feedji.com
हमारीवाणी ने बनाया नए युग का ब्लॉग एग्रीगेटर, जहाँ आप ना केवल आसानी से अपनी ब्लॉग-पोस्ट शेयर कर सकते हैं, बल्कि आज के युग की आवश्यकतानुसार सोशल मिडिया से जुडी अनेकों सुविधाओं का प्रयोग कर सकते हैं.

आज ही सदस्य बने: http://www.feedji.com

0
View
My ImageAuthor Krishna Kumar Yadav
युवाओं में पत्र लेखन विधा को प्रोत्साहित करने के लिए हर वर्ष यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर पत्र लेखन प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। इसी क्रम में  15 व... Read more
Tag :UPU पत्र लेखन प्रतियोगिता
0
View
My ImageAuthor Harash Mahajan
...जिस्म कितने , कितनी रूहें , कितने साहिल बदलें,कितनी ये अजीब......तवायफों की तरह है ज़िंदगी |... Zism kitne, kitni rooheiN, kitne saahil badle, Kitni yei ajeeb tawaifoN ki tarah hai zindagii. __________हर्ष महाजन... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
November 26, 2014, 5:23 pm
0
View
My ImageAuthor देवेन्द्र पाण्डेय
मंदिर दिखतापुजारी दिखतेपंडे दिखते हैंमंदिर के ऊपर फहरातेझंडे दिखते हैंभक्तों की लाइन लगती हैगंगा के तट परलोटे में गंगाकाँधे परडंडे दिखते हैँ।कहीं गंजेड़ीकहीं भंगेड़ीकहीं भिखारी... Read more
Tag :गंगा
Blogs
Follow me
November 26, 2014, 5:17 pm
0
View
My ImageAuthor सुनील दीपक
Delhi, India: Today morning when I reached Delhi after a month of travels, the cold reminded me that it is the best time to see the painted storks at the zoo.दिल्ली, भारतः आज सुबह एक महीने की विदेश यात्रा के बाद दिल्ली वापस पहुँचा तो सर्दी लगी और याद आया कि चिड़ियाघर में जाँघिलों (... Read more
Tag :Delhi
2
View
My ImageAuthor Jagdanand Jha
दिनमान सूर्योदय से सूर्यास्त तक के समय को दिन कहते हैं। यह दिन कितनी घटी-पल का है यही घटी-पल दिनमान कहलाता है। सभी पञ्चाङ्गों में दिनमान का घटी-पल लिखा रहता है, किन्तु पञ्चाङ्ग में लि... Read more
Tag :तिथि
0
View
My ImageAuthor SANGH SHEEL 'SAGAR'
मुझे अपनी ख़बर नहीं है दुनियाँ का क्या पता ।दिल ने किया है प्यार इसमें मेरी खता है क्या ।।मुझे  तुमने  दिया है  धोखा  न  सोचना  कभी ।हम तुमसे करें क्यों नफ़रत है जब जीस्त बेवफ़ा ।... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
November 26, 2014, 12:53 pm
0
View
My ImageAuthor परी ऍम 'श्लोक'
क्या सही ? क्या गलत ?फैसला ही तो था.... राह अपने लिए बस चुना ही तो था.... मंज़िले न मिली मोड़ रुस्वा रहेजो मिला वो वफ़ा का सिला ही तो थाहमको इनाम इश्क़ का मिला ही तो था छाले दिल की गली में उभरने लगे ... Read more
Tag :
1
View
My ImageAuthor डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों।कवि देवदत्त "प्रसून"आज हमारे बीच नहीं हैं।लेकिन उनका साहित्य अमर रहेगा।--डोर तुम्हारे हाथों में (देवदत्त प्रसून)मेरी साँस की  डोर  तुम्हारे  हाथों  में  । है  दामन... Read more
Tag :साँस की डोर
Blogs
Follow me
November 26, 2014, 12:00 pm
2
View
My ImageAuthor dinesh chandra gupta ravikar
आओ चलो शाखा चलें, चलते चलें चलते चलें।प्रात: चलें संध्या चलें, खेलें ध्वजा भगवा तले ॥ आद्या भवानी शक्ति दे, कल्याणकारी कार्य कर ।भारत जगत-जननी सरिस, सो शक्ति में औदार्य ... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
November 26, 2014, 11:17 am
9
View
My ImageAuthor Kavita Rawat
निद्रा हमारे जीवन का एक बहुत आवश्यक कार्य है। निद्रा से हमारे शरीर तथा मन की थकावट दूर होती है, जिससे हम नये सिरे से कार्य करने के लिए फिर से सक्षम बन जाते हैं। एक दिन भी ठीक से नींद न आन... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
November 26, 2014, 11:13 am
2
View
My ImageAuthor Anshu Mali Rastogi
चित्र साभारः गूगलबबुआ, धीरे-धीरे आने वाले समाजवाद के दिन लद चुके। अबकी समाजवाद विक्टोरियाई शैली की बग्घी पर सवार होकर आया है। बग्घी पर समाजवाद पूरी शान, पूरी ताकत के साथ आया है। और, क... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
November 26, 2014, 9:46 am
3
View
My ImageAuthor Pratibha Saksenas
*वसु माँ के पास रुक गई थी.तनय का कहना था ,भइया अधिक छुट्टियाँ नहीं ले सकते .तुम्हीं रुक जाओ .माँ कुछ ठीक हो जायँ तो मैं ले जाऊँगा .मैंने कह दिया ,'उसकी चिन्ता न करो ,बाबू ,मैं ख़ुद पहुँचा आऊँ... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
November 26, 2014, 8:16 am
0
View
My ImageAuthor दिनेशराय द्विवेदी
समस्या- जयवीर सिंह ने आहरन एतमादपुर, आगरा, उत्तर प्रदेश से समस्या भेजी है कि- महाराज सिंह द्वारा दो वसीयत की गई। पहली 1979 में रजिस्टर्ड वसीयत की थी, दूसरी 2012 में की जो अनराजिस्टर्ड है। इस... Read more
Tag :Property
3
View
My ImageAuthor डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
"देवदत्त 'प्रसून'जी हमारे बीच नहीं रहे।" (डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक')रूपचन्द्र शास्त्री मयंक उच्चारणपाँच क्षणिकाएँ.............  डॉ. रमा द्विवेदीyashoda agrawalमेरी धरोहरदीवाली का चाँदअल्... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
November 26, 2014, 5:30 am
0
View
My ImageAuthor ऋषभ देव शर्मा
शोध पत्रऋषभदेव शर्मा के काव्य में स्त्री विमर्श-     विजेंद्र प्रताप सिंहहिंदी में विमर्श शब्द अंग्रेजी के ‘डिस्कोर्स‘ शब्द के पर्याय के रूप में प्रचलित है, जिसका अर्थ है व... Read more
Tag :समीक्षा
5
View
My ImageAuthor shalini kaushik
क्या सच होगी ज्योतिषी की भविष्यवाणी, स्मृति बनेंगी राष्ट्रपति?स्मृति ईरानी जिस दिन से मानव संसाधन विकास मंत्री बनी हैं एक दिन भी ऐसा नहीं गया होगा जिस दिन उन्होंने कुछ किया हो और वह ... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
November 26, 2014, 12:16 am
4
View
My ImageAuthor Mohini
इस दिवाली में जब हम अपने मित्रों और परिवार के साथ खुशियाँ मना रहें थे, महाराष्ट्र में एक दलित परिवार में तीन लोगों के हत्याकांड का समाचार आया| हत्याकाण्ड भीषण था, एक ही परिवार के तीन ... Read more
Tag :राजनीति
Blogs
Follow me
November 25, 2014, 5:53 pm
6
View
My ImageAuthor Gagan Sharma
पति बोला,  देखा मेरा कारनामा, मैने खटिये को इतना पीटा, तुम्हें छुआ भी नहीं। पत्नी भी कहां कम थी बोली, मैं भी गला फाड़ कर चिल्लाई, रोई मैं भी नहीं। इतने में मेहमान ने कमरे में आते हुए ... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
November 25, 2014, 5:33 pm
3
View
My ImageAuthor subodh
पार्टनरशिप से अलग होने के बाद - पार्टनरशिप चाहे वो बिज़नेस की हो या ज़िन्दगी की .......तुम्हारे फ़्रस्ट्रेशन की वजह मैं नहीं हूँ ,मैं तो सिर्फ तुम्हारे फ्रस्ट्रेशन का शिकार हूँ .जब हम अलग ह... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
November 25, 2014, 5:06 pm
[Prev Page] [Next Page]
Share:
  गूगल के द्वारा अपनी रीडर सेवा बंद करने के कारण हमारीवाणी की सभी कोडिंग दुबारा की गई है। हमारीवाणी "क्...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3240) कुल पोस्ट (122041)