऊंट किस करवट बैठेगा.हाँ यह तो समझ मैं अवश्य आ रहा है कि आम जानता मैं सेजो खुद ग़लत त...
Bezaban...
Tag :
  August 16, 2011, 12:23 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3652) कुल पोस्ट (163809)