feedji.com
हमारीवाणी ने बनाया नए युग का ब्लॉग एग्रीगेटर, जहाँ आप ना केवल आसानी से अपनी ब्लॉग-पोस्ट शेयर कर सकते हैं, बल्कि आज के युग की आवश्यकतानुसार सोशल मिडिया से जुडी अनेकों सुविधाओं का प्रयोग कर सकते हैं.

आज ही सदस्य बने: http://www.feedji.com

0
View
My ImageAuthor Asha News
कर्म ही ईश्वरीय पूजा : डॉ. रामशंकर चंचल झाबुआ :अ. भा साहित्य परिषद झाबुआ द्वारा रातीतलाई स्कूल परिसर में अमर शहीद चंद्रशेखर आज़ाद का बलिदान दिवस प्रख्यात साहित्यकार डॉ. रामशंक... Read more
Tag :शहीद चंद्रशेखर आज़ाद
0
View
My ImageAuthor Praveen Kumar Gupta
हरिनारायण अग्रहरि एक स्वतंत्रता संग्राम सेनानीव क्रांतिकारी थे, जिन्होंने महात्मा गाँधीके भारत छोड़ो आंदोलनमे भाग लिया था। ये उत्तर प्रदेशके वाराणसी ज़िलाके कमालपुर गाँव के नि... Read more
Tag :
0
View
My ImageAuthor harminder singh
समय पत्रिका के इस अंक में पढि़ये :भारत की नारी शिक्षा -आकांक्षा यादव..एक थका उदास बचपन -अखिलेश चन्द्र..वर्तमान शिक्षा व्यवस्था का यथार्थ -कृष्ण कुमार यादव..माता का स्नेह -बालकृष्ण भट्ट.... Read more
Tag :
0
View
My ImageAuthor सतीश
(Khalil Gibran)एक बार मेले में दूर के गावं में रहने वाली एक लडकी आई, जोकि बहुत ही खूबसूरत थी| उसका चेहरा गुलाबी था| उसकी जुल्फें रात की तरह काली थी, और एक दिलकश मुस्कान उसके होठों पर खिली रहती थी|उ... Read more
Tag :Stories
0
View
My ImageAuthor दिगम्बर नासवा
उम्र उतरती है इंसान पर, उसके चेहरे, उसके बालों पर, उसके जिस्म पर ... पर चाह कर भी नहीं उतर पाती यादों में बसी तुम्हारी तस्वीर पर, अतीत में बिखरे लम्हों पर ... मुद्दत बाद भी बूढी नहीं हो तुम ब... Read more
Tag :तकिया
1
View
My ImageAuthor वन्दना गुप्ता
क्या फर्क पड़ता है नाम से अक्सर कहा गया और हमने मान लिया नाम कोई हो पहचान करा देता है तुम्हारे धर्म की और हो जाते हो तुम निष्कासित अभिव्यक्ति की आज़ादी महज स्लोगन भर है नहीं जान पाए तुम औ... Read more
Tag :
1
View
My ImageAuthor श्यामल सुमन
अहंकार से मिट गए, नहीं बना जो हंस।परिणति इनकी देख लो, रावण कौरव कंस।।सीता थी विद्रोहिणी, तोड नियम उपहास।राम संग सुख छोडकर, चली गयी वनवास।।ऑखें पर अंधा हुए, फॅसा मोह में प्राण। पुत्र-म... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
March 2, 2015, 9:09 am
4
View
My ImageAuthor Mohini
आज का विषय, 'तुम्हारे बिना'! मैंने पहले मराठी और अंग्रेजी में इस पर जो रचनाएँ लिखी थीं, उन्हींका यह हिंदी रूपांतरण,  एक क्षण भी  नहीं जी सकती  तुम्हारे बिना! ये साँसे  नहीं चलती तुम्हे ... Read more
Tag :भावस्पंदन
Blogs
Follow me
March 2, 2015, 9:00 am
2
View
My ImageAuthor समीर लाल
दफ्तर आते जाते अक्सर ही ट्रेन की उपरी मंजिल में बैठ जाता हूं. घोषित ’शांत क्षेत्र’ है अर्थात आपसी बातचीत, फोन आदि की अनुमति नहीं है. अक्सर मरघट की सी शांति की बात याद आती है इस जगह. मगर ज... Read more
Tag :hindi poem
0
View
My ImageAuthor नीरज जाट जी
ध्यान दें:डायरी के पन्ने यात्रा-वृत्तान्त नहीं हैं।1 फरवरी:इस बार पहले ही सोच रखा था कि डायरी के पन्ने दिनांक-वार लिखने हैं। इसका कारण था कि पिछले दिनों मैं अपनी पिछली डायरियां पढ रहा... Read more
Tag :डायरी
0
View
My ImageAuthor तस्‍लीम
सिंचाई सुविधाओं के विस्तार, धान फसल के क्षेत्रफल में वृद्धि तथा सिंचाई जल के कुप्रबन्धन के कारण होने वाले जल-जमाव, मानव बस्तियों में सुअर पालन एवं प्रवासी पक्षियों के प्रवास ने पूर्... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
March 2, 2015, 5:00 am
0
View
My ImageAuthor डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक"
मित्रों।सोमवार की चर्चा में आपका स्वागत है।देखिए मेरी पसन्द के कुछ लिंक।(डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री "मयंक")--~होरी में..... प्रवीण करण मेरी धरोहर पर yashoda agrawal --थिरकती रही ज़िंदगी रंग ब... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
March 2, 2015, 4:30 am
1
View
My ImageAuthor Dr.Divya Srivastava
जब एक व्यक्ति गुलाम मानसिकता का शिकार हो जाता है तब वो सत्य और षड्यंत्र का भेद नहीं कर पाता! हमारे देश की गुलाम मानसिकता ने ही ईसाईयों के षड्यंत्र का शिकार होकर मदर टेरेसा को 'संत'का दर... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
March 2, 2015, 1:26 am
1
View
My ImageAuthor साहित्य शिल्पी
उत्सव हमारी संस्कृति एवं सामाजिक चेतना के जीवंत प्रतीक होते हैं। जीवन की एकरसता को तोड़ने, सामाजिक सद्भाव को बनाए रखने मानव को एक सूत्र में जोड़ने तथा मानवीय संवेदना को सजग रखने में... Read more
Tag :प्रेम जनमेजय
1
View
My ImageAuthor aman mishra
बंद  होंगी मेरी आँखे , ये  बात बेशक  है। चाहत को मेरी तुम  ,कभी  भूल न पाओगे। लिख लेना जिंदगी में ,तुम नाम जिसका भी। एक धड़कन थी मेरे नाम की ,कैसे  भुलाओगे?फ़साने लिख जायेंगे,  तेर... Read more
Tag :
1
View
My ImageAuthor शिल्पा भारतीय
ये बिन मौसम की बरसात भी न! बिलकुल तुम्हारी यादों की तरह है कमबख्त! हमेशा मुझे उलझन में डाल देती हैं कि इक तरफ तो इनमे भीगने की ख्वहिश भी रहती है तो दूसरी तरफ बीमार होने का डर भी! पर मेरी उ... Read more
Tag :दिल
0
View
My ImageAuthor rozkiroti
   विलियम केरी एक असाधारण विश्वास रखने वाले साधारण से व्यक्ति थे। उनका जन्म 18वीं सदी में एक श्रमिक-वर्ग परिवार में हुआ था, और वे अपनी जीविका कमाने के लिए मोची का कार्य करते थे। इस का... Read more
Tag :कार्य
4
View
My ImageAuthor Akanksha Yadav
'स्वाइन फ्लू'का भय इस समय चारों तरफ व्याप्त है। हल्की सी खांसी और बुखार हुआ तो फ्लू का डर सताने लगता है। डॉक्टर्स का मानना है कि इसकी कोई अचूक दवा नहीं है, पर इससे बचने के लिए तमाम तरह के... Read more
Tag :सोचें-विचारें
Blogs
Follow me
March 1, 2015, 8:21 pm
0
View
My ImageAuthor अर्चना तिवारी
एक नन्हीं चिड़िया जिसे अभी ठीक से उड़ना नहीं आता था, भटक कर एक बाग़ में पहुँच गई। वहाँ उसने देखा कि एक हंस अन्य पक्षियों को उड़ने के गुर सिखा रहा है। चिड़िया ने भी आग्रह किया और उड़ना सीखने ल... Read more
Tag :
Blogs
Follow me
March 1, 2015, 7:47 pm
2
View
My ImageAuthor डा सुधेश
चैपलिन से महात्मा गांधी की मुलाक़ात भारत तो भारत, इंगलैंड में भी गांधीजी की प्रतिष्ठा का आलम यह था! … अफ्रीका से भारत लौट आने के बाद गांधी केवल एक बार विदेश यात्रा पर गए: 1931 में गोलमेज... Read more
Tag :
[Prev Page] [Next Page]
Share:
  गूगल के द्वारा अपनी रीडर सेवा बंद करने के कारण हमारीवाणी की सभी कोडिंग दुबारा की गई है। हमारीवाणी "क्...
  हमारीवाणी पर ब्लॉग-पोस्ट के प्रकाशन के लिए 'क्लिक कोड' ब्लॉग पर लगाना आवश्यक है। इसके लिए पहले लोगिन करें, लोगिन के उपरांत खुलने वाले प...
  हमारीवाणी.कॉम पर ब्लॉग पंजीकृत करने की विधि बहुत सरल हैं। इसके लिए सबसे पहले प्रष्ट के सबसे ऊपर दाईं ओर लिखे ...
और सन्देश...
कुल ब्लॉग्स (3281) कुल पोस्ट (127261)