Hamarivani.com

चैतन्यपूजा

अटलजी के जाने से हर ओर शोक फैल गया। आज की प्रस्तुति अटलजी को समर्पित कुछ पंक्तियां उनकीही कविताओं की ऊर्जा से प्रेरित। एक सिसकी  सहमी सी चुपकेसे गिरी जो आपको देखा जाते कलम आज रो पड़ी, अटलजी! कलम आज रो पड़ी आज आपको जाते देखा  सृष्टि को शोक मनाते देखा  आंसुओं ने भर दिय...
चैतन्यपूजा...
Tag :प्रेरणा
  August 19, 2018, 12:47 pm
हिन्दू संस्कृति के अनुसार धार्मिक व्रत और ईश्वर की उपासना के लिए वर्ष का सबसे उत्तम समय चातुर्मास चल रहा है। इन चार पवित्र महीनों में विभिन्न व्रतों का पालन भगवान के भक्त कर रहे हैं। लगभग हर दिन, वार या तिथि को कोई ना कोई व्रत, उपवास, पूजा विशेष होते हैं। चातुर्मास क...
चैतन्यपूजा...
Tag :प्रार्थना
  August 4, 2018, 5:50 pm
आजके समय में राजनीति में एक सकारात्मक बदलाव नजर आ रहा है। फकीर लोग झोला लेकर जनसामान्यों के नेता बन रहे हैं और अपने बढ़ते कार्य से जनता के जीवन में फकीरी का तोहफा ला रहे हैं। आपको शायद ये लगे कि एक दार्शनिक सन्त के लिए नेता बनना कोई मुश्किल काम नहीं होगा। आखिर जिसे संसा...
चैतन्यपूजा...
Tag :व्यंग
  June 27, 2018, 11:27 am
आजके समय में राजनीति में एक सकारात्मक बदलाव नजर आ रहा है। फकीर लोग झोला लेकर जनसामान्यों के नेता बन रहे हैं और अपने बढ़ते कार्य से जनता के जीवन में फकीरी का तोहफा ला रहे हैं। आपको शायद ये लगे कि एक दार्शनिक सन्त के लिए नेता बनना कोई मुश्किल काम नहीं होगा। आखिर जिसे संसा...
चैतन्यपूजा...
Tag :व्यंग
  June 27, 2018, 11:27 am
अप्रिल महिने में प्रतिदिन एक कविता ब्लॉग पर प्रकाशित करने का एक प्रयास किया था जो कि आप सबके प्रोत्साहन से यशस्वी भी रहा। वे कविताएं अंग्रेजी में हैं। उन्हीं में से एक कविता 'शैडोज' का हिंदी रूपांतरण आज की कविता 'छांव यादों की...' मुझे आशा है कि ये रूपांतरण भी आपको मूल क...
चैतन्यपूजा...
Tag :भावस्पंदन
  June 13, 2018, 2:14 pm
रात के साढ़े ग्यारह बजे हमारी बस मुंबई से धुले की ओर चल पड़ी । बस  धीरे धीरे शहर को छोड़कर हाईवे पर आते ही  अपनी रफ़्तार तेज करने लगी। दो दिन मुंबई की अपरिचित भाग दौड़ से छूटकर अपने शांत धुले की ओर मेरा मन बस के साथ साथ तेजी से चलने के बजाय अभी भी भगवान स्वामीनारायण के मंदिर में...
चैतन्यपूजा...
Tag :कृष्णमोहिनी
  March 1, 2018, 7:30 pm
हृदय से कुछ पंक्तियां उठीं, "मनसे ही है सृष्टि मनसे ही है प्रलय मनमें विराजत काल, मुक्ति मनोलय" उनका अर्थ जिस तरह से ह्रदय में प्रकाशित हुआ वह 'मनन' इस आलेख में।  सृष्टि में जितने भी लोक -- पृथ्वी, स्वर्ग, नरक या इनके अलावा -- जितने भी लोक माने गए हैं सब मन के ही कारण हैं, उनक...
चैतन्यपूजा...
Tag :अध्यात्म
  January 24, 2018, 2:05 pm
अनुबन्ध विशिष्ट समयावधि के लिए किये जाते हैं। पर कुछ अनुबंध जीवनभर के लिए होते हैं। मेरा अनुबन्ध किसीके साथ जीवनभर के लिए हुआ है उसी जीवनानुबन्ध पर यह स्तोत्र। स्तोत्र भगवान की स्तुति में कहे, गाएं या लिखे गए हैं। आजका स्तोत्र चैतन्यपूजा को समर्पित है। चैतन्यपूजा क...
चैतन्यपूजा...
Tag :भावस्पंदन
  November 24, 2017, 11:35 am
चैतन्यपूजा में महायोग पर प्रकाशित स्तोत्र 'श्वासयज्ञ' के अर्थ और भावों का चिंतन। शोक मोह सब छूट गए: सुख दुःखों से ही जीवन है। फिर भी कोई ये नहीं चाहेगा कि जिंदगी में शोक के प्रसंग से गुजरना पड़े। परंतु दुःख शोक को अनुभव करना ही न पड़े ऐसा शायद ही किसीका जीवन हो। महायोग सा...
चैतन्यपूजा...
Tag :मनोलय
  October 26, 2017, 9:00 am
नवरात्रि के निमित्त महायोग साधनारूपी भगवती की आराधना और कृतज्ञता स्वरूप यह कविता लिखने का संकल्प था। पर जल्दी जल्दी में साधना पर स्तोत्र पूर्ण करने के प्रयास में साधना को ही समय ना दिया जाए तो यह विरोधाभास होता। स्तोत्र लिखने का सबसे बड़ा आनंद यह प्राप्त हुआ कि महाय...
चैतन्यपूजा...
Tag :मनोलय
  October 24, 2017, 9:00 am
ख्वाब तुम्हारे हैं जिंदगी तुम्हारी है जीने की आस तुम हो मन की लगन तुम हो मंज़िल तुम हो मंजिल तक का रास्ता तुम हो हाथ थाम लो मेरा, तुम तक के इस सफर में साथी भी तुम ही हो राह में मुश्किलें आएं या आंधी तूफ़ां कोई डर नहीं अगर तुम हाथ थाम लो मेरा तुम हो सब कुछ मेरे, हर पल में, हर गम मे...
चैतन्यपूजा...
Tag :प्रेम
  June 4, 2017, 11:47 am
दूर रहकर भी कितने पास लगते हो तुम पास होकर दिलके दूर फिर भी क्यों लगते हो तुम? साथ होकर भी मेरे क्यों जुदा से लगते हो तुम? खामोश से रहकर भी सब कुछ कैसे कहते हो तुम? इस दर्द की दवा क्या हो की फासले मिट जाए पलभर में इन दूरियों का अंत अब हो की फासलों की दीवार टूट जाये एक पलमें सा...
चैतन्यपूजा...
Tag :प्रेम
  April 29, 2017, 4:53 pm
इम्तिहान जब जब लेते हो मेरे इश्क का इश्क हो जाता है तेरे इम्तिहान से भी और कैसे बयां करूँ इस खुशी को मेरे खुदा आखिर इम्तिहान के लिए तो तू मुझसे मिला हर दुआ कबूल कर ली मेरी तूने उसी पल जबसे इम्तिहान-ए-इश्क के लिए है मुझे चुना चैतन्यपूजा में अन्य कविताएं: एक रूह दुआ...
चैतन्यपूजा...
Tag :भक्ति
  April 14, 2017, 3:07 pm
इम्तिहान जब जब लेते हो मेरे इश्क का इश्क हो जाता है तेरे इम्तिहान से भी और कैसे बयां करूँ इस खुशी को मेरे खुदा आखिर इम्तिहान के लिए तो तू मुझसे मिला हर दुआ कबूल कर ली मेरी तूने उसी पल जबसे इम्तिहान-ए-इश्क के लिए है मुझे चुना ...
चैतन्यपूजा...
Tag :भक्ति
  April 14, 2017, 3:07 pm
आयत की तरह पढ़ते हैं हर लफ्ज़ तुम्हारा इबादत ए इश्क़ तुम्हारा है मजहब हमारा पाकीज़गी आपके रूह की इबादत हमारी हम आइना बन गए हैं जिसमें तस्वीर है तुम्हारी ...
चैतन्यपूजा...
Tag :प्रेम
  April 5, 2017, 9:31 pm
क्या हमारी रूह अलग अलग है? अगर है, तो बताओ तुम्हारी कौनसी और मेरी कौनसी? क्या अंतर हैं उनमें? क्या रूह का रूप अलग होता है, या रंग, या नाम? इस आग में ये कौन जल रहा है वो रूह किसकी है जलकर भी कौन जी रहा है मरकर भी कौन जी रहा है वो रूह किसकी है वो अनसुनी सिसकी वो किस रूह की है तुम्हा...
चैतन्यपूजा...
Tag :प्रेम
  March 9, 2017, 8:24 pm
महाशिवरात्रि के पावन पर्व निमित्त सदा योगसाधना में रमे भगवान शिव को समर्पित प्रार्थना। संत ज्ञानेश्वर ने लिखा है कि आज भी भगवान शिव स्वयं भगवान होकर भी साधना पथ पर चल रहे हैं। मनमंदिर में बसे प्रभु तुम अब कौनसे मंदिर मैं जाऊं बिल्वपत्र नहीं पूजा में भावपुष्प पूजा ...
चैतन्यपूजा...
Tag :
  February 24, 2017, 11:19 am
२०१६ के अंत में काफिया पोएट्री द्वारा सुझाए 'साल'  विषय पर लिखी कुछ काव्य पंखुडियां साल यूंही गुजर गया उनसे मिले बिना हाल अपना बिगड़ता रहा उनसे मिले बिना ~~o~~ चाहत को सालों में कैसे गिने प्यार को समय में कैसे बांधे ~~o~~ साल बदल जाएगा ये मौसम बदल जाएगा और आजका इंतजार भी क...
चैतन्यपूजा...
Tag :कविता
  December 29, 2016, 8:39 pm
तुम आदत बन गए हो इस दिल की सुबह शाम दिन रात मधुर लय हर धडकन की एक तुम्हारी आदत ने मेरी दुनिया बदल दी एक तुम्हारी आदत ने मेरी जिंदगी बदल दी सिर्फ पागलपन नहीं है ये, सिर्फ प्यार भी नहीं तुम्हारी आदत है सर्वोपरि मनमें कहीं मनकी गहरी इच्छा कहूँ या कहूँ इसे पूजा पर तुम्ह...
चैतन्यपूजा...
Tag :भावस्पंदन
  December 26, 2016, 8:42 pm
दुआ कौनसी मांगें आपके लिए जब आपका होना ही है दुआ हमारे लिए दुआ किससे मांगें हम आपके लिए जब खुदा भी तो आप ही हैं हमारे लिए अन्य मधुर कविताएं: खुबसूरत हैं वो पल रौशनी है तुमसे सिर्फ उनको   Twitter: @Chaitanyapuja ...
चैतन्यपूजा...
Tag :प्रेम
  December 12, 2016, 9:25 pm
२४ नवम्बर को हमारे हिंदी ब्लॉग चैतन्यपूजा ने छह वर्ष पूर्ण किए। हिंदी में ब्लॉगिंग के आरम्भ में मैंने एक प्रार्थना लिखी थी, 'यश दो हे भगवन'! हम कुछ लिखें और ज्यादा से ज्यादा लोग बड़े प्यार और आनंद से उसे पढ़े, बार बार पढ़ना चाहे तो यही, मेरे विचार से, एक लेखक या कवी के लिए यश ह...
चैतन्यपूजा...
Tag :प्रार्थना
  December 5, 2016, 6:39 pm
खूबसूरत हैं वो पल जिनमें ख्याल तुम्हारे आते हैं खूबसूरत हैं वो ख्याल जो तुमसे बातें करते हैं खूबसूरत हैं वो बातें जिनमें तुम्हारा नाम है खूबसूरत है वो नाम जिसे हम दिल में छुपाते हैं खूबसूरत हैं वो शब्द जिनसे तुम्हारे गीत बनते हैं खूबसूरत हैं वो गीत जो तुम्हा...
चैतन्यपूजा...
Tag :प्रेम
  December 2, 2016, 9:17 pm
दीपावली के मंगलमय पर्व पर कुछ काव्यरूपी दीपक खूबसूरत भावों की ज्योतिसे  हर दिये की रौशनी में तुम्हारा चेहरा दीखता है तुम्हें देखने के लिए बार बार दिये जलाने को दिल कहता है ये हुआ है ऐसेही तुम यही हो इस दिल में ही और क्या बताऊं दीखते हो हर कहीं ~~~x~~~ तुम रौशनी ...
चैतन्यपूजा...
Tag :दीपावली
  October 31, 2016, 7:48 pm
भीड़ में, तनहाई में  दिन में, रात में ख्वाबो में, खयालों में सवालों में, जवाबों में ख़ामोशी में, बातों में दिल के जज्बातों में दिल सोचता है सिर्फ उनको  वो मुस्कुराता चेहरा वो प्यारासा चेहरा वो मासूम आँखें दिल  देखता है सिर्फ उनको दिल ढूंढता है सिर्फ उनको जान...
चैतन्यपूजा...
Tag :प्रेम
  October 19, 2016, 2:40 pm
कभी कभी प्रश्नों के उत्तर कहीं न मिलें तो प्रश्नों को समय पर ही छोड़कर इंतजार करना, ये एकही उत्तर नजर आता है। ऐसेही कुछ उलझे पलों पर आजकी प्रस्तुति। जानने में शायद कुछ समय लगे मैं क्या हूँ, मैं कौन हूँ पर जैसे जैसे जानोगे यही पाओगे कितने गहरे दोस्त हैं हम हमेशा से ही ...
चैतन्यपूजा...
Tag :प्रेम
  September 18, 2016, 9:45 pm
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3801) कुल पोस्ट (179769)