POPULAR ENGLISH+ SIGNUP LOGIN

Blog: मेरी अंतराभिव्यक्ति

Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
  ऐसी ढेर सारी बातें होती हैं जो नहीं पचती. लेकिन थोडा सामंजस्य के बाद या फिर यूँ कहें की थोडा दायें-बायें कर बातों को इस लायक बना लिया जाता है ताकि वे आसानी से पचाई जा सकें. पर इस बीच जो कुछ हुआ बड़े प्रयास के बाद भी पचने का नाम नहीं ले रहा. खैर स्थिति भी ऐसी आ गई है की अब ये... Read more
clicks 125 View   Vote 0 Like   5:52am 28 Aug 2011 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
मुझे लगा था कि रामदेव की गिरफ़्तारी से सबक लेते हुए सरकार अन्ना हजारे के साथ कुछ ऐसा करने से बचेगी. लेकिन बेशर्मी की हद तो देखिये की आज अन्ना को भी गिरफ्तार कर लिया गया! इतना ही नहीं अन्ना का साथ दे रहे दो पूर्व प्रशासनिक अधिकारीयों और १४०० लोगों को भी इस लोकतंत्र विर... Read more
clicks 93 View   Vote 0 Like   4:44pm 16 Aug 2011 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
जैसे ही परीक्षाएं ख़त्म हुई प्रोजेक्ट और ट्रेनिंग के लिए बंगलुरु आना हुआ. यहाँ का पिछले दिनों का अनुभव बहुत अच्छा रहा. सबसे खास अनुभव रहा भारत के आधुनिकतम रडार रोहिणी का प्रत्यक्षदर्शी बनना और इसके बारे में उन लोगों से जानना जिनने इसको मूर्त रूप दिया. अब यहाँ निर्धारि... Read more
clicks 105 View   Vote 0 Like   4:20am 10 Jul 2011 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
मैं तो विशुद्ध भारतीय हूँ जी. ऐसा इस लिए कहना पड़ रहा है कि यदा-कदा संकर प्रजाति के लोगों को देखकर थोडा असहज महसूस करता हूँ. ये ऐसे लोग हैं जो कि न तो भारत और भारतीयता को स्वीकार पाते हैं और न ही नकार पाते हैं. खैर आज के पोस्ट के लिए सोची समझी विषय वस्तु पर आते हैं. दरअसल मै... Read more
clicks 122 View   Vote 0 Like   1:26pm 26 Jun 2011 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
आजकल कानपुर की तपती गर्मी से दूर बैंगलुरू में अच्छे मौसम का आनंद ले रहा हूँ. पिछले दिनों की ऐसी ढेर सारी बातें हैं जो आप सब तक पहुंचानी है. असमंजस की स्थिति में हूँ की कहा से शुरू करूँ और कहा तक करूँ. सब कुछ लिखना शुरू करूँ तो पोस्ट बहुत लम्बी हो जाएगी और यदि नहीं लिखा त... Read more
clicks 84 View   Vote 0 Like   7:13am 22 Jun 2011 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
कारण चाहे जो भी कहें जैसे देश और समाज के बारे में जानने की इच्छा या फिर व्यक्तिगत जानकारी बढ़ाने की इच्छा,दैनिक समाचार पत्रों पर एक नजर दौड़ा लेने की बहुत पुरानी आदत है. पिछले दिनों अन्ना हजारे और उनके समर्थित लोगों की सफलता से बहुत खुश हुआ. पढ़कर,सुनकर ऐसा लगा की जनतं... Read more
clicks 81 View   Vote 0 Like   5:39am 24 Apr 2011 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
जन लोकपाल विधेयक और लोकपाल विधेयक को लेकर काफी हो हल्ला हो चुका अबतक. दोनों विधेयकों के प्रावधानों को पढने के बाद यह बात तो साफ़ है कि अन्ना हजारे समर्थित जन लोकपाल विधेयक जनता के उम्मीदों पर कहीं ज्यादा खरा उतरती है,लेकिन एक बात मुझे समझ में नहीं आती की जनसेवा के इन ठे... Read more
clicks 86 View   Vote 0 Like   9:03am 10 Apr 2011 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
 आज सबसे पहले तो समस्त ब्लॉगर बन्धुवों को होली की ढेर सारी शुभकामनायें. इंटरनेट के ठीक ढंग से काम न करने की वजह से बधाइयाँ समय पर नहीं प्रेषित कर सका. वैसे हमारे यहाँ तो होली मिलन और बधाइयों का सिलसिला तो होली के बाद भी कई दिनों तक चलते रहता है, अगर आप में से किसी के वहाँ ... Read more
clicks 105 View   Vote 0 Like   10:43am 22 Mar 2011 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
पिछले शुक्रवार यानि २५-०२-२०११ को हिंदी साहित्य को समृद्ध और लोकप्रिय करने में लगे दो व्यक्तियों से एक साथ मिलने का  मौका मिला. समय था कानपुर  इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलाजी में चल रहे तकनीकी  और सांस्कृतिक कार्यक्रम २०११ का दुसरा दिन .एक तरफ जाकिर अली रजनीश जो की अ... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   4:07am 2 Mar 2011 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
पिछले दिनों के घटनाक्रम पे जब नजर डालता हूँ तो कुछ बातों को लेकर थोड़ा असहज महसूस करता  हूँ .....एक तरफ देश को आजादी दिलाने वाले महापुरुषों को याद किया जानाऔर फिर देश के किसी राज्य में शांति के लिए फरीयाद    किया  जानाविश्व के बड़ी अर्थव्यवस्था में नाम का आनाऔर फिर... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   11:04am 30 Jan 2011 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
कल शाम जब २०१० अपने लाव लस्कर के साथ विदा होने को तैयार  था नया वर्ष २०११ कुछ नया लिए दस्तक देने की तैयारी  में लगा था. आज सुबह हुआ भी कुछ ऐसा ही, सुबह सामान्य से कुछ अलग लगी. इसने संजो रखे थे कुछ नया,कुछ अलग जो की बहुत अलग था कल से. एक तरफ २०१० कुछ पुरे तो कुछ अधूरे  स... Read more
clicks 90 View   Vote 0 Like   4:42pm 1 Jan 2011 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
(मजे की बात ये है कि इस बार फिर परीक्षाओं  के बाद आप सब के सामने उपस्थित हूँ.  कानपुर ब्लॉगर एसोसिएसन के लिये  "संभव हो सके तो कुछ इंसान बनाए" शीर्षक से मैंने आज एक पोस्ट लिखी. समय की कुछ कमी है सो यहाँ के लिये कुछ अलग नहीं लिख पा रहा. अतः उसी पोस्ट को यहाँ भी ठेल रहा हूँ )... Read more
clicks 91 View   Vote 0 Like   6:39am 17 Dec 2010 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
पहले  की तरह इस बार भी परीक्षायें खत्म हुई तो ब्लागिंग का शौक पूरा करने ब्लाग जगत में पहुँच गया। हाल मे ही खत्म हुए दशहरा पूजा के अलावा  कालेज मे नवागन्तुकों के स्वागत मे आयोजित उदभव से जुडी यादें भी अभी यथावत बनी हुई हैं, जिन्हे की आप सब तक पहुँचा सकता हूँ । लेकिन आज क... Read more
clicks 88 View   Vote 0 Like   4:12am 24 Oct 2010 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
कोई भी दिवस मनाने का मुझे बस एक लाभ समझ में आता है कि वह दिवस जिससे सम्बंधित होता है, हम उसे भूल नहीं पाते हैं. शायद इसके और भी बहुत सारे लाभ होते हों और उपरोक्त बात मेरी अपनी व्यक्तिगत सोच को दर्शाती हो लेकिन एक बात जरुर कहना चाहूँगा की हिन्दी दिवस मनाने की बात मुझे अक्सर ... Read more
clicks 115 View   Vote 0 Like   1:58pm 14 Sep 2010 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
आज कुछ लिखने की शुरुआत करने से पहले सभी शिक्षकों को इस दिवस की ढ़ेर सारी शुभकामनाएं. सबसे पहले तो डा. सर्वपल्ली राधाकृष्णन सरीखे लोगों के लिये लिखी अपनी ये पंक्तियाँ लिखता चलूँ कि..............कल भी कुछ कर गये थे वे , वे अब भी कुछ कर जाते हैं कल काम से कुछ कर गये थे वे अब नाम से कुछ ... Read more
clicks 90 View   Vote 0 Like   10:49am 5 Sep 2010 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
आज सबसे पहले समस्त भारतवासियों को ६4 वे स्वतंत्रता दिवस की ढ़ेर सारी शुभकामनायें.न ज्यादा कुछ कहने को है और न ही ज्यादा कुछ समझाने को.मेरी समझ से  इस इंटरनेट के मायानगरी से जुड़े हुए सभी लोग देश की वस्तुस्थिति से पूर्णतया वाकिफ हैं. लम्बी लाफ्फेबाजियों से बचते हुए आप ... Read more
clicks 109 View   Vote 0 Like   7:44am 15 Aug 2010 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
जब परीक्षाएँ ख़त्म हुईं तो लगा की चलो काम से काम कुछ दिन के लिये इस दिनचार्य से मुक्ति तो मिली लेकिन छुट्टियाँ जाने कैसे बीत गईं और हम लोग फिर से उसी दिनचर्या में लौट भी आए. वैसे ऐसा पहली बार नहीं हुआ है थोड़े दिन की छुट्टियों के बाद फिर से छात्रावासीय  दिनचर्या में लौट ... Read more
clicks 101 View   Vote 0 Like   12:52am 27 Jul 2010 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
लगभग पिछले एक महीने से कुछ भी पोस्ट न कर पाने के लिये खुद के आलस्य को जिम्मेदार ठहराऊंगा क्योंकि यदि चाहता तो एक दो पोस्ट तो कर ही सकता था. खैर पिछले कई दिनों से कश्मीर में हो रहे घटनाक्रम के बारे में पढ़कर और सुनकर मुझे काफी अफ़सोस हुआ. कभी  कश्मीर की खुबशुरती के बारे मे... Read more
clicks 100 View   Vote 0 Like   9:49am 14 Jul 2010 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
पर्यावरण और पर्यावरण दिवस पर बातें और भाषणबाजियां  तो बहुत हो चुकी,अब समय है कुछ करने का और यह एक ऐसा मुद्दा है जहाँ  हम अपनी गलतियों को दूसरों पर थोपकर आगे नहीं बढ़ सकते. तो फिर इंतजार किस बात की.किस एक धक्के का इंतजार है जो सबकुछ बदलने के लिये आवश्यक है उठिए जागिये और ... Read more
clicks 107 View   Vote 0 Like   12:44pm 7 Jun 2010 #
Blogger: Harshkant Tripathi"pawan"
पिछले  दिनों  सिविल सेवा परीक्षा का परिणाम घोषित हुआ. एक परिणाम जिसके सकारात्मक आने को लेकर मैं बहुत आशान्वित था, वहाँ असफलता हाथ लगी.थोड़ी देर के लिये मैं परेशान हो गया लेकिन ऐसे समय में अक्सर साथ देने वाली लेखनी याद हो आई और मैंने झटपट लेखनी उठाई और उस समय दिमाग में ... Read more
clicks 97 View   Vote 0 Like   2:12pm 3 Jun 2010 #
[ Prev Page ] [ Next Page ]

Share:

Members Login

    Forget Password? Click here!
  • Latest
  • Week
  • Month
  • Year
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3982) कुल पोस्ट (191420)