feedji.com
हमारीवाणी ने बनाई नए युग की #BloggerCommunity जहाँ आप ना केवल आसानी से ब्लॉग लिख सकते हैं, अपनी ब्लॉग-पोस्ट शेयर कर सकते हैं, विषय आधारित चर्चा कर सकते हैं, बल्कि नए युग से कदमताल करते हुए सोशल मिडिया से जुडी अनेक सुविधाओं का प्रयोग कर सकते हैं.

आज ही सदस्य बने: http://www.feedji.com

0
View
My ImageAuthor रश्मि
सुबह आंख खुलीदेखाजमीन पर पड़े थेकुछ सीधे, कुछ औंधे पड़ेपीले पत्‍तेकल ही तो देखा थाशाख पर हरे पत्‍तों को इठलातेये कैसी रात थीहरी-हरी पत्‍ति‍यों परपीला रंग चढ़ा गईअब भी कुछ पत्‍तेशा... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
May 30, 2015, 8:50 pm
0
View
My ImageAuthor rozkiroti
   साहित्य में अकसर देखा जाता है कि चरित्र का कोई छोटा सा ऐब, कहानी के नायक के पतन का कारण हो जाता है। परमेश्वर के वचन बाइबल में भी हम ऐसे उदाहरण पाते हैं, जिनमें से एक है राजा उज़्ज़िया... Read more
Tag :घमंड
0
View
My ImageAuthor Harash Mahajan
...मुझसे रुठोगे अगर तुम तो किधर जाऊंगा,मैं तो आईना तेरा टूटा तो बिखर जाऊँगा |कुछ तो होती है खलिश चेहरा बदलने वाले, दिल में चाहत तो रहेगी मैं जिधर जाऊँगा |लोग कहते हैं नशा गम को भुला देता य... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
May 30, 2015, 8:42 pm
0
View
My ImageAuthor amitabh shrivastava
तुम्हे पता हैजिससे प्रेम होता हैवही दूर हो जाता है ?देखो चाँद भी धरा से कितना दूर हैऔर भी दूर होते जा रहा है।कभी धरा के गले लगा थाआज विरह गीत गुनगुनाता है।कितना अजीब है न ये प्रियेकि... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
May 30, 2015, 7:53 pm
0
View
My ImageAuthor suresh sawpnil
हाथ  अपना    खुला    नहीं  होतातो  किसी  को  गिला  नहीं  होतारात  ढलना    विसाल  से   पहले यह  वफ़ा  का  सिला  नहीं  होतादोस्तों   के    फ़रेब   के   ... Read more
Tag :
0
View
My ImageAuthor Kalipad "Prasad"
चक्रव्यूह इस जिंदगी का क्या भरोषा कब शाम हो जाय ,भरी दोपहरी में कब सूरज सुब जाय ....उम्मीद के पतला सेतु के सहारे मकड़ी सी आगे कदम बढ़ा रहे है और खुद के बुने जाले में फंसकर छट फटा रहे है | क्या ... Read more
Tag :जीवन -चक्रव्यूह
4
View
My ImageAuthor प्रमोद जोशी
ताजमहल का वास्तुकार कौन है यह दावे के साथ आज भी नहीं कहा जा सकता. इतना जरूर समझ में आता है कि वास्तुकारों और निर्माण विशेषज्ञों के समूह के साथ शाहजहाँ स्वयं भी सक्रिय रूप से इसमें शाम... Read more
Tag :डीएनए टेस्ट
2
View
My ImageAuthor suneel kumaar sajal
व्यंग्य- कचरे में उपजी दिव्य सोच नगर के कुछ युवाओं को नया शौक लगा |शौक था साब,साफ़-सफाई समिति गठित कर कचरा साफ़ करने का |ऐसा नहीं कि नगर में नगर पालिका नहीं है |या अपने कर्तव्य से विमुख... Read more
Tag :kacharaa
Blogs
Follow me
May 30, 2015, 1:43 pm
3
View
My ImageAuthor माधवी रंजना
देश की वाणिज्यिक राजधानी मुंबई और महाराष्ट्र के सांस्कृतिक शहर पुणे को जोड़ता है मुंबई पुणे एक्सप्रेस वे। ये देश का पहला एक्सप्रेस वे है। इसके चालू होने के बाद मुंबई और पुणे का सफर ... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
May 30, 2015, 1:00 pm
1
View
My ImageAuthor Dr.Divya Srivastava
नेता चुनाव क्यों लड़ते हैं, तिलचट्टों के लिए तो कुर्सी आरक्षित रहती है !राजनीति में भी दे दो आरक्षण खैराती कुर्सियों पर कर्णधारों को बैठने दोचुनाव के खर्चे बचा लो, देश विकास कर... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
May 30, 2015, 12:23 pm
1
View
My ImageAuthor वन्दना गुप्ता
प्रिय मित्र शुक्रगुजार हूँ जो तुमने इतना आत्मीय समझा कि अपनी मित्रता सूची से बाहर का रास्ता चुपके से दिखा दिया और खुद को पाक साफ़ भी सिद्ध किया . जानती हूँ कुछ दिनों से तुम्हारे स्टे... Read more
Tag :
1
View
My ImageAuthor डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
‘दादी जी! प्रसाद दे दो ना’’    जून माह छुट्टियों का होता है। इन दिनों मेरे घर छोटी बहिन विजयलक्ष्मी आयी हुई है। वो प्रत्येक माह की पूर्णमासी के दिन सत्यनारायण स्वामी का व्रत रखत... Read more
Tag :लघुकथा
Blogs
Follow me
May 30, 2015, 12:17 pm
0
View
My ImageAuthor subodh
अमीर बनने के लिए ज़रूरी है कि अपने निर्णय स्वयं ले,निर्णय लेने से पहले सलाह-मशविरा चाहे जितने लोगो से करें लेकिन निर्णय दूसरों के भरोसे नहीं छोड़े.दुसरे आपके लिए उतना कुछ नहीं कर पाएंग... Read more
Tag :
0
View
My ImageAuthor डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
हिन्दी के उन्नायकजयशंकर प्रसाद"हिमाद्रि तुंग श्रृंग से प्रबुद्ध शुद्ध भारतीस्वयंप्रभा समुज्जवला स्वतंत्रता पुकारतीअमर्त्य वीर पुत्र हो, दृढ़-प्रतिज्ञ सोच लोप्रशस्त पुण्य पं... Read more
Tag :व्यक्तित्व और कृतित्व
1
View
My ImageAuthor डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
‘‘रोटी की कहानी’’    एक राजकुमारी थी। वह रोटी खाने बैठी। रोटी गरम थी राजकुमारी का हाथ जल गया आर वह रोने लगी।    तब रोटी ने कहा- ‘‘बहिन! तुम तो बहुत कमजोर दिल की हो। जरा सी भाप लग... Read more
Tag :लघुकथा
Blogs
Follow me
May 30, 2015, 11:07 am
2
View
My ImageAuthor सुनील दीपक
Today's images have ducks with their babies from different lakes in Italy. Whenever I see ducks with baby ducks, I remember the childhood tale of the ugly duckling who worries about not being as beautiful as her mother. That story is written from the child's point of view. I think that for parents it is so important to help our children gain self-confidence but sometimes it may not be easy. Till our children are not successful in their lives, we keep on worrying. And oft... Read more
Tag :Birds
3
View
My ImageAuthor Aryaman Chetas Pandey
तेरी दुनिया का हर दस्तूर हो जाऊँमैं तेरी माँग का सिन्दूर हो जाऊँमेरी आँखें रही हí... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
May 30, 2015, 8:12 am
2
View
My ImageAuthor अज्ञात
चमक और दमक में, कहीं खो न जाना!कलम के मुसाफिर, कहीं सो न  जाना!जलाना पड़ेगा तुझे, दीप जगमग, दिखाना पड़ेगा जगत को सही मग, तुझे सभ्यता की, अलख है जगाना!! कलम के मुसाफिर, कहीं सो न  जान... Read more
Tag :गीत
[Prev Page] [Next Page]
Share:
  गूगल के द्वारा अपनी रीडर सेवा बंद करने के कारण हमारीवाणी की सभी कोडिंग दुबारा की गई है। हमारीवाणी "क्...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3350) कुल पोस्ट (132587)