Deprecated: mysql_connect(): The mysql extension is deprecated and will be removed in the future: use mysqli or PDO instead in /home/hamariva/public_html/config/conn.php on line 13
हास्य व्यंग्य मंच : View Blog Posts
Hamarivani.com

हास्य व्यंग्य मंच

                                                                                            गणित के अध्यापक ने एक विध्यार्थी से पूछा -                                                यदि तुम्हारे पास 12 चॉकलेट हों,                                                                                                                                  और उसमें से तुमने,                   5 जेनी को दि...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :
  November 19, 2012, 12:17 am
Teacher: Water ka formula bataoStudent: H2O MgCl2 CaSO4 AlCl3 NaOH HNO3 H2SO4 HCl CO2Teacher: Ye kya hai?Student: Sir ye Municipality ka pani hai..! :)...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :
  November 13, 2012, 10:40 pm
वैसे तो टीटोटालर हैं...दारू शराब सब लत ही है,करती खराब दौलत ही है,होता है असर सेहत पर भीपड़ती है मगर आदत फिर भी,जब मुफ्तमिलेगी तो यारों,क्यों हद की बात करो यारों,जितनी आती है आने दो,ऐसे ही रात बिताने दो.फोकट में मिलेगी तो बोलो,जो भी हो बोतल खोलो,कुछ फर्क नहीं पड़ता हम-दम,हो ठ...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :09425279174
  August 29, 2012, 9:00 pm
तमाम बचपन बापूजी को राष्ट्रपिता जाना.कुछेक समय पहले किसी बिटिया ने सवाल किया - बापूजी को राष्ट्रपिता का संबोधन देने वाले कागजात पेश करें.सरकार मूक रह गई.अब सरकार ने खुलासा किया कि बापू को 'राष्ट्रपिता'  का   संबोधन औपचाकिक तौर पर दिया ही नहीं गया.मुझे डर है कि यह सरका...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :
  July 22, 2012, 2:16 pm
                                                                        हिंदी.....                               आज ही एक मित्र से सूचना दी ...                               कि ..  हिंदी                              राजनीतिज्ञों  ने इसे राष्ट्रभाषा बनाना चाहा......                               नहीं बन सकी...                             संविधान कर्मियों ने इसे राजभाषा ...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :
  May 14, 2012, 2:08 pm
                                                                                         हमारे देश में ...                                             एक राष्ट्र पिता हैं...                                             और एक राष्ट्र पति ....                                             ......... राष्ट्र.........                                            एक बच्चे ने तो पूछ ही लिया कि                          ...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :
  April 11, 2012, 4:28 pm
मिसेज़ शर्मा परेशान हैं ..पत्नी ने धीरे से कहा मैंने पूछा क्यों?पत्नी ने कहा अपने बच्चों को लेकरचिंतीत हैंमैंने पुनः पूछा क्यों?पत्नी ने कहाबच्चे हाज़िर ज़वाब हो गए हैं मैंने कहाइसमें चिंता के क्या बात हैबच्चे हैं उनके अपने भी ज़ज्बात हैंदेखता हूँ समय पर स्कूल आते जा...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :अरशद अली (हास्य कविता )
  March 25, 2012, 6:02 pm
MAYA AND MULAYAMWAH KYA BAAT HAI.....MULAYAM KI MAYA MEIN MAYA MULAYAM HO GAYI.वाह क्या बात है !!!!!मुलायम की माया से माया मुलायम हो गई...Iyengar....
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :09425279174
  March 9, 2012, 12:02 pm
MAYA AND MULAYAMWAH KYA BAAT HAI.....MULAYAM KI MAYA MEIN MAYA MULAYAM HO GAYI.वाह !!! क्या बात है...मुलायम की माया से माया मुलायम हो गई..Iyengar....
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :
  March 9, 2012, 11:53 am
बिछना - बिछानाजमाना बदल रहा है.काफी बदल गया है.लेकिन बिछने की आदत अभी कायम है.पहले आँखें बिछाते थे,फिर कालीने बिछने लगीं ,अब लोग खुद बिछ जाते हैं.लोगों को फख्र महसूस होता है,लोगों को हर्ष महसूस होता है,कि अब हम न ही बिस्तर बिछाते हैं,न ही हम कालीनें बिछाते हैं,न ही नजरे इना...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :09425279174
  February 15, 2012, 7:38 pm
पुरानी धुन सुना तो ऐसा लगा की मेरे मन की छुपी बात को हीं गायक ने दुहराया हैकुछ तो लोग कहेंगे लोगों का काम है कहना...............आज पड़ोस के अंकल ने मुझसे कई साल बाद पूछ हीं लिया की मुझे अंकल क्यों कहते हो भैया कहा करो.मेरा मन खुश था की मुझे अपने आस पास के लोग नोटिस तो करने लगे नहीं त...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :अरशद अली हास्य ब्यंग
  February 7, 2012, 5:55 pm
चिथड़ा-चिथड़ा  सा  कफ़न । (व्यंग गीत ।)http://mktvfilms.blogspot.com/2012/01/blog-post.htmlसड़े - गले   भ्रष्ट   नेता और  मेरे  मुन्ने   की   अम्मा,  जैसे ही  एक  और  सवेरा  हुआ ? सब  याद  आ  गए..!!अंतरा-१.संसद का  गला  फाड़  निकम्मा, घर में  मुन्ने की अम्मा,जैसे  ही   थैला  राशन  का   पकड़ा,    सब  याद  आ  गए..!!जैसे  ही  ए...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :Vyang Geet
  January 3, 2012, 9:34 am
आधुनिक  बोधकथाएँ. ७ -"मैं  संसदताई । "http://mktvfilms.blogspot.com/2011/12/blog-post_30.html"लोकशाही  को  ठोकशाही   बनाने  की  ली   है  ठान..!!अय आम जनता, भाड़  में जा,तुं  और तेरा लोकजाल..!!"एक स्पष्टता- इस बोधकथा का, अपने  देश  की  लोकशाही  से कोई  लेना-देना  नहीं  है ।====="मैं  संसदताई ...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :MKTVFILMS
  December 30, 2011, 1:15 pm
आधुनिक  बोधकथाएँ. ७ -" मैं  संसदताई । "http://mktvfilms.blogspot.com/2011/12/blog-post_30.html"लोकशाही  को  ठोकशाही   बनाने  की  ली   है  ठान..!!अय आम जनता, भाड़  में जा,तुं  और तेरा लोकजाल..!!"एक स्पष्टता- इस बोधकथा का, अपने  देश  की  लोकशाही  से कोई  लेना-देना  नहीं  है ।=====" मैं  संसदताई । "( दरवाज़ा- "ठक-ठक,ठ...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :vyang
  December 30, 2011, 1:15 pm
आधुनिक  बोधकथाएँ. ७ -" मैं  संसदताई । "http://mktvfilms.blogspot.com/2011/12/blog-post_30.html"लोकशाही  को  ठोकशाही   बनाने  की  ली   है  ठान..!!अय आम जनता, भाड़  में जा,तुं  और तेरा लोकजाल..!!"एक स्पष्टता- इस बोधकथा का, अपने  देश  की  लोकशाही  से कोई  लेना-देना  नहीं  है ।=====" मैं  संसदता...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :Markand Dave
  December 30, 2011, 1:15 pm
http://mktvfilms.blogspot.com/2011/12/blog-post_17.htmlउड़ती  धूप -`गॅ पार्टी ।`लघु  वार्ता(वि)लाप..!!"उम्र की उड़ती  धूप, तुम्हें  छू कर निकल  गई  क्या? अब सुखाते  रहना तुम, ओस की गीली आवाज़  को..!!* उम्र के  सारे  पड़ाव, इन्सान  को  जब  उड़ती  धूप  के समान लगने लगते  हैं तब, उसे यह  बात  समझ  में  आती  है  कि, ज़िंदग...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :party
  December 17, 2011, 2:47 pm
तबीब  कसाई   हो   गए? (व्यंग गीत ।)http://mktvfilms.blogspot.com/2011/11/blog-post_27.htmlचेहरे    की   चमक,   तेरी  जेब   की  खनक,सब   कुछ  देखो,  हवा  -  हवाई   हो   गए..!!मुफ़्त   में   तबीब   ये  बदनाम   हो    गए  ?जब   से   तबीब, इलीस  कसाई   हो   गए ?  ( इलीस =  धर्म  मार्ग  से  भ्रष्ट, शैतान )  अंतरा-१.इन्सानियत   की   तो,   ऐसी   क...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :हास्य कविता
  November 29, 2011, 10:54 am
ख़ुदगरज  लीडर । (व्यंग गीत ।)http://mktvfilms.blogspot.com/2011/11/blog-post_26.htmlख़ुद    से   भी  ख़ुदगरज  होते  हैं  लीडर ।ख़ुद   को   ही  ख़ुदा  समझते   हैं   चीटर ।अंतरा-१.धन - दौलत  के  चंद  टूकड़ों   की  ख़ातिर,हर   पल  ज़मीर   से   झगड़ते   हैं   लीडर ।ख़ुद   को   ही  ख़ुदा  समझते   हैं   चीटर ।अंतरा-२.जन्नत  हथिय...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :हास्य कविता
  November 26, 2011, 9:52 am
मेरे पिछले पोस्ट में मजबूरी वश मुझे प्राप्त सवाल का जवाब ही पोस्ट कर सका क्योंकि सवाल मेल से मिट गया था.अब वही सवाल मेरे पास फिर आ गया है, इसलिए सवाल और जवाब दोनों पोस्ट कर रहा हूँ.सवाल था गधे पर फोटो देख कर शेयर लिखिए.और प्रेषक का शेर भी साथ था --देखिए फोटो, पढ़िए शेर और फिर ...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :एम.आर.अयंगर.
  November 25, 2011, 9:20 pm
Sahi hai bhai,सही बात है भाई !!!!!Aaj har gadhe ke paas mobile hota hai,आज हर गधे के पास मोबाईल होता है,par kya har mobile wala gadha hota hai?पर क्या मोबाईल वाला गधा होता है?Agar haan to sochye !!!!!!*अगर हाँ तो सोचिए,waqt padne par gadhe ko bhi baap banana padta hai,वक्त पड़ने पर गधे को भी बाप बनाना पड़ता है,kya  waqt aane par "baap ko bhi ........................"?क्या वक्त आने पर बाप को भी  "...................................
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :हास्य कविता
  November 4, 2011, 1:01 pm
आज के रावणरामचंद्र जी मार चुके हैं,त्रेतायुग में रावण को,आज रावणी मार रही है,कल युग में भी जन जन को.सीताहरण पर श्रीराम ने,रावण को मार गिराया है,खुशियाँ मनाने हर वर्ष ,जनता ने रावण को जलाया है.बचपन में लगता था यह तो,हर्षोल्लास का प्रतीक है,अब बोध होने लगा,यह बस केवल लीक है.श...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :एम.आर.अयंगर.
  October 31, 2011, 3:08 pm
भ्रष्ट-व्यंग-दोहे ।http://mktvfilms.blogspot.com/2011/10/blog-post_21.htmlआज के हालात के अनुरूप, यथार्थ, भ्रष्टाचारी-व्यंगात्मकदोहे. .!! (१)* आदरणीय श्रीअण्णाजीके दल में घूसे हुए, तकसाधुओं को समर्पित...!!अण्णा अण्णा सब जपे, देखत है सब ताल,मौका जिसको जब मिले, एंठत है सब माल ।(२)* जेल के बजाय आज भी, जो नेता महलमे...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :हास्य कविता
  October 23, 2011, 10:55 am
स्वतंत्रभारत गणतंत्र हमारा,ऐसा जनतंत्र हमारा,जनता पर तंत्र हमारा,यह है स्वातंत्र्य हमारा.करते हैं शांति की बातें,वैसे हम भ्रांति फैलाते,चादर जितना भी होवे,पूरे हम पैर फैलाते.करते हैं जो करना हो,कहते हैं जो कहना हो,कथनी करनी में अपनी,समता हो तो बतलाएं.भारत के भाग्य विध...
हास्य व्यंग्य मंच...
Tag :एम.आर.अयंगर.
  October 11, 2011, 9:27 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3709) कुल पोस्ट (171446)