Hamarivani.com

जन आन्दोलन

लो क सं घ र्ष !: ईट भट्टों पर शिक्षा और पोषकता का महत्व...
जन आन्दोलन...
Tag :
  April 26, 2013, 8:56 pm
जिंदगी का फलसफाजिंदगी का फलसफा कैसे सुनाऊ तुम्हे शब्द नहीं मिलते और जुबां भी नहीं खुलती  आँखे नम है और मन भी खामोसदर्द है पर आंसू नहीं निकलतेदिल तन्हा  है और उदास भी न कोई गीत है और न कोई सरगम रंग भी सूखे है और रोशनी का भी पता नहींन कोई राह  और न ही कोई मंजिलन कोई दोस्त है ...
जन आन्दोलन...
Tag :
  December 4, 2012, 11:52 pm
ग्रामीण महिला और अधूरे सपने एक अदद जहाँ घूमने की आजादी मिल जाये अगर सपनो की दुनिया बसाने की एक राह मिल जाये अगर अपने न भी हो तो कम से कम अपनों का साया मिल जाये अगर रिस्तो का परिवार न सही बस जिंदिगी जीने का एक बहाना मिल जाये अगर भूखे पेट को भोजन न सही कम से कम अन्न का एक दाना ...
जन आन्दोलन...
Tag :
  December 4, 2012, 11:50 pm
लोकतंत्र मर गया है ?आज फिर सजा है जिला कार्यालय फरियादी है कागजो का ढेर है नीली पीली बत्ती वाली गाडियों का आवागमन हैखाकी वर्दी वाले भी है और सफेदपोसो की भी भीड़ है जमीन भी वही है और धूप भी घनी है पर मौसम का मिजाज कुछ अजीब है पेड़ो की डालियों पर आज कोई शोर नहीं है पर फिजाओ में...
जन आन्दोलन...
Tag :
  December 4, 2012, 11:46 pm
ये कैसा तंत्र है जहाँ जनता रोती है और लोकतंत्र हँसता हैन्यायलय भी कैसा अँधा है जो सिर्फ दलीले सुन सकता है और तारीखे दे सकता है,पर उससे न्याय की उम्मीद करना बईमानी है।पुलिस प्रशासन से लाख मिन्नतें मांग लो पर उनका जमीर नहीं जागता,मुर्दा भी पड़े-पड़े सड़ जाये वो हाथ भी नहीं ...
जन आन्दोलन...
Tag :
  December 4, 2012, 11:44 pm
चल चला चल राही चल आतंकवाद की पनघट बहुत कठिन है न जिंदगी का पता है और न मौत का आँसुओ को भी पानी समक्षकर पीना पड़ता है बेगानों सा जीवन बिताना पड़ता है भाई चल चला चल भाई चल आतंकवाद की पनघट बहुत कठिन है अपने भी पराये जैसे लगते हैख़ुशी में भी जिल्लत के दिन बिताने पड़ते हैसब कुछ होते...
जन आन्दोलन...
Tag :
  December 4, 2012, 11:44 pm
गाँधी के भारत में राज्य बंटते हुए गाँधी तू कहाँ गया तेरा देश बंट गया तेरे लोग बंट गए जातिया बंट गयी और अब तेरे राज्य भी बंट रहे है ......................गाँधी तू कहाँ गया तेरा भारत टूट रहा है नदिया बंट गयी बंट गयी फसलेऔर अब तेरे जिले भी बंट रहे है.....................गाँधी तू कहाँ गया तेरा देश मिट र...
जन आन्दोलन...
Tag :
  December 4, 2012, 11:42 pm
हमरे गाँव में बिजली न आई कैसा विकास और कैसी आज़ादी आज़ादी के 65 वर्षो के बाद भीहमरे गाँव में बिजली न आई दिवाली की जगमग है चारो ओर पर हमरे गाँव में अँधियारा है चहुँ ओर भाजपा गयी कांग्रेश आई बसपा गयी सपा आई पर हमरे गाँव में बिजली न आई केबिनेट बदला, मंत्री बदले, बदला पूरा मंत्रि...
जन आन्दोलन...
Tag :
  December 4, 2012, 11:39 pm
सिर्फ नाम के लिए महिला दिवस ८ मार्च ११को हम १०१ वाँ अन्तराष्ट्रीय महिला दिवसमना रहे है यह हम सभी ( खाशकर महिलाओ ) के लिए बहुत ख़ुशी की बात है कि ८ मार्चपूरे विश्व में महिलाओ के अधिकारों और उनकी स्वतंत्रता के लिए घोषित है| पर क्या ८ मार्चवास्तव में महिलाओ को उनके वास्तविक ...
जन आन्दोलन...
Tag :महिला दिवस
  March 9, 2011, 9:47 pm
रातआई - रातआईआसमानमेंअँधेरालाईसड़कोपरसन्नाटालाईसबकीआँखोंमेंनींदलाईमनमेंनएनएसपनेलाईशारीरकीसारीथकानहटाईहमकोफिरसेनयाबनानेआईरातआईरातआई ......................के.एम्.भाई...
जन आन्दोलन...
Tag :कविता
  January 2, 2011, 11:59 pm
शांति-प्रेम दितीय विश्व युद्ध ने लाखो लोगो का जीवन छीन लिया, लाखो लोगो को बेघर कर दिया, भारत - पाकिस्तान बंटवारे ने दो देशो और लाखो भाइयो को आपस में लड़ा दिया, कारगिल युद्ध ने हजारो सैनिको को मौत की नींद सुला दिया,1962ने चीनी- हिन्दू भाई- भाई की भावना को तोड़ दिया, हिन्दू-सिख दंग...
जन आन्दोलन...
Tag :शांति - प्रेम
  January 2, 2011, 11:45 pm
wikileaksएक ऐसा नाम ,एक ऐसा रूप ,एक ऐसा स्वरुप जिसने न सिर्फ सदियों से अति गोपनीय रहने वाले दस्तावेजो को सार्वजानिक कर दिया, बल्कि खबर - संचार के नवीनतम माध्यम ( इन्टरनेट ) की उपयोगिता को सही साबित करते हुए अन्य संचार माध्यमो के सामने एक चुनौती भी पेश कर दी है !कि उन्हें अब अपने स...
जन आन्दोलन...
Tag :wikileaks
  January 2, 2011, 11:31 pm

...
जन आन्दोलन...
Tag :
  January 1, 1970, 5:30 am
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3666) कुल पोस्ट (165905)