POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: चर्चामंच

Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन    शनिवार की चर्चा में आप का हार्दिक स्वागत है|   देखिये मेरी पसन्द की कुछ रचनाओं के लिंक |    - अनीता सैनी  ------- ... Read more
clicks 0 View   Vote 0 Like   7:30pm 18 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों! शुक्रवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') -- गीत   "सलामत रहो साजना"   उच्चारण  -- आयी राम की अवध में होली  आयी राम की अवध में होली , छायी कान्हा की बृज में रंगोली। पक गयी सरसों बौराये हैं आ... Read more
clicks 9 View   Vote 0 Like   8:30pm 17 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत है करवाचौथ  चलनी में चाँद  करवाचौथ का बाज़ार युग  दिल की भी एक ज़ुबान है  किसने कहा तुमसे  मनजीत मीरा की नजर में कवच  अभिजीत के नोबेल के साथ कुछ और भी आया है बेहतर कम्युनिकेशन से जीतिए दुनिया डेटिंग एप्स पर भी प्राइवेसी से खिलव... Read more
clicks 10 View   Vote 0 Like   11:30pm 16 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों!बुधवार की चर्चा में आपका स्वागत है। देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक।(डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')-- करवा-चौथ के चाँद को निहारती गूँगी गुड़िया -अनीता सैनी    -- गीत   "बिन आँखों के जग सूना है"   उच्चारण  -- सागर किनारे   लहरें देखते   प्लास्टिक बैग लेकर   बोतलें इक्ट्ठा कर... Read more
clicks 13 View   Vote 0 Like   8:30pm 15 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों! मंगलवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') -- दोहे   "कालातीत बसन्त"   (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')  उच्चारण  -- ये कहाँ से आ गयी बहार है  ये कहाँ से आ गयी बहार है ,   बंद तो मेरी गली का द्वार है।   ख़्वाहिशें ... Read more
clicks 6 View   Vote 0 Like   8:30pm 14 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
सादर अभिवादन।  चर्चा मंच की सोमवारीय प्रस्तुति में आपका स्वागत है।  आपकी सेवा में हाज़िर हूँ कुछ पसंदीदा रचनाओं के साथ - ------ दोहे  "पावस का त्यौहार"   (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')    उच्चारण  ------ बुरी नज़र वाले........  प्रोफ़ेसर गोपेश मोहन जैसवाल   तिरछी नज़र  ----- शब्द बच ... Read more
clicks 10 View   Vote 0 Like   6:31pm 13 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन चर्चामंच की रविवारीय प्रस्तुति में आप का हार्दिक स्वागत है  पेश है हाल ही में प्रकाशित पसंदीदा रचनाओं के लिंक एवं अंश |   "अंत:सलिला की गहराई  में, कुरेदने से मिलते हैं,   अपार स्नेह नीर के स्रोत , पनपती  है,  अनदेखी अनकही, बँधुत्व की  पीर,  अंत:सलिला-सा है, ... Read more
clicks 7 View   Vote 0 Like   8:30pm 12 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन चर्चामंच की रविवारीय प्रस्तुति में आप का हार्दिक स्वागत है  पेश है हाल ही में प्रकाशित पसंदीदा रचनाओं के लिंक एवं अंश | "अंत:सलिला की गहराई  में, कुरेदने से मिलते हैं,   अपार स्नेह नीर के स्रोत , पनपती  है,  अनदेखी अनकही, बँधुत्व की  पीर,  अंत:सलिला-सा है, चं... Read more
clicks 1 View   Vote 0 Like   8:30pm 12 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन    शनिवार की चर्चा में आप का हार्दिक स्वागत है|   देखिये मेरी पसन्द की कुछ रचनाओं के लिंक |    - अनीता सैनी  ----- दोहे... Read more
clicks 9 View   Vote 0 Like   7:30pm 11 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों! शुक्रवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') -- ग़ज़ल    "न शह कोई पड़ती, न फिर मात होती"उच्चारण  -- नैसर्गिकता  सभ्यता के सशंकित सागर में,   नत -नयन नैसर्गिकता की नाव,   डूबने न पाए,   सुदूर है किनारा तो क्या,   आज ... Read more
clicks 6 View   Vote 0 Like   9:30pm 10 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत है रूप’ की महताब एक नया व्यंग्य लिखा है, सुनोगे? सहचर  कुछ नहीं सब कुछ बुद्धि  रावण की गुहार जादुई नगरी विश्व डाक दिवस  ये वादा है लौटूँगा रावण जला आये बंधु धन्यवाद दिलबागसिंह विर्क ... Read more
clicks 26 View   Vote 0 Like   11:30pm 9 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों! बुधवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') -- "दशहरा पर दस दोहे"   उच्चारण  -- मंदसौर में रावण दहन  -- दमन अवसाद का  गूँगी गुड़िया पर Anita saini  -- कल और आज  आओ अब अतीत में झाँकें...   आधुनिकता ने ज़मीर   क्षत-विक... Read more
clicks 16 View   Vote 0 Like   9:30pm 8 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों! विजयादशमी की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ मंगलवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') -- दोहे   "गयी बुराई हार?"   उच्चारण  -- दमे का शिकार   चिन्तनशील पीढ़ी होने लगी  गूँगी गुड़िया पर Anita saini  -- बादल   आवारा ब... Read more
clicks 14 View   Vote 0 Like   9:30pm 7 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
सादर अभिवादन.  प्रस्तुत हैं मेरी पसंद के हाल ही में प्रकाशित हुए कुछ लिंक-  --------- दोहे  "विविध दोहावली"  (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')  उच्चारण  -------- फितरफ छिपाये अपनी लड़ाके सिपाही  एक रणछोड़ की झूठी दास्तान सुन रहे हैं  उलूक टाइम्स --------- धारावाहिक.... ( उपन्यास ) खण्ड -१   "एक... Read more
clicks 5 View   Vote 0 Like   10:30pm 6 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन    रविवार की चर्चा में आप का हार्दिक स्वागत है|   देखिये मेरी पसन्द की कुछ रचनाओं के लिंक |    - अनीता सैनी  ----- ... Read more
clicks 9 View   Vote 0 Like   10:30pm 5 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन    शनिवार की चर्चा में आप का हार्दिक स्वागत है|   देखिये मेरी पसन्द की कुछ रचनाओं के लिंक |    - अनीता सैनी  ------ "... Read more
clicks 20 View   Vote 0 Like   10:30pm 4 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों! शुक्रवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') -- एक नन्हा-सा पौधा तुलसी का पनपा   मेरे मन के कोने में  गूँगी गुड़िया पर Anita saini   -- फूल से नाराज़ होकर तितली सो गयी है  फूल से नाराज़ होकर तितली सो गयी है, ब... Read more
clicks 22 View   Vote 0 Like   9:30pm 3 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत है चन्द्रघण्टा माँ नमन  ध्येय और संकल्प दो अक्टूबर विशेष बापू और शास्त्री बार-बार जन्म नहीं लेते  हजारों यूं ही मर जाते हैं इश्क़ के हिस्से रुसवाई है तितली की बहन तिकनी यथार्थ पर आधारित कहानियाँ निस्पंद मन भ्रमर धन्यवाद ... Read more
clicks 18 View   Vote 0 Like   11:30pm 2 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों! बुधवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') -- दोहे   "बापू जी का जन्मदिन"   उच्चारण  -- बापू !   एक भी तो बन्दरिया ली होती -   (तीन बन्दर बनाम तीन रचनाएँ)  बंजारा बस्ती के बाशिंदे पर  Subodh Sinha   -- अब तो मुझे सोने ... Read more
clicks 24 View   Vote 0 Like   9:30pm 1 Oct 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों! मंगलवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') -- आदरणीय रवीन्द्र सिंह यादव जी का चर्चा मंच पर स्वागत है आज सबसे पहले पढ़िए दो वर्ष पूर्व  उनकी लिखी यह सशक्त रचना...  -- दूब  ...छाँव  न  भी  दे सके    तो   क्या, घात-प... Read more
clicks 39 View   Vote 0 Like   9:30pm 30 Sep 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
सादर अभिवादन।            चर्चा मंच पर आदरणीय शास्त्री जी के सानिध्य में अतिथि चर्चाकार के रूप में मेरी पहली प्रस्तुति में आपका हार्दिक स्वागत है।  ब्लॉग जगत् में सामूहिक ब्लॉग का अब बड़ा महत्त्व स्थापित हो गया है। रचनाकार को जहाँ एक ओर प्रबुद्ध पाठक वर्ग मिलता है वहीं स... Read more
clicks 27 View   Vote 0 Like   10:30pm 29 Sep 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन    रविवार की चर्चा में आप का हार्दिक स्वागत है|   देखिये मेरी पसन्द की कुछ रचनाओं के लिंक |    - अनीता सैनी ----- गीत  "... Read more
clicks 11 View   Vote 0 Like   10:30pm 28 Sep 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
स्नेहिल अभिवादन    शनिवार की चर्चा में आप का हार्दिक स्वागत है|   देखिये मेरी पसन्द की कुछ रचनाओं के लिंक |    - अनीता सैनी  ------ ग़ज़ल  ... Read more
clicks 24 View   Vote 0 Like   10:30pm 27 Sep 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों! शुक्रवार की चर्चा में आपका स्वागत है।  देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक। (डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक') -- दोहे   "मिली डाँट-फटकार"   उच्चारण  -- ज़माना देता रहा मुझे,   हर रोज़ एक नया ज़ख़्म  Sahitya Surbhi पर dilbag virk  -- रहते इंसान ज़मीर से मुब्तला ये ऊँची मीनारें  इमारतें बह... Read more
clicks 27 View   Vote 0 Like   9:30pm 26 Sep 2019 #
Blogger: डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
आज की चर्चा में आपका हार्दिक स्वागत है रोटी भरती पेट  मुझे बोल्ड और बिंदास कहा गया – प्रियंका ओम समीक्षा  सृष्टि को बचाने का स्वप्न मौन अर्घ्य  ज़माना देता रहा मुझे, हर रोज़ एक नया ज़ख़्म यायावर-सा जीवन तुम्हारा पीढ़ियों को अभिनय से प्रभावित किया दोनों रहिमन एक स... Read more
clicks 21 View   Vote 0 Like   11:07pm 25 Sep 2019 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Publish Post