POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: ऐसा देश है मेरा...................।।।।।।।।।।

Blogger: Gangesh Kumar Thakur
एक सवाल गौरी लंकेश की हत्या के बाद मेरे जेहन में बार-बार उठा रहा है कि क्या पत्रकारों की भी दो जाति होती है...क्या पत्रकार भी बड़े और छोटे होते हैं...क्या पत्रकारों की मौत पर विरोध दर्ज कराने का तरीका अलग-अलग हो सकता है...क्या पत्रकारों की भी अलग-अलग श्रेणी होती है...क्या संस्... Read more
clicks 192 View   Vote 0 Like   11:32am 7 Sep 2017 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
फर्जी डिग्री मामले में दिल्ली के कानून मंत्री जितेंद्र सिंह तोमर की गिरफ्तारी ने उपराज्यपाल एलजी और आम आदमी पार्टी सरकार के बीच जंग को और तेज कर दिया है। यही नहीं दिल्ली की अरविंद केजरीवाल सरकार और केंद्र के बीच भी तकरार तेज हो चुकी है। इससे इनकार नहीं किया जा सकता है ... Read more
clicks 212 View   Vote 0 Like   12:46pm 15 Jun 2015 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
अलग से राग में गाना, तेरा अलग ही रंग में रंगनायही दस्तूर है दुनिया का कहां इससे तुम अलग होगेसमय की तेजधारा में जो बहकर सीखते हो तुमकहां तुम सीख पाते कभी साहिल पर खड़े होकेअजब की बात पर जो रोज तुम मुस्कुरा देते होकहां बातें कभी तुम मुस्कुरा के सोचते हो साहिबसुखद एहसास की... Read more
clicks 233 View   Vote 0 Like   9:37am 16 Dec 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
http://www.boljantabol.com/hindi/aap-party-sting/70 साल के बुढ़े ने देश में भ्रष्टाचार के खिलाफ जिस तरह से लोगों को जगाया वह सचमुच ऐसा मंजर था मानो जयप्रकाश नारायण की वह क्रांति फिर से भारतीय लोकतंत्र के इतिहास में कई नए चेहरे और एक नई शुरुआत के तौर पर लाई गई हो। लेकिन धीरे-धीरे सत्ता की भूख ने इस आंदोल... Read more
clicks 246 View   Vote 0 Like   12:01pm 28 Nov 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
http://www.boljantabol.com/hindi/family-politics-on-indian-democracy/पंद्रहवें लोकसभा चुनावों के बाद एक नारा चारो तरफ़ सुनाई देने लगा था। लगभग हर राजनीतिक दल यह कहने लगे थे कि अब युवा भारत का समय है और राजनीती में युवाओं को लाया जाना चाहिए और लाया जाएग। उस बार का लोकसभा चुनाव संम्पन्न हो गया और अच्छी संख्या में ... Read more
clicks 281 View   Vote 0 Like   11:57am 28 Nov 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
http://www.youtube.com/watch?v=au2fHPvooW0http://www.boljantabol.com/hindi/silk-business-in-bhagalpur/सिल्क कहीं इतिहास की किताबों में तो नहीं पढ़ा जाएगा ?दिल्ली के प्रगति मैदान में लगे विश्व व्यापार मेले में जब मैं अपनी टीम के साथ पहुंचा तो मेरी कौतुहल भरी नजरें बिहार भवन की तरफ थी कि शायद इस बार कुछ नया देखने को मिल जाए। अनायास ही... Read more
clicks 216 View   Vote 0 Like   11:50am 26 Nov 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
सूचना जब परोसने लगी मौत का खौफ तो पोस्ट बॉक्स नंबर पर लग गई अदालती मुहरसरकार ने संविधान से पारित कराकर सूचना के अधिकार का उपयोग करने की आजादी तो लोगों को दे दी लेकिन लोगों की सुरक्षा इस कानून के इस्तेमाल की शुरुआत से ही अहम मुद्दा बनने लगा। 2005 से लेकर आजतक कई सामाजिक कार... Read more
clicks 163 View   Vote 0 Like   9:41am 21 Nov 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
इस लेख के साथ एक वीडियो क्लिप भी लगाई गई है उस वीडियो को देखने के लिए कृपया आप इस लिंक पर क्लिक करें आशा है आप इसको देखकर लेख लिखने के उद्देश्य को बेहतर तरीके से समझ पाएंगे। http://www.boljantabol.com/hindi/wine-f/https://www.youtube.com/watch?v=7athqzZnSWcआर के पुरम के कनक दुर्गा कॉलोनी में जब हमारी टीम गई तो वहां हमने ज... Read more
clicks 147 View   Vote 0 Like   6:26am 20 Nov 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
हंस के संपादक और साहित्य में खासी धौंस रखने वाले राजेंद्र यादव ने आखिरकार दुनिया को अलविदा कह दिया। तकरीबन 84 साल के राजेन्द्र यादव को अचानक सांस में तकलीफ हुई, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराने की कोशिश की गई लेकिन कोशिश नाकाम, उनकी सांसों ने साहित्य का और उनका ... Read more
clicks 161 View   Vote 0 Like   12:04pm 29 Oct 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
गंगेश ठाकुरसमाज की आधी आबादी के तौर पर अपनी सहभागिता निभानेवाली महिलाओं को हमेशा उनके अधिकारों और उचित स्थान के बारे में बातें तो की जाती हैं लेकिन फिर भी इस समय इस सभ्य समाज में महिलाओं को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। वर्तमान समय में लगभग सभी पश्चिमी देश मह... Read more
clicks 172 View   Vote 0 Like   7:21am 26 Oct 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
 गंगेश कुमार ठाकुर विस्थापन देश के विकास का परिचायक है या नहीं ये तो नहीं पता पर अपनी राजनीति चमकाने और ढेरों रुपया बटोरने का जरिया जरूर है। खनन के नाम पर लोगों से जमीन लो और फिर जमीन के मालिकाना हक से भी उन्हें बेदखल कर दो। सरकार की इन्हीं नीतियों के चलते आज कई ऐसे र... Read more
clicks 115 View   Vote 0 Like   5:03am 23 Oct 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
http://boljantabol.com/2013/08/08/homeland-security/आर्थिक, सामरिक, राजनीतिक और सामाजिक सभी तरह से कमजोर होने और भारत से चार बार जंग हारने के बाद भी पाकिस्तान के पास आखिर कहां से इतनी ताकत आ गई है कि वह रह-रहकर भारत की सीमा में घुसने की कोशिश करता है। साथ ही यहां की सैन्य व्यवस्था को चौपट करने और भारत को ... Read more
clicks 185 View   Vote 0 Like   5:54am 8 Aug 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
आखिरकार यूपीए सरकार की नींद खुली और पृथक तेलंगाना राज्य के मुद्दे पर सरकार के नुमाइंदे एकजुट होकर रंगे सियार की तरह हुआ-हुआ करने लगे। सैकड़ों जान की कीमत चुकाने के बाद और 64 साल के संघर्ष के बाद आखिर सरकार तेलंगाना मुद्दे पर अब ही क्यों इतनी दयालु हुई यह प्रश्न विचार के ... Read more
clicks 172 View   Vote 0 Like   12:33pm 31 Jul 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
http://boljantabol.com/2013/07/27/fourth-place-we-found-for-womens-insecurity/महिलाओं की सुरक्षा के लिहाज से देखा जाए तो जिस तरह की घटनाऐं आए दिन भारत में घट रही हैं उसमें महिलाओं के सुरक्षा को लेकर अगर कोई रिपोर्ट आती है तो वो रिपोर्ट कहीं न कहीं सरकार द्वारा महिला सुरक्षा के लिए उठाए जा रहे कदमों पर उंगली उठाता नजर ... Read more
clicks 149 View   Vote 0 Like   8:32am 29 Jul 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
रज़ा पुस्तकालय में उनकी मूल्यवान सम्पत्ति के रूप में कई ताड़ (खजुर) के पत्तों पर लिखी गई पांडुलिपिया है, उनमें से कई तेलगू, संस्कृत, कन्नड़, सिनहाली और तमिल भाषा में है। इसलिए अगर आपको विश्व के पुरातन साहित्य, समाज, दर्शन, धर्म, कला, संस्कृति को जानना है तो आपको यहां पर आना... Read more
clicks 135 View   Vote 0 Like   10:30am 19 Jul 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
सरकार की मिड-डे मील योजना की पोल खुलने के बाद इस पर अफसोस कम और सियासत ज्यादा होने लगी है। साहनुभूति के शब्द नहीं बोले जा रहे लेकिन आरोपों की खंजर चलाई जा रही है। सत्ता के लोभ और नीजी लाभ के मद में अंधे ये लोग मासूमों की मौत को भी सियासत का अखाड़ा समझ उस पर कुश्ती खेल रहे ... Read more
clicks 142 View   Vote 0 Like   10:24am 19 Jul 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
आम चुनाव नजदीक आ जाए तो देश में राजनीतिक सरगर्मी शुरू हो जाती है। ऐसे में राजनीतिक दलों के बीच शुरू होती है सरकार बनाने के लिए पार्टियों को जोड़ने-तोड़ने और गठबंधन तैयार करने का काम। कुछ साल पहले तक देश में केवल बड़ी पार्टयों का बोलबाला था ऐसे में सत्ता में हस्तक्षेप च... Read more
clicks 191 View   Vote 0 Like   9:59am 9 Jul 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
भारत हमेशा या तो देश के अंदर के उग्रवाद से त्रस्त रहा है या बाहरी आतंकवादी हमले से, दोनों ही सूरत में अगर किसी को नुकसान होता है तो वह होता है देश की आम जनता को और उसकी शांति को। देश की भोली-भाली जनता इन आतंकियों के निशाने पर होती है। उन आतंकियों के आतंक फैलाने का मकसद भी द... Read more
clicks 113 View   Vote 0 Like   9:58am 9 Jul 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
भारत की सरकार आर्थिक विकास नीति की सफलता पर अपने पीठ थपथपाने से पीछे नहीं रहती चाहें देश में हालात कैसे भी हो। देश की बड़ी जनसंख्या एक वक्त के भोजन के लिए तरस रही है तो दूसरी तरफ ऐसे भी लोग हैं जिनको दोनों वक्त का भोजन नहीं मिल पा रहा। शिक्षा का अभाव, स्वास्थ्य की अव्यवस्... Read more
clicks 141 View   Vote 0 Like   9:55am 9 Jul 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
यूपीए सरकार ने अपने कार्यकाल के दसवें वर्ष में प्रवेश कर लिया है। पिछले नौ वर्षों में देश की दशा और दिशा में व्यापक परिवर्तन आया है। जनता महंगाई और भ्रष्टाचार जैसी समस्याओं से त्रस्त है। यूपीए सरकार उठाए गए कुछ ठोस कदम ने देश में पनप रही समस्याओं को सुलझाने की कोशिश त... Read more
clicks 114 View   Vote 0 Like   9:54am 9 Jul 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
भारत में बच्चों की जो पहली पाठशाला घर से शुरू होती है उसमें अक्षरों, शब्दों से ज्यादा मानवता का पाठ पढ़ाया जाता है। शायद यही वजह है कि विश्व के हर देश के नागरिक भारत से मानवता का पाठ सिखने के लिए यहां आते हैं। लेकिन ग्लोबलाइजेशन के बाद भारत की सभ्यता और संस्कृति में जिस ... Read more
clicks 136 View   Vote 0 Like   9:52am 9 Jul 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
गंगेश ठाकुर  मनुष्य   को ईश्वर ने जो सबसे बेहतरीन तोहफा दिया है उसका नाम है  पर्यावरण। इस तोहफे की सजाने संभालने का काम मनुष्य सहजता से कर लें,  इसलिए हमारे धर्म में धरती को माता,  नदियों को देवी और वृक्षों को देवता की संज्ञा दी है। वट सावित्री, हरियाली अमावस्... Read more
clicks 116 View   Vote 0 Like   9:51am 9 Jul 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
जैव परिवर्धित बीज स्वास्थ्य के लिए घातक होते हैं। कृषि संबंधी संसदीय स्थायी समिति ने भी जैव परिवर्धित बीज को कटघरे में खड़ा कर दिया है। जीएम बीज मुक्त बिहार की ओर से आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में जब यह बात कही गई थी, तब देश के तमाम लोगों को पता भी नहीं था कि आखिर ये जीएम ... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   9:49am 9 Jul 2013 #
Blogger: Gangesh Kumar Thakur
देश के पांच राज्यों में हाल ही में विधानसभा का चुनाव होना तय हुआ है । वो भी एक ऐसे समय में जब देश में भ्रष्टाचार के खिलाफ चल रहे आंदोलन की आग बुझ भी नहीं पाई है । केन्द्र सरकार हो या राज्य सरकार भ्रष्टाचार के मुद्दे पर दोनों हीं जनता के कटघरे में खड़े हैं । चुनाव आयोग ने ऐस... Read more
clicks 162 View   Vote 0 Like   12:17pm 12 Jan 2012 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3993) कुल पोस्ट (195198)