POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: हास्य व्यंग्य मंच

Blogger: रामलाल
                                                                                            गणित के अध्यापक ने एक विध्यार्थी से पूछा -                                                यदि तुम्हारे पास 12 चॉकलेट हों,                                                                                                                                  और उसमें से तुमने,                   5 जेनी को दि... Read more
clicks 121 View   Vote 0 Like   6:47pm 18 Nov 2012 #
Blogger: रामलाल
Teacher: Water ka formula bataoStudent: H2O MgCl2 CaSO4 AlCl3 NaOH HNO3 H2SO4 HCl CO2Teacher: Ye kya hai?Student: Sir ye Municipality ka pani hai..! :)... Read more
clicks 104 View   Vote 0 Like   5:10pm 13 Nov 2012 #
Blogger: रामलाल
वैसे तो टीटोटालर हैं...दारू शराब सब लत ही है,करती खराब दौलत ही है,होता है असर सेहत पर भीपड़ती है मगर आदत फिर भी,जब मुफ्तमिलेगी तो यारों,क्यों हद की बात करो यारों,जितनी आती है आने दो,ऐसे ही रात बिताने दो.फोकट में मिलेगी तो बोलो,जो भी हो बोतल खोलो,कुछ फर्क नहीं पड़ता हम-दम,हो ठ... Read more
clicks 108 View   Vote 0 Like   3:30pm 29 Aug 2012 #09425279174
Blogger: रामलाल
तमाम बचपन बापूजी को राष्ट्रपिता जाना.कुछेक समय पहले किसी बिटिया ने सवाल किया - बापूजी को राष्ट्रपिता का संबोधन देने वाले कागजात पेश करें.सरकार मूक रह गई.अब सरकार ने खुलासा किया कि बापू को 'राष्ट्रपिता'  का   संबोधन औपचाकिक तौर पर दिया ही नहीं गया.मुझे डर है कि यह सरका... Read more
clicks 115 View   Vote 0 Like   8:46am 22 Jul 2012 #
Blogger: रामलाल
                                                                        हिंदी.....                               आज ही एक मित्र से सूचना दी ...                               कि ..  हिंदी                              राजनीतिज्ञों  ने इसे राष्ट्रभाषा बनाना चाहा......                               नहीं बन सकी...                             संविधान कर्मियों ने इसे राजभाषा ... Read more
clicks 114 View   Vote 0 Like   8:38am 14 May 2012 #
Blogger: रामलाल
                                                                                         हमारे देश में ...                                             एक राष्ट्र पिता हैं...                                             और एक राष्ट्र पति ....                                             ......... राष्ट्र.........                                            एक बच्चे ने तो पूछ ही लिया कि                          ... Read more
clicks 115 View   Vote 0 Like   10:58am 11 Apr 2012 #
Blogger: रामलाल
मिसेज़ शर्मा परेशान हैं ..पत्नी ने धीरे से कहा मैंने पूछा क्यों?पत्नी ने कहा अपने बच्चों को लेकरचिंतीत हैंमैंने पुनः पूछा क्यों?पत्नी ने कहाबच्चे हाज़िर ज़वाब हो गए हैं मैंने कहाइसमें चिंता के क्या बात हैबच्चे हैं उनके अपने भी ज़ज्बात हैंदेखता हूँ समय पर स्कूल आते जा... Read more
clicks 184 View   Vote 0 Like   12:32pm 25 Mar 2012 #अरशद अली (हास्य कविता )
Blogger: रामलाल
MAYA AND MULAYAMWAH KYA BAAT HAI.....MULAYAM KI MAYA MEIN MAYA MULAYAM HO GAYI.वाह क्या बात है !!!!!मुलायम की माया से माया मुलायम हो गई...Iyengar.... Read more
clicks 150 View   Vote 0 Like   6:32am 9 Mar 2012 #09425279174
Blogger: रामलाल
MAYA AND MULAYAMWAH KYA BAAT HAI.....MULAYAM KI MAYA MEIN MAYA MULAYAM HO GAYI.वाह !!! क्या बात है...मुलायम की माया से माया मुलायम हो गई..Iyengar.... Read more
clicks 103 View   Vote 0 Like   6:23am 9 Mar 2012 #
Blogger: रामलाल
बिछना - बिछानाजमाना बदल रहा है.काफी बदल गया है.लेकिन बिछने की आदत अभी कायम है.पहले आँखें बिछाते थे,फिर कालीने बिछने लगीं ,अब लोग खुद बिछ जाते हैं.लोगों को फख्र महसूस होता है,लोगों को हर्ष महसूस होता है,कि अब हम न ही बिस्तर बिछाते हैं,न ही हम कालीनें बिछाते हैं,न ही नजरे इना... Read more
clicks 121 View   Vote 0 Like   2:08pm 15 Feb 2012 #09425279174
Blogger: रामलाल
पुरानी धुन सुना तो ऐसा लगा की मेरे मन की छुपी बात को हीं गायक ने दुहराया हैकुछ तो लोग कहेंगे लोगों का काम है कहना...............आज पड़ोस के अंकल ने मुझसे कई साल बाद पूछ हीं लिया की मुझे अंकल क्यों कहते हो भैया कहा करो.मेरा मन खुश था की मुझे अपने आस पास के लोग नोटिस तो करने लगे नहीं त... Read more
clicks 139 View   Vote 1 Like   12:25pm 7 Feb 2012 #अरशद अली हास्य ब्यंग
Blogger: रामलाल
चिथड़ा-चिथड़ा  सा  कफ़न । (व्यंग गीत ।)http://mktvfilms.blogspot.com/2012/01/blog-post.htmlसड़े - गले   भ्रष्ट   नेता और  मेरे  मुन्ने   की   अम्मा,  जैसे ही  एक  और  सवेरा  हुआ ? सब  याद  आ  गए..!!अंतरा-१.संसद का  गला  फाड़  निकम्मा, घर में  मुन्ने की अम्मा,जैसे  ही   थैला  राशन  का   पकड़ा,    सब  याद  आ  गए..!!जैसे  ही  ए... Read more
clicks 187 View   Vote 0 Like   4:04am 3 Jan 2012 #Vyang Geet
Blogger: रामलाल
आधुनिक  बोधकथाएँ. ७ -"मैं  संसदताई । "http://mktvfilms.blogspot.com/2011/12/blog-post_30.html"लोकशाही  को  ठोकशाही   बनाने  की  ली   है  ठान..!!अय आम जनता, भाड़  में जा,तुं  और तेरा लोकजाल..!!"एक स्पष्टता- इस बोधकथा का, अपने  देश  की  लोकशाही  से कोई  लेना-देना  नहीं  है ।====="मैं  संसदताई ... Read more
clicks 96 View   Vote 0 Like   7:45am 30 Dec 2011 #MKTVFILMS
Blogger: रामलाल
आधुनिक  बोधकथाएँ. ७ -" मैं  संसदताई । "http://mktvfilms.blogspot.com/2011/12/blog-post_30.html"लोकशाही  को  ठोकशाही   बनाने  की  ली   है  ठान..!!अय आम जनता, भाड़  में जा,तुं  और तेरा लोकजाल..!!"एक स्पष्टता- इस बोधकथा का, अपने  देश  की  लोकशाही  से कोई  लेना-देना  नहीं  है ।=====" मैं  संसदताई । "( दरवाज़ा- "ठक-ठक,ठ... Read more
clicks 174 View   Vote 0 Like   7:45am 30 Dec 2011 #vyang
Blogger: रामलाल
आधुनिक  बोधकथाएँ. ७ -" मैं  संसदताई । "http://mktvfilms.blogspot.com/2011/12/blog-post_30.html"लोकशाही  को  ठोकशाही   बनाने  की  ली   है  ठान..!!अय आम जनता, भाड़  में जा,तुं  और तेरा लोकजाल..!!"एक स्पष्टता- इस बोधकथा का, अपने  देश  की  लोकशाही  से कोई  लेना-देना  नहीं  है ।=====" मैं  संसदता... Read more
clicks 88 View   Vote 0 Like   7:45am 30 Dec 2011 #Markand Dave
Blogger: रामलाल
http://mktvfilms.blogspot.com/2011/12/blog-post_17.htmlउड़ती  धूप -`गॅ पार्टी ।`लघु  वार्ता(वि)लाप..!!"उम्र की उड़ती  धूप, तुम्हें  छू कर निकल  गई  क्या? अब सुखाते  रहना तुम, ओस की गीली आवाज़  को..!!* उम्र के  सारे  पड़ाव, इन्सान  को  जब  उड़ती  धूप  के समान लगने लगते  हैं तब, उसे यह  बात  समझ  में  आती  है  कि, ज़िंदग... Read more
clicks 165 View   Vote 0 Like   9:17am 17 Dec 2011 #party
Blogger: रामलाल
तबीब  कसाई   हो   गए? (व्यंग गीत ।)http://mktvfilms.blogspot.com/2011/11/blog-post_27.htmlचेहरे    की   चमक,   तेरी  जेब   की  खनक,सब   कुछ  देखो,  हवा  -  हवाई   हो   गए..!!मुफ़्त   में   तबीब   ये  बदनाम   हो    गए  ?जब   से   तबीब, इलीस  कसाई   हो   गए ?  ( इलीस =  धर्म  मार्ग  से  भ्रष्ट, शैतान )  अंतरा-१.इन्सानियत   की   तो,   ऐसी   क... Read more
clicks 103 View   Vote 0 Like   5:24am 29 Nov 2011 #हास्य कविता
Blogger: रामलाल
ख़ुदगरज  लीडर । (व्यंग गीत ।)http://mktvfilms.blogspot.com/2011/11/blog-post_26.htmlख़ुद    से   भी  ख़ुदगरज  होते  हैं  लीडर ।ख़ुद   को   ही  ख़ुदा  समझते   हैं   चीटर ।अंतरा-१.धन - दौलत  के  चंद  टूकड़ों   की  ख़ातिर,हर   पल  ज़मीर   से   झगड़ते   हैं   लीडर ।ख़ुद   को   ही  ख़ुदा  समझते   हैं   चीटर ।अंतरा-२.जन्नत  हथिय... Read more
clicks 101 View   Vote 0 Like   4:22am 26 Nov 2011 #हास्य कविता
Blogger: रामलाल
मेरे पिछले पोस्ट में मजबूरी वश मुझे प्राप्त सवाल का जवाब ही पोस्ट कर सका क्योंकि सवाल मेल से मिट गया था.अब वही सवाल मेरे पास फिर आ गया है, इसलिए सवाल और जवाब दोनों पोस्ट कर रहा हूँ.सवाल था गधे पर फोटो देख कर शेयर लिखिए.और प्रेषक का शेर भी साथ था --देखिए फोटो, पढ़िए शेर और फिर ... Read more
clicks 223 View   Vote 0 Like   3:50pm 25 Nov 2011 #एम.आर.अयंगर.
Blogger: रामलाल
Sahi hai bhai,सही बात है भाई !!!!!Aaj har gadhe ke paas mobile hota hai,आज हर गधे के पास मोबाईल होता है,par kya har mobile wala gadha hota hai?पर क्या मोबाईल वाला गधा होता है?Agar haan to sochye !!!!!!*अगर हाँ तो सोचिए,waqt padne par gadhe ko bhi baap banana padta hai,वक्त पड़ने पर गधे को भी बाप बनाना पड़ता है,kya  waqt aane par "baap ko bhi ........................"?क्या वक्त आने पर बाप को भी  "................................... Read more
clicks 102 View   Vote 0 Like   7:31am 4 Nov 2011 #हास्य कविता
Blogger: रामलाल
आज के रावणरामचंद्र जी मार चुके हैं,त्रेतायुग में रावण को,आज रावणी मार रही है,कल युग में भी जन जन को.सीताहरण पर श्रीराम ने,रावण को मार गिराया है,खुशियाँ मनाने हर वर्ष ,जनता ने रावण को जलाया है.बचपन में लगता था यह तो,हर्षोल्लास का प्रतीक है,अब बोध होने लगा,यह बस केवल लीक है.श... Read more
clicks 108 View   Vote 0 Like   9:38am 31 Oct 2011 #एम.आर.अयंगर.
Blogger: रामलाल
भ्रष्ट-व्यंग-दोहे ।http://mktvfilms.blogspot.com/2011/10/blog-post_21.htmlआज के हालात के अनुरूप, यथार्थ, भ्रष्टाचारी-व्यंगात्मकदोहे. .!! (१)* आदरणीय श्रीअण्णाजीके दल में घूसे हुए, तकसाधुओं को समर्पित...!!अण्णा अण्णा सब जपे, देखत है सब ताल,मौका जिसको जब मिले, एंठत है सब माल ।(२)* जेल के बजाय आज भी, जो नेता महलमे... Read more
clicks 172 View   Vote 0 Like   5:25am 23 Oct 2011 #हास्य कविता
Blogger: रामलाल
स्वतंत्रभारत गणतंत्र हमारा,ऐसा जनतंत्र हमारा,जनता पर तंत्र हमारा,यह है स्वातंत्र्य हमारा.करते हैं शांति की बातें,वैसे हम भ्रांति फैलाते,चादर जितना भी होवे,पूरे हम पैर फैलाते.करते हैं जो करना हो,कहते हैं जो कहना हो,कथनी करनी में अपनी,समता हो तो बतलाएं.भारत के भाग्य विध... Read more
clicks 153 View   Vote 0 Like   3:57pm 11 Oct 2011 #एम.आर.अयंगर.
[ Prev Page ] [ Next Page ]


Members Login

Email ID:
Password:
        New User? SIGN UP
  Forget Password? Click here!
Share:
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3938) कुल पोस्ट (195028)